रंगों के नाम

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

रंगों के नाम कोई भी संज्ञा हो सकते हैं, किसी विशेषण के साथ या बिना। यह नाम उस रंग के प्रति मानवीय प्रत्यक्ष ज्ञान के या किसी सम्बंधित भौतिक गुणधर्म पर आधारित हो सकते हैं (जैसे कि तरंगदैर्घ्य, इत्यादि)। रंग विनिर्देश हेतु संख्यात्मक प्रणालियाँ भी हैं जिन्हें वर्ण व्योम कहा जाता है।

प्राकृतिक भाषा पर अधारित[संपादित करें]

किसी एकरंगाधारित नाम होते हैं, जैसे कि लाल, भूरा या जैतून। विशेषण युक्त होकर, जैसे कि गहरा लाल, हल्का नीला, सागरीय हरा, इत्यादि भी प्रयुक्त होते हैं। इसके अलावा बहु मौलिक शब्दों से बने जैसे कि पीला-हरा, इत्यादि।


मानकीकृत प्रणालियाँ[संपादित करें]

  • मुन्सेल रंग प्रणाली
  • ISCC-NBS लेक्सीकॉन रंग नाम

इन प्रणालियों की कमजो़री यह है, कि यह विशिष्ट रंग नमूने ही बताते हैं, एवं इनका प्रयोग करने हेतु इनका रंग सारणी होना आवश्यक है। कोई सर्वगत प्रतिलोमीय समीकरण नहीं देते।

डाक टिकट पर दिये गए रंग भी प्रयोग किये गए एवं बडे़ पैमाने पर प्रयुक्त हुए कई देशों में।

आधुनिक कम्प्यूटर प्रणालियों में प्रयुक्त होने वाले मूल रंगों के नामों के समूह होते हैं जो कि विश्व व्यापक प्रयोग में लाए जाते हैं। इन्हें वेब रंग (SVG 1.0/CSS3), HTML रंगों के नाम, X11 रंगों के नाम एवं .NET फ्रेमवर्क रंगों के नाम कहा जाता है, जिनमें मामूल्;ई फर्क है। क्रेयोला कम्पनी ने भी अपनी क्रेयन रंगों की सूची निकाली है। इसे क्रेयोला क्रेयन रंगों की सूची , कहते हैं।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]


बाह्य कडि़यां[संपादित करें]