राम नारायण

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
राम नारायण सिंह
एक वृद्ध व्यक्ति जो सितार बजा रहा है।
अक्टूबर २०१० में दिल्ली में राम नारायण
पृष्ठभूमि की जानकारी
जन्म 12 अप्रैल 1927 (1927-04-12) (आयु 87)
मेवाड़, ब्रितानी भारत
शैली हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत
वाद्ययंत्र सारंगी
सक्रिय वर्ष १९४४–वर्तमान
संबंधित प्रदर्शन अब्दुल वहिद खान, अरुण नारायण काल्ले, बृज नारायण, चतुर लाल, सुरेश तलवलकर
जालपृष्ठ रामनारायण डॉट कॉम
Ram Narayan 2009 crop.jpg

राम नारायण (२५ दिसम्बर १९२७) भारतीय संगीतज्ञ हैं। उन्हें सामान्यतः पण्डित राम नारायण भी पुकारा जाता है। ये महाराष्ट्र से हैं। उन्हें हिन्दुस्तानी शास्त्रीय संगीत एकल संगीत सारंगी वादन ने लोकप्रिय बनाया और प्रथम अन्तरराष्ट्रीय सारंगीवादक बने।

नारायण का जन्म उदयपुर के पास हुआ और छोटी आयु में सारंगीवादन की शिक्षा प्राप्त की। उन्होंने विभिन्न सारंगी वादन के शिक्षकों और गायकों से शिक्षा प्राप्त की और किशोरावस्था में संगीत शिक्षक और यात्रा संगीतकार के रूप में कार्य किया। आकाशवाणी, लाहौर ने नारायण को १९४४ में गायकों के संगतकार के रूप में रखा। वो १९४७ में भारत के विभाजन के समय दिल्ली आ गये लेकिन संगतकार की भूमिका से आगे बढ़ने के स्थान पर सहायक भूमिका में निराश होकर, नारायण १९४९ में भारतीय सिनेमा के लिए काम करने मुम्बई विस्थापित हो गये।

१९५४ में एक असफल प्रयास के बाद नारायण १९५६ में सहवादन एकल कलाकार बने और तत्पश्चात संगत को त्याग दिया। उन्होंने एकल एलबम अभिलिखित किया और १९६० में अमेरिका और यूरोप की यात्रा आरम्भ कर दी। नारायण ने भारतीय और विदेशी छात्रों को शिक्षा दी और २००० के दशक में भारत के बाहर भी प्रस्तुतियाँ दी। उन्हें २००५ में भारत के द्वितीय सर्वोच्य नागरीक सम्मान पद्म विभूषण से सम्मानित किया गया।

पूर्व जीवन[संपादित करें]

राम नारायण का जन्म १२ अप्रैल १९२७ को उत्तरपश्चिमी भारत के उदयपुर के निकट आम्बेर में हुआ।[1][2]

कैरियर[संपादित करें]

शैली[संपादित करें]

योगदान एवं पहचान[संपादित करें]

परिवार एवं व्यक्तिगत जीवन[संपादित करें]

बिम्बचित्रण[संपादित करें]

रचनाएँ[संपादित करें]

  • सर्रेल, नील; नारायण, राम (१९८०) (अंग्रेज़ी में). Indian music in performance: a practical introduction [प्रस्तुति में भारतीय संगीत: एक प्रायोगिक परिचय]. मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी प्रेस. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-7190-0756-9. 
  • नारायण, राम (२००९). एक सुर मेरा एक सारंगी का. नई दिल्ली: किताबघर प्रकाशन. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-907221-2-3. 

टिप्पणी[संपादित करें]

  1. शंकर, विजय (११ अगस्त २०१२). "Pandit Ram Narayan: 100 colours of sarangi [पण्डित राम नारायण: सारंगी के १०० रंग]". Archived from the original on १९ अक्टूबर २०१३. http://www.webcitation.org/6KUYLf4Ha. अभिगमन तिथि: १ फ़रवरी २०१३. 
  2. सोरेल १९८०, पृ॰ ११

सन्दर्भ[संपादित करें]

  • बोर, जोप (1 मार्च 1987). "The Voice of the Sarangi [सारंगी की धुन]" (अंग्रेज़ी में). क्वार्टरली जर्नल (मुम्बई, भारत: नेशनल सेंटर फॉर द परफार्मिंग आर्ट्स) 15, 16 (3, 4; 1). 
  • बोर, जोप; ब्रुगुयेर्, फिलिप (१९९२). Masters of Raga [राग गुरु]. बर्लिन: हौस डेर कुलतुरेन डेर वेल्ट. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 3-8030-0501-9. 
  • बोर, जोप; राव, सुवर्णलता; वान डेर मीर, विम; हार्वे, जेन (१९९९). द रागा गाइड. निम्बस रिकॉर्ड्स. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-9543976-0-6. 
  • नैमपल्ली, सदानन्द (२००५). Theory and Practice of Tabla [तबले का सिद्धांत और व्यवहार]. पोपुलर प्रकाशन. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-7991-149-7. 
  • नौहॉफ़्फ, हंस। (२००६)। “नारायण, राम”। डाइ मुसिक इन गस्किकटे एण्ड गिगनवार्ट: अल्लगेमेन एंज़क्लोपिडिया डेर मुसिक (द्वितीय) 12। संपादक: फिंसर, लुविग। बेरेनराइटर।
  • न्यूमान, डेनियल एम॰ (१९९०) [१९८०] (अंग्रेज़ी में). The Life of Music in North India [उत्तर भारत में संगीत का जीवन]. शिकागो विश्वविद्यालय प्रेस. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-226-57516-0. 
  • क़ूरेशी, रेगुला बुर्ख़र्डट (२००७) (अंग्रेज़ी में). Master musicians of India: hereditary sarangi players speak [भारत के श्रेष्ठ संगीतकार]. रूटलेज. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-415-97202-7. 
  • रॉय, अशोक (2004) (अग्रेज़ी में). Music Makers: Living Legends of Indian Classical Music [संगीत निर्माता: भारतीय शास्त्रीय संगीत की जीवित किंवदंतियाँ]. रुपा & को॰. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 81-291-0319-2. 
  • स्लावेक, स्टीफन। (2000)। “Hindustani Instrumental Music”। द गारलैण्ड एन्क्लोपिडिया ऑफ़ वर्ल्ड म्यूज़िक: साउथ एशिया: द इण्डियान सबकोन्टिनेण्ट 5। संपादक: आर्नोल्ड, एलिसन। टेलर एण्ड फ्रांसिस।
  • सोरेल्ल, नील; नारायण, राम (१९८०) (अंग्रेज़ी में). Indian music in performance: a practical introduction [प्रस्तुति में भारतीय संगीत: एक प्रायोगिक परिचय]. मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी प्रेस. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-7190-0756-9. 
  • सोरेल, नील। (२००१)। “Narayan, Ram”। ग्रोव डिक्शनरी ऑफ़ म्यूजिक एण्ड म्यूज़िशियन्स (द्वितीय) 17। संपादक: सैडी, स्टेनली। लंदन: मैकमिलन पब्लिशर्स।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]