मीराबेन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

मीराबेन (२२ नवम्बर, १८९२ - २० जुलाई, १९८२) का मूल नाम 'मैडलिन स्‍लेड' (Madeleine Slade) था। वे एक ब्रिटिश सैन्‍य अधिकारी की बेटी थीं। गाँधीजी के व्‍यक्तित्‍व के जादू में बँधी सात समंदर पार काले लोगों के देश हिंदुस्‍तान चली आई और फिर यहीं की होकर रह गईं। गाँधी ने उन्‍हें नाम दिया था - 'मीरा बेन' । मीरा बेन सादी धोती पहनती, सूत कातती, गाँव-गाँव घूमती। वह गोरी नस्‍ल की अँग्रेज थीं, लेकिन हिंदुस्‍तान की आजादी के पक्ष में थी। उन्‍होंने जरूर भारत की धरती पर जन्‍म नहीं लिया था, लेकिन वह सही मायनों में हिंदुस्‍तानी थीं। गाँधी का अपनी इस विदेशी पुत्री पर विशेष अनुराग था।

जीवनी[संपादित करें]

मैडलिन स्लेड ऐडमिरल सर ऐडमंड स्लेड (admiral, Sir Edmond Slade) की पुत्री थीं। जब उनके पिता मुम्बई में 'इस्ट इण्डिया स्क्वैड्रन' के कमांडर-इन-चीज के पद पर कार्यरत थे उस समय उन्होने कुछ वर्ष भारत में बिताये। वह प्रकृति से प्रेम करतीं थी तथा अपने बचपन से ही सादा जीवन से उन्हें प्यार था। संगीत में उनकी गहरी रूचि थी तथा बिथोवेन का संगीत उन्हें बहुत भाता था।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]