बेटा सॅटाए तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
नासा के चंद्रा ऍक्स-रे दूरबीन से ली गई बेटा सॅटाए की तस्वीर
सीटस तारामंडल की एक तस्वीर जिसमें बेटा सॅटाए "β" के चिह्न वाला दाएँ नीचे की तरफ़ नामांकित तारा है

बेटा सॅटाए, जिसका बायर नाम भी यही (β Cet, β Ceti) है, सीटस तारामंडल का सब से रोशन तारा है और पृथ्वी से दिखने वाले सभी तारों में से ५०वाँ सब से रोशन तारा है। यह हमसे ९६ प्रकाश-वर्ष की दूरी पर स्थित है और पृथ्वी से इसका औसत सापेक्ष कांतिमान (यानि चमक का मैग्निट्यूड) +२.०४ है।[1] आकाश के जिस क्षेत्र में यह नज़र आता है उसमें और कोई रोशन तारे नहीं हैं, जिस वजह से इसे आसानी से देखा जा सकता है।

अन्य भाषाओं में[संपादित करें]

बेटा सॅटाए को अंग्रेज़ी में कभी-कभी "डॅनॅब काइटॉस" (Deneb Kaitos) कहा जाता है। यह नाम अरबी भाषा के "अल-ज़नब अल-केतोस अल-जनूब" (ألضنب ألقيتوس ألجنوب) से लिया गया है जिसका अर्थ "सीटस (व्हेल) की दक्षिणी दुम" है। इसे "डिफ़्डा" (Diphda) भी कहा जाता है। यह नाम भी अरबी से लिया गया है। अरबी में इसका नाम "अद-दफ़्दा अत-तानी" (الضفدع الثاني) था, जिसका अर्थ "दूसरा मेंढक" है। इस नाम के सन्दर्भ में "पहला मेंढक" मीनास्य तारा (उर्फ़ फ़ुमलहौत) था।[2]

वर्णन[संपादित करें]

बेटा सॅटाए एक K और G श्रेणियों के बीच का नारंगी दानव तारा है। औपचारिक रूप से इसे K0 III की श्रेणी दी गई है। इसकी सतह का तापमान लगभग ४,८०० कैल्विन अनुमानित किया गया है जो हमारे सूरज से ज़रा कम है। इसका द्रव्यमान हमारे सूरज के द्रव्यमान का ३ गुना है, लेकिन व्यास (डायामीटर) सूरज के व्यास का १७ गुना है। इसकी निहित चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) हमारी सूरज की चमक की १४५ गुना अनुमानित की गई है। इस तारे की उम्र लगभग १० करोड़ वर्ष है। इसके अध्ययन से प्रतीत होता है कि कभी यह एक मुख्य अनुक्रम तारा हुआ करता था जो अब फूल रहा है और भविष्य में एक लाल दानव तारा बन जाएगा।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]