महमूद-ए-राक़ी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
महमूद-ए-राक़ी
Mahmud-i-Raqi / محمود راقی
महमूद-ए-राक़ी is located in Afghanistan
महमूद-ए-राक़ी
अफ़ग़ानिस्तान में स्थिति
सूचना
प्रांतदेश: कापीसा प्रान्त, अफ़ग़ानिस्तान
जनसंख्या (२००६): ७,४०७
मुख्य भाषा(एँ): दरी फ़ारसी, पश्तो
निर्देशांक: 35°1′14″N 69°19′50″E / 35.02056°N 69.33056°E / 35.02056; 69.33056


महमूद-ए-राक़ी (दरी फ़ारसी: محمود راقی, अंग्रेज़ी: Mahmud-i-Raqi), जिसे अक्सर सिर्फ़ महमूद राक़ी कहा जाता है, पूर्वी अफ़ग़ानिस्तान के कापीसा प्रान्त की राजधानी है।

लोग[संपादित करें]

कापीसा प्रान्त एक ऐसे क्षेत्र में है जहाँ से ताजिक लोगों, पश्तूनों और पाशाई लोगों के बीच की सीमाएँ गुज़रती हैं। महमूद-ए-राक़ी शहर में ज़्यादातर लोग दरी फ़ारसी बोलने वाले ताजिक हैं। यह लोग तालिबान चरमपंथियों के विरोध में रहे हैं। इनके अलावा शहर में कुछ पश्तून और पाशाई लोग भी बसते हैं।

आतंकवादी हादसे[संपादित करें]

मई २००९ में यहाँ एक लड़कियों की पाठशाला में तालिबान ने ज़हरीली गैस का हमला किया। स्कूल शुरू होने से पहले की प्रातकालीन सभा में छात्राएँ पंक्तियाँ बनाकर खड़ी थीं जब उनमें से एक बेहोश होकर ज़मीन पर गिर पड़ी। उसके बाद और भी लडकियाँ मूर्छित होकर गिरने लगी। कुल मिलकर ९० लड़कियों और ६ अध्यापकों को अस्पताल में उपचार के लिए ले जाना पड़ा। तालिबान कन्या-शिक्षा को रोकने के लिए ऐसे आतंकवादी हमलों का सहारा लेता है और यह उस समय अफ़ग़ानिस्तान में तीसरा ऐसा ज़हरीली गैस का हमला था।[1]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. The UK's foreign policy approach to Afghanistan and Pakistan: fourth report of session 2010-11, Vol. 1: Report, together with formal minutes, oral and written evidence, House of Commons: Foreign Affairs Committee, pg=1-69, The Stationery Office, Parliament of Great Britain, 2011, ISBN 978-0-215-55659-2, ... In May 2009, pupils were lining up outside their classrooms for morning assembly at their school in Mahmud Raqi village, Kapisa Province, when one girl collapsed unconscious. Suddenly more girls started to collapse because of a gas poisoning attack by the Taliban. In total there were 90 Afghan school girls rushed to hospital, several slipped into comas. Six teachers were also admitted. It was the third such attack ...