मोहन बाबू

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मोहन बाबू मांचू
जन्म नाम भक्तवत्सलम नायडू
जन्म 19 मार्च 1952 (1952-03-19) (आयु 62)[1]
मोदुगुलपालम, चित्तूर जिला, आंध्र प्रदेश
Flag of भारत India
अन्य नाम Collection King,Dialogue King, Nataprapoorna, Vidyalaya Brahma
व्यवसाय अभिनेता
कार्यकाल 1975 से अब
जीवनसाथी निर्मला देवी मांचू
सन्तान लक्ष्मी मांचू,विष्णु मांचू , मनोज मांचू
माता-पिता Manchu Narayanaswamy Naidu, Lakshmamma
आधिकारिक जालस्थल http://www.mohanbabu.com

मांचू भक्तवत्सलम नायडू के रूप में जन्मे मोहन बाबू (डॉ. एम. मोहन बाबू) आंध्र प्रदेश भारत से एक अभिनेता, निर्माता, राजनीतिज्ञ हैं. 2007 में उन्होंने भारत के राष्ट्रपति से, प्रतिष्ठित राष्ट्रीय सम्मान पद्मश्री प्राप्त किया.

बचपन और प्रारम्भिक जीवन[संपादित करें]

मोहन बाबू का जन्म 19 मार्च, 1952[1] को आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले में स्वर्णमुखी नदी के तट के निकट और दो प्रसिद्ध तीर्थ केंद्रों, तिरुपति (भगवान वेंकटेश्वर का निवास) और श्रीकालाहस्ती (भगवान वायुलिंगेश्वर का निवास) के मध्य में स्थित मोदुगुलपालम गांव में हुआ.

उनके तीन छोटे भाई हैं - रंगनाथ चौदरी, रामचंद्र चौदरी और कृष्णा - और एक बहन विजया है. उन्होंने येरपेडु गांव और तिरुपति में अपनी स्कूली शिक्षा प्राप्त की. चेन्नई (तत्कालीन मद्रास) से शारीरिक शिक्षा में अपनी डिग्री ली. तेलुगु फ़िल्म उद्योग में एक कलाकार के रूप में अपने कैरियर की शुरुआत करने से पहले अल्प समय के लिए शारीरिक शिक्षा अनुदेशक के रूप में काम किया. 1970 के दशक के प्रारम्भ में मोहन बाबू ने लगभग पांच साल तक निर्देशन विभाग में भी काम किया.

फ़िल्म स्वर्गम नरकम (1975) से एक कलाकार के रूप में अपने कैरियर की शुरुआत की.

अभिनेता और निर्माता[संपादित करें]

मोहन बाबू ने 510 फ़िल्मों में अभिनय किया है, जिसमें 216 फ़िल्मों में वे नायक के रूप में थे. पेद्दारायडू जैसी उनकी फ़िल्में सत्य और न्याय को बनाए रखने के लिए चरम बलिदान के बारे में हैं. फ़िलहाल, जिन फ़िल्मों में उन्होंने अभिनय किया है या जिनका निर्माण किया है वे लगभग हर दिन किसी एक तेलुगू चैनल पर प्रसारित होती हैं. उनके दो बेटे विष्णु मांचू और मनोज मांचू भी फ़िल्म अभिनेता हैं. बेटी लक्ष्मी मांचू कुछ टीवी कार्यक्रमों में अभिनय करती है.

राजनीतिज्ञ[संपादित करें]

मोहन बाबू को 1995 में राज्यसभा के लिए मनोनीत किया गया. अपने कार्यकाल (2001 तक) के दौरान.

शिक्षाविद्[संपादित करें]

मोहन बाबू ने 1992 में श्री विद्यानिकेतन शैक्षिक ट्रस्ट की स्थापना की. इसका इंटरनेशनल स्कूल, डिग्री कॉलेज, इंजीनियरिंग कॉलेज, फ़ार्मेसी कॉलेज और नर्सिंग कॉलेज है. शिक्षण संस्थान एक विशिष्ट शैक्षिक बस्ती के रूप में विकसित हैं.

फ़िल्मों की सूची[संपादित करें]

वर्ष फ़िल्म भूमिका पात्र निर्देशक
2010 विवेकानंद
जुम्मान्धीनंदम
2009 सलीम
राजू महाराजू
मेस्त्री
2008 पांडुरंगाडु
Bujjigaadu: Made in Chennai
कृष्णार्जुन
2007 यमदोंगा
2006 गेम
2005 श्री
पॉलिटिकल राउडी
मिस्रती
2004 सूर्यम
शिव शंकर
2002 तप्पु चेसी पप्पू कुड़ू
कोंडाविटी सिंहासनम
2001 अधिपति
2000 रायलसीमा रामन्ना चौदरी
1999 पोस्टमैन
श्री रामुलय्या
यमजातकुडु
1998 रायुडू
कैदी गारू
1997 कलेक्टर गारू
अदाविलो अन्ना
अन्नमैय्या
वीदेवदंदी बाबू
1996 अधीरिन्दी अल्लुडु
सोगडी पेलम
1995 पेदा रायुडू
1994 पुण्य भूमि ना देशम
अल्लरी पुलिस
एम धर्मराजू एम.ए.
1993 डिटेक्टिव नारदा
कुंती पुत्रुडू
मेजर चन्द्रकान्त
राउडी मोगुडू
1992 ब्रह्मा
1992 चितेम्मा मोगुडू
1992 अल्लरी मोगुडू
1992 दोंगा पुलिस
1992 सम्राट अशोक
1991 राउडी गरी पेल्लम
1991 कुली नंबर 1
1991 असेम्बली राउडी
1991 अल्लुडु दिदीना कपूरम
1991 पेद्दिन्ती अल्लुडु
1991 प्रेमा पंजारम
1990 कोदम सिम्हम
1990 कोंदाविती दोंगा
1990 मां इन्टी कथा
1990 अलुडूगारू
1990 कडपा रेडम्मा
1990 प्राणनिकी प्रणाम
1990 प्रेमा युद्धम
1989 लंकेश्वरुडू
1989 भले दोंगा
1989 विजय
1989 अग्नि
1989 अग्नि नक्षत्रम
1989 बाला गोपालुडू
1989 ब्लैक टाइगर
1989 ध्रुवनक्षत्रम
1989 कोडुकू दिदीना कपूरम
1989 ना मोगुडु नान्के सॉन्थम
1989 टू टाउन राउडी
1989 वॉन्तरी पोरात्म
1988 युद्ध भूमि
1988 जानकी रामुडू
1988 कैदी नम्बर 786
1988 मुरली कृष्णुडू
1988 मंची दोंगा
1988 आत्मकथा
1988 ब्रह्मा पुत्रुडू
1988 चिन्नाबाबू
1988 दोंगा रामुडू
1988 इन्टिन्टी भागवतम
1988 प्रजा प्रतिनिधि
1988 वरसुदोछडू
1987 श्रीनिवास कल्याणम
1987 चक्रवर्ती
1987 सरदार धर्मन्ना
1987 वीरा प्रताप
1987 नेने राजू नेने मंत्री
1987 विश्वनाथ नायकुडू
1986 मानवुदु दानवुदू
1986 कोंदाविती राजा
1986 नाम्पल्ली नागू
1986 पापिकोंडालु
1986 तंद्रा पापारायडू
1986 उग्रनरसिम्हम
1985 अदवी दोंगा
1985 विन्ता मोगुदू
1985 एदादुगुला बंधम
1985 इलैलिको परीक्षा
1985 कल्याण तिल्कम
1985 कोथापेली कुथरू
1985 मारो मोंगादु
1985 नेरास्थुदू
1985 रेगिले गुंडेलू
1985 संचालनम
1985 तिरुगुबातू
1984 भले रामुडू
1984 ई तिरुपू इलालिदी
1984 श्रीमती कावली
1984 पद्मव्युहम
1984 अदा पुली
1984 गृहलक्ष्मी
1984 राउडी
1984 सरदार
1984 सीताम्मा पेल्ली
1983 धर्म पोरात्म
1983 दुर्गा देवी
1983 काल यमुड़ू
1983 कुरुक्षेत्रम्लो सीता
1983 मारो माया बाज़ार
1983 मायागदू
1983 पल्लेतूरी पिदुगू
1983 पुलिस वेंकटस्वामी
1983 प्रलय गर्जनई
1982 बिल्ला रंगा
1982 पत्नम वचिना पतिव्रतालू
1982 प्रतिज्ञा
1982 गृह प्रवेशम
1982 चंदामामा
1982 देवता
1982 जयसुधा
1982 कोता नीरू
1982 प्रलय रुद्रदू
1982 प्रतिकरम
1982 सवाल
1981 किराई राउडिलू
1981 चेत्तानिकी कालू लेवू
1981 अद्दला मेदा
1981 अगिरवा
1981 डब्बू डब्बू डब्बू
1981 कोंडाविटी सिम्हम
1981 पतालम पांडु
1981 प्रेमाभिषेकम
1981 सत्यम शिवम्
1981 टैक्सी ड्राईवर
1980 कोटापेटा राउडी
1980 भले कृष्णुडू
1980 बुची बाबू
1980 चेसिना बासलू
1980 सर्कस रामुडू
1980 दीपाराधना
1980 धर्म चक्रम
1980 गांधार ग़ुलाम
1980 घराना दोंगा
1980 गोपाल राव गरी अम्मई
1980 गुरु
1980 कक्षा
1980 केतुगदू
1980 महालक्ष्मी
1980 मानवुदे महानियुदू
1980 पालू नीलू
1980 पिल्ला जमींदार
1980 प्रेमा कनुका
1980 रेगिले ह्रदयालू
1980 सरदा रामुडू
1980 सरदार पापा रायुडू
1980 सीता रामुलू
1980 सुजाता
1980 त्रिलोक सुंदरी
1979 श्री रामबंतू
1979 कोटा अल्लुडू
1979 अंददू आगदू
1979 ड्राईवर रामुडू
1979 कल्याणी
1979 मावुरी देवता
1979 निन्दू नूरेलू
1979 राम बाणम
1979 रामुडे रावणुदैते
1979 रंगून राउडी
1979 शोकिला रायुडू
1978 चाल मोहन रंगा
1978 पोटेलू पुन्नम्मा
1978 दोंगला दोपिदी
1978 बोम्मारिलू
1978 गोरंथा दीपम
1978 कालंतकुलू
1978 कुमार राजा
1978 मुगुरू मुगुरे
1978 नायडू बावा
1978 पदाहेरेला वयासू
1978 रामकृष्णुलू
1978 सिम्हा बालुदू
1978 सिम्हा गर्जना
1978 सिवरंजिनी
1978 विचित्र जीवितम
1977 मानुषुलू चेसिना दोंगुलू
1977 बंगारू बोम्मलू
1977 भले अल्लुडू
1977 दोंगालकू दोंगा
1977 कैदी कालिदासू
1977 कुरुक्षेत्रमू
1976 भले दोंगालू
1976 अतावरिल्लू
1976 ओ मानिषी तिरिगी चुदू
1975 स्वर्गम नरकम
1974 अलुरी सीतारामा राजू
1974 कन्नावरी कलालू

निर्माता के रूप में[संपादित करें]

मोहन बाबू ने 1982 में श्री लक्ष्मी प्रसन्ना पिक्चर्स (एसएलपीपी) नामक फ़िल्म प्रोडक्शन हाउस का शुभारंभ किया. तब से वह 56 फ़िल्मों का निर्माण कर चुके हैं. उनकी अति सफल और बॉक्स ऑफिस पर हिट में शामिल हैं:

  • प्रतिज्ञा (1982) 50 दिन
  • एदादुगुला बंधम (1985) 25 दिन
  • ना मोगुडु नाके सॉन्थम (1989) 100 दिन
  • अलुडुगारू (1990) 100 दिन
  • असेम्बली राउडी (1991) 100 दिन
  • राउडीगरी पेल्लम (1991) 100 दिन
  • अल्लरी मोगुडु (1992) 100 सप्ताह
  • ब्रह्मा (1992) 50 दिन
  • मेजर चन्द्रकान्त (1993) 100 दिन
  • पेदारायडु (1995) 100 दिन

पुरस्कार[संपादित करें]

कला के क्षेत्र में उनकी सेवाओं के लिए उन्हें प्रतिष्ठित पद्म श्री पुरस्कार प्रदान किया गया.

मोहन बाबू ने भी प्रेस, सांस्कृतिक संगठनों, स्क्रीन, फ़िल्म फेयर और कई अन्य पुरस्कार भी जीते हैं. उन्हें "नटपूर्णा" (पूर्ण कलाकार), "संवाद बादशाह" और "संग्रह बादशाह" करार दिया गया है.

संदर्भ[संपादित करें]

  1. http://www.chakpak.com/celebrity/mohan-babu/biography/16261