सांबा (ब्राजीलीय नृत्य)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
बारिश में सांबा कार्निवल, हेलसिंकी, फिनलैंड

सांबा ब्राजीलीय मूल का सांबा संगीत के तहत 2/4 के समय के ताल पर नाचा जाने वाला तालबद्ध एक जीवंत नृत्य है। हालांकि, हर रोध (बार) में तीन कदम उठाए जाते हैं, जिससे सांबा को यह अनुभव हो कि उसने 3/4 समय के अंतराल पर नृत्य किया है। इसका मूल मक्सक्सी (Maxixe (कोरो के संगीत पर नाचा जाने वाला ब्राजीलीय नृत्य टांगो) से जुड़ा है।

19 वीं सदी में इसके सूत्रपात के समय से ही सांबा संगीत ताल पर ब्राजील में नृत्य कियाजाता रहा है। वास्तव में सांबा कोई एक विशेष प्रकार की नृत्य शैली नहीं बल्कि नृत्यों का एक पूरा सेट है, जो ब्राजील में दृश्यगत होता है, अतः किसी एक विशेष नृत्य को "मूल" सांबा शैली के रूप में निश्चितता के साथ दावा नहीं किया जा सकता है।

ब्राजीलीय सांबा नृत्य शैलियों के अतिरिक्त दूसरी प्रमुख धारा बॉलरूम सांबा है, जो उल्लेखनीय रूप से अलग है।

चित्र:Samba Minnies in Helsinki.jpg
छोटी लड़कियों का सांबा, हेलसिंकी

सांबा नो पे (Samba no pé)[संपादित करें]

सांबा नो पे (Samba no pé) एक एकल नृत्य है जो अक्सर साम्बा संगीत के बजने पर अचानक ही नाचा जाता है। आधारभूत संचालन में शरीर एक सीध में रहता है और एक बार में केवल एक ही घुटना मुड़ता है। पैर बहुत हलके थिरकते हैं - एक बार में केवल कुछ ही इंच. प्रति प्रविधि पर 3 चरणों के साथ ताल 2/4 ही रहता है। इसे स्टेप बाल चेंज (दो चरणों में से एक पर अधिक दबाव) के रूप में लिया जा सकता है।इसे ऐण्ड -अ-वन, ऐण्ड-अ-टू और फिर बैक-टू-वन कहकर भी वर्णित किया जा सकता है। दोनों ही ओर मौलिक संचालन एक सामान ही रहता है, जब पहले ताल (बीट) से थोड़ा पहले एक पैर बाहर की ओर ऊपर उठता है (यानी दाहिना पैर हलका-सा दाहिनी ओर मुड़ता है) और पैर पूरी तरह सीधा रहता है। दूसरा पैर हल्का-सा सामने की ओर चलता है और पहले पैर के करीब. दूसरा पैर घुटने पर हल्का-सा झुकता है जिससे कि कूल्हे का बायां हिस्सा नीचे की ओर झुकता है और दाहिना हिस्सा ऊपर की ओर उठता हुआ दिखाई देता है। वजन अगले "और एक" (एंड-अ) के लिए थडी देर के लिए वजन अंदरूनी पैर पर स्थानांतरित कर दिया है और फिर यही वजन "दो" (ऑन टू) के ताल पर बाहर पैर पर पड़ता है और इसी प्रकार पैरों के संचालन की यह प्रक्रिया दूसरे पक्ष की ओर दोहराई जाती है।

यह नृत्य केवल संगीत की ताल का अनुसरण करता है और इस प्रकार बहुत जल्दी औसत से काफी तेज गति पकड़ सकता है। जमीन पर पूरे पैर के साथ पुरुष नृत्य करते हैं, जबकि महिलाओं को अक्सर ऊँची एड़ी के जूते पहने, सिर्फ पैर के अगले गद्देदार पंजे पर नृत्य करना पड़ता है। पेशेवर नर्तक कदमों को थोड़ा बदल सकते हैं, 3 की बजाय प्रति धाप 4 कदम चलकर और अक्सर संगीत के मिजाज के मुताबिक बाहों के संचालन कर.

ब्राजील में नृत्य के आंचलिक स्वरूप भी हैं जिसमे आवश्यक कदम एक सामान ही हैं, लेकिन संगीत के उच्चारण में परिवर्तन की वजह से लोग लहजे में थोड़ा हेर-फेर कर ही ताल से ताल मिलाकर ठीक इसी तरह की अंग-भंगी के साथ नृत्य करेंगे. उदाहरण के लिए, बाहिया में लड़कियों का झुकाव अपने पैरों को बाहर की ओर मोड़ने की ओर अधिक होता है न कि घुटनों को एक साथ एक दूसरे के करीब सटाकर, जैसाकि रियो डी जनेरियो में होता है।

यह सांबा नृत्य का एक प्रकार है जैसाकि कोइ ब्राजील के कार्निवल परेड में एवं दुनिया भर में होने वाले अन्य सांबा कार्निवल में दिखाई देता है। यह भी सांबाओं के लोकप्रिय संस्करणों में से एक सबसे लोकप्रिय सांबा है।

सांबा डी गैफियेरा (Samba de Gafieira)[संपादित करें]

सांबा डी गैफियेरा एक युगल नृत्य है जो बालरूम सांबा से काफी अलग है। यह 1940 के आसपास दिखाई दिया और उस समय के रियो डी जेनेरो के लोकप्रिय शहरी नाइटक्लब गैफियेरा (Gafieira) के नाम पर इसका नाम पड़ा.

यह नृत्य max (Maxixe) से व्युत्पन्न और (साम्बा की एक और संगीत शैली) कोरो (Choro) के आगमन का अनुकरण करता है। इसने मक्सिक्से के पोल्का के अधिकांश तत्वों को त्याग दिया लेकिन अर्जेंटीना के टेंगो की एक दुसरे से लिपटे हुए पैरों के संचालन को बनाए रखा, हालांकि बाद वाली भंगिमा की तुलना में अधिक आराम की मुद्रा अपनाते हुए. कई सांबा की इस शैली को वाल्ट्ज और टेंगो का संयोजन मानते हैं। ब्राजील के कई नृत्य स्टूडियो सांबा डी गफियेरा के पद-संचालन एवं नृत्य की नियमावली सिखाने में इन दोनों नृत्य के तत्व और तकनीक का उपयोग करते हैं।

चरण छोट-छोटे-लम्बे (जल्द-जल्दी धीमी गति से) चलते हैं और मौलिक पद-संचालन की गति निम्नानुसार है:

  • चरण - वापस रखना - आगे (लंबे)
  • चरण - वापस रखना - पीछे (लंबे)

जबसे यह आरम्भ हुआ है तबसे आजतक सांबा डी गफेरिया में कई अक्रोबेटिक की कलाबाजियां शामिल की गयी हैं और ब्राजील में सांबा की आज की सबसे जटिल नृत्य शैली के रूप में विकसित हुई है। यह शैली दुनिया भर के नृत्य अकादमियों में मौजूद है।

सांबा पगोडे (Samba Pagode)[संपादित करें]

सांबा पगोडे एक और युगल साम्बा नृत्य है जो सांबा डी ग़फ़िएइर जैसा दिखता है, लेकिन इसमें अक्रोबेटिक कलाबाजियां कम होती हैं और युगल अधिक घनिष्ठ हो जाते है। पगोडे के आने के बाद यह नृत्य की एक शैली बन गयी और साओ पाउलो शहर में इसकी शुरूआत हुई.

सांबा ऐक्स (Samba Axé)[संपादित करें]

सांबा ऐक्स एक एकल नृत्य है जिसकी शुरूआत 1992 में ब्राजीलीय कार्निवल उत्सव के दौरान बाहिया में हुई जब ऐक्स की ताल नेलंबाडा को प्रतिस्थापित कर दिया. कई सालों के लिए यह ब्राजील के उत्तर पूर्व के लिए छुट्टी के महीनों के दौरान एक प्रकार का प्रमुख नृत्य बन गया। यह नृत्य पूरी तरह से शैली में निर्देशित है और संचालन की भंगिमाएं गीत की नकल करती हैं। यह एक बहुत ऊर्जावान नृत्य की तरह है जिसमे सांबा नो पे के तत्वों और एरोबिक्स का मिश्रण है और क्योंकि गीत, जो मनोरंजन के लिए बने हैं, उने साथ नृत्य में आम तौर पर एक प्रकार का कौतुक तत्व घुला होता है।

कई संगीत दलों जैसे "ए ओ चान" ("É o Tchan") विपणन नीति है कि उनकी हर कोरियोग्राफ़ी हमेशा उनके गीतों के साथ रिलीज होती है, इसलिए सांबा ऐक्स हमेशा एक परिवर्तनशील नृत्य है जिसमे कोई औपचारिक पद-संचालन का प्रारूप या नियमबद्धता बनाए रखने के लिए कोइ प्रतिबद्धता नहीं होती है (इसमें वास्तव में सांबा ऐक्स जैसी कोइ मौलिक बात नहीं होती है।)

सांबा रेग्गे[संपादित करें]

इसके अलावा यह बाहिया से उत्पन्, सांबा ड्रम के साथ रेग्गे की धुन का एक मिश्रण है। डैनिएला मरकरी, ने अपने बेहद लोकप्रिय गानों जैसे कि "सोल डा लिबर्देद" "ओ रेग्गे ई ओ मार" एवं "पेरोला नेगरा" के साथ दुनिया को लय में बांध दिया. बाहिया में सांबा रेग्गे दूसरा सबसे लोकप्रिय साम्बा शैली है, जिसके ब्राजील भर मेंअनुयायी है।

सांबा-रॉक[संपादित करें]

सांबा रॉक साम्बा का ही एक हल्का-फुल्का रूप है और यह साओ पाउलो में उद्भूत है। यह एक लैटिन नाइट क्लब नृत्य है। सांबा रॉक थोडा बहुत सांबा डी गैफियेरा, फोर्रो, जोक-लाम्बादा और सालसा जैसा दिखता है।

सांबा डी रोडा (Samba de roda)[संपादित करें]

सांबा डी रोडा कपोएइर दलों द्वारा प्रदर्शित एक पारंपरिक अफ्रीकी ब्राजील के नृत्य है (अफ्रीकी दासों द्वारा विकसित सामरिक, क्रीडा और संगीत शैली का मिश्रण) जो कई सालों से उनके साथ संबद्ध है। ऑर्केस्ट्रा का गठन पन्देइरो (pandeiro), अताबकुए (atabaque), बेरिम्बु-वाइओला (berimbau-viola) (छोटी लौकी के साथ बेरिम्बु झुनझुने - सा वाद्य-यंत्र (cabaça) तथा ऊंची तान), चोकाल्हो chocalho, (खड़खड़ - एक तबला है) से होता है जिसके साथ गाना और ताली बजाना शामिल है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • कैरिओका (नृत्य)
  • नृत्यों की सूची
  • कैपोएइरा अंगोला
  • ब्राज़ीली कार्निवाल
  • साम्बा
  • साम्बा स्कूल

बाहरी लिंक्स[संपादित करें]