श्वेत रातें (लघु कथा)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

श्वेत रात या "व्हाइट नाइट्स" फ़्योद्र दोस्तोयेव्स्की नामक एक रूसी लेखक द्वारा अपने कैरियर के आरम्भ में लिखी गई एक लघु कथा है। मूल कथा १८४८ में प्रकाशित हुई थी।

फ़िल्में[संपादित करें]

इस कहानी पर आज तक कई फ़िल्में बनाई जा चुकी हैं। इनमे इतालवी निर्देशक लुचिनो विस्कोन्ती और फ़्रांस के निदेशक राबर्ट ब्रेसन द्वारा (चार रातें एक स्वप्नदृष्टा की, के रूप में), ईरानी निर्देशक फर्जाद मोतामेन द्वारा (शभाये रोशन के रूप में) और भारतीय फिल्म निर्देशकों ने मनमोहन देसाई (छलिया (१९६०)), संजय लीला भंसाली (साँवरिया) और जनानाधन (इयारकइ) द्वारा निर्मित फ़िल्म प्रमुख हैं।