भूवैज्ञानिक समय-मान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
यह घड़ी भूवैज्ञानिक काल के प्रमुख ईकाइयों के के साथ-साथ पृथ्वी के जन्म से लेकर आज तक की प्रमुख घटनाओं को भी दिखा रही है।

भूवैज्ञानिक समय-मान ( geologic time scale ) कालानुक्रमिक मापन की एक प्रणाली है जो स्तरिकी (stratigraphy) को काल के साथ जोड़ती है। यह एक स्तरिक सारणी (stratigraphic table) है। भूगर्भविज्ञानी, जीवाश्मविज्ञानी तथा अन्य भू-वैज्ञानिक इसका प्रयोग धरती के सम्पूर्ण इतिहास में हुए सभी घटनाओं को समय के साथ सम्बन्धित करने के लिये करते हैं। जिस प्रकार चट्टानो के अधिक पुराने स्तर नीचे होते हैं तथा अपेक्षाकृत नये स्तर उपर होते हैं, उसी प्रकार इस सारणी में पुराने काल और घटनाएँ नीचे हैं जबकि नवीन घटनाएँ उपर (पहले) दी गयीं हैं।

विकिरणमितीय प्रमाणों (radiomeric evidence) से पता चलता है पृथ्वी की आयु लगभग 454 करोड़ वर्ष है।

भूगर्भिक काल एवं उनका निर्धारण[संपादित करें]

भूगर्भिक कालों का निर्धारण सहज कार्य नहीं है। इस दिशा में अनेक विद्वानों ने, समय-समय पर, अनेक सिद्धांत उपस्थित किए हैं। इन कालों (महाकल्पों, कल्पों तथा युगों) के विभाजन का पारम्परिक आधार यूरोपीय एवं उत्तरी अमरीका के तटवर्ती सागरों की तलहटियों में हुए परिवर्तन हैं। कालों का विभाजन करनेवाली सीमाएँ वास्तविक न होकर मात्र सुविधानुसार हैं।

अकशेरुकीय जंतुओं के जीवन में परिवर्तन अथवा अवसादों के निक्षेपण में व्यवधान को लक्ष्य करके कालों को विभाजित कर लिया गया है। कैम्ब्रियन कल्प से लेकर नूतन महाकल्प तक, अनुमानतः, 50 करोड़ वर्षों का विस्तार रहा है। शिलाखंडों की पहचान कर लेने के बाद सबसे प्राचीन खंड की आयु तीन अरब वर्ष पूर्व की आँकी गई है। कैम्ब्रियन काल में ही पहली बार जीवाश्म दिखलाई पड़ते हैं; उनकी आयु 50 करोड़ पूर्व मानी गई है। इसका यह अर्थ नहीं निकालना चाहिए कि इसके पूर्व पृथ्वी पर जीवन थ ही नहीं। जीवन अवश्यमेव था, नहीं तो जीवाश्म कहाँ से प्राप्त होते। यह दूसरी बात है कि जीवन के उस आदिम काल के प्रमाण हमें उपलब्ध नहीं हैं, क्योंकि उनका क्रमिक उद्विकास हो रहा था।

प्रथम कशेरुकीय जंतु की उत्पत्ति अनुमानतः 40 करोड़ वर्ष पूर्व हुई थी, जो ऑर्डोविसियन कल्प के नाम से जाना जाता है। विख्यात दैत्याकार डाइनासौर लगभग 20 करोड़ वर्ष पूर्व उत्पन्न हुए और प्रायः 1 करोड़ वर्षों तक पृथ्वी पर चंक्रमण करते रहे। सात करोड़ वर्ष पूर्व स्तनपायी (mammals) जंतु प्रकट हुए और डाइनासौर लुप्त हो गए। मनुष्य के उत्पत्ति लगभग 10 लाख वर्ष पूर्व मानी जाती है।

जीवाश्मों तथा भूगर्भिक कालों में अटूट संबंध होता है। ये भूगर्भिक काल कौन-कौन से हैं, इसका संक्षिप्त परिचय निम्नलिखित है :

चतुर्थ कल्प (Quaternary)
अत्यंत नूतन युग (Pleistocene Epoch)
नूतन युग (Holocene Epoch)
तृतीय कल्प (Tertiary)
अतिनूतन युग (Pliocene Epoch)
मध्यनूतन युग (Miocene Epoch)
अल्पनूतन युग (Oligoncene Epoch)
आदिनूतन युग (Eocene Epoch)
पुरानूतन युग (Palaeocene Epoch)
चाकमय कल्प या क्रीटैशस कल्प
जुरैसिक कल्प
ट्राइऐसिक युग
पर्मियन कल्प
मिसिसिपियन एवं पेंसिल्वैनियन कल्प
डिवोनी कल्प या 'डिवोनियन कल्प' या 'मत्स्य कल्प'
सिल्यूरियन कल्प
ऑर्डोविसियन कल्प
कैंब्रियन कल्प
  • कैंब्रियनपूर्वी (Pre-Combrian)

कालों का नामकरण[संपादित करें]

ऊपर की तालिका में प्रत्येक महाकल्प, कल्प तथा युग का कोई न कोई नाम दिया गया है। 'कैम्ब्रियन' नाम इंग्लैंड के वेल्स प्रदेश में स्थित कैम्ब्रिया जिले के नाम पर दिया गया, जहाँ इस काल के शिलाखंड प्रचुर मात्रा में उपलब्ध हुए हैं। 'ऑर्डोविसिन' तथा 'सिल्यूरियन कल्प' का नामकरण दक्षिणी इंग्लैंड तथा वेल्स की इसी नाम की आदिम जातियों के नाम के आधार पर पड़ा है। डिवोनियन कल्प का नामकरण डिवॉनशायर (इंग्लैंड) के नाम पर पड़ा है। इसी पकार उत्तरी अमरीका की मिसिसिपी नदी तथा पेंसिल्वैनिया प्रदेश की ऐलेगनी पर्वत श्रेणी के क्षेत्र में पाए गए शिलाखंडों के नाम पड़े हैं। इसी प्रकार उत्तरी भाग में स्थित पर्म प्रदेश में पाए गए पुराजीवी शिलाखंडों को पर्मियन नाम दिया गया। इसी प्रकार अन्य नामों को भी समझना चाहिए।

भूवैज्ञानिक समयरेखा[संपादित करें]

Ediacaran Paleoproterozoic Mesoproterozoic Hadean Archean Proterozoic Phanerozoic Precambrian

Cambrian Ordovician Devonian Carboniferous Permian Triassic Jurassic Cretaceous Paleozoic Mesozoic Cenozoic Phanerozoic

Paleocene Eocene Oligocene Miocene Pleistocene Paleogene Neogene Quaternary Cenozoic

Millions of Years

'एक महाकल्प' को 'एक दिन' के बराबर मानकर तुलना[संपादित करें]

वास्तविक
समय [मिलियन वर्ष में]
  1 दिन
का समय
0,01 कृषि तथा पशुपालन 0,2 s
0,13 मानव 2 s
1,5 होमो हैबिलिस 25 s
7 खड़े होकर चलना 2 min
10 मानव-पूर्व 3 min
33 एप 10 min
80 वानर 20 min
200 स्तनपोषी 1 h
280 सरीसृप 1 h 20 min
360 उभयचर 1 h 45 min
420 मत्स्य 2 h
470 कशेरुक 2 h 15 min
600 बहुकोशीय जीव 3 h
1000 लैंगिकता 5 h
1500 युकैरिओट 7 h
2200 प्रकाश संश्लेषण 11 h
3200 प्रोटोजुआ 15 h
4600 पृथ्वी 23 h

भूवैज्ञानिक काल एवं सम्बन्धित विवरण[संपादित करें]

यहाँ दी गयी भूवैज्ञानिक कालों की सारणी अन्तरराष्ट्रीय स्तरिक आयोग द्वारा निर्धारित तिथियों एवं नामकरण के अनुरूप है।


सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Paleontologists often refer to faunal stages rather than geologic (geological) periods. The stage nomenclature is quite complex. For an excellent time-ordered list of faunal stages, see "The Paleobiology Database". http://flatpebble.nceas.ucsb.edu/cgi-bin/bridge.pl?action=startScale. अभिगमन तिथि: 2006-03-19. 
  2. Dates are slightly uncertain with differences of a few percent between various sources being common. This is largely due to uncertainties in radiometric dating and the problem that deposits suitable for radiometric dating seldom occur exactly at the places in the geologic column where they would be most useful. The dates and errors quoted above are according to the International Commission on Stratigraphy 2004 time scale. Dates labeled with a * indicate boundaries where a Global Boundary Stratotype Section and Point has been internationally agreed upon: see List of Global Boundary Stratotype Sections and Points for a complete list.
  3. Historically, the Cenozoic has been divided up into the Quaternary and Tertiary sub-eras, as well as the Neogene and Paleogene periods. The 2009 version of the ICS time chart recognizes a slightly extended Quaternary as well as the Paleogene and a truncated Neogene, the Tertiary having been demoted to informal status.
  4. For more information on this, see the following articles: Earth's atmosphere, carbon dioxide, Carbon dioxide in the Earth's atmosphere, global warming, climate change, Image:Phanerozoic_Carbon_Dioxide.png, Image:65 Myr Climate Change.png, Image:Five Myr Climate Change.png, and Template:DF temperature
  5. The start time for the Holocene epoch is here given as 11,700 years ago. For further discussion of the dating of this epoch, see Holocene.
  6. In North America, the Carboniferous is subdivided into Mississippian and Pennsylvanian Periods.
  7. The Precambrian is also known as Cryptozoic.
  8. The Proterozoic, Archean and Hadean are often collectively referred to as the Precambrian Time or sometimes, also the Cryptozoic.
  9. Defined by absolute age (Global Standard Stratigraphic Age).
  10. The age of the oldest measurable craton, or continental crust, is dated to 3600–3800 Ma
  11. Though commonly used, the Hadean is not a formal eon and no lower bound for the Archean and Eoarchean have been agreed upon. The Hadean has also sometimes been called the Priscoan or the Azoic. Sometimes, the Hadean can be found to be subdivided according to the lunar geologic time scale. These eras include the Cryptic and Basin Groups (which are subdivisions of the Pre-Nectarian era), Nectarian, and Early Imbrian units.
  12. These unit names were taken from the Lunar geologic timescale and refer to geologic events that did not occur on Earth. Their use for Earth geology is unofficial.
  13. Bowring, Samuel A.; Williams, Ian S. (1999). "Priscoan (4.00–4.03 Ga) orthogneisses from northwestern Canada". Contributions to Mineralogy and Petrology 134 (1): 3. Bibcode 1999CoMP..134....3B. doi:10.1007/s004100050465.  The oldest rock on Earth is the Acasta Gneiss, and it dates to 4.03 Ga, located in the Northwest Territories of Canada.
  14. Geology.wisc.edu

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]