सिमलिपाल राष्ट्रीय अभ्यारण्य

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
सिमलिपाल राष्ट्रीय उद्यान
स्थिति ओडिशा, भारत
निकटतम शहर बारीपदा
निर्देशांक 21°45′N 86°20′E / 21.75°N 86.333°E / 21.75; 86.333Erioll world.svgनिर्देशांक: 21°45′N 86°20′E / 21.75°N 86.333°E / 21.75; 86.333
क्षेत्रफ़ल 845.70 km².
स्थापित 1980
पर्यटक NA (in 2005)
प्रशासन वन एवं पर्यावरण मंत्रालय, भारत सरकार

सिमलिपाल राष्ट्रीय उद्यान भारत के ओडीशा राज्य के मयूरभंज ज़िले में स्थित एक राष्ट्रीय उद्यान है तथा एक हाथी अभयारण्य है।[1] इस उद्यान का नाम सेमल या लाल कपास के पेड़ों की वजह से पड़ा है जो यहाँ बहुतायत में पाये जाते हैं। यह पार्क ८४५.७० वर्ग किलोमीटर (३२६.५३ वर्ग मील) के क्षेत्र में फैला हुआ है और इसमें जोरांडा और बरेहीपानी जैसे खूबसूरत झरने हैं। इस उद्यान में ९९ बाघ, ४३२ हाथियों के अलावा गौर तथा चौसिंगे भी वास करते हैं। ओडिशा के मयूरभंज जिला मे अवस्थित मयूरभंज राज्य के पूर्ववर्ती शासकों का यह शिकार स्थल प्रोजेक्ट टाइगर के अन्तर्गत शामिल किया गया है। 1956 में इसका चयन आधिकारिक रूप से टाइगर रिजर्व के लिए किया गया था। बारीपदा से 60 किमी. दूर स्थित इसको वन्यजीव अभयारण्य घोषित किया गया जो 2277.07 वर्ग किमी. के क्षेत्रफल में फैला हुआ है। घने जंगलों, झरनों और पहाड़ियों से समृद्ध इस पार्क में विविध वन्यजीवों को नजदीक से देखा जा सकता है। बाघ, हिरन, हाथी और अन्य बहुत से जीव इस पार्क में मूलत: पाए जाते हैं।

बाहरी सूत्र[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Simlipal National Park". Department of tourism, Orissa. http://www.orissatourism.org/wildlife-in-orissa/simlipal-national-park.html. अभिगमन तिथि: २०/११/२०१२.