वख़्श नदी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
वख़्श नदी (नीले रंग में)
ताजिकिस्तान में नुरेक बाँध के पीछे वख़्श नदी एक सरोवर बना देती है

वख़्श नदी, जिसे सुरख़ोब नदी और किज़िल सूउ भी कहा जाता है, मध्य एशिया में स्थित एक नदी है जो आमू दरिया की एक उपनदी भी है। यह ताजिकिस्तान की मुख्य नदियों में से एक है।[1]

नाम का उच्चारण[संपादित करें]

'वख़्श' और 'सुरख़ोब' में 'ख़' अक्षर के उच्चारण पर ध्यान दें क्योंकि यह बिना बिन्दु वाले 'ख' से ज़रा भिन्न है। इसका उच्चारण 'ख़राब' और 'ख़रीद' के 'ख़' से मिलता है।

नदीमार्ग[संपादित करें]

वख़्श किर्गिज़स्तान की अलाई वादी से उत्पन्न होकर २६२ किलोमीटर पश्चिम की ओर चलती है और फिर ताजिकिस्तान में प्रवेश करती है। वहाँ यह ५२४ किमी चलकर पामीर पर्वत क्षेत्र पहुँचती है जहाँ यह बहुत पहाड़ी इलाक़ों की तंग गलियों से होती हुई निकलती है। ताजिकिस्तान की बहुत सी हिमानियों (ग्लेशियर) से भी इसको और जल मिलता है। यहाँ मुक्सु नदी भी इसमें जा मिलती है। ताजिकिस्तान में इसको 'वख़्श' नाम उस जगह के बाद दिया जाता है जहाँ सुरख़ोब नदी और ओबीहिंगू नदी का संगम होता है। पामीर क्षेत्र से निकलकर यह दक्षिण-पश्चिमी ताजिकिस्तान के मैदानी इलाक़ों से गुज़रती है और फिर जाकर पंज नदी में विलय हो जाती है। इस विलय के बाद इन दोनों नदियों के मिली हुई धरा को आमू दरिया के नाम से पुकारा जाता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Fish and fisheries at higher altitudes: Asia, Food & Agriculture Org., 1999, ISBN 978-92-5-104309-7, ... In its upper reaches the Amu Darya is known as Vakhan River (Vakhsh), then as Panj River (Pyandzh), when it receives the Pamir River ...