बेटा कैसिओपिये तारा

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
बेटा कैसिओपिये शर्मिष्ठा तारामंडल में 'β' के चिह्न द्वारा नामांकित तारा है

बेटा कैसिओपिये, जिसका बायर नाम भी यही (β Cassiopeiae या β Cas) है, शर्मिष्ठा तारामंडल के क्षेत्र में स्थित एक तारा है। यह पृथ्वी से दिखने वाले तारों में से ७१वाँ सब से रोशन तारा है। पृथ्वी से देखी गई इस तारे की चमक (सापेक्ष कान्तिमान) २.२७ मैग्नीट्यूड है और यह हमसे लगभग ५४ प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है।[1]

अन्य भाषाओँ में[संपादित करें]

बेटा कैसिओपिये तारे को "कैफ़" (Caph) भी कहते हैं, जो अरबी भाषा के "अल​-कफ़ अल​-ख़ज़ीब" (الکف‌الخضیب) से आया है और जिसका अर्थ "(महन्दी से) रंगी हुई हथेली" है।

विवरण[संपादित करें]

बेटा कैसिओपिये F2 III या F2 IV श्रेणी का पीला-सफ़ेद दानव या उपदानव तारा है, जिसका द्रव्यमान हमारे सूरज के द्रव्यमान का २ गुना और व्यास (डायामीटर) हमारे सूरज के व्यास का ४ गुना है। इसकी तारे की निहित चमक (निरपेक्ष कान्तिमान) सूरज की लगभग २७ गुना है। इसका सतही तापमान लगभग ७,००० कैल्विन अनुमानित किया गया है। यह कभी A श्रेणी का मुख्य अनुक्रम तारा हुआ करता था जिस्क्र केंद्र का हाइड्रोजन इंधन अब ख़त्म हो चुका है और जो अब ठंडा होकर आकार में फूलने लगा है। यह फूलते-फूलते कभी एक लाल दानव तारा बन जाएगा। यह एक परिवर्ती तारा भी है जिसकी चमक हर २.५ घंटे के अरसे में पहले बढ़कर +२.२५ मैग्नीट्यूड हो जाती है और फिर घटकर +२.३१ मैग्नीट्यूड हो जाती है (याद रहे कि मैग्नीट्यूड ऐसा उल्टा माप है जो जितना अधिक हो तारा उतना ही कम रोशन होता है)।

शक्तिशाली दूरबीनों से देखने पर ज्ञात हुआ है कि बेटा कैसिओपिये एक द्वितारा है जिसका एक धुंधला सा साथी है जो हर २७ दिनों में मुख्य तारे की एक परिक्रमा पूरी कर लेता है।

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. Perryman, M. A. C. (1997), "The Hipparcos Catalogue", Astronomy & Astrophysics 323: L49–L52, Bibcode 1997A&A...323L..49P