बिन्दुसागर झील

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बिन्दुसागर झील उड़ीसा की राजधानी भुवनेश्वर में स्थित है, यहाँ की अन्य झीलों से यह काफ़ी बड़ी और ख़ूबसूरत है।

लिंगराज मन्दिर के उत्तर में स्थित चारों ओर पत्थरों के घेरे में 1,300 फुट लम्बी व 700 फुट चौड़ी यह झील भुवनेश्वर की सबसे बड़ी झील है। कहा जाता है कि इस झील के चारों ओर 7,000 मंदिर थे। 500 मंदिरों के अवशेष तो आज भी पाये जाते हैं। इन मंदिरों का निर्माण आठवीं शताब्दी से लेकर 13 वीं शताब्दी के दौरान हुआ था। लगभग बारह मंदिर जिनमें प्रमुख रूप से लिंगराज मन्दिर तो आज भी श्रद्धालुओं के बीच काफ़ी लोकप्रिय है। जनश्रुति है कि बिन्दु सागर झील में भारत की सभी पावन नदियों, झीलों, कुंडों और सरोवरों का पवित्र जल मिश्रित है। बिन्दुसागर झील के मध्य में एक द्वीप है जहाँ प्रतिवर्ष लिंगराज की प्रतिमा को मंदिर से लाकर यहाँ भव्य समारोह का आयोजन किया जाता है।