महाश्वान तारामंडल

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
महाश्वान तारामंडल (हिन्दी नामों के साथ)
(क्लिक करके देखें) आसमान के इस चित्र के बीच में महाश्वान तारामंडल एक कुत्ते के रूप में दिख रहा है; सबसे रोशन तारा कुत्ते की नाक पर मौजूद व्याध तारा है

महाश्वान (संस्कृत अर्थ: बड़ा कुत्ता) या कैनिस मेजर एक तारामंडल है जो अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ द्वारा जारी की गई ८८ तारामंडलों की सूची में शामिल है। दूसरी शताब्दी ईसवी में टॉलमी ने जिन ४८ तारामंडलों की सूची बनाई थी यह उनमें भी शामिल था। पुरानी खगोलशास्त्रिय पुस्तकों में इसे अक्सर शिकारी तारामंडल के शिकारी के पीछे चलते हुए एक कुत्ते के रूप में दर्शाया जाता था। रात के आसमान का सबे रोशन तारा, व्याध तारा, भी इसमें शामिल है और चित्रों में काल्पनिक कुत्ते की नाक पर स्थित है।

अन्य भाषाओँ में[संपादित करें]

अंग्रेज़ी में महाश्वान तारामंडल को "कैनिस मेजर कॉन्स्टॅलेशन" (Canis Major constellation) कहा जाता है। फ़ारसी में इसे "सग बुज़ुर्ग" (سگ بزرگ, अर्थ: बड़ा कुत्ता) कहा जाता है। मराठी में इसे "बृहल्लुब्धक" कहा जाता है। अरबी में इसे "अल-कल्ब अल-अकबर" (الكلب الأكبر) कहा जाता है।

तारे[संपादित करें]

महाश्वान तारामंडल में ३२ तारे हैं जिन्हें बायर नाम दिए जा चुके हैं। इनमें से ४ के इर्द-गिर्द ग़ैर-सौरीय ग्रह परिक्रमा करते हुए पाए गए हैं। पूरे ब्रह्माण्ड में अब तक सब से बड़ा मिला तारा वी वाई महाश्वान (वी वाई कैनिस मेजोरिस) भी इसी तारामंडल में पाया गया है और इसका व्यास (डायामीटर) हमारे सूरज से लगभग दो हज़ार गुना है। इस तारामंडल के कुछ अन्य ख़ास तारे और उनका चमकीलापन (निरपेक्ष कान्तिमान) इस प्रकार हैं -

बायर नाम चमक
(निरपेक्ष कान्तिमान)
अरबी नाम नाम का अर्थ
ε CMa १.५१ अधारा कन्याएँ
δ CMa १.८३ वॅज़ॅन वज़न (भार)
β CMa १.९८ मुरज़िम घोषणा करने वाला
η CMa २.४५ अलुद्रा (अल-उद्रा) कन्या
ζ CMa ३.०२ फ़ूरूद अकेला चमकने वाला
γ CMa ४.११ मूलीफ़ेन कुत्ते का कान (मूल यूनानी शब्द)

इन्हें भी देखें[संपादित करें]