यमला पगला दीवाना 2

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
त्यमला पगला दीवाना 2
निर्देशक संगीत सिवान
निर्माता धर्मेन्द्र
पटकथा जसविंद्र भट्ट
कहानी लिंडा देओल
अभिनेता धर्मेन्द्र
सनी देओल
बॉबी देओल
नेहा शर्मा
क्रिस्टीना अखीवा
संगीतकार साब्री-तोशी
सचिन गुप्ता (ऐदान ही नचणा)
छायाकार नेहा पार्थी
वितरक सनी साउंड्स प्राइवेट लिमिटेड
वायपीडी फ़िल्मस लिमिडेट यूके
प्रदर्शन तिथि(याँ)
  • 7 जून 2013 (2013-06-07)
देश यूनाइटेड किंगडम
भारत
भाषा हिन्दी
लागत 20 करोड़[1]
कुल कारोबार 50.87करोड़ (घरेलू सकल)[2]

यमला पगला दीवाना 2 संगीत सिवान द्वारा निर्देशित और २०११ में प्रदर्शित फ़िल्म यमला पगला दीवाना की उत्तर-कृत्ति है। यह २०१३ में प्रदर्शित बॉलीवुड की एक्शन फ़िल्म है।[3] फ़िल्म में धर्मेन्द्र, सनी देओल और बॉबी देओल ने अभिनय किया है। यह फ़िल्म सनी साउंड्स प्राइवेट लिमिटेड के बैनर तले बनी है।

पटकथा[संपादित करें]

फ़िल्म में धरम (धर्मेन्द्र) के दो पुत्र हैं- परमवीर (सनी देओल) और गजोधर (बॉबी देओल)। ज्येष्ट पुत्र परमवीर लंदन में अच्छी ज़िंदगी गुजर बसर कर रहा है, वहीं कनिष्ट पुत्र गजोधर और धरम वाराणसी में ठगी का धंधा करते हैं। वो यूनाइटेड किंगडम से आए सर योगराज खन्ना (अन्नू कपूर) से मिलते हैं, उन्हें लगता है कि वो एक करोड़पति आदमी हैं। धरम, योगराज के क़रीब जाने के लिए एक तरकीब भिड़ाता है और गजोधर को उसकी बेटी से नज़दीकी बढ़ाने को कहता है। गजोधर अपना नाम बदलकर प्रेम रख लेता है और योगराज की बेटी सुमन (नेहा शर्मा) से रोमांस करता है। इसी साज़िश को अंजाम देने के लिए धरम और गजोधर लंदन भी पहुंच जाते हैं। जहां वो परमवीर से मिलते हैं। तब परमवीर को लगता है कि उसका भाई और पिता ज़रा भी नहीं बदले हैं और अब भी लोगों को ठगते रहते हैं। जल्दी ही धरम और गजोधर को झटका लगता है जब खन्ना उन्हें बताता है कि सुमन उनकी गोद ली हुई बेटी है और उसकी असल बेटी रीत (क्रिस्टीना अखीवा) है। अब धरम, गजोधर को रीत के क़रीब जाने को कहता है लेकिन रीत को परमवीर पसंद आ जाता है। इस तरह फ़िल्म की कहानी आगे बढती है।[4]

पात्र[संपादित करें]

संगीत[संपादित करें]

टिकट खिड़की[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाह्य सूत्र[संपादित करें]