राष्ट्रीय साक्षरता मिशन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

राष्ट्रीय साक्षरता मिशन की स्थापना ५ मई १९८८ में की गयी थी। इसका उद्देश्य २00७ तक १५ से ३५ आयु वर्ग के उत्पादक और पुनरुत्पादक समूह के निरक्षर लोगों को व्यावहारिक साक्षरता प्रदान करते हुए ७५ प्रतिशत साक्षरता का लक्ष्य हासिल करना है। पुनर्संरचना के बाद इसके स्थान पर नया साक्ष्रर भारत कार्यक्रम सितम्बर २00९ से लागू किया गया है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]

राष्ट्रीय ज्ञान आयोग-साक्षरता

National Literacy Mission

National Literacy Mission Authority

साक्षरता मिशन : 20 साल में चले 10 कदम