यक्ष (कला उत्सव)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

यक्ष एक वार्षिक कला उत्सव है जिसे, ईशा फाउंडेशन, ईशा योग केंद्र, कोयंबतूर में आयोजित करता है। जनवरी २०१० में शुरू किया गया यक्ष, भारत के विख्यात कलाकारों द्वारा संगीत और नृत्य का प्रदर्शन करता है। यक्ष, भारत के पारंपरिक संगीत और नृत्य को प्रचलित करने के उद्देश्य से आरम्ब किया गया था। इस उत्सव का नाम की प्रेरणा भारत के पौराणिक कथाएं में यक्ष नाम के परालौकिक प्राणियों से ली गयी है।

२०१० के प्रदर्शन[संपादित करें]

२०१० में यक्ष ३० जनवरी से ११ फरवरी तक चालू रहा, "संगीत और नृत्य का एक स्वर्गीय पर्व" विषय के साथ। २०१० में दिये गये प्रदर्शन हैं, विश्व मोहन भट्ट जिन्होंने सितार, सरोद और वीणा की तकनीकों को उपयोग करके एक हवैइअन गिटार पर मोहन वीणा प्रस्तुति दिये। ६ फरवरी को, वायरल बुखार होने के बावजूद, सुधा रगुनाथन ने एक कर्नाटक संगीत का गायन दी।[1] ८ फरवरी को एक ही परिवार के तीन पुश्त - श्रीमती एन. राजम, उनकी बेटी संगीता शंकर और पोतियों रागिनी और नंदिनी शंकर, ने वायलिन की एक प्रस्तुति दिये।[2] दुसरे कलाकारों ने भी प्रस्तुति दिया जैसे शुभा मुद्गल, अदिति मंगलदास और दृष्टिकोण नृत्य फाउंडेशन मंडली की कथक नृत्य गायन, अहमद खान का शहनाई प्रदर्शन,[3] बांसुरी पर हरिप्रसाद चौरसिया, पद्म तलवलकर और राजशेखर मंसूर ही शास्त्रीय संगीत और चरिष्णु का कथकली, ओडिसी और मणिपुरी नृत्य प्रदर्शन।[4]

माहाशिवरातरी[संपादित करें]

यक्ष का चौदहवें दिन को महाशिवरात्रि महोत्सव मानाया जाता है। सामारोह रात भर चलते है और विभिन्न कलाकारों की प्रस्तुति होती है। २०१० में प्रदर्शन की गये कलाकारों, डोल्लु कुनिथा - कर्नाटक की लोक ड्रम, सिवामानी के ड्रम, असीमा से देव और ताओ और मिदिवल पुन्दित्ज़ द्वारा एक गायन।

देखे[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. "Enriching music and enthralling dance". Sruti. March, 2010. http://www.ishafoundation.org/news/newsclips/2010/Sruti-MARCH-2010.pdf. अभिगमन तिथि: November 13, 2010. 
  2. "वायलिन ने मोहा दिल". दक्षिण भारत. ८ फरवरी २०१०. http://www.ishafoundation.org/news/newsclips/2010/DakshinBharat-10-Feb-2010.pdf. अभिगमन तिथि: ६ फरवरी, २०११. 
  3. "शास्त्रीय संगीत एवं नृत्य का अंतर्राष्ट्रीय - राष्ट्रीय संगम". दक्षिण भारत. १ फरवरी २०१०. http://www.ishafoundation.org/news/newsclips/2010/DakshinBharat-1-Feb-2010.pdf. अभिगमन तिथि: ६ फरवरी, २०११. 
  4. "Mile sur mera tumhara ...". The Hindu. February 11, 2010. http://www.hindu.com/mp/2010/02/11/stories/2010021150660100.htm. अभिगमन तिथि: November 13, 2010. 

बाहरी[संपादित करें]