२०११ क्रिकेट विश्व कप

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
आईसीसी क्रिकेट विश्व कप २०११
2011 Cricket World Cup Logo.png
आई.सी.सी. क्रिकेट विश्व कप का आधिकारिक प्रतीक चिह्न
दिनांक १९ फ़रवरी – २ अप्रैल
प्रशासक अन्तर्राष्ट्रीय क्रिकेट समिति
क्रिकेट प्रारूप एक दिवसीय क्रिकेट
टूर्नामेण्ट प्रारूप राउण्ड रॉबिन एवं नॉक आउट
मेज़बान Flag of India.svg भारत
Flag of Sri Lanka.svg श्रीलंका
Flag of Bangladesh.svg बांग्लादेश
प्रतिभागी १४ (१०४ प्रतियोगियों में से)
खेले गए मैच ४९ (खेले गए)
जालस्थल आईसीसी क्रिकेट विश्व कप २०११
२००७ (पूर्व) (आगामी) २०१५

आईसीसी (ICC) क्रिकेट विश्व कप २०११, दसवां क्रिकेट विश्व कप था और इसकी मेजबानी टेस्ट क्रिकेट खेलने वाले तीन दक्षिण एशियाई देशों द्वारा की गई थी: भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश. यह विश्व कप भारत ने जीता था.

क्रिकेट विश्व कप की संयुक्त मेजबानी करने का यह बांग्लादेश का पहला अवसर था. 14 निर्धारित राष्ट्रीय टीमों के बीच प्रतिस्पर्धा के साथ यह विश्व कप अंतर्राष्ट्रीय एक दिवसीय क्रिकेट की तर्ज पर था.[1] विश्व कप का आयोजन फरवरी और अप्रैल 2011 की शुरुआत के बीच था, जिसके अंतर्गत पहला मैच 19 फ़रवरी 2011 को संयुक्त मेजबान भारत और बांग्लादेश के बीच मीरपुर, ढाका के शेर-ए-बांगला राष्ट्रीय स्टेडियम में खेला गया.[2] इसका उद्घाटन समारोह प्रतियोगिता के शुरू होने के दो दिन पूर्व 17 फ़रवरी 2011 को था.[3] विश्व कप का अंतिम मैच 2 अप्रैल 2011 को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में था.

पाकिस्तान द्वारा भी विश्व कप की मेजबानी में भाग लिए जाने का अनुमान था लेकिन लाहौर में श्रीलंका की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम पर 2009 में किये गए हमलों के मद्देनज़र अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट समिति (ICC) ने पाकिस्तान को मेजबानी के अधिकार से वंचित रखने का निर्णय लिया.[4] आरम्भ में आयोजन समिति का मुख्यालय लाहौर में स्थित था लेकिन अब इसे मुंबई में स्थानांतरित कर दिया गया.[5] पाकिस्तान द्वारा 14 मैचों की मेजबानी किये जाने के अनुमान था, जिसमे सेमिफाइनल मैच भी शामिल था.[6] पाकिस्तान की मेजबानी वाले मैचों में से 8 मैच भारत को, 4 श्रीलंका को और 2 बांग्लादेश को दे दिए गए.[7]

मेजबानों का चयन[संपादित करें]

बोलियां[संपादित करें]

कौन से देश २०११ विश्व कप की मेजबानी करेंगे इसके सम्बन्ध में आईसीसी ने मूलतः ३० अप्रैल २००६ को अपने निर्णय की घोषणा कर दी थी| ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैंड ने भी प्रतियोगिता के लिए बोली लगायी थी और २०११ विश्व कप के लिए एक सफल ऑस्ट्रेलेसियन बोली के फलस्वरूप खेल में ५०-५० का विभाजन हो सकता था, जिसमे अंतिम मैच का सौदा अभी भी बाकी रहता| ट्रांस टैस्मान द्वारा लगायी गयी बोली, सीमाओं से परे, २०११ के लिए एकमात्र ऐसी बोली थी जो दुबई में आईसीसी (ICC) के मुख्यालय पर १ मार्च की निर्धारित समय-सीमा से पहले पहुंच गयी थी| क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया के मुख्य प्रबंधन अधिकारी जेम्स सदरलैंड के अनुसार, ऑस्ट्रेलेसियन बोली की महत्त्वपूर्ण विशेषताएं बढ़िया प्रतियोगिता स्थल और अवसंरचना तथा प्रतियोगिता के दौरान टैक्स (कर) और कस्टम (सीमाशुल्क) संबंधी मुद्दों पर ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड की सरकार की ओर से पूर्ण समर्थन था|[8] न्यूज़ीलैंड की सरकार ने इस बात का भी आश्वासन दिया था कि ज़िम्बाब्वे को भी प्रतियोगित मे हिस्सा लेने का मौका दिया जायेगा, ऐसा देश में चल रहे उस राजनीतिक विवाद के कारण था जिसमे यह चर्चा हो रही थी कि उनके देश को २००५ में ज़िम्बाब्वे के दौरे पर जाने की आज्ञा मिलनी चाहिए या नहीं| ऑस्ट्रेलियाई बोली को पूर्व वेस्ट इंडीज कप्तान शिवनारायण चंद्रपॉल का भी समर्थन प्राप्त था|[9]

आईसीसी अध्यक्ष एहसान मनी ने कहा कि बोली हेतु अपनी स्वीकृति पुस्तिका देने में एशियाई ब्लॉक द्वारा लिए गए अतिरिक्त समय के कारण चार-देशों की बोलियों को नुकसान पहुंचा है| हालांकि, जब मतदान का समय आया तो एशिया ने तीन मतों की तुलना में सात मत प्राप्त करके मेजबानी का अधिकार जीत लिया|[8] पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने यह तथ्य प्रकट किया कि वह वेस्ट इंडीज़ क्रिकेट बोर्ड का निर्णायक मत था जिसने पूरे मामले को परिवर्तित कर दिया क्योंकि इससे एशिया की बोली के साथ बोली लगाने वाले चार देशों का समर्थन था जिसमे कि दक्षिण अफ्रीका और ज़िम्बाब्वे भी शामिल थे|[10] पाकिस्तानी अखबार डॉन में यह खबर दी गयी कि एशियाई देशों ने २००७ विश्व कप के दौरान वेस्ट इण्डियन क्रिकेट के लिए कोष एकत्रित करने का वचन दिया है, जिसने मतदान की प्रक्रिया को प्रभावित किया|[11] हालांकि, एशियाई बोली की पर्यवेक्षण समिति के अध्यक्ष, आई. एस. बिंद्रा ने कहा कि इस क्षेत्र में उनके द्वारा ४० करोड़ यू.एस. डॉलर के अतिरिक्त लाभ का वचन ही मत परिवर्तन का कारण रहा[12] और यह "यह उनके समर्थन के बदले में नहीं किया गया था",[13] साथ ही यह भी कि "वेस्ट इंडीज़ के खेलने का विश्व कप की बोली से कोई सम्बन्ध नहीं था"।[13]

आईसीसी विश्व कप के कार्यक्रम स्थल को क्रिकेट खेलने वाले प्रमुख देशों के बीच परिवर्तित करते रहने को प्राथमिकता देती है| अब तक विश्व कप की मेजबानी, इंग्लैंड (तीन बार १९७५, १९७९, १९८३), भारत / पाकिस्तान १९८७, ऑस्ट्रेलिया / न्यूजीलैंड १९९२, भारत / पाकिस्तान / श्रीलंका १९९६, इंग्लैंड (यूके, नीदरलैंड्स) १९९९, दक्षिण अफ्रीका (ज़िम्बाब्वे, केन्या) २००३, वेस्ट इंडीज़ २००७, द्वारा की गयी है| २०११ के विश्व कप के लिए भारत / पाकिस्तान / श्रीलंका / बांग्लादेश के सामने ऑस्ट्रेलिया और न्यू जीलैंड दो सशक्त प्रतियोगी थे क्योंकि उन्होंने १९९२ से किसी भी विश्व कप की मेजबानी नहीं की थी| अंतिम मतदान में भारत जीत गया क्योंकि उन्होंने अपने पक्ष में यह तर्क रखा कि उन्हें विश्व कप की मेजबानी के अधिक अवसर मिलने चाहिए क्योंकि उनके राष्ट्रों का समूह अधिक बड़ा है| इस कारण, ऑस्ट्रेलिया / न्यूजीलैंड को २०१५ के विश्व कप की मेजबानी दे दी गयी|

प्रारूप[संपादित करें]

२००७ में ही बाद में, यह चारों राष्ट्र २०११ विश्व कप के एक नए संशोधित प्रारूप के लिए राजी हो गए जोकि १९९६ विश्व कप के समान था, इसमें एक मात्र अंतर यह था कि १९९६ में हिस्सा लेने वाली टीमों की संख्या १२ थी जबकि २०११ में हिस्सा लेने वाली टीमों की संख्या १४ हो गयी| प्रतियोगिता का पहला चरण एक राउन्ड रॉबिन होगा जिसमे १४ टीमें २ समूहों में विभाजित की जायेंगी, प्रत्येक समूह में ७ टीमें होंगी| सभी ७ टीमें एक-एक बार, एक दूसरे के साथ खेलेंगी और दोनों समूहों में से शीर्ष चार टीमें क्वार्टर फाइनल में खेलने के लिए अहर्ता प्राप्त करेंगी|[14] यह प्रारूप यह सुनिश्चित करता है कि यदि कोइ टीम प्रतियोगिता की शुरुआत में ही हार के कारण प्रतियोगिता से बाहर हो जाये तो भी वह कम से कम ६ मैच अवश्य खेलेगी।

अहर्ता[संपादित करें]

आईसीसी के नियमों के अनुसार, सभी १० पूर्णकालिक सदस्य स्वतः ही विश्व कप के लिए अहर्ता प्राप्त कर लेते हैं, जिसमे जिमबाब्वे भी शामिल है जिन्होंने अपनी टीम के स्तर में सुधार होने तक अपने टेस्ट क्रिकेट खेलने के दर्जे को त्याग दिया है।[15]

आईसीसी ने २०११ विश्व कप में हिस्सा लेने वाली सहयोगी टीमों के निर्धारण के लिए दक्षिण अफ्रीका में एक अहर्ता प्रतियोगिता का भी आयोजन किया था| आयरलैंड, जो पिछले विश्व कप से अब तक सर्वाधिक उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाला राष्ट्र रहा है, ने अंतिम मैच में कनाडा को हराकर इस प्रतियोगिता को जीत लिया। नीदरलैंड्स और केन्या ने भी तीसरा और चौथा स्थान प्राप्त करते हुए अहर्ता अर्जित कर ली|[16]

अहर्ता प्राप्त टीमों की सूची[संपादित करें]

निम्नलिखित १४ टीमों ने अंतिम प्रतियोगिता के लिए अर्हता प्राप्त की, वे देश जिनके सम्मुख * का चिन्ह हैं वे सहयोगी सदस्य हैं।

एसीए (ACA) (3)
एसीए (ACA) (2)
एसीसी (ACC) (4)
ईएपी (EAP) (2)
ईसीसी (ECC) (3)

तैयारियां[संपादित करें]

पाकिस्तान संयुक्त मेजबानी के दर्जे से वंचित[संपादित करें]

१७ अप्रैल २००९ को आईसीसी ने पाकिस्तान से विश्व कप की संयुक्त मेजबानी के अधिकार वापस ले लिए,[17][18] ऐसा वहां व्याप्त "अनिश्चित सुरक्षा व्यवस्था" पर चल रही चिंता के कारण किया गया, विशेषतः २००९ में श्रीलंका के दौरे के दौरान लाहौर में हुए आतंकवादी हमलों के परिणामस्वरूप ही ऐसा हुआ|

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने यह संकेत दिए कि यदि उनसे भारत में खेलने को कहा गया तो वह विश्व कप में हिस्सा लेने से इनकार सकते हैं|[19] हालांकि, इस बात का कोई ठोस सबूत नहीं हैं कि क्या वास्तव में ऐसा होगा|

यह अनुमानित है कि प्रतियोगिता की मेजबानी छिन जाने से पीसीबी (PCB) को १ करोड़ ५ लाख डॉलर का नुकसान होगा|[20] यह आंकड़ा सिर्फ ७,५०,००० डॉलर की मैच फीस अंतर्भुक्त है जिसकी आईसीसी ने गारंटी दी थी| पीसीबी (PCB) और पाकिस्तानी सरकार का कुल नुकसान इससे कहीं अधिक होने की उम्मीद है।

९ अप्रैल २००९ को, पीसीबी (PCB) के अध्यक्ष इजाज़ बट ने यह बताया कि उन्होंने आईसीसी के निर्णय के विरोध में एक कानूनी नोटिस जारी किया है|[21] हालांकि, आईसीसी का यह दावा है कि पीसीबी (PCB) अब भी एक संयुक्त मेज़बान है, उन्होंने ने तो केवल मैचों के स्थान बदलकर पाकिस्तान से बाहर कर दिए हैं|[22] पाकिस्तान ने यह प्रस्ताव रखा है कि दक्षिण एशिया २०१५ के विश्व कप की मेजबानी करे और ऑस्ट्रेलिया / न्यूजीलैंड २०११ के विश्व कप की मेजबानी करे, हालांकि उसके अन्य संयुक्त मेज़बान इस विकल्प से सहमत नहीं हुए और इसलिए यह रूपायित नहीं हो सका।[23]

मैचों का आवंटन[संपादित करें]

11 अप्रैल 2005 को पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष शहरयार खान ने मैचों के आवंटन पर सहमति की घोषणा की.[24] मूल योजना के अनुसार अंतिम मैच की मेजबानी भारत को करनी थी, जबकि पकिस्तान और श्रीलंका सेमिफाइनल की मेजबानी करने वाले थे.[25] और उद्घाटन समारोह बांग्लादेश में होना था।[26]

संयुक्त मेजबानी के दर्जे से वंचित किये जाने के बाद, पाकिस्तान ने अपने देश में होने वाले मैचों को संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित करने के लिए बोली लगायी क्योंकि वह एक निष्पक्ष प्रतियोगिता स्थल हो सकता था. यह पिछले महीनों में पाकिस्तान द्वारा आबू धाबी, दुबई और शारजाह में मैच खेले जाने के परिणामस्वरूप हुआ था. इन स्टेडियम की पिचें भी पाकिस्तानी खिलाड़ियों के अनुकूल विकसित की गयी थीं. इससे समय सारिणी में भी कोई छेड़खानी नही होती क्योंकि मुंबई शहर से नियमित रूप से दुबई के लिए विमान चलते रहते हैं.

हालांकि, 28 अप्रैल 2009 को, आईसीसी (ICC) ने उन मैचों के स्थान बदलने की घोषणा की जो पाकिस्तान में खेले जाने वाले थे. इसके फलस्वरूप, अब भारत 8 प्रतियोगिता स्थलों के बीच 29 मैचों की मेजबानी करेगा जिसमे अंतिम (फाइनल) और एक सेमिफाइनल मैच भी शामिल है; श्रीलंका तीन प्रतियोगिता स्थलों के बीच 12 मैचों की मेजबानी करेगा जिसमे एक सेमीफाइनल भी होगा; जबकि बांग्लादेश 2 प्रतियोगिता स्थलों के बीच 8 मैचों की मेजबानी करेगा और साथ ही साथ 17 फ़रवरी 2011 को उद्घाटन समारोह का आयोजन भी बांग्लादेश में ही होना है।[27]

1 जून 2010 को मुंबई में प्रतियोगिता की केन्द्रीय आयोजन समिति की बैठक के बाद 2011 विश्व कप के लिए टिकटों की बिक्री का पहला चरण भारत, श्रीलंका और बांग्लादेश में शुरू किया गया. समिति ने कहा कि टिकट की कीमत वहनीय है, सबसे सस्ते टिकट की कीमत श्रीलंका में 20 सेंट है.[28] जनवरी 2011 में, आईसीसी ने भारत के कोलकाता स्थित ईडेन गार्डेन्स को अनुपयुक्त घोषित कर दिया और कहा कि इसके 27 फ़रवरी जिस दिन वहां भारत और इंग्लैंड के बीच मैच होना है, तक पूर्ण हो जाने की सम्भावना है. इसके परिणामस्वरूप, अब यह मैच दूसरे स्थान पर होगा।[29]

उद्घाटन समारोह[संपादित करें]

उद्घाटन समारोह का आयोजन बांग्लादेश में होगा. इस समारोह का कार्यक्रम स्थल ढाका, बांग्लादेश में स्थित बंगबंधु राष्ट्रीय स्टेडियम होगा. यह समारोह 17 फ़रवरी 2011 को, विश्व कप के प्रथम मैच के दो दिन पूर्व हुआ।

राजदूत[संपादित करें]

आईसीसी (ICC) क्रिकेट विश्व कप 2011 के आधिकारिक राजदूत सचिन तेंदुलकर हैं।[30]

आईसीसी क्रिकेट विश्व कप 2011, जोकि विश्व की तीसरी सबसे बड़ी क्रीड़ा प्रतियोगिता है और बांग्लादेश, भारत व श्रीलंका में 19 फ़रवरी 2011 से 2 अप्रैल 2011 तक आयोजित होगी, के राजदूत की भूमिका में उन्हें प्रतियोगिता के लिए आईसीसी की अगुआई में विभिन्न कार्यकर्मों के प्रोत्साहन और समर्थन के लिए बुलाया जायेगा।

प्रतीक[संपादित करें]

शुभंकर[संपादित करें]

स्टम्पी, 2011 क्रिकेट विश्व कप का शुभंकर

स्टम्पी[31] 2011 विश्व कप का आधिकारिक शुभंकर है. इसका अनावरण 2 अप्रैल 2010 को शुक्रवार के दिन, कोलम्बो, श्रीलंका में एक समारोह में किया गया था. यह एक 10 वर्षीय हाथी है जो बहुत छोटा, उत्साही और दृढ़निश्चयी है. संपूर्ण विश्व के सभी क्रिकेट प्रेमी शुभंकर का नाम रखे जाने की एक प्रतियोगिता में हिस्सा ले सकते थे.[32] शुभंकर के आधिकारिक नाम की घोषणा 2 अगस्त 2010 को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद द्वारा जुलाई 2010 के अंतिम सप्ताह में संचालित एक ऑनलाइन प्रतिस्पर्धा के बाद की गयी थी.[33] इसका अनावरण सचिन तेंदुलकर, महेंद्र सिंह धोनी और कुमार संगाकारा जैसे खिलाड़ियों द्वारा विश्व कप शुरू होने के 200 दिन पूर्व किया गया था।[34]

आधिकारिक गीत[संपादित करें]

2011 विश्व कप का आधिकारिक गीत "दे घुमा के" की संगीत रचना शंकर-एहसान-लॉय द्वारा की गयी है और इसे हिंदी, बांग्ला और सिंहाला भाषाओँ में गाया गया है।[35] यह शंकर महादेवन और दिव्य कुमार द्वारा गाया गया है और इसका विपणन ओजैल्वी एंड मैथर द्वारा किया गया है। इसमें भारतीय लय की लदी शामिल है और साथ ही साथ रॉक और हिप-हॉप के मसाले भी हैं। यह गीत प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह में बजाया जायेगा जो 17 फ़रवरी 2011 को बांग्लादेश में होना है।[36]

दूत[संपादित करें]

सचिन तेंदुलकर आईसीसी क्रिकेट विश्व कप २०११ के आधिकारिक दूत हैं।[37]

मीडिया कवरेज[संपादित करें]

प्रत्येक प्रतियोगिता के साथ विश्व कप एक मीडिया कार्यक्रम के रूप में विकसित होता गया है. अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने 2011 विश्व कप के प्रसारण अधिकार लगभग 2 बिलियन यूएस डॉलर में ईएसपीएन (ESPN) स्टार स्पोर्ट्स और स्टार क्रिकेट को बेच दिए हैं. इस प्रतियोगिता का प्रसारण पूरे विश्व में, लगभग 220 देशों में होगा।[38][कृपया उद्धरण जोड़ें]

पुरस्कार[संपादित करें]

ट्रॉफी[संपादित करें]

आईसीसी क्रिकेट विश्व कप ट्रॉफी एक चलायमान ट्रॉफी है, जो 1999 से विजेता टीम को दी जाती आ रही है. इसकी डिजाइन गेरार्ड एंड कम्पनी द्वारा 2 महीने के अन्दर तैयार की गयी थी. वास्तविक ट्रॉफी आईसीसी के दुबई स्थित मुख्यालय में रखी हुई है. विजेता टीम को इसकी एक प्रतिकृति दी जाती है. इन दोनों के बीच एकमात्र अंतर यह है कि वास्तविक ट्रॉफी में सभी पिछले विजेताओं के नाम लिखे गए हैं।

पुरस्कार राशि[संपादित करें]

2011 विश्व कप की विजेता टीम अपने साथ 3 मिलियन यूएस डॉलर की पुरस्कार राशि लेकर जायेगी और द्वीतीय विजेता बनने वाली टीम 1.5 मिलियन यूएस डॉलर की पुरस्कार राशि प्राप्त करेगी, इस पर भी अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद इस बेहद मांग पूर्ण प्रतियोगिता के लिए कुल आवंटन को दुगना कर 10 मिलियन यूएस डॉलर तक भी कर सकता है। यह निर्णय 20 अप्रैल 2010 को दुबई में आयोजित आईसीसी (ICC) बोर्ड की बैठक में लिया गया था.[39][40]

प्रतियोगिता स्थल[संपादित करें]

साँचा:Section images needed 2011 विश्व कप के लिए सभी भारतीय स्टेडियम का चुनाव[41] पहले ही हो चुका है और बांग्लादेश व श्रीलंका के प्रतियोगिता स्थलों का चुनाव 2009 के अक्टूबर महीने के अंत में हो गया था। 2 नवम्बर 2009 को मुंबई में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषदद्वारा 2011 विश्व कप हेतु सभी प्रतियोगिता स्थलों की घोषणा की जा चुकी थी. श्रीलंका में दो नए स्टेडियम विशेषरूप से 2011 विश्व कप के लिए ही बनाये गए हैं। ये कांडी और हम्बनटोटा में स्थित हैं.[42]

Flag of भारत कोलकाता Flag of श्रीलंका कोलंबो Flag of भारत नई दिल्ली Flag of श्रीलंका कैंडी Flag of भारत अहमदाबाद
ईडन गार्डन
क्षमता: 82,000
(उन्नत किया जा रहा है)
आर. प्रेमदासा स्टेडियम
क्षमता: 35,000
(उन्नत किया जा रहा है)
फिरोज शाह कोटला
क्षमता: 48,000
मुथैया मुरलीधरन अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम
क्षमता: 35,000
(नया स्टेडियम)
सरदार पटेल स्टेडियम
क्षमता: 50,000
Eden Gardens.jpg R Premadasa Stadium.jpg Firoze shah.jpg Sardar Patel Stadium.JPG
Flag of बांग्लादेश चितागोंग Flag of भारत चेन्नई Flag of बांग्लादेश ढाका
चितागोंग डिविजनल स्टेडियम
क्षमता: 20,000
एम. ए. चिदंबरम स्टेडियम
क्षमता: 46,000
(उन्नत किया जा रहा है)
शेर-ए-बांग्ला क्रिकेट स्टेडियम
क्षमता: 35,000
MAC Chepauk stadium.jpg Ispahani End, Sher-e-Bangla Cricket Stadium.jpg
Flag of भारत मुंबई Flag of श्रीलंका हमबनटोटा Flag of भारत मोहाली Flag of भारत नागपुर Flag of भारत बंगलौर
वानखेड़े स्टेडियम
योजनाबद्ध क्षमता: 45,000
(उन्नत किया जा रहा है)
महिंदा राजपक्षा इंटरनैशनल स्टेडियम
क्षमता: 37,000
(नया स्टेडियम)
पंजाब क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम
क्षमता: 35,000
विदर्भ क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम
क्षमता: 45,000
एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम
क्षमता: 42,000
LightsMohali.png VCA Jamtha 1.JPG MChinnaswamy-Stadium.jpg
style="border:0 solid blue;" style="border:0 solid blue;" Sri Lanka|width=197|float=center|caption=Venues in Sri Lanka|places=

अंपायर[संपादित करें]

अम्पायर चयन दल ने विश्व कप के लिए 18 अम्पायरों का चुनाव किया, इस संख्या में एक आरक्षित अम्पायर, इनामुल हक़ शामिल नहीं है: 5 ऑस्ट्रेलिया से, 6 एशिया से, 3 इंग्लैंड से, 2 न्यू जीलैंड से और दक्षिण अफ्रीका तथा वेस्ट इंडीज़ से एक-एक हैं।

ऑस्ट्रेलिया
  • Flag of ऑस्ट्रेलिया साइमन टॉफेल
  • Flag of ऑस्ट्रेलिया स्टीव डेविस
  • Flag of ऑस्ट्रेलिया रॉड टकर
  • Flag of ऑस्ट्रेलिया डेरिल हार्पर
  • Flag of ऑस्ट्रेलिया ब्रूस ऑक्सेंफोर्ड
न्यूजीलैंड
  • Flag of न्यूज़ीलैंड बिली बोडेन
  • Flag of न्यूज़ीलैंड टोनी हिल
दक्षिण अफ्रीका
  • Flag of दक्षिण अफ़्रीका मराइस इरास्मस
पाकिस्तान
  • Flag of पाकिस्तान अलीम दार
  • Flag of पाकिस्तान असद रऊफ
भारत
  • Flag of भारत शवीर तारापोर
  • Flag of भारत अमिश साहेबा
इंग्लैंड
  • Flag of इंग्लैण्ड इयान गोल्ड
  • Flag of इंग्लैण्ड रिचर्ड केटेलबोरो
  • Flag of इंग्लैण्ड निगेल लोंग
श्रीलंका
  • Flag of श्रीलंका अशोका डी सिल्वा
  • Flag of श्रीलंका कुमार धर्मसेना
वेस्ट इंडीज
  • Flag of डोमिनिका बिली डोक्ट्रोव

समूह[संपादित करें]

प्रत्येक देश ने, प्रतियोगिता के लिए अपने अंतिम दल के चयन से पूर्व एक 30 सदस्यीय प्रारंभिक दल का चुनाव किया, फिर इसके सदस्यों की संख्या घटाकर 15 की गयी. सभी 14 सदस्यों ने अपने अंतिम दल की घोषणा 19 जनवरी 2011 से पूर्व कर दी थी.

मेच[संपादित करें]

समूह अ[संपादित करें]

प्रत्येक समूह से सेमी फायनल में पहुंचने वाले शीर्ष चार दल (हरे रंग में दिखाये गये हैं।

साँचा:Cricket match summary

समूह ब[संपादित करें]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ और नोट्स[संपादित करें]

  1. "2011 World Cup Schedule". from CricketWorld4u. http://www.cricketworld4u.com/series/icc-world-cup-2011/. अभिगमन तिथि: 2009-10-07. 
  2. "Final World Cup positions secured". from BBC. 2009-04-17. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/cricket/8005063.stm. अभिगमन तिथि: 2009-04-17. 
  3. "Opening ceremony of 2011 World Cup on Feb 17 in Bangladesh: ICC". Daily News and Analysis. PTI. 2 सितंबर 2009. http://www.dnaindia.com/sport/report_opening-ceremony-of-2011-world-cup-on-feb-17-in-bangladesh-icc_1287222. अभिगमन तिथि: 31 दिसम्बर 2010. 
  4. "No World Cup matches in Pakistan". BBC. 2009-04-18. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/cricket/other_international/pakistan/8004684.stm. अभिगमन तिथि: 2009-04-17. 
  5. "World Cup shifts base from Lahore to Mumbai". Cricinfo. http://content.cricinfo.com/india/content/current/story/401726.html. अभिगमन तिथि: 2009-04-17. 
  6. "Pakistan counts cost of Cup shift". BBC. 2009-04-18. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/cricket/other_international/pakistan/8004684.stm. अभिगमन तिथि: 2009-04-18. 
  7. "Pakistan nears solution to World Cup dispute". AFP. Archived from the original on 2010-05-09. http://web.archive.org/web/20100509192509/http://www.google.com/hostednews/afp/article/ALeqM5gjlcwb7FGlFoUn2QjftFetKAeYOQ. अभिगमन तिथि: 2009-07-31. 
  8. "Asia to host 2011 World Cup". Cricinfo. http://content-uk.cricinfo.com/ci/content/current/story/245789.html. अभिगमन तिथि: 2006-04-30. 
  9. Richard Boock. "Cricket: West Indies skipper backs Kiwi bid for 2011 World Cup". New Zealand Herald. http://www.nzherald.co.nz/event/story.cfm?c_id=497&ObjectID=10370498. अभिगमन तिथि: 2006-03-01. 
  10. "West Indies deal secured 2011 World Cup". Cricinfo. http://content-usa.cricinfo.com/ci/content/story/245956.html?CMP=OTC-RSS. अभिगमन तिथि: 2006-05-02. 
  11. "Asia promises spectacular World Cup". Dawn. http://www.dawn.com/2006/05/02/spt1.htm. अभिगमन तिथि: 2005-05-02. 
  12. "Promise of profit won Asia the bid - Bindra". Cricinfo. http://content-usa.cricinfo.com/india/content/story/246390.html. अभिगमन तिथि: 2006-05-07. 
  13. "Bindra: No deal with West Indies board". Cricinfo. http://content-usa.cricinfo.com/india/content/story/246276.html. अभिगमन तिथि: 2006-05-05. 
  14. विश्व कप के लिए नया प्रारूप स्काई स्पोर्ट्स| १० दिसम्बर २००९ को पुनः प्राप्त
  15. "No Test Cricket For Zimbabwe - ICC". Radiovop. http://www.radiovop.com/index.php?option=com_content&task=view&id=6051&Itemid=171. 
  16. "ICC World Cup Qualifier". बीबीसी खेल. http://news.bbc.co.uk/sport2/hi/cricket/7881949.stm. अभिगमन तिथि: 21 जुलाई 2013. 
  17. "World Cup matches moved out of Pakistan". Cricinfo. http://content.cricinfo.com/ci/content/story/400154.html. अभिगमन तिथि: 2009-04-17. 
  18. 2011 विश्व कप पाकिस्तान हार गया स्काई स्पोर्ट्स| २ दिसम्बर २००९ को पुनः प्राप्त|
  19. "Pakistan may reject playing 2011 WC matches in India". Sify. http://sify.com/sports/fullstory.php?a=jetpCkfhejd&title=Pakistan_may_reject_playing_2011_WC_matches_in_India&?vsv=TopHP2. अभिगमन तिथि: 2009-04-19. 
  20. "Cricket-Pakistan counts financial losses of World Cup shift". Reuters. 18 अप्रैल 2009. http://uk.reuters.com/article/cricketNews/idUKSP40546620090418. अभिगमन तिथि: 2009-04-18. 
  21. आईसीसी (ICC) को पीसीबी (PCB) ने कानूनी नोटिस जारी किया| पाकिस्तान क्रिकेट समाचार | Cricinfo.com
  22. "ICC clears air over PCB's claims". Cricinfo. http://content.cricinfo.com/ci-icc/content/current/story/404371.html. अभिगमन तिथि: 2009-05-15. 
  23. "Pakistan discusses two World Cup options". Cricinfo. http://content.cricinfo.com/pakistan/content/current/story/404585.html. अभिगमन तिथि: 2009-05-17. 
  24. "Asian bloc faces stiff competition over 2011 bid". Cricinfo. http://content-uk.cricinfo.com/ci/content/story/245060.html. अभिगमन तिथि: 2006-04-22. 
  25. "India to host 2011 World Cup final". Cricinfo. http://content-uk.cricinfo.com/ci/content/current/story/252718.html. अभिगमन तिथि: 2006-07-08. 
  26. "India lands 2011 World Cup final". BBC. 2006-07-08. http://news.bbc.co.uk/sport2/hi/cricket/5160396.stm. अभिगमन तिथि: 2006-07-09. 
  27. "India to host 2011 World Cup final". Cricinfo. http://content.cricinfo.com/india/content/current/story/401840.html. अभिगमन तिथि: 2009-04-28. 
  28. "2011 World Cup tickets go on sale". http://www.cricinfo.com/icc-cricket-world-cup-2011/content/current/story/461645.html. 
  29. Gollapudi, Nagraj (2011-01-29). "ICC rejects plea for Eden Gardens extension". Cricinfo. http://www.espncricinfo.com/icc_cricket_worldcup2011/content/story/498693.html. अभिगमन तिथि: 2011-01-29. 
  30. "Sachin Tendulkar to be event ambassador for ICC world cup 2011". ICC. http://cricket.yahoo.com/series/icc-cricket-world-cup_1241/eventinfo/eventambassador_26. अभिगमन तिथि: 2011-01-19. 
  31. 2011 के विश्व कप के लिए शुभंकर 'स्टम्पी' के नाम से बुलाया जाता है एनडीटीवी (NDTV) क्रिकेट. 2 अगस्त 2010 को पुनःप्राप्त.
  32. प्रथम दृष्टि: रेडिफ सपोर्ट द्वारा 2011 क्रिकेट विश्व कप के लिए शुभंकर. 2 अप्रैल 2010 को पुनःप्राप्त.
  33. आईसीसी (ICC) टू नेम आईसीसी (ICC) क्रिकेट विश्व कप 2011 मैस्कॉट ऑन 2 अगस्त. आईसीसी (ICC). 2 अगस्त 2010 को पुनःप्राप्त.
  34. क्रिकेट विश्व कप के शुभंकर
  35. विश्व कप गीत के साथ शंकर-एहसान-लॉय ने एक बड़ा हिट किया हिंदुस्तान टाइम्स. 9 जनवरी 2011 को पुनःप्राप्त.
  36. "दे घुमा के...विश्व कप के लिए उलटी गिनती आज शुरू होती है". इंडियन एक्सप्रेस. 9 जनवरी 2011 को पुनःप्राप्त.
  37. "Sachin Tendulkar to be event ambassador for ICC world cup 2011". ICC. http://cricket.yahoo.com/series/icc-cricket-world-cup_1241/eventinfo/eventambassador_26. अभिगमन तिथि: 2011-01-19. 
  38. "List of TV Channels that will be showing ICC Cricket World Cup 2011 Match Live". http://worldcup-cricket-2011.com/icc-cricket-world-cup-2011-live-tv-broadcasting-list-of-tv-channels-worldwide-showing-icc-2011-cricket-world-cup-matches-live/. 
  39. आईसीसी (ICC) द्वारा 2011 के आईसीसी (ICC) क्रिकेट विश्व कप के लिए पुरस्कार राशि की पुष्टि. 25 अप्रैल 2010 को पुनःप्राप्त.
  40. सीडब्ल्यूसी (CWC) 2011 के पुरस्कार मुद्रा आधिकारिक साइट।
  41. भारत में आठ विश्व कप के जगह अनावरण। 17 अक्टूबर 2009 को पुनःप्राप्त.
  42. आईसीसी (ICC) द्वारा 2011 विश्व कप के स्थान 10 मार्च 2010 को पुनःप्राप्त

बाहरी लिंक्स[संपादित करें]

आधिकारिक साइट[संपादित करें]

अन्य साइट[संपादित करें]

साँचा:2011 Cricket World Cup finalists

साँचा:International cricket