बेकजे

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
३७५ ईसवी में अपने चरम पर बेकजे राज्य

बेकजे (कोरियाई: 백제, अंग्रेज़ी: Baekje) या पेकचे एक प्राचीन कोरियाई राज्य था जो दक्षिण-पूर्वी कोरिया में स्थित था।यह १८ ईसापूर्व से ६६० ईसवी तक अस्तित्व में रहा। गोगुरयेओ और सिल्ला के साथ यह 'प्राचीन कोरिया के तीन राज्यों' में से एक था। बेकजे राज्य की स्थापना गोगुरयेओ राज्य के संस्थापक जुमोंग (추몽, Jumong) के तीसरे बेटे ओंजो (온조왕, Onjo) ने के थी। जैसे-जैसे तीनों राज्य कोरियाई प्रायद्वीप पर अपना प्रभाव बढ़ाते गए, बेकजे कभी गोगुरयेओ और सिला के साथ लड़ता था और कभी संधियाँ करता था।[1]

समुद्री शक्ति और संस्कृति[संपादित करें]

चौथी सदी ईसवी में बेकजे की शक्ति अपने चरम पर थी और वह उत्तर में प्योंगयांग शहर तक कोरियाई प्रायद्वीप के लगभग पूरे पश्चिमी भाग पर नियंत्रण रखता था। समय के साथ यह एक समुद्री शक्ति बन गया और इसके जापान और चीन के साथ व्यापारिक और राजनैतिक सम्बन्ध थे। यह भी संभव है कि बोहाई सागर के पार इसके आधुनिक चीन के लियाओनिंग राज्य के लिओंशी क्षेत्र के कुछ इलाक़ों पर क़ब्ज़ा रहा हो, लेकिन इसपर विद्वानों में सर्वसम्मति नहीं है। इतिहासकार मानते हैं कि बेकजे तीनों राज्यों में से सब से विकसित संस्कृति रखता था। उसने कोरिया में सब से पहले साक्षरता अपनाई जब चौथी शताब्दी ईसवी में यहाँ सरकारी तौर पर चीनी भावचित्रों पर आधारित लिपि को प्रोत्साहन दिया गया। उसी समय में यहाँ बौद्ध धर्म को भी प्रोत्साहन दिया गया।[2]

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. The land of scholars: two thousand years of Korean ConfucianismThe Land of Scholars: Two Thousand Years of Korean Confucianism, Jae-un Kang, Jae-eun Kang, Homa & Sekey Books, 2006, ISBN 978-1-931907-37-8, ... The Three Kingdoms period in the history of Korea refers to the period when Goguryeo, Baekje, and Silla were struggling for power ...
  2. Atlas of Ancient Worlds, Peter Chrisp, Penguin, 2009, ISBN 978-0-7566-4512-0, ... Founded in 18 BCE, the kingdom of Baekje was an important sea power with close links to Japan. Baekje was the most cultured of the three kingdoms, and during the 4th century CE, it adopted the Chinese script and introduced Buddhism ...