बरूशसकी

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बरूशसकी। बरूशसकी वो ज़बान है हओ- नगर, हिन्ज़ा और यासीन के बरूशिव क़ौम बोलती है। ये ज़बान बहुत क़दीम ज़बान है और इस की इबतिदा के बारे में कोई नहीं जानता। बरूशसकी की तीन अक़साम हैं। और ये तीन मुख़तलिफ़ इलाक़ों यानी यासीन, नगर और हिन्ज़ा में बोली जाती है। इन में यासीन वाली कुसुम को ख़ालिस समझा जाता है।

बुरविष्ासकी बरूशिव क़ौम की ज़बान है ये नगर, हिन्ज़ा और यासीन में बोली जाती है। खोहर अकैडमी ने इस ज़बान के हरुफ़ ताही, बुलती क़ाअदा और इस ज़बान के लिए योनी कोडज़ बनाए हैं