मोटापा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
('मोटापा' से अनुप्रेषित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मोटापा
ओबीज़िटी
वर्गीकरण एवं बाह्य साधन
Obesity-waist circumference.PNG
सिल्हौटे और कमर के घेरे के नाप के द्वारा सामान्य, भारी और मोटे व्यक्ति का अंकन
आईसीडी-१० E66.
आईसीडी- 278
ओएमआईएम 601665
डिज़ीज़-डीबी 9099
मेडलाइन प्लस 003101
ईमेडिसिन med/1653 
एम.ईएसएच C23.888.144.699.500

मोटापा (अंग्रेज़ी: Obesity) वो स्थिति होती है, जब अत्यधिक शारीरिक वसा शरीर पर इस सीमा तक एकत्रित हो जाती है कि वो स्वास्थ्य पर हानिकारक प्रभाव डालने लगती है।[1] यह आयु संभावना को भी घाटा सकता है। [2][3] शरीर भार सूचकांक (बी.एम.आई), मानव भार और लंबाई का अनुपात होता है, जब २५ कि.ग्रा./मी. और ३० कि.ग्रा/मी के बीच हो, तब मोटापा-पूर्व स्थिति; और मोटापा जब ये ३० कि.ग्रा/मी. से अधिक हो।[4]

मोटापा बहुत से रोगों से जुड़ा हुआ है, जैसे हृदय रोग, मधुमेह, निद्रा कालीन श्वास समस्या, कई प्रकार के कैंसर और ऑस्टेयोआर्थ्राइटिस [3] मोटापे का प्रमुख्य कारण अत्यधिक कैलोरी वाले खाद्य का सेवन, शारीरिक गतिविधियों का अभाव, आनुवांशिकी का मिश्रण हो सकता है। हालांकि मात्र आनुवांशिक, चिकित्सकीय या मानसिक रोग के कारण बहुत ही कम संख्या में पाये जाते हैं।


कारण[संपादित करें]

मोटापे के कई कारण हो सकते है। इनमें से प्रमुख है:-

  • मोटापा और शरीर का वजन बढ़ना ऊर्जा के सेवन और ऊर्जा के उपयोग के बीच असंतुलन के कारण होता है।
  • अधिक चर्बीयुक्त आहार का सेवन करना भी मोटापा का कारण है।
  • कम व्यायाम करना और स्थिर जीवन-यापन मोटापे का प्रमुख कारण है।
  • असंतुलित व्यवहार औऱ मानसिक तनाव की वजह से लोग ज्यादा भोजन करने लगते हैं, जो मोटापा का कारण बनता है।
  • शारीरिक क्रियाओं के सही ढंग से नहीं होने पर भी शरीर में चर्बी जमा होने लगती है।
  • बाल्यावस्था और युवावस्था के समय का मोटापा व्यस्क होने पर भी रह सकता है।
  • हाइपोथाइरॉयडिज़्म

उचित वजन[संपादित करें]

एक युवा व्यक्ति के शरीर का अपेक्षित वजन उसकी लंबाई के अनुसार होना चाहिए, जिससे कि उसका शारीरिक गठन अनुकूल लगे। शरीर के वजन को मापने के लिए सबसे साधारण उपाय है बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआइ) और यह शरीर के व्यक्ति की लंबाई को दुगुना कर उसमें वजन किलोग्राम से भाग देकर निकाला जाता है।

एक अत्यधिक मोटे व्यक्ति, जिसका भार/लंबाई अनुपात ४६ कि.ग्रा/मी: भार:१४६ ki.grA (३२२ पाउण्ड), ऊंचाई १७७ से.मी (५ फीट १० इंच)
भार/लंबाई अनुपात वर्गीकरण
< 18.5 कम भार
18.5–24.9 सामान्य भार
25.0–29.9 अधिक भार
30.0–34.9 श्रेणी-१ मोटा
35.0–39.9 श्रेणी-२ मोटा
> 40.0   श्रेणी-३ मोटा  

वजन कम करने के लिए लिये उपभोग की जानेवाली खाद्य पदार्थों में यह ध्यान रखना चाहिए कि उनमें प्रोटीन की मात्रा अधिक हो और चर्बी तथा कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम हो।

आकडे़ , मोटापे पर नियंत्रण[संपादित करें]

कुछ आंकड़े बताते हैं कि वर्ष 2008 में दुनिया के 9.8 प्रतिशत पुरुष और 13.8 प्रतिशत महिलाएँ मोटापे का शिकार थीं और उनका बीएमआई 30 से अधिक था। अगर इसकी तुलना 1980 के आंकड़ों से करें तो उस समय 4.8 प्रतिशत पुरुष और 7.9 प्रतिशत महिलाएँ मोटापे का शिकार थे। प्रशांत महासागर के द्वीपीय देशों में मोटापा पूरी दुनिया में सबसे अधिक है और वहाँ बीएमआई का औसत 34 से 35 के बीच है। यह दक्षिण-पूर्वी एशियाई देशों और उप सहारीय अफ़्रीकी देशों की तुलना में 70 प्रतिशत से अधिक है। लेकिन शेष दुनिया में मोटापे का संबंध आय से रहा है और अधिक आय वाले देशों में मोटापा अधिक बढ़ा है। वर्ष 1980 से 2008 के बीच अमीर देशों में सबसे अधिक बीएमआई अमरीका मे। बढ़ा। इसके बाद महिलाओं में न्यूज़ीलैंड और ऑस्ट्रेलिया का नंबर आता है जबकि पुरुषों के मोटापे के मामले अमरीका के बाद सबसे अधिक ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया में मिले। पश्चिमी यूरोप के कुछ देशों में लोगों ने अपने बीएमआई का स्तर यथावत बनाए रखने में सफलता पाई है। बेल्जियम, फ़िनलैंड, फ्रांस, इटली और स्विट्ज़रलैंड में महिलाओं के बीएमआई में कोई बढ़ोत्तरी नहीं हुई। जबकि इटली और स्विट्ज़रलैंड में पुरुषों के बीएमआई में मामूली सी ही बढ़त दर्ज की गई।[5]


विश्व भर के पुरुषों में मोटापा [6]
██ <५% ██ ५–१०% ██ 10–15% ██ 15–20% ██ 20–25% ██ 25–30% ██ 30–35% ██ 35–40% ██ 40–45% ██ 45–50% ██ 50–55% ██ >55%
विश्व भर की स्त्रियों में मोटापा [6]
██ <5% ██ 5–10% ██ 10–15% ██ 15–20% ██ 20–25% ██ 25–30% ██ 30–35% ██ 35–40% ██ 40–45% ██ 45–50% ██ 50–55% ██ >55%

मोटापा घटाने के उपाय[संपादित करें]

  • तला हुआ एवं बाहर का खाना कम खायें|
  • ज्यादा से ज्यादा फल और सब्जी खायें।
  • रेशायुक्त खाद्य पदार्थ का सेवन अधिक से अधिक करें जैसे संपूर्ण अनाज, चना और अंकुरित दाले, तिल, तीसी आदि|
  • शरीर के वजन को संतुलित रखने के लिए रोजाना अलग - अलग प्रकार की कसरत करें।
  • धीरे, परंतु लगातार वजन को कम करें। वजन घटाने की प्रक्रिया एक लंबी एवं धैर्यशाली प्रक्रिया है|
  • ज्यादा उपवास से शारीरिक नुकसान हो सकता है इसलिए हमेशा अावश्यक मात्रा मे पोषक पदार्थों को सेवन करते रहना चाहिए|
  • शारीरिक क्षमता को संतुलित रखने के लिए विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए। किसी एक खाद्य पदार्थ् पर निर्भरता होने से शरीर मे आवश्यक पोषक तत्वोें की कमी हो जाती है|इस लिए थोड़ी मात्रा मे अलग - अलग प्रकार की चीजों का सेवन करना चाहिए|
  • थोड़-थोड़े अंतराल पर थोड़ा-थोड़ा खाना खायें।
  • भोजन में चीनी, चर्बीयुक्त खाद्य पदार्थ और अल्कोहल कम लें। प्रयास यह होना चाहिए कि कार्बोहाइड्रेट एवं विशेषकर के सिंपल कार्ब की मात्रा बहुत ही कम होना चाहिए|
  • कम चर्बी वाले दूध का सेवन करें।
  • ब्रिटेन में हुए एक शोध में दावा किया है कि लाल मिर्च शरीर में व्याप्त अवांछित कैलोरी जलाने एवं मोटापा घटाने में मददगार साबित हो सकता है। शोध का नेतृत्व करने वाले पड्र्यू यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर रिचर्ड मैट्स ने बताया कि मिर्च में मौजूद कैप्सेसिन तत्व, जो मिर्च को गर्मी देता है, भूख कम कर सकता है और कैलॉरी को जलाते हुए ऊर्जा की खपत बढ़ा सकता है। शोध में लाल मिर्च के मसाले की मात्रा की भी चर्चा की गई है। इसके अनुसार एक ग्राम या आधा चम्मच लाल मिर्च का पाउडर बहुत से लोगों के लिए स्वीकार्य है। शोध में सामान्यत: सूखी लाल मिर्च को शामिल किया गया। [7]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. एच३-शब्दकोष पर मोटापा देखें
  2. विश्व स्वास्थ्य संगठन २०००, पृ.६
  3. हस्लैम डी.डब्ल्यू, ज्म्स डब्ल्यु पी (२००५). "ओबीज़िटी". लैन्सेट ३६६ (9492): ११९७-२०९. doi:10.1016/S0140-6736(05)67483-1. PMID 16198769. 
  4. विश्व स्वास्थ्य संगठन २०००, पृ.९
  5. http://www.bbc.co.uk/hindi/science/2011/02/110204_obesity_increased_vv.shtml
  6. "ग्लोबल प्रिवेलैन्स ऑफ एडल्ट ओबीज़िटी" (PDF). इंटरनेशनल ओबीज़िटी टास्कफोर्स. http://www.iotf.org/database/documents/GlobalPrevalenceofAdultObesity16thDecember08.pdf. अभिगमन तिथि: २९ जनवरी. 
  7. http://www.patrika.com/article.aspx?id=25857

बाहरी सूत्र[संपादित करें]

Wiktionary-logo-en.png
मोटापा को विक्षनरी,
एक मुक्त शब्दकोष में देखें।