भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह प्रणाली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह प्रणाली (इन्सैट) इसरो द्वारा शुरू बहुउद्देशीय भू स्थिर उपग्रहों की एक श्रृंखला है जो दूरसंचार, प्रसारण, मौसम विज्ञान और खोज और बचाव कार्य के लिए उपयोग होता है। 1983 में शुरु किया हुआ इनसैट, एशिया-प्रशांत क्षेत्र में सबसे बड़ी देशीय संचार प्रणाली है। यह भारत सरकार के अंतरिक्ष विभाग, दूरसंचार विभाग, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग, आकाशवाणी और दूरदर्शन चैनल के एक संयुक्त उद्यम है। सचिव-स्तर इनसैट समन्वय समिति के उपर इनसैट प्रणाली के समग्र समन्वय और प्रबंधन टिकी हुई है। इनसैट उपग्रहों भारत के टीवी और संचार आवश्यकताओं की सेवा करने के लिए विभिन्न बैंड में ट्रांसपोंडर (सी, एस, विस्तारित सी और यू) प्रदान करते हैं। इसरो अंतर्राष्ट्रीय कोसपस-सारसट (Cospas-Sarsat) कार्यक्रम के एक सदस्य के रूप में दक्षिण एशियाई और हिंद महासागर क्षेत्र में खोज और बचाव अभियान के लिए संकट चेतावनी संकेतों को प्राप्त करने के लिए उपग्रहों के ट्रांसपोंडर (ओं) का इस्तेमाल करते है।[1]

इनसैट प्रणाली[संपादित करें]

भारतीय राष्ट्रीय उपग्रह (इनसेट) प्रणाली अगस्त 1983 में इनसैट -1 बी के प्रक्षेपण (इनसैट -1 ए, पहला उपग्रह अप्रैल 1982 में छोड़ा गया था लेकिन मिशन को पूरा नहीं कर सका गया) के साथ साधिकार हुआ। इनसैट प्रणाली भारत के दूरदर्शन और रेडियो प्रसारण, दूरसंचार और मौसम संबंधी क्षेत्रों में एक क्रांति की शुरुआत की। दूरदराज के क्षेत्रों और बंद किनारे द्वीपों के लिए टीवी और आधुनिक दूरसंचार सुविधाओं का तेजी से विस्तार सक्षम होने मे इसका हाथ है। साथ में, प्रणाली संचार सेवाओं के लिए सी, विस्तारित सी और यू में ट्रांसपोंडर (ओं) का प्रदान करते है। कल्पना-1 एक विशेष मौसम संबंधी उपग्रह है। उपग्रहों पर नजर रखने और नियंत्रण करने के लिए हसन और भोपाल में मास्टर नियंत्रण सुविधा मौजूद है।[1]

यह भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]