सहायता:लॉगिंग इन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

गोंडा के अकोनी क्षेत्र की एक महिला ने चार छोटे बच्चों को छोड़कर इसलिए आत्महत्या कर ली क्योकि,उसके पास खाने को कुछ नहीं था कई दिनों से उसके घर खाना नहीं बना था l क्या गरीब होना पाप है ? या गरीबी इस हद तक पहुंचा देती है कि कठोर निर्णय लेने पर विवश होना पड़ता है l यह वीभत्स कृत्य अन्तर्मन को चोट पहुचाता है,सरकार द्वारा गरीबों के लिए कई योजनायें लायी जाती है जिसमे एक योजना यह भी है खाद्य सामग्री व मिट्टीतेल जैसे बेहद जरुरी चीजें सस्ते मूल्य पर उपलब्ध होते है लेकिन इसकी हकीकत यह है कि यह सामग्री गोदामों से ही ब्लैक कर दी जाती है l और इसका लाभ गरीब को नहीं मिल पाता है भारत में भूख के कारण होने वाली मौत कोई नयी बात नहीं है पर आजादी के इतने दिनों बाद भी यह सवाल जेहन में उठता है इस मौत का जिम्मेदार कौन है?