रीडिफ.कॉम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
शब्द चिन्ह

रीडिफ.कॉम (Rediff.com), भारत केन्द्रित एक अँग्रेज़ी अंतरजाल पोर्टल (intrnet portel) है। इसकी नीव 1996 मे अजीत बालकृष्णन द्वारा मुंबई मे रखी गयी थी । अब इसके मुख्यालय नई दिल्ली और न्यू यॉर्क मे भी हैं |
एलेक्सा (alexa) क्रम के हिसाब से यह भारत मे पँचवा सबसे बड़ा पोर्टल है। इसमे 250 कर्मचारी हैं

मुख्य पृष्ठ

इतिहास व विकास[संपादित करें]

रीडिफ के अंग्रेजी पोर्टेल की शुरुआत 1996 में हुई थी। प्ररांभिक चरण में यह सिर्फ़ समाचार प्रदान करता था पर बाद मे(1998 के आस पास) इसने मेल(पत्र) कि सुविधा भी दी|

रीडिफ का पहला शब्द चिन्ह

पत्र कि सुविधा रीडिफमेल के नाम से दी जाने लगी।
बाद में खरीदारी एवं रेडियो सुविधा से इसकी अमदनी दिन दुगनी रात चौगुनी हो गयी।

इसके बाद सन 2000 के प्ररंभ में रीडिफ ने अपने पाँव अन्य भाषाओं मे भी पसारने शुरु कर दिये।पहले हिन्दी मे फिर अन्य भाषाओं में,(जैसे तमिल,कन्नड़,बंगाली,गुजराती) समाचार देना शुरु कर दिया।

रीडिफ हिन्दी शब्द चिन्ह


2000 के मध्य में रीडिफ ने रीडिफ बोल(मेसेन्जर:तुरंत सन्देश के आदान प्रदान का साधन) उतारा । इसमे बोल शब्द को 'बड्डीज़ ऑन लईन'(Buddies On Line)(अर्थात:अन्तर्जाल पर उपस्थित मित्र)शब्द के क्षुक्षम रूप से बनाया गया था।

रीडिफ बोल का पहला शब्द चिन्ह
रीडिप्फ़ बोल का आधुनिक चिन्ह

2002 तक रीडिफ ने तमिल,कन्नड़,बंगाली कि सुविधा समाप्त कर दी थी।2003 तक हिन्दी व गुजराती भाषा कि सेवा भी बन्द कर दी गयी थी।

उत्पाद व सेवायें[संपादित करें]

रीडिफ पत्र(मेल)[संपादित करें]

असीमित पत्र रक्षण सुविधा के संग।

रीडिफ बोल[संपादित करें]

तुरंत संदेश का आदान प्रदान (instant messanging)

और भी सेवाएं[संपादित करें]

जैसे : ख़रीद-फ़रोक़ (shopping) , शेयर बाज़ार ..आदि |

आय[संपादित करें]

प्रमुख घटनायें[संपादित करें]

विवाद[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]