रज्जु कर्षण सेतु

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
रज्जु कर्षण सेतु
रियो-एन्टिरियो सेतु, यूनान
पूर्वज: सस्पेंशन सेतु या झूला पुल
संबंधित: कोई नहीं
वंशज: साइड-स्पार केबल स्टेयड सेतु, सेल्फ-एंकर्ड सस्पेंशन सेतु , कैंटीलिवर स्पैर केबल स्टेयड सेतु
वहन: पैदल, वाहन, ट्रक, हल्की रेल
फैलाव/: मध्यम
पदार्थ: इस्पात रज्जु, पोस्ट टेन्शंड कंक्रीट बॉक्स गर्डर्स, इस्पात या कंक्रीट स्तंभ
चलायमान: नहीं
अभिकल्पना: मध्यम
फॉल्सवर्क वांछित: सामान्यतः नहीं

रज्जु कर्षण सेतु , सेतुओं का एक प्रकार होता है। इसमें एक या अधिक स्तंभ होते हैं, (जिन्हें टावर या पायलॉन भी कहते हैं), जो स्तंभ इस्पात रज्जुओं (केबल) द्वारा सेतु की सतह का भार संभालते हैं।

इसके तीन मुख्य उप-भेद होते हैं:-

हार्प आकार

इसमें सभी केबल समानांतर होते हैं, व स्तंभ में विभिन्न दूरियों पर जुड़े होते हैं। इतनी ही दूरियों पर ये केबल सड़क पर जुड़े होते हैं।

पंखा आकार

इसमें सभी केबल स्तंभ पर सबसे ऊपर एक ही स्थान से जुड़े होते हैं। इसमें केबल की वांछित लंबाई हार्प आकार से कहीं अधिक होती है।

सस्पेंशन आकार

इसमें सभी केबल ऊर्ध्वाधर होते हैं। ये नीचे सड़क से जुड़े होते हैं, व ऊपर एक स्तंभ से दूसरे स्तंभ को जोड़े हुए एक अन्य मोटे केबल से जुड़े होते हैं।


संदर्भ[संपादित करें]

बाहरी सूत्र[संपादित करें]