मौरिस स्ट्रांग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मौरिस स्ट्रांग

मौरिस एफ. स्ट्रांग (जन्मः २९ अप्रैल १९२९, ओक लेक, मनितोबा) संयुक्त राष्ट्र संघ के वैश्विक घटनाक्रम से जुड़ने से प्रबल पक्षधर हैं। समर्थक उन्हें दुनिया के अग्रणी पर्यावरणवादियों में से एक मानते हैं। १९७२ में आयोजित मानव पर्यावरण पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन और १९९२ में आयोजित पृथ्वी सम्मेलन के दौरान महासचिव थे, इसके अलावा संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम (यूएनईपी) के पहले कार्यकारी निदेशक भी थे। इन प्रयासों की बदौलत स्ट्रांग ने पर्यावरण आंदोलन को वैश्विक बनाने में महती भूमिका अदा की। वर्ष १९९२ में इन्हें जवाहर लाल नेहरू पुरस्कार से सम्मानित किया गया।