लाल मस्जिद

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
लाल नुक़्ता से इस्लामाबाद में लाल मस्जिद के स्थिति।

लाल मस्जिद (उर्दू: لال مسجد) इस्लामाबाद, पाकिस्तान के राजधानी में स्थित एक मस्जिद है। एक महिलाएँ के लिए एक धर्मीय विद्यालय, जामिया हफ़्सा मद्रसह और एक पुरुष मद्रसह, मस्जिद से संयुक्त है।

इतिहास[संपादित करें]

लाल मस्जिद का निर्माण १९६५ में किया गया और इसका नामकरण इसकी लाल दीवारों और आन्तरीक भाग के कारण किया गया। राजधानी विकास प्राधिकरण के अनुसार लाल मस्जिद पाकिस्तान की सबसे प्राचीन मस्जिदों में से एक है। मौलाना मुहम्मद अब्दुल्लाह को इसका प्रथम इमाम नियुक्त किया गया।[1] १९९८ में मौलाना मुहम्मद अब्दुल्लाह की हत्या कर दी गयी जिसके बाद अब्दुल अज़ीज़ ग़ाज़ी और अब्दुल राशिद ग़ाज़ी ने मस्जिद में पदभार संभाल लिया और यहाँ कट्टरपंथी शिक्षण और सरकार को खुले विरोध का एक केन्द्र बनने का कार्य किया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. सैयद शौयब हसन (27 जुलाई 2007). "Profile: Islamabad's Red Mosque [प्रोफाइल: इस्लामाबाद की लाल मस्जिद]". बीबीसी. http://news.bbc.co.uk/2/hi/south_asia/6503477.stm. अभिगमन तिथि: 13 अक्टूबर 2013. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]