शिवकर बापूजी तलपदे

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

शिवकर बापूजी तळपदे (१८६४ - १९१६) भारत के महाराष्ट्र के निवासी थे जिनके बारे में कहा जाता है कि उन्होने सन् १८९५ में मारुतसखा नामक चालकरहित विमान उड़ाया था। वे सम्स्कृत साहित्य एवं वेदों के विद्वान थे मुम्बई कला विद्यालय (बॉम्बे स्कूल आफ आर्ट्स) में अध्यापक थे। उनकी पत्नी भी संस्कृत की विदुषी थीं।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  • Pratāpa Velakara, Pāṭhāre prabhūñcā itihāsa: nāmavanta lekhakāñcyā sas̃́odhanātmaka likhāṇāsaha : rise of Bombay from a fishing village to a flourishing town, Pune, Śrīvidyā Prakāśana (1997)[1]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]