ब्रह्महृदय तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
ब्रह्महृदय के चार तारों और सूरज के आकारों की तुलना - सूरज नीचे बीच का पीला वाला गोला है

ब्रह्महृदय या कपॅल्ला, जिसका बायर नाम "अल्फ़ा ऑराइगे" (α Aurigae या α Aur) है, ब्रह्मा तारामंडल का सब से रोशन तारा है। यह पृथ्वी से दिखने वाले सब से रोशन तारों में गिना जाता है। बिना दूरबीन के एक दिखने वाला यह तारा वास्तव में दो द्वितारों का मंडल है, यानि इसमें कुल मिलकर चार तारे हैं जो पृथ्वी से एक ही प्रतीत होते हैं। पहले द्वितारे के दोनों तारे G श्रेणी के दानव तारे हैं और दोनों के व्यास (डायामीटर) सूरज के व्यास के लगभग दस गुना हैं। दुसरे द्वितारे के दोनों तारे छोटे और धुंधले से लाल बौने हैं। ब्रह्महृदय मंडल पृथ्वी से लगभग 42.2 प्रकाश वर्ष की दूरी पर हैं।

अन्य भाषाओँ में[संपादित करें]

ब्रह्महृदय को अंग्रेज़ी में "कपॅल्ला" (Capella) कहते है।

विवरण[संपादित करें]

  • ब्रह्महृदय ए॰ए॰ (Capella Aa) - G श्रेणी का दानव तारा। ब्रह्महृदय ए॰बी॰ के साथ द्वितारा मंडल में शामिल। सतही तापमान 4900 कैल्विन। अर्धव्यास (रेडियस) सौर अर्धव्यास का 12 गुना। द्रव्यमान (मास) सौर द्रव्यमान का 2.7 गुना। चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) सूरज की चमक से 79 गुना।
  • ब्रह्महृदय ए॰बी॰ (Capella Ab) - G श्रेणी का दानव तारा। ब्रह्महृदय ए॰ए॰ के साथ द्वितारा मंडल में शामिल। सतही तापमान 5700 कैल्विन। अर्धव्यास (रेडियस) सौर अर्धव्यास का 9 गुना। द्रव्यमान (मास) सौर द्रव्यमान का 2.6 गुना। चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) सूरज की चमक से 78 गुना।
  • ब्रह्महृदय बी॰ए॰ (Capella Ba) - लाल बौना तारा। ब्रह्महृदय बी॰बी॰ के साथ द्वितारा मंडल में शामिल।
  • ब्रह्महृदय बी॰बी॰ (Capella Bb) - लाल बौना तारा। ब्रह्महृदय बी॰ए॰ के साथ द्वितारा मंडल में शामिल।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]