रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (Reliance Industries)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Reliance Industries Limted
प्रकार Public
BSE: 500325‎
एलएसई: RIGD
उद्योग Conglomerate
स्थापना 1966 As Reliance Commercial Corporation
संस्थापक Dhirubhai Ambani
मुख्यालय Mumbai, Maharashtra, India
क्षेत्र Worldwide
प्रमुख व्यक्ति Mukesh Ambani
(Chairman & MD)
उत्पाद Petroleum
Natural gas
Petrochemicals
Retail stores
Polymers
Polyesters
Chemicals
Textile
Telecommunications
राजस्व भारतीय रुपया2,03,740.00 करोड़ (US$41.97 बिलियन) (2010)[1]
प्रचालन आय भारतीय रुपया28,680.00 करोड़ (US$5.91 बिलियन) (2010)[1]
प्रबंधन आधीन परिसंपत्तियां भारतीय रुपया15,818.00 करोड़ (US$3.26 बिलियन) (2010)[1]
कुल संपत्ति भारतीय रुपया2,45,706 करोड़ (US$50.62 बिलियन) (2009)[2]
कुल इक्विटी भारतीय रुपया1,46,328 करोड़ (US$30.14 बिलियन) (2009)[2]
कर्मचारी 24,679 (2009)[2]
सहायक कंपनियाँ Reliance Petroleum
Reliance Life Sciences
Reliance Industrial Infrastructure Limited
Reliance Institute of Life Sciences
Reliance Logistics
Reliance Clinical Research Services
Reliance Solar
Relicord
Infotel Broadband
वेबसाइट RIL.com

रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड (Reliance Industries Limited) (BSE: 500325‎, एलएसई: RIGD) बाज़ार मूल्य के आधार पर निजी क्षेत्र में भारत की सबसे बड़ी संगुटिका कम्पनी है, मार्च 2010 में समाप्त होने वाले वित्त वर्ष में इस कंपनी का वार्षिक टर्नओवर US$ 44.6 बिलियन और मुनाफा US$ 3.6 बिलियन दर्ज किया गया है, यह कंपनी भारत के निजी क्षेत्र की उन कंपनियों में से एक है, जिन्हें फोर्च्यून ग्लोबल 500 (2009[3]) में 264वां स्थान और फोर्ब्ज़ ग्लोबल 2000 की सूची (2010) में 126वां स्थान मिला है.[4]

रिलायंस (Reliance) की स्थापना 1966 में भारतीय उद्योगपति धीरूभाई अंबानी द्वारा की गयी थी. अंबानी एक ऐसे मार्ग दर्शक रहे जिन्होंने भारतीय शेयर बाज़ार को वितीय लिखित जैसी पूर्ण परिवर्तनीय डिबेन्चर से परिचित कराया. अंबानी उन पहले उद्यमियों में से एक थे जिन्होंने खुदरा निवेशकों को शेयर बाज़ार की ओर आकर्षित किया. आलोचकों का आरोप है कि बाज़ार पूंजीकरण के सम्बन्ध में रिलायंस इंडस्ट्रीज़ की उन्नति को सर्वोच्च स्थान पर लाने का श्रेय बड़े पयमाने पर धीरुभाई की चालाकी से काम निकलवाने की क्षमता को जाता है जिससे वह नियंत्रित अर्थव्यवस्था को अपने लाभ के लिए इस्तेमाल करते थे.

यद्यपि कंपनी का मूल व्यवसाय तेल से संबंधित व्यापार है, लेकिन हाल के वर्षों में कंपनी ने विविध व्यापारों में अपने हाथ आज़माएं हैं. संस्थापक के दोनों बेटों मुकेश अंबानीऔर अनिल अंबानी के बीच गहरे मतभेद होने की वजह से 2006 में समूह को दोनों के बीच विभाजित कर दिया गया. सितम्बर 2008 में, रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (Reliance Industries) अकेली ऐसी भारतीय कंपनी थी जिसे फोर्ब्स की "दुनिया की 100 सबसे सम्मानित कंपनियों" की सूची में शामिल किया गया था.[5]

स्टॉक[संपादित करें]

कंपनी वेबसाइट के अनुसार "भारत में हर 4 में से 1 निवेशक रिलायंस (Reliance) शेयरधारक है". रिलायंस (Reliance) के पास 3 लाख से अधिक शेयरधारक हैं, जिससे यह दुनिया के सबसे विशाल स्टॉक आयोजको में से एक है. जनवरी 2006 में अपने विभाजन के बाद, रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड (Reliance Industries Ltd) का विकसित होना जारी है. भारतीय शेयर बाजार में रिलायंस (Reliance) कंपनिया श्रेष्ट पदार्शितो में से हैं.

उत्पाद[संपादित करें]

रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (Reliance Industries Ltd) के उत्पाद की श्रेणी पैट्रोलियम उत्पादों से पेट्रोरसायन, कपड़े (ब्रांड नाम विमल के तहत) तक है, रिलायंस रिटेल (Reliance retail) ने फ्रेश फूड्स मार्केट में रिलायंस फ्रेश (Reliance Fresh)के नाम से प्रवेश किया है और डिलाईट रिलायंस रिटेल (Delight Reliance retail) के नाम से एक नॉन-वेज चैन शुरू की है और संरचना ऊर्जा कुशल बनाने के लिए नोवा केमिकल्ज़ (NOVA Chemicals) ने आशय पत्र पर हस्ताक्षर किया है.

कंपनी का प्राथमिक व्यापार पेट्रोलियम शोधन और पेट्रो रसायन है. यह 33 मिलियन टन की रिफाइनरी गुजरात के भारतीय राज्य के जामनगर में चल रही है. रिलायंस (Reliance) ने दिसम्बर 2008 में शुरू की अपनी 29 मिलियन की दूसरी रिफाइनरी का काम भी पूरा किया जो इसी साईट पर है. कंपनी तेल और गैस की खोज और उत्पादन के काम में भी शामिल है. 2002 में, इसे भारत के कृष्णा गोदावरी बेसिन के पूर्वी तट पर एक प्रमुख खोज का पता चला. इस खोज से गैस उत्पादन 2 अप्रैल 2009 को शुरू किया गया. 2009-2010 के तिमाही के अंत तक, केजी (KG) डी6 (D6) से गैस उत्पादन 60 एमएमएससीएमडी (MMSCMD) को पार कर गया.

कारोबार[संपादित करें]

प्रमुख सहायक और सहयोगी[संपादित करें]

  • रिलायंस पेट्रोलियम लिमिटेड (आर पी एल) (Reliance Petroleum Limited) (RPL) रिलायंस इंडस्ट्रीज़ लिमिटेड (आर आई एल) (Reliance Industries Limited) (RIL) की एक सहायक कंपनी थी और इसका निर्माण दुनिया भर में रिफाइनिंग क्षेत्र में मूल्य उत्पन्न करने के लिए आने वाले अवसरों को काम में लाने के लिए किया गया था.वर्तमान में, आरपीएल (RPL) आरआईएल (RIL) के साथ मिल गया हुआ है.[6]
  • रिलायंस लाइफ साइंसेज़ (Reliance Life Sciences) एक अनुसंधान संचालित, जैव प्रौद्योगिकी के नेतृत्व में, जीवन विज्ञान संगठन है जो चिकित्सा, संयंत्र और औद्योगिक जैव प्रौद्योगिकी अवसरों में भाग लेता है. विशेष रूप से, यह जैव औषधीय, औषधीय, क्लीनिकल रिसर्च सर्विसेज़, पुनर्योजी चिकित्सा, आण्विक चिकित्सा, नवीन चिकित्सा शास्त्र, जैव ईंधन, संयंत्र जैव प्रौद्योगिकी और औद्योगिक जैव प्रौद्यौगिकी से संबंधित हैं.[7]
  • रिलायंस इंडस्ट्रियल इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (Reliance Industrial Infrastructure Limited) (आर आई ई एल (RIIL)) औद्योगिक अवसंरचना की स्थापना करने/ परिचालन करने में व्यस्त है, जिसमें कंप्यूटर सॉफ्टवेयर और डाटा प्रोसेसिंग के साथ जुड़ी सेवाएं प्रदान करना और किराए पर देना भी शामिल है.[8]
  • धीरूभाई अंबानी फाउंडेशन द्वारा स्थापित रिलायंस इंस्टीटयूट ऑफ़ लाइफ साइन्सेज़ (Reliance Institute of Life Sciences) (आरआईएलज़) (Rils) जैविक विज्ञान और संबंधित प्रौद्योगिकियों के विभिन्न क्षेत्रों में उच्चतर शिक्षा संस्था है.[9]
  • रिलायंस लोजिसटिक्स (पी) लिमिटेड (Reliance Logistics (P) Limited) परिवहन, वितरण, भंडारण, रसद और आपूर्ति श्रृंखला जरूरतों के लिए एक एकल खिड़की समाधान प्रदाता है, जो राज्य कला टेलीमैटिक्स और टेलीमेटरी समाधान द्वारा समर्थित है.[10]
  • रिलायंस क्लिनिकल रिसर्च सर्विसिज़ (Reliance Clinical Research Services) (आर सी आर एस (RCRS)), एक कान्ट्रेक्ट रिसर्च ओर्गेनाइज़ेशन (सी आर ओ(CRO)) और पूर्ण रूप से रिलायंस लाइफ साइंसेज़ द्वारा स्वामित्व वाली सहायक कंपनी, औषध, जैव प्रौद्योगिकी और चिकित्सा उपकरण कंपनियों को नैदानिक उपकरण सेवाएं प्रदान करने के लिए स्थापित की गई है.[11]
  • रिलायंस सोलर (Reliance Solar), रिलायंस के सौर ऊर्जा प्रस्ताव का मुख्य उद्देश्य दूरस्थ और ग्रामीण क्षेत्रों में सौर ऊर्जा प्रणाली और समाधान लाना तथा जीवन की गुणवत्ता में बदलाव लाना है.[12]
  • रेलिकोर्ड (Relicord) दक्षिण पूर्व एशिया की पहली और सबसे भरोसेमंद मूल बैंकिंग सेवा है, जो मुकेश अंबानी द्वारा नियंत्रित रिलायंस इंडस्ट्रीज़ द्वारा पेश की गई है.[13]
  • इन्फोटेल ब्रॉडबैंड (Infotel Broadband) एक ब्रॉडबैंड सेवा प्रदाता है, इसे भारतीय रुपया4,800 करोड़ के लिए पूरी तरह से आर आई एल (RIL) द्वारा स्वामित्व प्राप्त है.[14]

तेल और गैस की खोज[संपादित करें]

2002 में, रिलायंस (Reliance) को विशाखापत्तनम के निकट आंध्र प्रदेश के तट पर कृष्णा गोदावरी बेसिन में प्राकृतिक गैस मिली.[15] यह 2002-2003 वित्तीय वर्ष में दुनिया में प्राकृतिक गैस की सबसे बड़ी खोज थी.[16] 2 अप्रैल 2009 को रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (Reliance Industries) (आरआईएल (RIL)) ने कृष्णा गोदावरी (के जी (KG)) बेसिन में अपने D-6 ब्लॉक से प्राकृतिक गैस का उत्पादन शुरू कर दिया.[17]

गैस रिज़र्व आकार में 7 ट्रिलियन घन फीट है. कच्चे तेल के 1.2 बिलियन (165 मिलियन टन) बैरल के बराबर, मगर केवल 5 ट्रिलियन घन फीट ही निकाला जा सकता है.[18]

8 अक्तूबर 2008 को समझौते का एक ज्ञापन-पत्र, जिस पर लिखा था कि आर आई एल (RIL) अनिल अंबानी को $2.34 प्रति मिलियन ब्रिटिश उष्ण इकाई पर प्राकृतिक गैस उपलब्ध करवाएगा, जारी करने के लिए अनिल अंबानी की रिलायंस नैचुरल रिसोर्सेज़ (Reliance Natural Resources) रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (Reliance Industries) को बंबई हाई कोर्ट में ले गई.[19]

रिलायंस रिटेल (Reliance retail)[संपादित करें]

Reliance Retail रिलायंस (Reliance) व्यापार की फुटकर बिक्री व्यापार शाखा है. कई ब्रैंड जैसे, रिलायंस फ्रेश (Reliance Fresh), रिलायंस फुटप्रिंट (Reliance Footprint), रिलायंस टाइम आउट (Reliance Time Out), रिलायंस डिजिटल (Reliance Digital), रिलायंस वेलनेस (Reliance Wellness), रिलायंस ट्रेंड्ज़ (Reliance Trendz), रिलायंस ऑटोज़ोन (Reliance Autozone), रिलायंस सुपर (Reliance Super), रिलायंस मार्ट (Reliance Mart), रिलायंस आईस्टोर (Reliance iStore), रिलायंस होम किचन (Reliance Home Kitchens), तथा रिलायंस ज्यूल (Reliance Jewel) रिलायंस रिटेल (Reliance retail) ब्रैंड के तहत आते हैं.

पर्यावरण संबंधित रिकॉर्ड[संपादित करें]

रिलायंस इंडस्ट्रीज़ दुनिया की सबसे बड़ी पोलिस्टर निर्माता है और इसी के परिणामस्वरुप यह दुनिया की सबसे बड़ी पोलिस्टर वेस्ट उत्पादको में से एक है. इस बड़ी मात्रा के वेस्ट के उत्पादन से निपटने के उद्दश्य से उन्हें इस वेस्ट को रिस्य्कल करने का रास्ता निकालना पड़ा. वे सबसे बड़ा पोलिस्टर पुनरावर्तन केंद्र चलाते है जिसमे पोलिस्टर वेस्ट भराई और भरी जाने वाली सामग्री के रूप में काम में लाया जाता है. उन्होंने इस प्रक्रिया का प्रयोग एक मज़बूत पुनरावर्तन प्रक्रिया के विकास के लिए किया जिससे उन्हें टीम एक्सीलेंस कम्पीटीशन में पुर्रस्कृत किया गया.[20]

रिलायंस इंडस्ट्रीज़ (Reliance Industries) ने 2006 में नई दिल्ली में पर्यावरण के प्रति जागरूकता पर एक सम्मलेन का समर्थन किया. इस सम्मलेन का आयोजन एशिया पेसिफिक जूरिस्ट असोसिअशन द्वारा किया गया जिसमे पर्यावरण एवं वन मंत्रालय भारत सरकार और महाराष्ट्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की भागीदार थे. इस सम्मलेन का उद्देश्य क्षेत्र में पर्यावरण सरंक्षण के लिए नए विचारों और विभिन्न पहलुओं को उत्पन्न करने में मदद करना था. महाराष्ट्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने प्रदूषण नियंत्रण मानकों का पालन करने वाली विभिन्न कम्पनियो को सक्रिय भाग लेने और प्रायोजक के रूप में समर्थन करने के लिए आमंत्रण दिया. यह सम्मलेन क्षेत्र के पर्यावरण को बढ़ावा देने के सम्बन्ध में बहुत प्रभावी साबित हुई.[21]

पुरस्कार एवं मान्यता[संपादित करें]

  • 2005 में 23वें वार्षिक हार्ट के वर्ल्ड रिफाइनिंग एंड फ्यूल'ज़ कांफरेंस पर इंटरनेशनल रिफाइनर ऑफ द इयर.[22]

प्रबंधकों के लिए पुरस्कार[संपादित करें]

  • जुलाई 2007 में वॉशिंगटन में मुकेश डी. अंबानी को "ग्लोबल विज़न" 2007 के लिए युनाईटिड स्टेट्स ऑफ़ अमेरिका-इंडिया बिज़नेस काउंसिल (यूएसआईबीसी (USIBC)) लीडरशिप अवार्ड प्राप्त हुआ.
  • मुकेश डी. अंबानी को एशिया सोसाइटी, वाशिंगटन, अमरीका, मई 2004 द्वारा एशिया सोसाइटी लीडरशिप अवार्ड प्रदान किया गया.
  • फॉर्च्यून पत्रिका, अगस्त, 2004 द्वारा प्रकाशित एशिया'ज़ पावर 25 लिस्ट ऑफ़ द मोस्ट पावरफुल पीपल इन बिज़नेस में मुकेश डी. अंबानी को 13वां स्थान दिया गया.
  • मुकेश डी. अंबानी इक्नोमिक्स टाइम्स बिज़नेस लीडर ऑफ़ द इयर हैं.
  • 2010 के प्रारंभ में रीडरज़ डाइजेस्ट पत्रिका के भारतीय संस्करण द्वारा किए गए सर्वेक्षण में मुकेश अंबानी को भारत के 74वें सबसे विश्वसनीय व्यक्ति के रूप में क्रमित किया गया.

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी लिंक्स[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "BSE 2009-2010 Data". Reliance_Industries. http://c/qresann/detailedresult_cons.asp?scrip_cd=500325&qtr=65.5&compname=RELIANCE%20INDUSTRIES%20LTD.&quarter=MC2009-2010&checkcons=55c. अभिगमन तिथि: 2010-08-15. 
  2. "10 Years highlight :: Reliance Industries Limited". Ril.com. 2009-03-31. http://www.ril.com/html/investor/10_yearshighlight.html. अभिगमन तिथि: 2010-07-16. 
  3. "Global 500 2009: Global 500 201-300 - FORTUNE on CNNMoney.com". Money.cnn.com. 2009-07-20. http://money.cnn.com/magazines/fortune/global500/2009/full_list/201_300.html. अभिगमन तिथि: 2010-07-16. 
  4. द ग्लोबल 2000
  5. द टाइम्ज़ ऑफ़ इंडिया
  6. "About us, Reliance Petroleum". http://www.reliancepetroleum.com/html/aboutus.html. अभिगमन तिथि: 2010-03-03. 
  7. "About us, Reliance Life Sciences". http://rellife.com/aboutus.html. अभिगमन तिथि: 2010-03-03. 
  8. "About us, Reliance Industrial Infrastructure". http://riil.in/. अभिगमन तिथि: 2010-03-03. 
  9. "About us, Reliance Institute of Life Sciences". http://www.rils.ac.in/html/aboutus.html. अभिगमन तिथि: 2010-03-03. 
  10. "About us, Reliance Logistics". http://reliancelogistics.com/html/aboutus/aboutus.html. अभिगमन तिथि: 2010-03-03. 
  11. "About us, Reliance Clinical Research Services". http://www.relclin.com/aboutus.htmll. अभिगमन तिथि: 2010-03-03. 
  12. "About us, Reliance Solar". http://relsolar.com/aboutus.html. अभिगमन तिथि: 2010-03-03. 
  13. "About us, Relicord". http://www.relicord.com/#. अभिगमन तिथि: 2010-03-03. 
  14. "Reliance Industries buys 95% stake in Infotel Broadband for Rs 4,800 cr". http://economictimes.indiatimes.com/news/news-by-industry/telecom/Reliance-Industries-buys-95-stake-in-Infotel-Broadband-for-Rs-4800-cr/articleshow/6037260.cms. अभिगमन तिथि: 11 Jun 2010. 
  15. रिलायंस गैस फाइंड पर rediff.com 2002 10 31 लेख
  16. गैस फाइंड पर REL.co.in प्रेस रिलीज़
  17. कृष्णा-गोदावरी गैस फ्लोज़ के चलते भारत के लिए ऊर्जा को बढ़ावा
  18. गैस फाइंड पर रेडिफ 2002 10 31 रेल लेख
  19. कोर्ट केस पर टेलीग्राफ इंडिया 2008 10 07 लेख
  20. रिलायंस इंडस्ट्रीज़ पुरस्कार
  21. ""एन्वायरमेंट-अवेयरनेस-एंफोर्समेंट" नई दिल्ली पर वार्तालाप."
  22. http://www.ril.com/rportal/jsp/eportal/media/PressRelease.jsp?id=332

साँचा:BSE Sensex