राजस्थान पत्रिका

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
राजस्थान पत्रिका
राजस्थान पत्रिका.jpg
Rajasthan Patrika on Feb 29th 2012.jpg
प्रकार दैनिक समाचार पत्र
प्रारूप व्यापकपर्ण
वितरण ५,५७,४०,०००[1]

राजस्थान पत्रिका हिन्दी भाषा मे प्रकाशित होने वाला एक भारतीय समाचार पत्र है। यह अखबार भारत के सात राज्यों से प्रकशित हो रहा है। यह जयपुर, जोधपुर, बीकानेर, उदयपुर, कोटा और सीकर सहित कई अन्य क्षेत्रों से राजस्थान से प्रकाशित होता है और राजस्थान के अलावा भोपाल, इन्दौर, जबलपुर, रायपुर, अहमदाबाद, ग्वालियर, कोलकाता, चेन्नई, नई दिल्ली और बंगलौर से प्रकाशित होता है।

इतिहास[संपादित करें]

राजस्थान पत्रिका का आरंभ १९५६ में उधार के ५०० रुप्ये पूँजी से एक शाम को प्रकाशित होने वाले समाचार पत्र के रूप में हुआ था। स्वर्गीय श्री कर्पूर चन्द्र कुलिश ने 7 मार्च 1956 को राजस्थान पत्रिका की आधारशिला रखी। उससे पहले वो उस समय के मुख्य समाचार पत्र राष्ट्रदूत के लिए कार्य किया करते थे। उस समय राजस्थान में अन्य दो समाचार पत्र लोकवाणी और नवयुग प्रमुख पाठक दल में शामिल थे, जो दोनों ही दिल्ली आधारित समाचार पत्र थे।

1964 में यह समाचार पत्र सुबह प्रकाशित होने वाला समाचार पत्र बना। पत्रिका ने अपना प्रथम जोधपुर संस्करण 1981 में प्रकाशित किया और अपने उदयपुर प्रकाशन के साथ इन्होंने एक और मील का पत्थर रखा। कोटा संस्करण मार्च 1986 और बीकानेर संस्करण अगस्त 1987 में जोड़े गये। सन 2000 में नयें संस्करण भीलवाड़ा, सीकर, श्रीगंगानगर आरम्भ हुए। 11 अगस्त 2002 को अहमदाबाद संस्करण और इसी वर्ष 28 अक्टूबर अजमेर संस्करण और वर्ष 2003 में सुरत संस्करण को इस सूची में शामील किया गया।

विश्वसनीयता[संपादित करें]

न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार राजस्थान पत्रिका में छपे समाचार पत्र को विश्वसनीय माना जाता है और यह एक पूर्ण रूप से प्रमाणिक और पूर्णतया पत्रिका के संवाददाताओं द्वारा प्राप्त होती है। प्रत्येक समाचार छपने से पूर्व तीन बार जाँचा जाता है।[2]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. आइ॰आर॰एस सर्वेक्षण
  2. विनय सीतापति (4 जुलाई 2013, 3:31 am). "Hindi Paper Finds Success Going Hyperlocal" (अंग्रेजी में). न्यूयॉर्क टाइम्स. http://india.blogs.nytimes.com/2013/07/04/hindi-paper-finds-success-going-hyperlocal/. अभिगमन तिथि: 4 जुलाई 2013.