अंकीय रक्षी रिले

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
Jump to navigation Jump to search
अंकीय रक्षी रिले (डिजिटल प्रोटेक्टिव रिले)

विद्युत शक्ति के संप्रेषण और वितरण के सन्दर्भ में, अंकीय रक्षी रिले (digital protective relay) उस तन्त्र को कहते हैं जो विद्युत दोषों (Faults) का पता करने के लिए सॉफ्टवेयर-आधारित कलन विधि (अल्गोरिद्म) तथा अंकीय तन्त्र (जैसे माइक्रोकन्ट्रोलर आदि) का उपयोग करता है। [1] अतः इन्हें माइक्रोप्रोसेसर प्रकार के रक्षी रिले अथवा न्युमेरिकल रिले भी कहते हैं। ये विद्युत-चुम्बकीय रक्षी रिले के स्थान पर सीधे प्रयुक्त किये जाते हैं। इनकी विशेष बात यह है कि सॉफ्टवेयर आधारित होने के कारण एक ही अंकीय रक्षी रिले द्वारा अनेकों रक्षी-कार्य कराये जा सकते हैं। इसके अतिरिक्त, इनका उपयोग मीटरिंग, संचार, स्व-परीक्षण आदि के लिए किया जा सकता है।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "Schweitzer Programmable Automation Controller". Schweitzer Engineering Laboratories. अभिगमन तिथि 21 November 2012.

इन्हें भी देखें[संपादित करें]