मिश्मी लोग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मिश्मी युवक व युवती

मिश्मी या देंग भारत के अरुणाचल प्रदेश राज्य और तिब्बत में बासने वाले एक मानव समुदाय का नाम है। यह तीन क़बीलों में बंटा है - इदु मिश्मी (इदु ल्होबा), दिगारू (ताराओं, दारांग देंग) और मिजू मिश्मी (कामान देंग)। मिश्मी लोग मध्य अरुणाचल प्रदेश के पूर्वोत्तरी छोर में बसते हैं जो ऊपरी और निचली दिबांग घाटी, लोहित और अनजाव ज़िलों पर विस्तृत हैं। जनसँख्या के आधार पर मिश्मी अरुणाचल की सातवी सबसे बड़ी जनजाति है और १९८१ की जनगणना में उनकी आबादी २४,५६९ थी।[1]

इतिहास[संपादित करें]

मिश्मी लोग बर्मा के काचिन क्षेत्र से भारत में आकर बस गए थे। सबसे पहले इदु मिश्मी आये, जिसके बाद आज से लगभग ५०० वर्ष पूर्व दिगारू मिश्मी आये और सबसे अंत में मिजू मिश्मी आये थे।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Encyclopaedia of North-East India, Col Ved Prakash, pp. 1171, Atlantic Publishers & Dist, 2007, ISBN 978-81-269-0705-2, ... Mishmi is the 7th largest tribe of Arunachal, enumerating 24,569 in the 1981 Census ...