ब्रूस ली

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Bruce Lee

Bruce Lee
जन्म Lee Jun Fan
李振藩 (Traditional)
李振藩 (Simplified)
Lǐ Zhènfān (Mandarin)
lei5 zan3 faan4 (Cantonese)
सक्रिय वर्ष 1941–1973
जीवनसाथी Linda Emery (born 1945) (1964-1973)
संतान Brandon Lee (1965–1993)
Shannon Lee (born 1969)
जालपृष्ठ
Bruce Lee Foundation
The Official Website of Bruce Lee

ब्रूस ली (जून फान,李振藩,李小龙; पिनयिन: Lǐ Zhènfān, Lǐ Xiăolóng; 27 नवंबर, 1940 - 20 जुलाई, 1973) अमेरिका में जन्मे, चीनी हांगकांग अभिनेता, मार्शल कलाकार, दार्शनिक, फ़िल्म निर्देशक, पटकथा लेखक, विंग चुन के अभ्यासकर्ता और जीत कुन डो अवधारणा के संस्थापक थे.कई लोग उन्हें 20वीं सदी के सबसे प्रभावशाली मार्शल कलाकार और एक सांस्कृतिक प्रतीक के रूप में मानते हैं.[1] वे अभिनेता ब्रैनडन ली और अभिनेत्री शैनन ली के पिता भी थे.उनका छोटा भाई रॉबर्ट एक संगीतकार और द थंडरबर्ड्स नामक हांगकांग के एक लोकप्रिय बीट बैंड का सदस्य था.[2]

ली सैन फ्रांसिस्को, कैलिफ़ोर्निया में पैदा हुए थे और किशोर वय के अंत से कुछ पहले तक हांगकांग में पले-बढ़े. उनकी हांगकांग और हॉलीवुड निर्मित फ़िल्मों ने, परंपरागत हांगकांग मार्शल आर्ट फ़िल्मों को लोकप्रियता और ख्याति के एक नए स्तर पर पहुंचा दिया और पश्चिम में चीनी मार्शल आर्ट के प्रति दिलचस्पी की दूसरी प्रमुख लहर छेड़ दी. उनकी फ़िल्मों की दिशा और लहजे ने मार्शल आर्ट तथा हांगकांग के साथ-साथ बाक़ी दुनिया में मार्शल आर्ट फ़िल्मों को परिवर्तित और प्रभावित किया. वे मुख्य रूप से पांच फ़ीचर फ़िल्मों में अपने अभिनय के लिए जाने जाते हैं, लो वाई की द बिग बॉस (1971) और फ़िस्ट ऑफ़ फ़्यूरी (1972); ब्रूस ली द्वारा निर्देशित और लिखित वे ऑफ़ द ड्रैगन (1972); वार्नर ब्रदर्स की एंटर द ड्रैगन (1973), रॉबर्ट क्लाउस द्वारा निर्देशित, और द गेम ऑफ़ डेथ (1978).

ली एक अनुकरणीय व्यक्तित्व बन गए, विशेष रूप से चीनियों में, क्योंकि उन्होंने अपनी फिल्मों में चीनी राष्ट्रीय गौरव और चीनी राष्ट्रवाद का चित्रण किया.[3] वे मुख्यतः चीनी मार्शल आर्ट, विशेषकर विंग चुन, का अभ्यास करते थे (लोकप्रिय पाश्चात्यीकृत शब्दावली में "कुंग फू ,")[4]

अनुक्रम

प्रारंभिक जीवन[संपादित करें]

ब्रूस ली का जन्म 27 नवंबर, 1940 को चीनी राशि-चक्र कैलेंडर के अनुसार ड्रैगन वर्ष में सैन फ्रांसिस्को के चायना-टाऊन में स्थित चीनी अस्पताल में हुआ था।[5] उनके पिता ली होई-च्युएन (李海泉), चीनी थे और उनकी कैथोलिक मां ग्रेस हो (何爱瑜), चीनी और चतुर्थांश जर्मन वंश की थीं.[6][7][8][9][10][11] ली जब तीन महीने के थे, तो उनके माता-पिता हांगकांग लौट आए ।[12][13] उनकी नागरिकता के बारे में अनिश्चितता है; उनके पास निश्चित रूप से HK की नागरिकता, US नागरिकता थी, और वे एक चीनी नागरिक भी हो सकते हैं।

ली होई च्युएन उस समय एक अग्रणी केनटोनी ऑपेरा और फिल्म अभिनेता थे, और वे अपने परिवार के साथ द्वितीय विश्व युद्ध के दौरान हांगकांग पर जापानी आक्रमण की पूर्व संध्या पर अमेरिकी चीनी समुदायों के बीच एक वर्ष लंबे केनटोनी ऑपेरा प्रदर्शन यात्रा पर जहाजी दौरे पर थे. चूंकि उस वक्त भ्रमण एक बहुत ही लाभदायक व्यवसाय था, ली कई वर्षों से संयुक्त राज्य अमेरिका का दौरा कर रहे थे. हालांकि उनके कई साथियों ने इस बार तूफान को झेलने के लिए अमेरिका में रुकने का फ़ैसला किया, ली ने पत्नी द्वारा उनके चौथे बच्चे को जन्म देने के बाद वापस हांगकांग जाने का निश्चय किया, जो कि आंशिक रूप से गृहासक्ति और आंशिक रूप से उनका ग़लत आकलन के कारण था.कुछ ही महीनों में, हांगकांग पर हमला किया गया (पर्ल हार्बर पर हमले के समय में ही) और ली परिवार ने आगामी 3 वर्ष और 8 महीने क्रूर जापानी कब्ज़े में बिताए.ली परिवार युद्ध में जीवित रहने में सक्षम रहा और वास्तव में समुचित रूप से बंदोबस्त कर पाया.ली होई च्युएन ने अपने अभिनय कैरियर को फिर से शुरू किया और आगामी पुनर्निर्माण वर्षों के दौरान वे और भी बड़े सितारे बन गए.

ब्रूस ली की मां ग्रेस की पृष्ठभूमि और भी प्रभावशाली थी.वह हांगकांग के सबसे शक्तिशाली और धनी कुलों में से एक, हो तुंग से संबध रखती थीं, जो हांगकांग में रॉकफेलर और केनेडी जितना ही समृद्धशाली था.वह कुल के मुखिया सर रॉबर्ट हो तुंग की भतीजी थी. इस प्रकार, युवा ब्रूस ली एक समृद्ध और भाग्यशाली वातावरण में बड़े हुए.

शिक्षा और परिवार[संपादित करें]

अपने घर से कुछ ब्लाक दूर 218 नाथान रोड, कॉलून में स्थित तक सन स्कूल (德信学校) जाने के बाद, 1950 या 1952 में (12 की उम्र में) ली ने प्रतिष्ठित ला सल्ले कॉलेज (喇沙书院) के प्राथमिक विद्यालय प्रभाग में प्रवेश लिया. 1956 के आस-पास, ख़राब अकादमिक प्रदर्शन के कारण (और/या संभवतः ख़राब आचरण के कारण भी) उन्हें सेंट फ्रांसिस ज़ेवियर कॉलेज (圣芳济书院)(उच्च विद्यालय) स्थानांतरित कर दिया गया, जहां वह भाई एडवर्ड, एक कैथोलिक भिक्षु (मूलतः जर्मनी से, मगर जिन्होंने अपना पूरा वयस्क जीवन चीन में और फिर हांगकांग में व्यतीत किया), अध्यापक, और स्कूल मुक्केबाजी टीम के कोच के मार्गदर्शन में रहे.1959 के वसंत में, ली एक और बाज़ारू लड़ाई में फंस गए और पुलिस को बुलाया गया.[14] पुलिस की आशंका के अनुरूप कि इस बार ब्रूस ली का लड़ाकू विरोधी, संगठित अपराध पृष्ठभूमि का है और ली को मारने का एक संभावित अनुबंध किया गया है, अप्रैल 1959 में उनके माता-पिता ने उन्हें अपनी बड़ी बहन एग्नेस (李秋凤) से मिलने के लिए संयुक्त राज्य अमेरिका भेजने का फ़ैसला किया, जो पहले से ही सैन फ्रांसिस्को में पारिवारिक दोस्तों के साथ रह रही थी.

साढ़े 18 साल की उम्र में ली अमेरिका वापस आ गए, और अपने जन्म के बाद से पहली बार अपनी नागरिकता के लिए उन्होंने आग्रह किया, अपनी जेब में $100 और हांगकांग का 1957 हाई स्कूल मुक्केबाजी चैंपियन और 1958 क्राउन कॉलोनी चा चा चैंपियन (या दूसरा स्थान) के खिताब के साथ,[5] ताकि वे अपनी शिक्षा आगे बढा सकें.सैन फ्रांसिस्को में कई महीनों तक रहने के बाद हाई स्कूल की शिक्षा जारी रखने और रूबी चाऊ के लिए उसके लिव-इन बैरे के तौर पर काम करने के लिए वे उसी वर्ष (1959) शरद ऋतु में सिएटल चले गए. रूबी के पति उसके पिता के सहकर्मी और दोस्त थे. उनके बड़े भाई पीटर (李忠琛) मिनेसोटा के कॉलेज जाने से पहले कुछ दिन सिएटल में ठहरने के लिए ब्रूस ली के पास आ गए.दिसंबर 1960 में ली ने अपनी हाई स्कूल की शिक्षा पूरी की और एडीसन तकनीकी स्कूल से (अब सिएटल केन्द्रीय सामुदायिक कॉलेज, कैपिटल हिल, सिएटल पर स्थित) अपना डिप्लोमा प्राप्त किया. इसके बाद उन्होंने 1916 में यूनिवर्सिटी ऑफ़ वॉशिंगटन में दाखिला लिया जहां उनका मुख्य विषय नाट्य था (UW के पूर्व छात्र संघ की जानकारी के अनुसार[15], ना कि दर्शन, जैसा कि खुद ब्रूस ली और कई लोगों द्वारा दावा किया गया), और संभावित रूप से दर्शन, मनोविज्ञान और विभिन्न अन्य विषयों में भी उन्होंने पढ़ाई की.[16][17][18] वॉशिंगटन विश्वविद्यालय में वे अपनी भावी पत्नी लिंडा एमरी से मिले, जिससे उन्होंने अगस्त 1964 में शादी की.

ब्रूस ली ने अपनी विश्वविद्यालय की शिक्षा (3 वर्ष और कभी स्नातक उपाधि प्राप्त नहीं की) 1964 के वसंत में छोड़ दी और जेम्स यिम्म ली (严镜海, ब्रूस ली से कोई संबंध नहीं, और उसका चीनी उपनाम वास्तव में "यिम" था, यह जेम्स के पिता द्वारा पहली बार US प्रवास के दौरान आप्रवास अधिकारियों द्वारा की गई एक विशिष्ट भूल थी) के साथ रहने ओकलैंड चला गया.ब्रूस ली से बीस साल बड़े और खाड़ी क्षेत्र में एक ख्यातिलब्ध चीनी मार्शल कलाकार, जेम्स ली ने ब्रूस ली के साथ मिल कर ओकलैंड में दूसरा जुन फैन मार्शल आर्ट स्टूडियो खोला (पहला सिएटल में). अमेरिकी मार्शल कला जगत के बादशाह और (लांग बीच) अंतर्राष्ट्रीय कराटे चैंपियनशिप के आयोजक एड पार्कर से ब्रूस ली को मिलवाने के लिए भी जेम्स ली ही जिम्मेदार थे, जहां बाद में ब्रूस ली को हॉलीवुड द्वारा "खोजा" गया.

लिंडा से ब्रूस ली को दो बच्चे हुए, ब्रैनडन ली (1965-1993) और शैनन ली (1969-). ब्रैनडन, जो अपने पिता की तरह ही एक अभिनेता बने, 1993 में द क्रो के फिल्मांकन के दौरान एक दुर्घटना में मारे गए.शैनन ली भी एक अभिनेत्री बनी और 1990 के दशक के मध्य कुछ कम बजट की फिल्मों में अभिनय किया, लेकिन उसके बाद से उन्होंने अभिनय छोड़ दिया.

नाम[संपादित करें]

ब्रूस ली का केनटोनी में दिया गया नाम था ली जुन फैन (振藩; मंदारिन पिन्यिन: Zhènfán).[19] जन्म के समय, अंग्रेजी नाम "ब्रूस" अस्पताल में उपस्थित चिकित्सक, डॉ. मैरी ग्लोवर द्वारा दिए जाने का अनुमान है (या कुछ ने कहा कि वह नर्सों में से एक थी).हालांकि श्रीमती ली ने शुरू में बच्चे के लिए एक अंग्रेजी नाम की योजना नहीं बनाई थी, इसे उन्होंने उपयुक्त माना और डॉ. ग्लोवर के संयोजन से सहमत हुई.[20] हालांकि जब तक उन्होंने 10 या 12 साल की उम्र में ला सल्ले कॉलेज (एक हांगकांग हाई स्कूल) के प्राथमिक विभाग में दाखिला नहीं ले लिया, उनका अमेरिकी नाम उनके परिवार के अंदर कभी इस्तेमाल नहीं हुआ,[19] और बाद में एक अन्य उच्च विद्यालय में (सेंट फ्रांसिस ज़ेवियर कॉलेज, कोलून में), जहां ली अंतर-स्कूली मुक्केबाजी टीम का प्रतिनिधित्व करने के लिए आते थे.

ब्रूस ली के तीन अन्य चीनी नाम भी थे: ली युआन-ज़िन [3] [李源鑫; मंदारिन पिन्यिन: Lǐ yuán-xīn, एक परिवार/कुल नाम के रूप में (族名)], ली यूएन काम [李元鉴; मंदारिन पिन्यिन: Lǐ yuán-jiàn, ला सल्ले कॉलेज में पढ़ाई के दौरान एक विद्यार्थी के रूप में नाम (学名), और बेशक उनका चीनी मंच नाम 李小龙 [केनटोनी पेंग्यम: Ley5 Siu² Long4 (या ली सिउ लूंग); मंदारिन पिन्यिन: Lǐ Xiǎolóng]. जुन फैन नाम चीनी में मूल रूप से 震藩 रूप में लिखा जाता है, यद्यपि यह जुन उनके दादा के नाम के हिस्से 李震彪 के समरूप है, जो चीनी परंपरा में पाबंदी के समान माना जाता था.इसलिए, ब्रूस ली का नाम बदल कर 震 कर दिया गया, जिसका 振 के साथ समरूप उच्चारण और वस्तुतः समान अर्थ था.यह भी ध्यान रखने की बात है कि ब्रूस ली को एक स्त्री उपनाम साई फुंग दिया गया (細鳳, शाब्दिक अर्थ "छोटा फीनिक्स"), जो एक चीनी परंपरा को ध्यान में रख कर, पारंपरिक रूप से बच्चे को बुरी आत्माओं से छिपाने के लिए उनके संपूर्ण प्रारंभिक बाल्यकाल में प्रयुक्त हुआ. लिंडा ली की किताबों में, उन्होंने बार-बार यह उद्धृत किया है कि जुन फैन का अर्थ है "फिर वापस लौटना" (वापस US में), लेकिन जुन (振) का वास्तविक अर्थ है "जान डालना" या "आघात देना" और फैन (藩) सैन फ्रांसिस्को नगर के लिए जाना-माना चीनी संक्षिप्त रूप है.三藩市).

ब्रूस ली के मंच नाम 李小龙 पहली बार युआन बू य़ुन (袁步云) द्वारा सुझाए गए थे, जब ली ने 1950 की केनटोनी फिल्म 细路祥 में शीर्षक भूमिका निभाई ("बालक च्युंग"). तब तक ली, हांगकांग में दो फ़ीचर फिल्मों को अपने नाम करने के साथ-साथ पहले से ही एक 4 वर्ष के अनुभवी बाल कलाकार बन गए थे [1940 में US में बनी केनटोनी फिल्म "गोल्डन गेट गर्ल" (金门女) में उन्हें एक बिना श्रेय के नन्हे शिशु के रूप में इस्तेमाल किया गया था]. U.S में 1959 में उनकी वापसी से पहले, ब्रुस ली का संपूर्ण किशोरवय (उम्र 10 से 18) औसतन दो फ़िल्में प्रति वर्ष के हिसाब से ठोस 18 वर्ष का सम्मानजनक बाल कलाकार का कैरियर था, जिसके दौरान उन्होंने कुछ बेहतरीन केनटोनी अभिनेता और अभिनेत्रियों के साथ अभिनय किया, और कुछ फिल्मों में केन्द्रीय भूमिका निभाई. युआन लोकप्रिय हास्य खंड "किड च्युंग" के निर्माता थे, जिस पर फिल्म आधारित थी, और इस फिल्म के जिस पात्र के बेटे की भूमिका उन्होंने निभाई थी वह वास्तविक जीवन में ब्रूस ली के पिता ली होई चुएन थे.

ऐसा लगता है कि यह नाम "ली लिटिल ड्रैगन " उनके बचपन के नाम "स्मॉल ड्रैगन " पर आधारित था, जैसा कि चीनी परंपरा में ड्रैगन और फीनिक्स क्रमशः नर और मादा लिंग का प्रतिनिधित्व करने के लिए जोड़े में आते हैं. ज्यादा संभावित विश्लेषण यह है कि उन्हें "लिटिल ड्रैगन " कहा जाने लगा क्योंकि, चीनी राशिचक्र के अनुसार उनका जन्म ड्रैगन के वर्ष में हुआ था. उनकी पत्नी लिंडा सहित कई लोगों ने "ड्रैगन" सम्बन्ध को थोड़ा-उत्साहपूर्वक बढ़ाते हुए यह कहा कि ली का जन्म "ड्रैगन के घंटे" के दौरान हुआ था (6–8 AM, जैसा कि लिंडा और कई अन्य की पुस्तकों में दावा किया गया है) हालांकि, पशु राशि-चक्र सामान्य रूप से दिन के घंटे पर लागू नहीं होता है, पर जब यह होता है, तो 6 से 8 AM वास्तव में "खरगोश के घंटे" (5-7 बजे) और "ड्रैगन के घंटे" (7 -9 AM) के बीच चलता है. इसके अलावा, लिटिल ड्रैगन नाम उनके पैदा होने के काफ़ी समय बाद आया (10 वर्ष).

अभिनय कैरियर[संपादित करें]

ली के पिता होई-चुएन एक प्रसिद्ध केनटोनी ओपेरा स्टार थे। इस प्रकार अपने पिता के माध्यम से ब्रूस बहुत ही कम उम्र में फ़िल्मों में क्रियाशील हो गए और एक बच्चे के रूप में कई छोटी श्वेत-और-श्याम फिल्मों में काम किया। ली की पहली भूमिका एक बच्चे के रूप में थी, जो मंच पर लाया जाता है। १८ वर्ष के होने तक वे बीस फ़िल्मों में काम कर चुके थे।[5]

संयुक्त राज्य अमेरिका में 1959-1964 के दौरान, मार्शल आर्ट को आगे बढ़ाने के पक्ष में ली ने फ़िल्म कैरियर का विचार त्याग दिया। विलियम डोज़ीअर ने ली को ऑडिशन के लिए बुलाया, जहां ली ने अपनी बिजली-सी तेज चाल से निर्माताओं को इतना प्रभावित कर दिया कि उन्हें टीवी श्रृंखला द ग्रीन हॉर्नेट में वान विलियम्स के साथ काटो की भूमिका प्राप्त हुई। यह शो १९६६ से ६७ तक सिर्फ एक सीज़न चला। ली ने बैटमैन की तीन विदेशी कड़ियों में भी काटो की भूमिका निभाई। इसके बाद वे आयरनसाईड (1967) हियर कम्स द ब्राईड (1969) सहित कई टेलीविजन श्रृंखलाओं में अतिथि भूमिका में दिखे।

१९६९ में अपनी पहली अमेरिकी फिल्म मॉर्लो में ली ने एक छोटी उपस्थिति दर्ज की, जिसमें उन्होंने एक नौकर की भूमिका अदा की जिसे निजी जासूस फिलिप मॉर्लो(जेम्स गार्नर द्वारा अभिनीत) को उसके दफ्तर को अपने उछलते पाद प्रहार और चमकते मुष्टि प्रहार से तोड़ कर उसे भयभीत करने के लिए भाड़े पर भेजा जाता है और उस प्रक्रिया में अनजाने ही वे मॉर्लो पर प्रहार करने के प्रयास में एक ऊंची बिल्डिंग से कूद जाते हैं.1971 में, ली टीवी श्रृंखला लॉन्गस्ट्रीट की चार कड़ियों में शीर्षक पात्र माइक लॉन्गस्ट्रीट (जेम्स फ्रांसिसकस द्वारा अभिनीत) के मार्शल आर्ट प्रशिक्षक के रूप में दिखाई दिए.

ब्रूस ली द्वारा और ब्रूस की मृत्यु के बाद लिंडा ली कैडवेल द्वारा दिए गए बयान के अनुसार, 1971 में ब्रूस ने अपनी खुद की एक टेलीविजन श्रृंखला की विक्रय वार्ता की थी, जिसका प्रायोगिक शीर्षक द वॉरिअर था, जिसकी पुष्टि Warner Bros. द्वारा भी की गई. कैडवेल के मुताबिक, हालांकि, ली की अवधारणा को परिमार्जित कर उसे कुंग फू का नाम दिया गया, लेकिन Warner Bros. ने ली को कोई श्रेय नहीं दिया.[21] इसके बजाय वाइल्ड वेस्ट में शाओलिन भिक्षु की भूमिका, स्टूडियो की इस आशंका की वजह से कि एक चीनी प्रमुख अभिनेता को जनता स्वीकार नहीं करेगी, गैर मार्शल कलाकार डेविड करैडिन को दी गई.[22]"कुंग फू" शो से संबंधित किताबें और वृत्तचित्र, कैडवेल के कथन का खंडन करती है.इन सूत्रों के अनुसार, यह कार्यक्रम दो लेखक और निर्माता, एड स्पीलमन और हावर्ड फ्रीडलेंडर, द्वारा बनाया गया था और जिस कारण से ली को यह भूमिका नहीं दी गई थी वह आंशिक रूप से उनकी जातीयता की वजह से, मगर ज्यादातर उनके मोटे उच्चारण के कारण थी.[23]

9 दिसंबर, 1971 में द पियरे बर्टन शो के एक टेलीविजन साक्षात्कार में ब्रूस ली ने स्वयं एक अमेरिकी टीवी सीरीज के लिए वार्नर ब्रदर्स और पैरामाउंट दोनों की इच्छा का हवाला दिया.पियरे बर्टन की इस टिप्पणी के बाद कि, "आपको राष्ट्र में एक टी.वी.श्रृंखला "द वॉरिअर" पाने का काफी अच्छा मौका है, इसमें, आप कहां क्या उपयोग करेंगे, एक वेस्टर्न सेटिंग में मार्शल आर्ट्स?" ली जवाब देते हैं,"वह मूल विचार था,... वे दोनों (वार्नर और पैरामाउंट), मैं सोचता हूं, वे मुझे आधुनिक रूप में रखना चाहते है, और वे सोचते हैं कि "वेस्टर्न" प्रकार की चीज़ बाहर हो चुकी है. जबकि मैं वेस्टर्न करना चाहता हूं, क्योंकि, आप देखिये, वेस्टर्न काल को छोड़ कर भला आप और कैसे सारी मुक्केबाजी, और पाद प्रहार और हिंसा को जायज़ ठहरा सकते हैं?"आगे साक्षात्कार में बर्टन, ली से पूछते हैं "आप एक चीनी हीरो के रूप में अमेरिकी श्रृंखला में जिन समस्याओं का सामना करते हैं.क्या इस उद्योग में लोग आए और कहे कि 'ठीक है, हम नहीं जानते कि एक गैर-अमेरिकी को दर्शक किस प्रकार ग्रहण करेंगे"?. ली ने जवाब दिया "वैसे, इस तरह के सवाल उठाए गए हैं, वास्तव में, इसकी चर्चा की जा रही है. यही कारण है कि "द वॉरिअर" शायद शुरू ना हो." ली आगे जोड़ते हैं, "वे सोचते हैं कि व्यापार की दृष्टि से यह एक जोखिम है. मैं उन्हें दोष नहीं देता. यदि यह स्थिति उलट जाती है, और एक अमेरिकी सितारे को हांगकांग आना हो, और मैं पैसे लगाने वाला आदमी रहूं तो मेरे अपने सरोकार रहेंगे कि स्वीकृति होगी या नहीं."[24]

US में अपनी सहायक भूमिकाओं से नाखुश, ली हांगकांग लौट गए.इस बात से अनजान कि द ग्रीन होर्नेट हांगकांग में सफल हो रही है और अनाधिकारिक तौर पर उसे "द काटो शो" संबोधित किया जा रहा था, बाज़ार में शो के "सितारे" के रूप में पहचाने जाने से वे आश्चर्यचकित थे.इसके बाद ली को महान निर्देशक रेमंड चाउ ने अपनी निर्माण कंपनी गोल्डन हार्वेस्ट द्वारा निर्मित दो फिल्मों में अभिनय का एक फिल्म अनुबंध पेश किया. ली ने अपनी पहली अग्रणी भूमिका "द बिग बॉस " (1971) में निभाई, जो एशिया भर में बॉक्स ऑफिस पर अत्यंत सफल साबित हुई और उन्हें एक सितारे के रूप में परिवर्तित कर दिया.इसके बाद फिस्ट ऑफ़ फ्यूरी (1972) आई, जिसने द बिग बॉस द्वारा पूर्व स्थापित सारे बॉक्स ऑफिस रिकॉर्ड तोड़ दिये.अपने शुरुआती दो साल के अनुबंध के ख़त्म होने पर, ली ने गोल्डन हार्वेस्ट के साथ एक नए समझौते का सौदा किया. अपनी तीसरी फिल्म, वे ऑफ़ द ड्रैगन (1972) के लिए उन्हें बतौर लेखक, निर्देशक, अभिनेता और लड़ाई के दृश्यों के कोरियोग्राफर के रूप में फिल्म-निर्माण पर पूर्ण नियंत्रण दिया गया.1964 में, लॉन्ग बीच, कैलिफोर्निया में एक प्रदर्शन के दौरान ली कराटे चैंपियन चक नॉरिस से मिले थे. वे ऑफ़ द ड्रैगन में ली ने फ़िल्मी दर्शकों को रोम के कलोज़ीयम पर अंतिम मृत्यु युद्ध के दृश्य में नॉरिस को अपने प्रतिद्वंद्वी के रूप में पेश किया, आज इसे ली की सबसे अद्भुत लड़ाई और मार्शल आर्ट फिल्मों के इतिहास में सबसे यादगार लड़ाई के दृश्य के तौर पर देखा जाता है.[25]

1972 के अंत में, ली ने अपनी चौथी गोल्डन हार्वेस्ट फिल्म, गेम ऑफ़ डेथ पर काम शुरू किया. उन्होंने एक पूर्व छात्र, 7'2" अमेरिकी बास्केटबॉल सितारे करीम अब्दुल-जब्बार के साथ अपने लड़ाई वाले दृश्यों सहित, कुछ अन्य दृश्यों का फिल्मांकन शुरू किया. निर्माण रोक दिया गया जब वार्नर ब्रदर्स ने ली को, गोल्डन हार्वेस्ट और वार्नर ब्रदर्स द्वारा सह निर्मित पहली फ़िल्म, एंटर द ड्रैगन में अभिनय का मौका दिया. इस फ़िल्म ने अमेरिका और यूरोप में ली को लोकप्रियता की बुलंदियों पर पहुंचा दिया.हालांकि, फिल्म के पूरे होने के कुछ ही महीनों बाद और 26 जुलाई, 1973 को फिल्म के प्रदर्शन के 6 दिन पहले,[26] अत्यंत स्वस्थ ली की संदेहास्पद मृत्यु हो गई.एंटर द ड्रैगन साल की सबसे ज्यादा लाभ अर्जित करने वाली फिल्मों में एक बन गई और ली को मार्शल आर्ट के लेजेंड के रूप में स्थापित किया.1973 में इसे US$850,000 में निर्मित किया गया था (यथा 2007 $4 मीलियन के समकक्ष मुद्रास्फीति के लिए समायोजित).[27] आज की तारीख़ तक एंटर द ड्रैगन ने विश्व भर में $200 मीलियन से अधिक पैसे कमाए हैं.[28] इस फ़िल्म ने मार्शल-कला में एक संक्षिप्त रुझान को जगाया, जो "कुंग फ़ू फ़ाइटिंग" जैसे गानों और कुंग फ़ू जैसे टी.वी. कार्यक्रम से परिलक्षित होता है.

एंटर द ड्रैगन के निर्देशक रॉबर्ट क्लाउस और रेमंड चाउ ने, ली की अधूरी फिल्म गेम ऑफ़ डेथ को पूरा करने का प्रयास किया, जिसे ली लिखने और निर्देशित करने वाले थे.एंटर द ड्रैगन पर काम करने के लिए फ़िल्मांकन रोकने से पहले ली ने आउट टेक सहित क़रीब 100 मिनट के फ़ुटेज का फिल्मांकन गेम ऑफ़ डेथ के लिए किया था.अब्दुल-जब्बार के अलावा जॉर्ज लेज़ेनबाई, हपकिडो मास्टर जी हान जे और ली के दूसरे छात्र डान इनोसान्टो भी फिल्म में अभिनय करने वाले थे, जो ली के चरित्र, हाय टीएन (जो अब मशहूर पीला ट्रैक सूट पहने हुए) को उभारने वाली थी, जो एक पांच स्तरीय पगोडा की प्रत्येक मंजिल पर अपना रास्ता तय करते हुए, सिलसिलेवार विभिन्न चुनौतियों का सामना करता है.एक विवादास्पद क़दम में, रॉबर्ट क्लाउस एक हमशक्ल और उनकी अन्य फ़िल्मों के संग्रहित दृश्यों का प्रयोग कर एक नई कहानी और कलाकारों के साथ फ़िल्म को पूरा करते हैं, जो 1979 में प्रर्दशित हुई.हालांकि, जोड़-तोड़ कर बनी इस फ़िल्म में ली के केवल पंद्रह मिनट के वास्तविक दृश्य थे, (उन्होंने कई असफल टेक को छापा था[29]) जबकि शेष में ली का हमशक्ल, ताई चुंग किम था और यूएन बियाओ स्टंट डबल के रूप में था. ली द्वारा फ़िल्माए अप्रयुक्त दृश्य, 22 साल बाद बरामद किए गए और वृत्तचित्र ब्रूस ली: अ वॉरिअर्स जर्नी में शामिल किया गया.

हांगकांग विरासत[संपादित करें]

हांगकांग के एवेन्यू ऑफ़ स्टार्स में ब्रूस ली की प्रतिमा

ली के इर्द-गिर्द कई कहानियां (शायद अप्रमाणित) मौजूद हैं, जो हांगकांग संस्कृति में आज भी दोहराई जाती हैं.एक यह है कि 70 के दशक की शुरूआत में TVB शो एन्जॉय योरसेल्फ़ टुनाईट ने हांगकांग की व्यस्त सड़कों को ख़ाली कर दिया, क्योंकि हर कोई साक्षात्कार देख रहा था.

6 जनवरी, 2009 को यह घोषणा की गई कि ब्रूस का हांगकांग स्थित घर, संरक्षित किया जाएगा और परोपकारी यू पेंग-लिन द्वारा एक पर्यटक स्थल में परिवर्तित किया जाएगा.[30]

मार्शल आर्ट का प्रशिक्षण और विकास[संपादित करें]

मार्शल आर्ट से ली का पहला परिचय अपने पिता, ली होई च्युन के माध्यम से हुआ था. उन्होंने वू शैली के ताई ची चुआन की बुनियादी बातें अपने पिता से सीखीं.[31] ली के शिक्षक, विंग चुन मास्टर यिप मैन, हांगकांग के वू शैली के ताई ची चुआन के शिक्षक वू ता-ची के एक सहयोगी और मित्र भी थे.

विंग चुन[संपादित करें]

ब्रूस ली के मार्शल विकास पर सबसे बड़ा प्रभाव उनके चीनी मार्शल आर्ट विंग चुन के अध्ययन से पड़ा.ब्रूस ली ने विंग चुन में प्रशिक्षण 13 वर्ष की उम्र में 1954 की गर्मियों के दौरान प्रसिद्ध विंग चुन ग्रैंडमास्टर यिप मान के अधीन शुरू किया.विंग चुन प्रशिक्षण के एक वर्ष बाद, यिप मान के कुछ अन्य छात्रों ने ली के साथ, उनके वंश के कारण (उनकी मां चतुर्थांश जर्मन वंश की थीं) प्रशिक्षण लेने से मना कर दिया, चूंकि चीनी, मार्शल आर्ट तकनीकों के शिक्षण के संबंध में गोपनीयता रखते थे, ख़ास कर विदेशियों से.[32] इसके बाद वे सिर्फ यिप मान के साथ निजी तौर पर स्कूल के बाहर अपने विंग चुन मित्रों विलियम च्युंग और वोंग शुन ल्युंग के साथ प्रशिक्षण लेने लगे.

जुन फान गुंग फू[संपादित करें]

1959 में संयुक्त राज्य अमेरिका में अपने आगमन के बाद ली ने मार्शल कला का अध्यापन शुरू किया. जो वह सिखाते थे, उसे जुन फैन गुंग फू नाम दिया. जुन फैन गुंग फू (वस्तुतः ब्रूस ली का कुंग फू). विंग चुन के प्रति यह मूलतः उनका अपना दृष्टिकोण था.[33] ली ने अपने मित्रों को प्रशिक्षण दिया जिनसे वे सिएटल में मिले थे, अपने पहले छात्र जूडो प्रशिक्षु जेस ग्लोवर से शुरुआत कर, जो बाद में उनका पहला सहायक शिक्षक बना.कैलिफोर्निया जाने से पहले ली ने अपना पहला मार्शल आर्ट स्कूल ली जुन फैन गुंग फू इंस्टीट्यूट के नाम से सिएटल में खोला.

विंग चुन की स्पष्टता और उत्तरी शाओलिन कुंग फू की शक्ति को शामिल कर, ली ने किक मारने का अपना तरीक़ा विकसित किया. पांव को बिना पूरा मोड़े, ली के किक् लक्ष्य पर बड़ी तेज़ी से पड़ते थे.

जीत कुन डो[संपादित करें]

द जीत कुन डो प्रतीकताइजितु प्रतीक के इर्द-गिर्द चीनी अक्षर द्योतक हैं: "बिना पद्धति की पद्धति का इस्तेमाल" और "बिना पाबंदी की पाबंदी का होना" तीर यिन और यांग के बीच की अंतहीन अंतःक्रिया का प्रतिनिधित्व करते हैं.[64]

जीत कुन डो 1965 में प्रारंभ हुआ.वोंग जैक मैन के साथ एक मैच ने ली के लड़ाई के दर्शन को प्रभावित किया. ली का मानना था कि लड़ाई बहुत लंबी चली और वे विंग चुन तकनीकों का प्रयोग कर अपनी क्षमता पर खरे उतरने में विफल रहे.उन्होंने यह माना कि पारंपरिक मार्शल आर्ट तकनीक कुछ ज्यादा कठोर और औपचारिक थी और अराजक बाज़ारू लड़ाई के परिदृश्यों में व्यावहारिक नहीं थी."व्यावहारिकता , लचीलापन , गति , और कार्यकुशलता " पर ज़ोर देते हुए ली ने एक प्रणाली विकसित करने का निर्णय लिया.उन्होंने प्रशिक्षण के विभिन्न तरीक़ों का उपयोग शुरू कर दिया, जैसे शक्ति के लिए भार प्रशिक्षण, सहनशीलता के लिए दौड़, लचीलेपन के लिए खींच, और कई अन्य जिसे उन्होंने लगातार अनुकूलित किया.

ली ने उस पर बल दिया जिसे वे "बिना शैली की शैली " कहते थे. इसमें औपचारिक दृष्टिकोण से छुटकारा पाना शामिल था, जो ली के दावे के अनुसार परंपरागत शैली का द्योतक था.चूंकि ली ने अनुभव किया कि प्रणाली, जिसे वे अब जुन फैन गुंग फू कहते हैं, वह बहुत प्रतिबंधात्मक थी, इसे एक दर्शन के रूप में विकसित किया और मार्शल आर्ट को उन्होंने (डैन इनोसान्टो द्वारा नाम सुझाए जाने के बाद) जीत कुन डो या वे ऑफ़ द इंटरसेप्टिंग फिस्ट कहा.यह ऐसा पद था जिस पर उन्हें बाद में अफ़सोस हुआ, क्योंकि जीत कुन डो कुछ विशिष्ट मानदंडों को ध्वनित करता है जिसका संकेत शैलियां देती हैं, जबकि उनके मार्शल आर्ट का विचार मापदंडों और सीमाओं के बाहर रहने से था.[34]

ली ने सीधे केवल 4 प्रशिक्षकों को प्रमाणित किया. टाकी किमुरा, जेम्स यिम ली (ब्रूस ली से कोई रिश्ता नहीं), टेड वोंग और डैन इनोसान्टो ही व्यक्तिगत रूप से ली द्वारा प्रमाणित प्रशिक्षक हैं. इनोसान्टो को जीत कुन डो, जुन फैन गुंग फू और ब्रूस ली के चीनी गुंग फू के ताओ में सीधे ली से तीसरा स्थान (प्रशिक्षक) मिला.टाकी किमुरा को जुन फैन गुंग फू में पांचवां स्थान प्राप्त हुआ. जेम्स यिम ली (अब मृतक) को जुन फैन गुंग फू में तीसरा स्थान मिला.टेड वोंग को दूसरे स्थान के लिए सीधे ब्रूस ली द्वारा प्रमाणित किया गया.जेम्स यिम ली और टाकी किमुरा को जुन फैन गुंग फू में स्थान प्राप्त है ना कि जीत कुन डो में; टाकी को जीत कुन डो पद के मौजूद रहते जुन फैन गुंग फू में पांचवां स्थान प्राप्त हुआ. इसके अलावा, ब्रुस ली ने डैन इनोसान्टो को एक ही दिन में सभी तीन डिप्लोमा दे दिए.ज्यादातर अन्य जीत कुन डो प्रशिक्षक, ली की मौत के बाद से सीधे डैन इनोसानटो द्वारा प्रमाणित होते रहे हैं, कुछ ब्रूस ली द्वारा हस्ताक्षरित शेष प्रमाण पत्रों द्वारा.

जेम्स यिम ली, ली के एक क़रीबी दोस्त, अतिरिक्त छात्रों को प्रमाणित किये बिना मर गए.इसके एकमात्र अपवाद रहे गैरी डिल जिन्होंने जीत कुन डो का अध्ययन जेम्स के अधीन किया और JKD की शिक्षाएं दूसरों को प्रदान करने के लिए 1972 में उनसे एक व्यक्तिगत पत्र के माध्यम से अनुमति प्राप्त की. टाकी किमुरा ने, आज की तारीख तक, जुन फैन गुंग फू में केवल एक ही व्यक्ति को प्रमाणित किया है: अपने बेटे और वारिस एंडी किमुरा को. मार्शल आर्ट के हजारों अभ्यासकर्ताओं के लिए अपने प्रशिक्षण वंश का सम्बन्ध ब्रूस ली से संभव बनाते हुए, डैन इनोसांटो ने करीब 30 वर्ष तक जीत कुन डो में छात्रों को प्रशिक्षण देना और प्रमाणित करना जारी रखा. अपनी मौत से पहले ली ने उस वक़्त जीवित अपने दो प्रशिक्षकों इनोसान्टो और किमुरा (जेम्स यिम ली की मौत 1972 में हो चुकी थी) से अपने स्कूलों को गिराने के लिए कहा.दोनों, टाकी किमुरा और डैन इनोसान्टो को इस दिशानिर्देश के अधीन कि "संख्या को कम रखें मगर गुणवत्ता उच्च" छोटी कक्षाएं अध्यापन की अनुमति दी गई.ब्रूस ने चक नोरिस, जो लेविस, और माइक स्टोन सहित कई विश्व कराटे चैंपियंस को प्रशिक्षण दिया. सभी तीनों ने, ब्रूस के साथ अपने प्रशिक्षण के दौरान संयुक्त राज्य अमेरिका में हर कराटे चैम्पियनशिप जीता.[35]

जीत कुन डो पर विवाद[संपादित करें]

"जुन फन जीत कुन दो" नाम कानूनी रूप से पंजीकृत करा लिया गया और ब्रूस ली का नाम, समानता, जीत कुन डो लोगो, और व्यक्तिगत मार्शल आर्ट सम्बन्धी विरासत (व्यक्तिगत फोटो और अनगिनत व्यक्तिगत प्रभाव और स्मृतियों सहित) को सिर्फ ली एस्टेट को अधिकृत व्यापारिक कार्यों के लिए दिया गया.यह नाम दो शब्दों के योग से बना है 'जुन फन'(ली को चीनीयों द्वारा दिया गया नाम) और 'जीत कुन डो' (मुक्के को रोकने का तरीका).

1964 लॉन्ग बीच इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में अतिथि[संपादित करें]

एड पार्कर के निमंत्रण पर, ली 1964 लॉन्ग बीच इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप[36] में प्रस्तुत हुए और लगभग कंधे की चौड़ाई में पांव दूर रख कर दो अंगुली के दंड की पुनरावृत्तियों का प्रदर्शन किया (अंगूठे और तर्जनी का उपयोग करते हुए). उसी लॉन्ग बीच घटना में उन्होंने "एक इंच घूंसा "[37] का प्रदर्शन किया जिसका वर्णन निम्न प्रकार है: एक खड़े, स्थिर साथी के सामने ली सीधे खड़े हुए, घुटनों के झुकाव के साथ उनका दायां पांव आगे था.ली का दांया हाथ आंशिक रूप से आगे था और उनकी दांयी मुट्ठी साथी के सीने से लगभग एक इंच दूर थी. अपने दांये हाथ को बिना पीछे किये, अपनी मुद्रा बनाए रखते हुए ली ने तब ज़ोर से मुक्का साथी को मारा जिससे साथी किसी चोट को रोकने के लिए पीछे रखी कुर्सी पर जा गिरा, हालांकि उनके साथी के जड़त्व ने जल्दी ही उसे ज़मीन पर गिरा दिया.

उनका स्वयंसेवक, कैलिफोर्निया के स्टॉकटन का बॉब बेकर था. "मैंने ब्रूस को इस प्रकार का प्रदर्शन दुबारा ना करने के लिए कहा", वह याद करते हुए कहते हैं. "जब उन्होंने पिछली बार मुझे मुक्का मारा था, मेरी छाती में दर्द इतना असहनीय था कि मुझे काम छोड़कर घर पर रहना पड़ा." [38]

1967 लॉन्ग बीच इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप में अतिथि[संपादित करें]

ली 1967 लॉन्ग बीच इंटरनेशनल कराटे चैंपियनशिप[36] में भी प्रस्तुत हुए और USKA विश्व कराटे चैंपियन विक मूर के खिलाफ प्रसिद्ध "ना रोके जाने वाले" मुक्के सहित विभिन्न प्रदर्शनों का प्रदर्शन किया. ली ने मूर से कहा कि वह एक सीधा पंच उसके चेहरे पर मारेंगे और उसे बस उस मुक्के को रोकने का प्रयास करना है. ली कई कदम पीछे गए और मूर से पूछा क्या वह तैयार है, जब मूर ने समर्थन में सिर हिलाया तो ली उसकी तरफ तेजी से सरके, जब तक वह प्रहार की सीमा में नहीं आ गया.इसके बाद उन्होंने मूर के चेहरे पर एक सीधा मुक्का तत्क्षण मारा, और प्रभाव से पहले बंद कर दिया. आठ प्रयास में, मूर किसी भी मुक्के को रोकने में विफल रहे.[39]

लड़ाइयां[संपादित करें]

1959 में ली ने बारह हांगकांग स्कूलों के बीच, कार से पहुंच कर, हांगकांग अंतर स्कूल मुक्केबाजी चैंपियनशिप में बॉक्सिंग किया, ऐसा टूर्नामेंट जिसमें उन्होंने तीन 1 मिनट के चरण की अवधि में गैरी एल्म्स को हराया.[40]

फलस्वरूप ली की लोकप्रियता और मार्शल आर्ट कौशल, अक्सर उन्हें कई बाज़ारू ठगों, स्टंट पुरुषों और मार्शल आर्ट के एक्सट्रा लोगों से, जो खुद के लिए नाम कमाना चाहते थे, टकराव की स्थिति में डाल देते थे .बॉब वॉल, USPK कराटे चैंपियन और एंटर द ड्रैगन में एक सह-कलाकार, एक मुठभेड़ को याद करते हैं जो एक फिल्म एक्सट्रा के ली को लगातार ताना मारने से भड़क उठी थी.वह एक्सट्रा चिल्लाया कि ली "एक फ़िल्म सितारा है, एक मार्शल कलाकार नहीं," कि वह "उतना लड़ाकू नहीं था ." ली ने उसके तानों का जवाब देते हुए उसे जिस दीवार पर वह बैठा था, उससे नीचे कूद जाने के लिए कहा.वॉल ने ली के विरोधी को "हांगकांग के एक गिरोहबाज़ आदमी की तरह," एक "अत्यंत अच्छे मार्शल कलाकार," के रूप में परिभाषित किया और कहा कि वह तेज़, मजबूत, और ब्रूस से बड़ा था.[41]

"This kid was good. He was strong and fast, and he was really trying to punch Bruce's brains in. But Bruce just methodically took him apart."[42]

"Bruce kept moving so well, this kid couldn't touch him...Then all of a sudden, Bruce got him and rammed his ass with the wall and swept him up, proceeding to drop him and plant his knee into his opponent's chest, locked his arm out straight, and nailed him in the face repeatedly."[43] -- Bob Wall

डैन इनोसांटो ने कहा, "मेरे मन में कोई संदेह नहीं है कि अगर ब्रूस ली प्रो मुक्केबाजी में गए होते तो वह आसानी से कम भार वाली श्रेणी या कनिष्ठ-वेल्टर भार वाली श्रेणी में शीर्ष तीन में अपना स्थान बना सकते थे.[44]

शारीरिक फ़िटनेस और पोषण[संपादित करें]

शारीरिक फ़िटनेस[संपादित करें]

ली को लगता था कि उनके समय के कई मार्शल कलाकार शारीरिक अनुकूलता पर पर्याप्त समय खर्च नहीं करते हैं.ब्रूस ने संपूर्ण फ़िटनेस के लिए सारे तत्व शामिल किए - पेशीय शक्ति, पेशीय सहनशीलता, हृदयवाहिनी सहनशीलता, और लचीलापन.उन्होंने भारी मांसपेशियों या राशि बनाने के लिए पारंपरिक शरीर सौष्ठव तकनीकों को आज़माया.हालांकि, ली यह समझाने में सावधान थे कि मानसिक और आध्यात्मिक तैयारी मार्शल कला-कौशल में शारीरिक प्रशिक्षण की सफलता के लिए मौलिक थी.अपनी पुस्तक, द ताओ ऑफ़ जीत कुन डो में उन्होंने लिखा.

Training is one of the most neglected phases of athletics. Too much time is given to the development of skill and too little to the development of the individual for participation." "JKD, ultimately is not a matter of petty techniques but of highly developed spirituality and physique.[45]

केवल 24 वर्ष की उम्र में 1965 में हांगकांग में ठहरने के दौरान ली ने जिस भार प्रशिक्षण कार्यक्रम का प्रयोग किया, उसने उनकी बाहों पर भारी जोर दिया.व्यायाम के अन्य रूपों जैसे - स्क्वाट, पुश अप, रिवर्स कर्ल, कॉंसंट्रेशन कर्ल, फ्रेंच प्रेस और दोनों, रिस्ट कर्ल और रिवर्स रिस्ट कर्ल के साथ उस समय वह 70 से 80 lbs (लगभग 32 से 36 कि.ग्रा.) के वज़न पर आठ पुनरावृत्तियों के तीन सेट बाईसेप कर्ल कर सकते थे.[46] जो पुनरावृत्तियां वे करते थे वह 6 से 12 होती थी (उस वक़्त). यद्यपि प्रशिक्षण की यह पद्धति उनके तेज और धीमी झटकने वाली मांसपेशियों पर लक्षित थी, ब्रूस को 160 lbs (लगभग 72 किलोग्राम) से थोड़ा ऊपर रखते हुए यह बाद में वजन लाभ या मांसपेशी राशि में फलित हुई. ली ने अपने निजी पुस्तकालय में क़रीब 2500 से अधिक किताबें होने के बारे में प्रलेखित किया है, और फलतः समापन करते हैं कि "एक मजबूत पेशी, एक बड़ी पेशी है", एक निष्कर्ष जिसका वे बाद में खंडन करते हैं.ब्रूस ने अपनी शारीरिक क्षमता को अधिकतम करने और मानव शरीर को इसकी सीमाओं तक पहुंचाने के लिए सदा अपने प्रशिक्षण नित्यकर्म के साथ प्रयोग किया. रस्सी कूदने सहित, जो प्रभावी रूप से उनके प्रशिक्षण और शरीर सौष्ठव उद्देश्यों को पूरा करती थी, उन्होंने कई अलग-अलग नित्यकर्म और प्रशिक्षण को अपनाया.[47]

ली का मानना था कि किसी भी मार्शल कलाकार के लिये पेट की मांसपेशीयां सबसे महत्वपूर्ण मांसपेशी समूह है, क्योंकि असल में प्रत्येक हरकत में कुछ हद तक उदर कार्य की जरूरत पड़ती है. शायद विशेष रूप से, "पेट" एक कवच की तरह पसली की हड्डी और महत्वपूर्ण अंगो का रक्षण करता है.

वे 7 बजे से 9 बजे तक पेट, लचीलेपन और दौड़ सहित अभ्यास करते थे, और 11 बजे से 12 बजे तक वे भार प्रशिक्षण और साईकिल चलाते थे. ली के लिए एक विशिष्ट व्यायाम 15 से 45 मिनिट में दो से छः मील तक दौड़ना है, जिसमें वे 3-5 मिनिट के अंतराल पर रफ्तार बदलते थे. ली एक स्थिर बाइक पर 45 मिनिट में 10 माइल( 16 किलोमीटर) के समकक्ष तक चलाते थे.[48] ली कभी-कभी रस्सी कूदने की कसरत करते थे और साईकिल चलाने के बाद 800 तक कूद जाते थे.

ली अपनी मुठ्ठी की त्वचा को मज़बूत करने के लिए भी व्यायाम करते थे, जिसमें खुरदुरे पत्थरों और बजरी से भरी बाल्टी में हाथो को ढकेलना भी शामिल था. वह इसकी 500 पुनरावृत्तियां किसी निश्चित दिन में करते थे.[49]

पोषण[संपादित करें]

लिंडा ली के अनुसार, युनाइटेड स्टेट्स आने के तुरंत बाद, ली ने पोषण को गंभीरता से लेना शुरू किया और स्वास्थ वर्धक आहार, उच्च प्रोटीन पेय और विटामिन और मिनरल के पूरक में अपनी रुचि विकसित की.

उन्होने बाद में निष्कर्ष निकाला कि उच्च-क्षमता शरीर प्राप्त करने के लिए, कोई जंक फूड जैसे आहार से उसे पोषित नहीं कर सकता और "गलत ईंधन" से शरीर सुस्त या ढीली प्रक्रिया करेगा.

ली ने सेंकी हुई चीजों से भी परहेज किया, यह कहते हुए कि इससे कैलोरी प्राप्त हुई जिसने उनके शरीर के लिए कुछ नहीं किया.

ली के आहार में प्रोटीन पेय शामिल था; उन्होंने प्रतिदिन एक या दो लेने का हमेशा प्रयत्न किया, पर अपने जीवन के उत्तरार्ध में उन्होंने इसे पीना छोड़ दिया.

लिंडा याद करती हैं कि ब्रूस की कमर 26 और 28 इंच (66 से 71 सेंटीमीटर) के बीच डोलती थी. "उन्होंने अपना खुद का रस मिश्रण पिया जो सब्जियों और फलों, सेब, अजवाइन, गाजर इत्यादि से विद्युत ब्लेंडर में तैयार किया हुआ था" उन्होंने कहा.[50] वे प्रत्येक दिन हरी सब्जियां, फल, और ताज़ा दूध लेते थे.ब्रूस हमेशा चीनी या अन्य एशियाई खाने को तरज़ीह देते थे, क्योंकि इसमें सुलभ विभिन्नता उन्हें पसंद थी.वे आहार अनुपूरक के एक भारी समर्थक भी बन गए, जिसमें शामिल है:

शारीरिक गठन[संपादित करें]

फ़िटनेस के प्रति ली के समर्पण ने उन्हें ऐसा शरीर दिया जो शरीर-सौष्ठव समुदाय के कई अग्रणी नामों द्वारा प्रशंसित होता था.मिस्टर ओलंपिया के संस्थापक जो वेईडर ने ली के शरीर को परिभाषित करते हुए कहा "सबसे बेहतरीन परिभाषित शरीर जो मैंने आज तक देखा!" शीर्ष के कई शरीर-सौष्ठव प्रतिस्पर्धियों ने ली को अपने कैरिअर पर एक बड़े प्रभाव के रूप में स्वीकार किया है, जिनमें शामिल हैं फ्लेक्स व्हीलर, शॉन रे, रेचेल मेकलिश, लोउ फेरिग्नो, लेंडा मरे, डोरियन येट्स, और आठ बार के मिस्टर ओलंपिया ली हेनी.[51]अर्नोल्ड श्वार्ज़नेगर और जीन क्लॉड वैन डैम भी ली से प्रभावित थे, और श्वार्ज़नेगर ने उनके शरीर के बारे में कहा:

"Bruce Lee had a very—I mean a very defined physique. He had very little body fat. I mean, he probably had one of the lowest body fat counts of any athlete. And I think that's why he looked so unbelievable."[52]

ली को जानने वाले एक डॉक्टर ने एक बार बताया कि वे "गिलहरी के सामान पेशियों वाले और एक घोड़े की तरह उत्साही" थे और इतने फ़िट, जितना उसने आज तक किसी को देखा नहीं.[53] ली ने अपने जीवन-काल में शरीर-सौष्ठव, भार प्रशिक्षण, फिज़ियोलॉजी और किनीसियोलोजी पर क़रीब 140 पुस्तकें एकत्र की थी.विशिष्ट मांसपेशी समूहों के बेहतर प्रशिक्षण के लिए, उन्होंने अपने ख़ुद के प्रशिक्षण उपकरणों के कई मूल डिज़ाइन बनाए और अपने विनिर्देशनों के अनुसार दोस्त जॉर्ज ली से उन्हें निर्मित कराया.[54]

शारीरिक करतब[संपादित करें]

ली की अभूतपूर्व फ़िटनेस का अर्थ था कि वह कई असाधारण शारीरिक करतब करने में सक्षम थे.[55][56][57][58] यद्यपि मिथक को तथ्य से अलग करना कठिन है, निम्न सूची में ब्रूस ली से जुड़े कुछ शारीरिक करतब शामिल हैं.

  • हाथ नीचे किए तीन फीट से ली की मारक गति सेकेण्ड के पांच सौंवें भाग में पहुंचती थी.[59]
  • ली की भिड़ंत चालें कभी-कभी इतनी तेज़ होती थीं कि उन्हें उस वक़्त के परंपरागत 24 फ्रेम प्रति सेकेण्ड का उपयोग कर के स्पष्ट धीमी गति के लिए फ़िल्म पर चित्रांकित करना काफी मुश्किल था, इसलिए कई दृश्यों को बेहतर स्पष्टता के लिए 32 फ्रेम प्रति सेकंड में फ़िल्माया गया.[60][61][62]
  • गति के एक प्रदर्शन में ली एक व्यक्ति की खुली हथेली से उसके बंद करने से पहले एक डाईम छीन सकते थे और एक सिक्के को पीछे छोड़ सकते थे.[63]
  • ली 30 मिनट या उससे ज़्यादा समय तक एक उच्च V-सिट स्थिति में रह सकते थे.[57]
  • ली चावल के दाने ऊपर हवा में फेंक कर फिर उन्हें बीच उड़ान में ही चॉपस्टिक से पकड़ सकते थे.[51]
  • ली कोका-कोला के बंद डिब्बे में अपनी उंगलियां घुसेड़ सकते थे.(यह उस समय की बात है, जब शीतल पेय के डिब्बे आज के एल्युमिनियम डिब्बे से अधिक मोटे स्टील से बनते थे).[62]
  • केवल अंगूठे और तर्जनी का उपयोग करते हुए ली ने एक हाथ के दंड का प्रदर्शन किया.[51][58][64]
  • ली ने एक हाथ के चिन-अप की 50 पुनरावृत्तियों का प्रदर्शन किया.[65]
  • ली 6 इंच (15 सेमी) मोटी लकड़ी के तख्ते को तोड़ सकते थे.[66]
  • ली अपने प्रहार से एक 200-lb (90.72 कि.ग्रा.) बैग को उड़ा सकते थे और साईड किक् से छत को ठोंक सकते थे.[58]
  • जेम्स कॉबर्न के साथ प्रशिक्षण के दौरान ली ने एक साईड किक् का प्रदर्शन किया और 150 lb (68 कि.ग्रा.) पंचिंग बैग को तोड़ दिया.[57][67]
  • एक चाल में जिसे "ड्रैगन फ्लैग" की संज्ञा दी गई, ली ने एक बेंच के किनारे का सहारा लेकर सिर्फ अपने कंधे की अस्थि से अपने पांव उठाये और अपने धड़ और पांवों को हवा के मध्य समानान्तर फैलाया.[68]

दर्शन[संपादित करें]

ली ने वॉशिंगटन युनिवर्सिटी से दर्शन की पढ़ाई की थी। उनके पास एक विस्तृत पुस्तकालय था। मार्शल आर्ट और लड़ाई के दर्शन पर उनकी अपनी किताबें मार्शल आर्ट के अंदरूनी और बाहरी, दोनों हलकों में अपने दार्शनिक दावों के लिए जानी जाती हैं।

उनका विभिन्नदर्शनग्राही दर्शन अक्सर उनकी लड़ाई की धारणा को प्रतिबिंबित करता था, हालांकि उन्होंने जल्दी ही ये दावा किया कि उनका मार्शल आर्ट ऐसे शिक्षण के लिए केवल उपमा है.उनका विश्वास था कि कोई भी ज्ञान अंततः आत्म-ज्ञान की ओर ले जाता है और कहा कि उनकी आत्म-अभिव्यक्ति के लिए चुनी गई विधि मार्शल आर्ट है.[69] उनको प्रभावित करने वालों में ताओवाद, जिड्डु कृष्णमूर्ति, और बौद्ध धर्म शामिल हैं.[70] जॉन लिटिल का कहना है कि ली नास्तिक थे.1972 में जब उनसे पूछा गया कि उनकी धार्मिक संबद्धता क्या है, उनका जवाब था "कुछ भी नहीं." [71] 1972 में ही जब उनसे पूछा गया कि क्या वे भगवान में विश्वास करते हैं उन्होंने कहा, "बिल्कुल ईमानदारी से कहूं, तो सचमुच नहीं करता." [71]

निम्न उद्धरण उनकी लड़ाई के दर्शन को प्रतिबिंबित करते हैं -

  • "पानी की तरह आकार और स्वरूप विहीन रहो.यदि आप एक कप में जल डालें, तो वह कप बन जाता है। यदि आप जल को एक बोतल में डालें; तो वह बोतल बन जाता है.आप उसे एक केतली में डालें; वह केतली हो जाता है. जल प्रवाहित हो सकता है या कुचल सकता है.पानी बनो मेरे दोस्त..."
  • "ज्ञान के सभी प्रकार, अंततः आत्म-ज्ञान बन जाते हैं"
  • "उसी का प्रयोग करो जो काम का है, और वह जहां से भी तुम्हे प्राप्त हो ले लो।" [72]
  • "शास्त्रीय दृष्टिकोण से इंकार ना करें, सिर्फ एक प्रतिक्रिया के रूप में, अन्यथा आप एक और पद्धति बना लेंगे और खुद को वहां फंसा लेंगे।" [73]
  • "तुनकमिजाज जल्द ही आपको एक बेवकूफ बना देगा।"
  • "हमेशा अपने आप में रहो, खुद को अभिव्यक्त करो, खुद पर भरोसा रखो, बाहर जाकर किसी सफल व्यक्तित्व को मत खोजो और उसकी नक़ल ना करो।"

पुरस्कार और सम्मान[संपादित करें]

  • उनकी पुश्तैनी जड़ें स्युन्दाक के ग़्वानोन, चीन का गुआंग्डोंग प्रांत (广东顺德均安, गुआंग्डोंग शुन्दे Jun'An) का होने से गांव की एक गली का नामकरण, जहां उनका पुश्तैनी घर स्थित है, उनके नाम पर किया गया है. यह घर जनता के लिए खुला है.
  • बीसवीं सदी के सबसे प्रभावशाली मार्शल कलाकारों के बीच और शारीरिक फ़िटनेस के माध्यम से व्यक्तिगत विकास के उदाहरण के रूप में, ली को टाइम पत्रिका ' के सदी के सबसे महत्वपूर्ण 100 व्यक्तियों में, महानतम नायकों और प्रतीकों में से एक के तौर पर नामित किया गया था.

[1]

  • NTV पर प्रसारित एक जापानी राष्ट्रीय सर्वेक्षण के अनुसार, 31 मार्च 2007 को इतिहास के 100 सर्वाधिक प्रभावशाली लोगों में से एक के रूप में ली को नामित किया गया था.[74]
  • 2001 में, LMF , हांगकांग में एक केनटोनी हिप-हॉप समूह ने ली को श्रद्धांजलि के रूप में एक लोकप्रिय गीत "1127" जारी किया.
  • 2004 में, UFC अध्यक्ष दाना व्हाइट ने ली को "मिश्रित मार्शल आर्ट के पिता" के रूप में श्रेय दिया.[75]
  • बोस्निया और हर्ज़ेगोविना के मोस्टार शहर ने 26 नवंबर 2005 को स्पेनिश स्क्वायर पर एक मूर्ति लगा कर एकता के प्रतीक के रूप में ली को सम्मान दिया.युद्ध और धार्मिक विभाजन के कई वर्षों के बाद, ली की आकृति को उसका कार्य सौंपना था: विश्व में सांस्कृतिक दरारों को सफलतापूर्वक कम करना.हांगकांग में प्रतिमा के अनावरण से एक दिन पहले, नीचे).[76]
  • उनके पैसठवें जन्मदिन को अंकित करने के लिए ली को 2005 में हांगकांग में एक कांस्य प्रतिमा के साथ याद किया गया. इस कांस्य प्रतिमा ने, जिसका अनावरण 27 नवंबर 2005 को किया गया, ली को चीनी फिल्म के सदी के उज्ज्वल सितारे के रूप में सम्मानित किया.[77]
  • स्मारक मूर्ति और हॉल के साथ एक ब्रूस ली थीम पार्क शुंडे, चीन में निर्मित किया जाना तय किया गया है. 2009 में इसके पूरे होने की उम्मीद है.[78]

2007 के अनुसार उन्हें अभी भी बहुत से मार्शल आर्ट प्रशंसकों द्वारा हमेशा के सबसे बड़े मार्शल कलाकार के रूप में माना जाता है.[79]

  • 10 अप्रैल 2007 को चीन के राष्ट्रीय प्रसारक ने यह घोषणा की कि उसने ली पर एक 50-भागों की श्रृंखला का फिल्मांकन शुरू कर दिया है.सिन्हुआ समाचार एजेंसी ने कहा कि चीनी सेंट्रल टेलीविजन ने दक्षिणी चीन के गुआंग्डोंग प्रांत के शुंडे में सप्ताहांत में "द लेजेंड ऑफ़ ब्रूस ली " का फिल्मांकन शुरू कर दिया है. शुंडे, ली का पैतृक निवास है, जो सैन फ्रांसिस्को में पैदा हुआ था .उन्होंने बताया कि 50 मीलियन युआन (US$6.4 मीलियन; €4.8 मीलियन) निर्माण भी हांगकांग और संयुक्त राज्य अमेरिका में फिल्माया जाएगा, जहां ली ने अध्ययन किया और अपने अभिनय कैरियर की शुरूआत की. ली की भूमिका कर रहे डैनी चान क्वोक क्वान ने कहा कि वह महान व्यक्तित्व की भूमिका में मिश्रित भावनाएं महसूस कर रहे हैं, सिन्हुआ ने खबर दी. "मैं नर्वस हूं और उत्साहित भी, लेकिन मैं अपनी बेहतरीन कोशिश करूंगा," चान को यह कहते हुए उद्धृत किया गया. चान ने, जो एक्शन कॉमेडी "कुंग फू हसल" में अपने प्रदर्शन के लिए ज़्यादा जाने जाते हैं, कहा कि अपने बाल्यकाल से ही वे ली को अपना आदर्श मानते हैं और यह कि कई सालों तक उन्होंने कुंग फू का अभ्यास किया है. बीजिंग द्वारा 2008 ग्रीष्मकालीन ओलंपिक खेलों की मेजबानी किए जाने वाले वर्ष 2008 में प्रसारित होने वाली इस टी.वी. श्रृंखला, उक्त कार्यक्रम के बाद चीनी संस्कृति पर प्रकाश डालने के उद्देश्य से प्रेरित लगती है.[80]
  • 2008 में, ली को समर्पित एक हांगकांग संग्रहालय की योजना पर चर्चा भी चल रही है.ली का हांगकांग में दो-मंज़िला घर सिचुआन के भूकंप पीड़ितों के लाभार्थ जुलाई में क़रीब $13 मीलियन में बेचा जाना था, पर उसके लोकोपकारक मालिक ने, ली के प्रशंसकों की प्रार्थना का जवाब देते हुए इस संपत्ति को शहर को दान करने का निर्णय लिया, अतः आशा है कि इसे एक दिन संग्रहालय में तब्दील किया जा सकेगा.[81]

मार्शल आर्ट की वंश परंपरा[संपादित करें]

विंग चुन में वंश परंपरा/जीत कुन डो
विंग चुन में सिफु यिप मान(葉問)
अन्य प्रशिक्षक सिहिंग वोंग शुन-ल्युंग(黄惇梁) विलियम च्युंग
उल्लेखनीय मुक्केबाज़ी पार्टनर टो डाई हॉकिंस च्युंग नोट: उस वक्त वह ली का दोस्त था.
 
ब्रूस ली (李小龍)
जीत कुन डो के निर्माता
 
व्यक्तिगत तौर पर जीत कुन डो सिखाने के लिए ली द्वारा प्रमाणित प्रशिक्षक डैन इनोसांटो
टाकी किमुरा
जेम्स यिम ली (1972 में मृत्यु)
जून फैन कुंग फू/जीत कुन डो
में ज्ञात छात्र
ब्रैनडन ब्रूस ली
जेस ग्लोवर
स्टीव गोल्डन
लैरी हार्टसेल
डैन इनोसांटो
योरी नाकामुरा
टाकी किमुरा
रिचर्ड बस्तीलो
जैरी पोटीट
टेड वोंग
जेम्स यिम ली
रस्टी स्टीवेंस
कई अन्य ...
प्रसिद्ध छात्र
जुन फैन/जीत कुन डो प्रशिक्षित
चक नोरिस[82]
करीम अब्दुल जब्बार
जेम्स काबर्न
जो लेविस
रोमन पोलंस्की
ली मारविन
स्टरलिंग सिलीफेंट
स्टीव मैक्वीन
माइक स्टोन कई अन्य ...

मृत्यु[संपादित करें]

ब्रूस ली को उनके बेटे ब्रैंडन के बग़ल में लेक व्यू कब्रिस्तान, सिएटल, अमरीका में दफनाया गया

इस घटना का पूर्वाभास 10 मई, 1973 को हुआ, जब ली, गोल्डन हार्वेस्ट नामक स्टूडियो में, एंटर द ड्रैगन नामक फिल्म की डबिंग के वक्त अचानक बेहोश हो गए. उस समय उनका पूरा शरीर दौरे और प्रमस्तिष्कीय शोथ से पीड़ित था. उन्हें तत्काल हांगकांग बाप्टिस्ट अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उनकी सूजन को मेनिटोल नामक दवा देकर कम करने और उन्हें होश में लाने में सफलता प्राप्त की. मृत्यु के दिन उन सभी लक्षणों की पुनरावृति हुई जो उनकी पहली बेहोशी में हुई थी.[83]

20 जुलाई, 1973 को ली हांगकांग में थे. वहां, रात्रि भोज के समय उनकी मुलाकात जेम्स बॉन्ड फिल्म के अभिनेता जॉर्ज लेज़ेनबाई से होने वाली थी, जिनके साथ ली एक फ़िल्म बनाना चाहते थे. ली की पत्नी, लिंडा के मुताबिक, ली दोपहर के 2 बजे रेमंड चो से उनके घर पर मिले और उनसे गेम ऑफ़ डेथ नामक फ़िल्म के निर्माण पर चर्चा की.

वहां उन दोनों ने शाम के 4 बजे तक साथ-साथ काम किया. फिर वे दोनों बेट्टी टिंग, एक ताईवानी अदाकारा से मिलने उसके घर पर गए.

वहां उन तीनों ने मिल कर फिल्म की पटकथा पढ़ी. फिर चो, शाम को होने वाले प्रीती भोज सम्मलेन में भाग लेने के लिए वहां से विदा हो गए.[तथ्य वांछित]

कुछ समय बाद, ली ने सिर में दर्द की शिकायत की. टिंग ने उसे एक एनलजेसिक (दर्द निवारक),एकुआजेसिक दवा दी, जिसमें एस्प्रिन के साथ-साथ मसल रिलैक्संट भी मौजूद था.शाम को लगभग 7:30 बजे, ली झपकी लेने के लिए लेट गए. ली को भोजन के समय अनुपस्थित पाकर, चो उनके घर आए, मगर ली को उठा नहीं सके. इसके बाद एक डॉक्टर बुलाया गया, 10 मिनट तक ली को होश में लाने के प्रयास के बाद उसने ली को एम्बुलेंस द्वारा क्वीन एलिजाबेथ अस्पताल भेज दिया. लेकिन, अस्पताल पहुंचने तक ली की मृत्यु हो गई थी.उनके शरीर पर बाहरी चोट का कोई प्रत्यक्ष निशान मौजूद नहीं था; तथापि उनका मस्तिष्क 1,400 ग्राम से बढ़ कर 1,575 ग्राम तक काफी सूज गया था (13% की वृद्धि). ली की उम्र 32 वर्ष थी. शव-परीक्षा के दौरान उनके शरीर में पाए गए सिर्फ दो पदार्थ थे इक्वाजेसिक और भांग के अंश.15 अक्तूबर, 2005 को एक संवाददाता सम्मेलन के दौरान चो ने बताया कि ली की मृत्यु इक्वाजेसिक में मौजूद मसल रीलेक्सेंट के प्रति अतिसंवेदनशीलता के कारण हुई है, जिसे उन्होंने दर्द निवारक के सामान्य घटक के रूप में बताया.जब डॉक्टरों ने ली को अधिकृत रूप से मृत घोषित किया, तब इसे "ग़लत साहस द्वारा मृत्यु" की संज्ञा दी गयी.[तथ्य वांछित]

हांगकांग में ली के व्यक्तिगत चिकित्सक, डॉक्टर डॉन लैंगफोर्ड ने, जिन्होंने ली की मूर्छा के दौरान पहली बार इलाज किया था, मृत्यु के बाद कहा कि " मेरे मन में कोई प्रश्न नहीं है कि भांग को एक आनुमानिक कारण बताया गया होगा".[84] उनका यह भी मानना था कि "ली की पहली बेहोशी में इक्वाजेसिक का कोई हाथ नहीं था".[85] प्रोफ़ेसर आर.डी. टिअरे को, जिन्होंने लगभग 1000 से अधिक शव परीक्षाओं का निरीक्षण किया था, ली मामले में शीर्ष विशेषज्ञ बनाया गया. डॉ. टिअरे ने घोषणा की कि भांग की उपस्थिति एक संयोग मात्र है, और जोड़ा कि मृत्यु के लिए सिर्फ भांग को ज़िम्मेदार ठहराना "गैर ज़िम्मेदाराना और तर्कहीन" है. उनका निष्कर्ष था कि मृत्यु दर्द निवारक दावा इक्वाजेसिक के नुस्खे में मौजूद यौगिक की आपसी प्रतिक्रिया के फलस्वरूप तीव्र प्रमस्तिष्कीय शोथ के कारण हुई है.[86] मई मे ली की जान बचाने वाले, प्रख्यात न्यूरोसर्जन पीटर वू का प्रारंभिक विचार था कि मृत्यु का कारण भांग अथवा इक्वाजेसिक की प्रतिक्रिया को दिया जाना चाहिए.हालांकि बाद में वे अपने इस कथन से पीछे हट गए:

"प्रोफ़ेसर टिअरे स्कॉट्लैंड यार्ड द्वारा अनुशंसित एक फॉरेंसिक वैज्ञानिक थे; उन्हे भांग के विशेषज्ञ के रूप में लाया गया था और हम उनकी गवाही का खंडन नहीं कर सकते. भांग की खुराक ना तो निश्चित होती है और ना ही पूर्वकथनीय, पर मैंने आज तक किसी को केवल भांग के सेवन से मरते नहीं देखा. [85]

ली की मृत्यु के समुचित कारण विवाद का विषय हैं.

उनकी पत्नी लिंडा अपने मूल निवास स्थान सिएटल वापस आ गईं और ली को लेकव्यू कब्रिस्तान के स्थल 276 में दफना दिया गया. 31 जुलाई, 1973 को ली के अंतिम संस्कार में स्टीव मैक्वीन, जेम्स कोबर्न, चक नोरिस, जॉर्ज लेज़ेनबाई, डैन इनोसानटो, टाकि किमुरा, पीटर चिन और उनके भाई रॉबर्ट ली शामिल थे.

उनके महान व्यक्तित्व और असामयिक निधन ने उनकी मृत्यु के बारे में कई अटकलों को हवा दी, जिसमें शामिल है उनकी हत्या में ट्रायड सोसाइटी[87] की मिलीभगत और उन पर और उनके परिवार पर एक अनुमानित श्राप.

इस श्राप सिद्धांत को उनके पुत्र ब्रैनडन ली, एक अभिनेता, तक बढ़ा दिया गया जो अपने पिता की मृत्यु के 20 वर्ष बाद 28 वर्ष की उम्र में द क्रो के फिल्मांकन के दौरान एक अजीब दुर्घटना में मारे गए.यह उनकी मौत के बाद प्रर्दशित की गई और अपने पिता की अंतिम फिल्म की तरह इस फिल्म ने भी एक पंथ का दर्जा प्राप्त किया.(द क्रो को कंप्यूटर जनित दृश्यों और चंद मगर नाज़ुक दृश्यों में जो फिल्मांकन के लिए बाकी थे, स्टंट डबल के प्रयोग द्वारा पूरा किया गया.)ब्रैनडन ली को उनके पिता के बग़ल में दफनाया गया.

मीडिया[संपादित करें]

जीवनी संबंधी फिल्में[संपादित करें]

1976 में, हांगकांग फ़िल्म उद्योग ने ब्रूस ली: द मैन, द मिथ नामक फ़िल्म जारी की. इस फिल्म में ब्रूस ली के हमशक्ल, हो चुंग ताओ ने ली की भूमिका निभाई.

1993 मे ली के जीवन पर आधारित ड्रैगन: द ब्रूस ली स्टोरी नामक फिल्म प्रर्दशित की गयी, जिसमें ली की भूमिका जेसन स्कॉट ली ने निभाई (कोई रिश्ता नहीं).

अप्रैल 2007 मे चीनी राष्ट्रीय मीडिया ने घोषणा की कि उसके नेशनल ब्रॉडकास्टर ने 2008 बीजिंग ग्रीष्मकालीन ओलंपिक में चीनी संस्कृति के प्रसार के लिए ली पर आधारित 50 भागों का एक टेलीविजन धारावाहिक द लेजेंड ऑफ़ ब्रूस ली का फिल्मांकन शुरू कर दिया है.[88]

22 अगस्त, 2007 को फ़्रुट चान ने चीनी भाषा में ली के प्रारंभिक वर्षों पर जांन वू के निर्माता टेरेन्स चांग द्वारा निर्मित और 1950 के हांगकांग पर आधारित कोलून सिटी नामक फ़िल्म बनाने की घोषणा की.


अप्रैल 2009 को हिस्ट्री चैनल ने "हाउ ब्रूस ली चेंज्ड द वर्ल्ड" नामक एक वृत्तचित्र का निर्माण किया.

स्टेनली क्वान ने बताया कि वह ली के जीवन पर आधारित एक फिल्म बनाने के लिए ली के परिवार के साथ बातचीत कर रहे हैं.

क्वान ने कहा कि उनकी फ़िल्म दिखाएगी कि पिता की अनुपस्थिति का ब्रूस पर क्या प्रभाव पड़ा और उन्होने किस प्रकार अपने पुत्र ब्रैनडन ली की परवरिश की.[89]

लिखित किताबें[संपादित करें]

ब्रूस ली और जीत कुन डो के बारे में या दोनों के बारे में पुस्तकें[संपादित करें]

  • ब्रूस ली : द आर्ट ऑफ़ एक्स्प्रेस्सिंग द ह्यूमन बॉडी - जॉन लिटिल द्वारा लिखित
  • द ड्रैगन एंड द टाईगर: द बर्थ ऑफ़ ब्रूस लीज़ जीत कुन डो, दी ओकलैंड इअर्स . सिड कैंपबैल द्वारा लिखित.
  • ब्रूस ली बिटवीन विंग चुन एंड JKD - जेस ग्लोवर कृत
  • ब्रूस ली: डायनेमिक बीकमिंग - ब्रूस ली के दर्शन पर आधारित पुस्तक
  • ब्रूस ली: फाईटिंग स्पिरिट : ब्रूस थॉमस द्वारा लिखित जीवनी
  • स्ट्राईकिंग थाट्स - ब्रूस ली के विचार और उद्धरण
  • द ताओ ऑफ़ जीत कुन डो - मरणोपरांत छपी पुस्तक, जिसमें मार्शल आर्टस पर ब्रूस ली द्वारा लिखे नोट्स को संकलित किया गया है.
  • "ऑन द वॉरिअर्स पाथ"- डैनीली बोलेली कृत (2003 ) इस पुस्तक का सबसे लंबा अध्याय मार्शल आर्टस दर्शन पर है, जो ब्रूस ली की दार्शनिक विरासत पर आधारित है.
  • अनसेटल्ड मैटर्स: लाइफ़ एंड डेथ ऑफ़ ब्रूस ली -टॉम ब्लीकर द्वारा लिखित.
  • बी वाटर, माय फ्रेंड: द अर्ली इअर्स ऑफ़ ब्रूस ली - बच्चों के लिये सचित्र पुस्तक, केन मोशीजुकी द्वारा लिखित और डोम ली द्वारा चित्रित इस पुस्तक में ली के बचपन और युवावस्था का वास्तविक चित्रण किया गया है, जो लेखक के अनुसार तथ्यों पर आधारित है.[90]

ब्रूस ली पर बने वृत्तचित्र[संपादित करें]

  • हाउ ब्रूस ली चेंज्ड द वर्ल्ड (2009 )
  • दी इंटरसेपटिंग फ़िस्ट (2009)
  • दी अनबीटेबल ब्रूस ली (2001)
  • ब्रूस ली: अ वॉरिअर्स जर्नी (2000)
  • ब्रूस ली: द पाथ ऑफ़ द ड्रैगन (1998)
  • द इम्मोर्टल ड्रैगन (A&E ) (1996)
  • कर्स ऑफ़ द ड्रैगन (1993)
  • डेथ बै मिसएडवेन्चर (1993)
  • मार्शल आर्ट्स मास्टर (1993)
  • ब्रूस ली, द लीजेंड (1977)
  • ब्रूस ली: द मैन एंड द लेजेंड बनाम लाइफ एंड लेजेंड ऑफ़ ब्रूस ली ( 1973 )

चुनिंदा फ़िल्में[संपादित करें]

ब्रूस ली की फिल्मों की पूरी सूची देखने के लिए देखें

टेलीविजन साक्षात्कार[संपादित करें]

  • द ग्रीन होरनेट (26 खंडों में 1966-1967)....काटो
  • बैटमैन (खंड:"द स्पेल ऑफ़ टुट "28 सितंबर 1966, "ए पीस ऑफ़ दी एक्शन" 1 मार्च, 1967 " बैटमैन्स सैटिसफ़ैक्शन" 2 मार्च 1967) .... काटो

अन्य मीडिया[संपादित करें]

वहां एक ऐसा दृश्य है जहां केन, गोलन सेना के मैड सारजेंट के योद्धाओं के साथ युद्घ करता है. यह युद्घ की शैली एंटर दी ड्रैगन नामक फिल्म की भूमिगत युद्घ शैली से काफी मिलती-जुलती थी.[तथ्य वांछित]

  • डेड और एलाइव मे जीत कुन डो के अनुयायी जान ली का चरित्र ब्रूस ली के जीवन, उनके युद्घ घोष, वस्त्रों के चुनाव और उनकी युद्घ तकनीक पर आधारित है. इसमें एक छोटा दृश्य है, जिसमें जान ली एक छोटे से बालक के रूप मे ब्रूस ली की फिल्म देख रहा होता है.
  • मॉर्टल कामबैट फ़िल्म में लियू कांग का चरित्र ब्रूस ली के जीवन पर आधारित है.
  • शामन किंग का ली बेलॉन्ग का चरित्र ब्रूस ली पर आधारित है.वह न केवल दिखने में ब्रूस ली के समरूप है, बल्कि उनकी कई ऐतिहासिक विशेषताओं और सन्दर्भों को भी साझा करते हैं, जैसे फ़िस्ट ऑफ़ फ़्यूरी का फ़िल्मी रूपांतरण मंगा प्रारूप में शामन राजा की कहानी पर रखा गया है.
  • नारूतो मे राक्की ली का किरदार ब्रूस ली पर आधारित है.
  • एनिमेटेड श्रृंखला पुक्का का एबयो, ब्रूस ली पर आधारित है.
  • मूल पोकमन श्रृंखला का हिटमोनली छद्म रूप से ब्रूस ली के चरित्र पर ही आधारित है, जिसकी युद्घ शैली में मुख्यतः किक् का प्रयोग किया गया है.

यह भी देखें[संपादित करें]

नोट[संपादित करें]

  1. Stein, Joel (1999). "TIME 100: Bruce Lee". Time. http://www.time.com/time/time100/heroes/profile/lee01.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  2. वेब UK ऑनलाइन, ब्रुस ली के लेख इन द शैडो ऑफ़ ए लेजेंड - रॉबर्ट ली रिमेंबर्स ब्रूस ली द्वारा स्टीव रुबिनस्टाइन
  3. Dennis, Felix; Atyeo, Don (1974). Bruce Lee King of Kung-Fu. United States: Straight Arrow Books. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-87932-088-5. 
  4. गुंग फू ली के अपने शब्दों में, या ध्वन्यात्मक रूप से अधिक सही गोंग फू
  5. "Bruce Lee Bio" (PDF). Kevin Taing Foundation. 2006. http://www.bruceleefoundation.com/BruceLeeBio.pdf. अभिगमन तिथि: 2007-07-06. 
  6. Little 1997
  7. Vaughn 1986
  8. Prashad, Vijay (2001). Everybody Was Kung Fu Fighting: Afro-Asian Connections to the Post-Racial World. Beacon Press. pp. 127. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0807050113. 
  9. Little 1997, पृष्ठ 73
  10. Yang, Jeff (1997). Eastern Standard Time: A Guide to Asian Influence on American Culture. Boston, New York: Meridian, Houghton Mifflin. 
  11. "Lee, Bruce, (1920-1960) Martial Arts Master and Film Maker". HistoryLink. http://www.historylink.org/essays/output.cfm?file_id=3999. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  12. http://www.bruce-lee.ws/about_bruce_lee.html
  13. http://everything2.com/e2node/Bruce% 2520Lee
  14. Burrows, Alyssa (2002). "Bruce Lee". HistoryLink. http://www.historylink.org/essays/output.cfm?file_id=3999. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  15. वॉशिंगटन विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र रिकार्ड
  16. "100 Alumni of the Century". University of Washington. http://www.washington.edu/alumni/columns/dec99/j_o.html. अभिगमन तिथि: 2007-08-06. 
  17. Little 2001, पृष्ठ 32
  18. Thomas 1994, पृष्ठ 42
  19. Lee 1989
  20. Lee, Grace (1980). Bruce Lee The Untold Story. United States: CFW Enterprise. 
  21. ली (केडवेल), लिंडा, ब्रुस ली: द मैन ओनली आई न्यू , वार्नर बुक्स, 1975.
  22. ब्रूस ली: अ वॉरिअर्स जर्नी , वृत्तचित्र फीचर, 2000.
  23. "From Grasshopper to Caine, http://www.youtube.com/watch?v=PlYdp1BVOlw
  24. "From The Pierre Berton Show 9 December 1971 http://www.youtube.com/watch?v=uXOtmhA6Nvw&feature=PlayList&p=9E42117F3D1A8008&index=0&playnext=1 (comments near end of part 2 & early in part 3)
  25. "The Bruce Lee Story|first=Linda|last=Lee|coauthors=Bleecker, Tom|publisher=Ohara Publications|location=United States|year=1989
  26. साँचा:CiteIMDBProfile=http://www.imdb.com/title/tt0070034/
  27. "Inflation Calculator". Bureau of Labor Statistics. http://data.bls.gov/cgi-bin/cpicalc.pl. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  28. "Heroes & Icons". Time. http://www.time.com/time/time100/heroes/profile/lee03.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  29. Bruce Lee, the Legend , 1977, Paragon Films, Ltd., 20th Century Fox Home Entertainment
  30. http://news.yahoo.com/s/nm/20090106/en_nm/us_hongkong_brucelee; _ylt = Ai_I4gyAqL99r8xboPbRUPVb.nQA
  31. Thomas 1994, पृष्ठ 14
  32. "Interesting Questions, Facts, and Information". Fun Trivia. http://www.funtrivia.com/en/Celebrities/Lee-Bruce-13857.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  33. "WING CHUN GUNG FU". Hardcore JKD. http://hardcorejkd.com/wing_chun.php. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  34. Thomas 1994, पृष्ठ 81
  35. Little 2001, पृष्ठ 211
  36. "2007 Long Beach International Karate Championship". Long Beach International Karate Championship. http://www.longbeachikc.com/. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  37. "Two Finger Pushup". Maniac World. http://www.maniacworld.com/bruce_lee_3.htm. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  38. Vaughn 1986, पृष्ठ 21
  39. Uyehara, Mitoshi (1991). Bruce Lee: The Incomparable Fighter. Santa Clarita, California: Ohara Publications. pp. 27. 
  40. [1]
  41. Little 1997, पृष्ठ 167
  42. Vaughn 1986, पृष्ठ 153
  43. Little 1997, पृष्ठ 168
  44. Birchland, Bob (November 2007), ""The Truth of Boxing: A Critical Look at Bruce Lee's Hand Skills"", Black Belt Magazine: 93, http://www.blackbeltmag.com 
  45. "Martial Art Disciplines at Hybrid Martial Arts Academy". Hybrid Martial Art. http://www.hybridmartialart.com/Martial%20Art%20Overview/Martial_%20Arts_%20Overview.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  46. Lee 1989, पृष्ठ 70
  47. Hatfield, Fredrick C. (1993). Fitness: The Complete Guide. California: International Sport Sciences Association. प॰ 119. 
  48. Uhera, Mito. "Feats". Bruce Lee: The Divine Wind. http://www.bruceleedivinewind.com/feats.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  49. Campbell, Sid (2003). The Dragon and the Tiger: The Birth of Bruce Lee's Jeet Kune Do, the Oakland Years. California: Frog LTD. pp. 58. 
  50. Seal, Jack (2007). "How Did Bruce Lee Get Those Washboard Abs?". All Bruce Lee. http://www.allbrucelee.com/article/how_did_bruce_lee_get_those_wash.htm. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  51. Little, John. ""WARM MARBLE" The Lethal Physique of Bruce Lee". Mike Mentzer. http://www.mikementzer.com/blee.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  52. Little 1998, पृष्ठ 18
  53. "Bruce Lee Death". JKD Street Defense. 2007. http://www.jkdstreetdefense.com/bruce-lee-death.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  54. Lee, George. "The Equipment Manager". All Bruce Lee. http://www.allbrucelee.com/article/equipment_manager.htm. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  55. DM. "Feats". Bruce Lee: The Divine Wind. http://www.bruceleedivinewind.com/feats.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  56. "Bruce Lee — Two Finger Pushup". Maniac World. http://www.maniacworld.com/bruce_lee_3.htm. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  57. The Intercepting Fist. [DVD]. Sterling Ent. 2001-05-31. 
  58. Little 1998, पृष्ठ 22
  59. Little 1998, पृष्ठ 21
  60. Vaughn 1986, पृष्ठ 110
  61. "Bruce Lee answers a challenge". Bruce Lee Divine Wind. 2007. http://www.bruceleedivinewind.com/articles/brucechallenge.zip. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  62. Little 1997, पृष्ठ 66–67
  63. Little 1997, पृष्ठ 71
  64. Little 1997, पृष्ठ 82
  65. Little 1998, पृष्ठ 108
  66. Little 1997, पृष्ठ 87
  67. Little 1998, पृष्ठ 150
  68. Seal, Jack (2007). "How Did Bruce Lee Get Those Washboard Abs?". All Bruce Lee. http://www.allbrucelee.com/article/how_did_bruce_lee_get_those_wash.htm. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  69. Little, John (1996). The Warrior Within - The philosophies of Bruce Lee to better understand the world around you and achieve a rewarding life. Contemporary Books. pp. 122. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0809231948. 
  70. ब्रूस ली: अ वॉरिअर्स जर्नी 31m45s पर
  71. Little, John (1996). The Warrior Within - The philosophies of Bruce Lee to better understand the world around you and achieve a rewarding life. Contemporary Books. pp. 128. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0809231948. 
  72. Thomas 1994, पृष्ठ 44
  73. Lee, Bruce (1975). Tao of Jeet Kune Do. Ohara Publications. प॰ 25. 
  74. [100 Most Influential people: Hero Edition]. 2007-04-01.
  75. Wickert, Marc (2004). Dana White and the future of UFC. 
  76. "Bruce Lee statue for Bosnian city". BBC. 2004-09-02. http://news.bbc.co.uk/2/hi/entertainment/3620752.stm. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  77. "Hong Kong's honour for Bruce Lee". BBC. 2005-07-24. http://news.bbc.co.uk/2/hi/entertainment/4711947.stm. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  78. "Bruce Lee theme park to be built in China". Associated Press. 2006-11-26. http://www.msnbc.msn.com/id/15922063/. 
  79. Chao, Arnold (2006-11-27). "The Greatest Martial Artist of All Time". Yahoo!. http://dir.yahoo.com/thespark/4375/the-greatest-martial-artist-of-all-time. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  80. "Chinese state TV begins filming 40-part series on Bruce Lee". International Herald Tribune. 2007-04-10. http://www.iht.com/articles/ap/2007/04/10/arts/AS-A-E-China-Bruce-Lee.php. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  81. Feng, Rex (2008-08-04). "द लेजेंड लिव्स ऑन: ए जेनरेशन लेटर, ब्रूस लीस लेगेसी इज़ स्टिल किकिंग". AsianWeek. 2008-08-04 को पुनः प्राप्त.
  82. Lee 1989, पृष्ठ 83
  83. Thomas 1994
  84. Thomas 1994, पृष्ठ 229
  85. Thomas 1994, पृष्ठ 228
  86. Thomas 1994, पृष्ठ 209
  87. Bishop 2004, पृष्ठ 157
  88. "Report: Hong Kong director plans Bruce Lee biopic". International Herald Tribune. 2007-08-22. http://www.iht.com/articles/ap/2007/08/22/arts/AS-A-E-MOV-Hong-Kong-Bruce-Lee-Movie.php. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  89. "Stanley Kwan talks Bruce Lee film". Film Stalker. http://www.filmstalker.co.uk/archives/2007/05/stanley_kwan_talks_bruce_lee_f.html. अभिगमन तिथि: 2008-05-30. 
  90. Mochizuki, Ken; Illustrated by Dom Lee (2006). Be Water, My Friend: The Early Years of Bruce Lee. New York: Lee & Low Books. pp. Author's Note. आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 1-58430-265-8. 

संदर्भ[संपादित करें]

  • Bishop, James (2004), Bruce Lee: Dynamic Becoming, Dallas: Promethean Press, आई॰ऍस॰बी॰ऍन॰ 0-9734054-0-6 
  • Lee, Linda; Bleecker, Tom (1989), The Bruce Lee Story, United States: Ohara Publications 
  • Little, John (2001), Bruce Lee: Artist of Life, Tuttle Publishing 
  • Little, John (1998), Bruce Lee: The Art of Expressing the Human Body, Tuttle Publishing 
  • Little, John (1997), Words of the Dragon : Interviews 1958–1973 (Bruce Lee) 
  • Thomas, Bruce (1994), Bruce Lee: Fighting Spirit : a Biography, Berkeley, California: Frog, Ltd. 
  • Vaughn, Jack (1986), The Legendary Bruce Lee, Ohara 
  • डोर्गन, माइकल. ब्रूस लीस टफ़ेस्ट फ़ाइट http://www.kungfu.net/brucelee.html. जुलाई 1980. अफ़िशियल कराटे

बाह्य सूत्र[संपादित करें]