फैसलाबाद

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

फैसलाबाद पाकिस्तान का पंजाब प्रान्त का एक नगर है। एक समय में अपने ग्रामीण रुप के कारण से इसे एशिया का सब से बड़ा गांव कहा जाता था। समय के साथ साथ परिवर्तन होकर यह नगर अब कराची और लाहौर के बाद पाकिस्तान का सब से बड़ा शहर बन गया है।

अनुक्रम

नाम[संपादित करें]

इस स्थान को विभिन्न समय में विभिन्न नाम से जाना जाता था-

  1. पका माड़ी (पकी माड़ी)-१८९०इ के लगभग तारक़आबाद के करीब वाक़ा शहर की सब से क़देम बस्ती)
  2. सांदल बार - लाएलपुर के स्थापना से पहले इस समथर मैदानी क्षेत्र को सांदल बार के नाम से जाना जाता था।
  3. लाएलपुर - १८९६इ में झंग की तहसील के रुप में लाएलपुर के नाम से शहर जाना गया।
  4. फैसलाबाद - १९७७इ में साउदी अरब से नजदीकी सम्बन्ध बनाने के लिए इस साउदी अरब के नरेश शाह फ़ेसल के नाम से इस स्थान का नाम फैसलाबाद रखा गया।

इतिहास[संपादित करें]

फैसलाबाद का इतिहास केवल एक शताब्दी पुरानी है। १९ वीं शताब्दी में यह स्थान झाड़ीयों से ढका हुआ मवेशी पालने वालों का गढ़ था। १८९२ में इसे झंग और गो गेरा ब्रांच नाम के दो जलसंधि द्वारा सिंचित किया गया। १८९५ में यहां प्रथम बस्ती स्थापना हुआ जिसका उद्देश्य मंडी कायम करना था। उन दिनों शाहदरा से शोरकोट और सा निगला हल से टोबा टेक सिंह के माबीन वाक़िअ इस इलाके़ को सानदल बार कहा जाता था। ये इलाक़ा दरयाए रावी और दरयाए चिनाब के दरम्यान वाक़िअ दोआबा रचना का अहम हिस्सा है। लाइलपोर शहर के क़याम से पहले यहां पक्का माड़ी नामी क़दीम रिहाइशी इलाक़ा मौजूद था, जिसे आज कल पक्की माड़ी कहा जाता है और वो मौजूदा तारिक़ आबाद के नवाह में वाक़िअ है। ये इलाक़ा लोअर चिनाब कॉलोनी का मरकज़ क़रार पाया और बाद अज़ां उसे मीवनसपलटी का दर्जा दे दिया गया।

मौजूदा ज़िला फ़ैसल आबाद उन्नीसवीं सदी के अवाइल में गुजरांवाला, झंग और साहीवाल का हिस्सा हुआ करता था। झंग से लाहौर जाने वाले कारवां यहां पड़ाव करते। उस ज़माने के अंग्रेज़ सय्याह उसे एक शहर बनाना चाहते थे। अवाइल दौर में उसे चिनाब केनाल कॉलोनी कहा जाता था, जिसे बाद में पंजाब के गवर्नर लैफ़्टीनैन्ट जनरल सर जेम्ज़ बी ला ल के नाम पर लाइलपोर कहा जाने लगा।

तिथि[संपादित करें]

इस नगर की प्रमुख ऐतिहासिक तिथि इस प्रकार है

  • 1896 मैं गुजरांवाला, झंग और साहीवाल से कुछ इलाक़ा अलग कर के उस पर मुशतमिल लाइलपोर तहसील कायम हुई जिसे इंतिज़ाम-ओ-इनसिराम के लिए ज़िला झंग में शामिल कर दिया गया।
  • 1902 में इस की आबादी 4 हज़ार नफ़ोस पर मुशतमिल थी।
  • 1903 मैं घंटा घर की तामीर का आग़ाज़ हुआ और वो 1906 मैं मुकम्मल हवा।
  • 1904 में ज़िला का दर्जा दिया गया, इस से क़बल ये ज़िला झंग की एक तहसील था।
  • 1906 मैं लाइलपोर के ज़िलई हेडक्वार्टर ने बाकायदा काम शुरू किया। यही वो दूर था जब उस की आबादी सर्कुलर रोड से बाहर निकलने लगी।
  • 1908 में यहां पंजाब ज़रई कालज और खालसा स्कूल का आग़ाज़ हुआ, जो बाद अज़ां बिलतरतीब ज़रई यवनीवररसटी और खालसा कालज की सूरत में तरक़्की कर गए। खालसा कालज आज भी जड़ांवाला रोड पर म्यूनसिंपल डिग्री कालज के नाम से मौजूद है।
  • 1909 मैं टाउन कमेटी को म्यूनसिंपल कमेटी का दर्जा दे दिया गया और डिप्टी कमिशनर को पहला चेयरमैन क़रार दिया गया।
  • 1910 में पंजाब के नहरी निज़ाम की क़दीम तरीन और मशहूर नहर लोअर चिनाब तामीर हुई।
  • 1920 मैं सर्कुलर रोड से बाहर पहला बाकायदा रिहाइशी इलाक़ा डगलस पूरा कायम हवा।
  • 1930 में यहां सनअती तरक़्की का आग़ाज़ हवा।
  • 1934 में मशहूर-ए-ज़माना लाइलपोर कॉटन मलज़ कायम हुई।
  • 1943 क़ायद-ए-आज़म मुहम्मद अली जनाह फ़ैसल आबाद तशरीफ़ लाए और उन्हों ने धोबी घाट ग्रांऊड मैं अज़ीम अलशान इजतमा से ख़िताब किया।
  • 3 मार्च 1947 को क़ायम-ए-पाकिस्तान का असूली फ़ैसला और लाइलपोर की पाकिस्तान में शमूलीयत बारे ख़बर मिलने पर लाइलपोर के मुसलमानों ने शुक्राने के नवा फ़ुल अदा किए और मिठा यां बांटीं।
  • 1947 में क़याम-ए-पाकिस्तान के बाद शहर की आबादी में तेज़ी से इज़ाफ़ा हुआ, जिस के बाइस शहर का रकिबा भी वुसअत इख़्तयार कर गया। क़याम-ए-पाकिस्तान के वक्त शहर का रकिबा सिर्फ़ 3 मरब्बा मेल था, जो अब 10 मरब्बा मेल से ज़्यादा हो चुका है। बहुत से नए रिहाइशी इलाके़ भी कायम हुए, जिन में पीपल्ज़ कॉलोनी और ग़ुलाम मुहम्मदाबाद जैसे बड़े इलाके़ भी शामिल हैं।
  • 1977 मैं बढ़ती जनसंख्या को हिसाब में रखते हुए लाइलपुर को मुनसिपलटी से तरक़्की दे कर म्यूनसिंपल कारपोरेशन का दर्जा दिया गया।
  • 1985 में इसे ज़िला फ़ैसल आबाद, ज़िला झंग और ज़िला टोबा टेक सिंह पर मुशतमिल डवीज़नल सदर मुक़ाम क़रार दिया गया। इसी मौक़ा पर इस का नाम लाइलपुर से बदलकर सऊदी अरब के नरेश फ़ैसल के नाम पर फ़ैसलाबाद रख दिया गया।
  • 2005 में यहां सिटी डिस्ट्रिक्ट गर्वनमैंट निज़ाम लागू किया गया।

घंटा घर[संपादित करें]

फैसलाबाद नगर को बेलायती झण्डा युनियन ज्याक के स्मरण से सर जेम्स लाएलद्वारा स्थापना किया गया था। अतः इस नगर में आठ प्रमुख मार्ग निर्मित किए गए जो नगर के मध्य मे आकर मिलते है। यह आठ मार्ग के मिलन विंदू पर इस नगर का घंटा घर की स्थापना किया गया। घंटा घर पर मलने वाली आठों सड़कें शहर के ८ प्रमुख बाज़ार हें, इस कारण से इस नगर को आठ बाज़ारों का शहर भी कहा जाता हे।

घंटा घर की स्थापना का फैसला झंग के डेप्युटी कमिश्नर झंग कॅपटॅन बेक (Capt Beke) ने किया था और इस का जग १४ नोमबर १९०३इ को सर जेमज़ लाएल ने रखा। जिस स्थान पर घंटा घर की तामेर के लए मंतख़ब कया गया वहां लाएलपुर शहर की तामेर के वक़त से एक कनवां मोजोद था। इस कनोएं को सरगोधा रोड पर वाक़ा चक राम देवाली से लाई गई मटी से अछी तरह भर दया गया। योंही घंटा घर की तामेर में प्रयोग होने वाला पत्थर ५० किलोमेटर की दूरी पर वाक़ा सांगला हल नामी पहाटी से लाया गया। इस नगर का डिजाइन डेस्मंड यंगद्वारा हुआ था।

१९०६इ के अवाएल में घंटा घर की तामेर का काम गलाब ख़ान की ज़ेरंगरानी मकमल हवा। घंटा घर ४० हज़ार रोपे की लागत से २ साल के अरसे में तामेर हवा। अस की तकमेल पर एक तक़रेब का अंाक़ाद हवा, जस के महमानि ख़सोसी इस वक़त के मालयाती कमशंर पंजाब मसटर लोएस थे।

घंटा घर में रखने के लए घड़ी मुंबई से लाई गई। घंटा घर की तामेर से पहले शहर के आठों बाज़ार मकमल हो चके थे।

आठ बाज़ारों पर मबनी शहर का कूल क्षेत्रफल ११० वर्ग एकड़ था। घंटा घर में आठौं मार्ग जोडने के अतिरिक्त यह आठों बाज़ार गोल बाज़ार नामी दाएरा शकल के हामल बाज़ार की मदद से आपस में जड़े हुए है। इस के साथ ही युनियन जॅक के आठौं भुजा के अन्त्य में इन के शिरा भी सरकुलर रोड की रुप में आपस में मिलते है।

घंटा घर की स्थापना के समय इस के नजदीक ४ फ़वारे बनाए गए थे, जो कचहरी बाज़ार, अमें पोर बाज़ार, झंग बाज़ार और कारख़ाना बाज़ार में बनाए गए थे। जिन्हे आठों बाज़ारों में से देखा जा सकता था, मगर समय के साथ साथ इन में से २ फ़वारे लोप हो चके हें। अब मात्र कचहरी बाज़ार और झंग बाज़ार वाले फ़वारे उपस्थित है।

आठ बाज़ार[संपादित करें]

घंटा घर के आठौं दिशा में निर्मित आठ मार्ग में ८ बाज़ार स्थापित है। इन बाजारौं का नाम इस प्रकार है-

  1. रेल बाज़ार - इस की बेरोनी समत रेलवे रोड वाक़ा हे, जो रेलवे स्टेशन को जा नकलता हे।
  2. कचहरी बाज़ार - इस की बेरोनी तरफ़ अदालतें क़ाएम हें।
  3. चनेवट बाज़ार - इस तरफ़ ज़ला झंग की तहसेल चनेवट वाक़ा हे।
  4. अमें पुर बाज़ार - यहां से एक सड़क अमें पुर बंगला की तरफ़ जाती हे।
  5. भवाना बाज़ार - इस समत में भवाना वाक़ा हे।
  6. झंग बाज़ार - इस बाज़ार का मार्ग झंग की तरफ़ निर्दिष्ट है।
  7. मंटगमरी बाज़ार - इस बाज़ार का नाम साहेवाल के पुराने नाम मंटगमरी से रखा गया, जो इसी समत वाक़ा हे।
  8. कारख़ाना बाज़ार - इस मार्ग के स्थानौं में कारख़ाने होते थे, जिन में से कुछ अब भी बाकी हें।

भूगोल[संपादित करें]

यह नगर पाकिस्तान के पंजाब प्रान्त में अवस्थित है। यह नगर लाहोर से १२० किलोमिटर पश्चिम हे। पाकिस्तान का राजधानी इस्लामाबाद इस नगर से ३६० कलोमेटर उत्तर में अवस्थित है। यह नगर ३०.३५ से३१.४७ उत्तर अक्षांश व ७२.७३ से७३.४० पूर्व देशान्तर में स्थित है और समुद्री सतह से ६०५ फिट उंचाई पर स्थित है। यह नगर मैदानी सतह पर स्थित है।

परिधि[संपादित करें]

फैसलाबाद का कोही भी प्राकृतिक सीमा नही है। व्यवस्थापिक रुप में इस नगर के परिधि में निम्न लिखित स्थान अवस्थित है-

  • पूर्वः शेख़ोपुरा जिला
  • पश्चिमः झंग ओर टोबा टेक सिंह
  • उत्तर व उत्तर पूर्व: हाफिजाबाद और शेख़ोपोरा
  • दक्षिणः रावी नदी, जिला ओकाड़ा और साहेवाल

जलसंपदा[संपादित करें]

चनाब नदी शहर की उत्तर-पूर्वी भाग में करीब ३० कलोमेटर की दूरी में बहती है। रावी नदी शहर की दक्षिण पश्चिमी भाग में ४० किलोमिटर की दूरी में बहती है। लोअर चनाब जलसंधि के माध्यम से इस स्थान के ८० प्रतिशत भूमि सिंचित है।

क्षेत्रफल[संपादित करें]

फैसलाबाद का कुल क्षेत्रफल ५,८५६ वर्ग किलोमिटर है, जिस में से ८३० वर्ग किलोमिटर पर फैसलाबाद शहर स्थापित है।

मौसम व जलवायु[संपादित करें]

जिला फैसलाबाद की आब व हवा दो अंतहाऊं को छोती हे। गृष्म में अधिकतम तापक्रम ५० सेंटीग्रेड (१२२ फरेनहाइट) तक जा पहुंचता है और सर्दी में कभी कभार तापक्रम ० डि से तक गिर जाता है। यहां का औसत तापक्रम गृष्म में ३९ से२७ सेंटिग्रेड और सर्दी में २१ से ६ सेंटिग्रेड के बीच रहता हे।

तापक्रम (१९४८-२००६) जन फर मा अप्रै मई जुन जुला अग सित अक्टू नव दिस वार्षिक
सबसे अधिकतम (°C) 19.4 22.4 27.4 34.2 39.7 41.0 37.7 36.5 36.6 33.9 28.2 22.1 31.6
सबसे न्युनतम (°C) 4.8 7.6 12.6 18.3 24.1 27.6 27.9 27.2 24.5 17.7 10.4 6.1 17.4

गृष्म मौसम[संपादित करें]

गृष्म मौसम अप्रिल से शुरु हो कर अक्टोबर तक ख़तम होता है। मई, जुन और जुलाई के महेनों में गरम मोसम होता हे।

सर्दी मौसम[संपादित करें]

सर्दी का मौसम के शुरुवात माह नोभम्बर में होता हे, जो मार्च तक जारी रहता है। दिसमबर और जनवरी सब से ठंडे महिने होते हें।

जनसंख्या[संपादित करें]

जनसंख्या के हिसाब से फैसलाबाद पाकिस्तान का तिसरा बड़ा शहर हे। संाती शहर होने की वजा से इस की आबादी दन बदन बढ़ती चली जा रही हे। बेशमार लोगों ने ज़ंदगी की बहतर सहोलयात की तलाश में देहात छोड़ कर शहर की तरफ़ हजरत की ओर यह सलसला अभी तक जारी हे। यह नगरका जनसंख्या १९,८६,००० है। १९९८इ की जनगणना अनुसार इस नगर के ४६ प्रतिशत १५ वर्ष से कम उम्र, ५२ प्रतिशत १५ से ६४ साल की उम्र में ओर बाक़ी २ प्रतिशत ६५ साल से ज्यादा उम्र के है। आबादी का तनासब फ़ी मरबा कलोमेटर ९,५९४ हे।

१९६१इ में इस स्थान का जनसंख्या ४,३०,००० थी, जो १९७२इ तक बढ़ कर८,३०,००० को जा पहंची और १९८१इ में यहां ११,००,००० से ज्यादा जनसंख्या था। २००६इ में जनसंख्या ४५,८२,१७५ नफ़ोस पर मशतमल थी। ४७ सालों में फ़ेसल आबाद की जनसंख्या एक हज़ार गुणा ज्यादा हो चका हे, जिस की वार्षिक वृद्धि २१.३ प्रतिशत है। जनसंख्या के ऐसी तेज़ी वृद्धि के कारण ही कराची और लाहोर के बाद यह नगर पाकिस्तान का सब से बड़ा शहर बन गया है।

प्रशासन[संपादित करें]

Faisalabad Admin.PNG

२००५इ में पाकिस्तान के दुसरे बड़े शहरों के तरह इस नगर में भी ८ अटोनोमस टाउन युक्त सिटी-डिस्ट्रिक्ट बनाया गया। इस के अटोनोमस टाउन इस प्रकार है

  1. लाएलपुर टाउन
  2. मदेना टाउन
  3. जिन्नाह टाउन
  4. इकबाल टाउन
  5. चक झमरा टाउन
  6. जडानवाला टाउन
  7. समंदरी टाउन
  8. तांदलयानवाला टाउन

शिक्षा[संपादित करें]

ज़राी योनेवरसटी, फ़ेसल आबादमशहोरि ज़माना ज़राी योनेवरसटी ओर अयोब ज़राी तहक़ेक़ी अदारा की वजा से यह शहर पाकसतान भर में नमायां अहमेत का हामल हे। ज़राी योनेवरसटी का स्थापना १९०८इ में पंजाब ज़राी कालज के नाम से हुआ था। फ़ेसलाबाद को एक समय में साएंसदानों का शहर भी कहा जाता था, क्युंकि इस नगर में पाकिस्तान के किसी भी दुसरे शहर से ज्यादा जनसंख्या में विज्ञान में विद्यावारिधि युक्त विज्ञ रहते थे। सरफ़ ज़राी योनेवरसटी में २०० से ज्यादा विद्यावारिधियुक्त वैज्ञानिक उपलब्ध है। इसी तरह अयोब ज़राी तहक़ेक़ाती अदारे, नेवकलेएर अंसटेटेवट आफ़ ज़राी बाएवटेकनालोजी और नेवकलेएर हयातयाती व जेनयाती अंजेंएरंग अंसटेटेवट में भी सेकड़ों वैज्ञानिक अपनी पेशा अनुसार के काम कर रहे है।

फैसलाबाद में बहुत शैक्षिक संस्था स्थापित है। इनमें से कुछ इस प्रकार है:

विश्वविद्यालय[संपादित करें]

  • ज़राी योनेवरसटे
  • नेशंल टेकसटाएल योनेवरसटे
  • गोरंमंट कालज योनेवरसटे
  • हमदरद योनेवरसटे
  • योनेवरसटी आफ़ फ़ेसल आबाद
  • नेशंल योनेवरसटी आफ़ माडरन लेंगोएजज़) नमल(
  • योनेवरसटी आफ़ अंजेंएरंग एंड टेकनालोजे
  • परसटन योनेवरसटे
  • अंडपंडंट मेडेकल योनेवरसटे
  • एजोकेशन योनेवरसटे

कलेज[संपादित करें]

  • पंजाब मेडेकल कालज, सरगोधा रोड
  • फ़ेसल आबाद मेडेकल कालज
  • गोरंमंट डगरी कालज, जड़ानवाला रोड
  • गोरंमंट असलामय कालज, सरगोधा रोड
  • पंजाब कालज आफ़ कामरस, बटाला कालोने
  • सपेरेएर साएंस कालज
  • पोली टेकनेकल कालज

शोध केन्द्र[संपादित करें]

  • अयोब ज़राी तहक़ेक़ारती अदारह
  • अंसटेटेवट आफ़ अंजेंएरंग एंड फ़रटेलाएज़र रेसरच
  • नेशंल अंसटेटेवट आफ़ बाएवटेकनालोजी एंड जंरल अंजेंएरंग) NIBGE(
  • नेशंल अंसटेटेवट आफ़ एगरेकलचर एंड बाएालोजी) NIAB(
  • फ़ेसल आबाद अंसटेटेवट आफ़ कारडयालोजे

स्वास्थ्य[संपादित करें]

फैसलाबा के स्वास्थ्य स्थिति पाकिस्तान के अन्य नगर के समान है। कुछ समय से सरकारी चिकित्सालयौं की अवस्था में सुधार आ रहा है।

सरकारी चिकित्सालय[संपादित करें]

  • अलाएड हसपताल, सरगोधा रोड
  • डसटरकट हेड कवारटर हसपताल
  • जंरल हसपताल
  • पंजाब सोशल सेकेवरटी हसपताल, जड़ानवाला रोड
  • फ़ेसल आबाद अंसटेटेवट आफ़ कारडयालोजे

ट्रस्ट चिकित्सालय[संपादित करें]

  • मयां टरसट हसपताल, लारी अडा
  • अज़ेज़ फ़ातमा टरसट हसपताल, गलसतान कालोने
  • राबाा टरसट हसपताल, बटाला कालोने
  • दारालसहत टरसट हसपताल
  • फ़लाह मलत टरसट हसपताल, पेपलज़ कालोने

निजी हसपताल[संपादित करें]

अलराज़ी हसपताल, बटाला कालोनेशहर में बेशमार छोटे बड़े नजी हसपताल मोजोद हें, जो मरेज़ों को नसबतान महंगे अलाज की सहोलत फ़राहम करते हें। अलावह अज़ें हर गली महले में एक आध नजी कलेंक ज़रोर मोजोद होता हे।

  • नेशंल हसपताल, जनाह कालोने
  • फ़ेसल हसपताल, पेपलज़ कालोने
  • मकी हसपताल, पेपलज़ कालोने
  • साहल हसपताल, सरगोधा रोड
  • ग़फ़ोर बशेर चलडरन हसपताल
  • वापडा हसपताल
  • मदेना टेचंग हसपताल
  • हलाल अहमर मेटरंटी हसपताल
  • अलनोर हसपताल
  • अलराज़ी हसपताल, बटाला कालोने

उद्योग[संपादित करें]

बेलायतीऔं से स्वतन्त्रता पश्चात फैसलाबाद पाकिस्तान का सब से बड़ा औद्योगिक शहर बन कर निकला है। इस का सबसे बडा धन्दा कपडे से संबंधित है। शहर और इस के आसपास के ग्रामौं में टेक्स्टाइल मिल और पावरलूम का संजाल बिछा हुआ है। संाती नेट वरक ओर पारचा बाफ़ी मसनोाअत की बदोलत असे पाकसतान का मांचसटर भी कहा जाता हे। यह पाकसतान में क़ाएम पारचा बाफ़ी संात का मरकज़ हे। क़याम पाकसतान के वक़त फ़ेसल आबाद में सरफ़ ५ संाती योंट थे, जो महज़ एक साल बाद १९४८इ में ४३ को जा पहंचे। अब यहां हज़ारों की तादाद में संाती योंट क़ाएम हें।

एक महतात अंदाज़े के मताबक़ यहां ५१२ बड़े संाती योंट, ९२ अंजेंएरंग योंट ओर ९० केमेकल योंट क़ाएम हें। अलावह अज़ें यहां१२,००० के क़रेब घरेलो संातें भी क़ाएम हें, जन में६०,००० पावर लोमज़ भी नसब हें।

कपड़े के अलावह यहां आटा, चेनी, घी, मखन, सबज़याती तेल, अदोयात, रेशम, साबन, केमयाई खादें, फ़ाएबर, केंन मसनोाअत, ज़ेवरात, घरेलो फ़रनेचर, रंगाई, कपड़े की मशेंरी, रेलवे मरमत, बाएसकल, होज़री, क़ालेन बाफ़ी, नवाड़ें, तबाआत, अशाआत, ज़राी आलात ओर लकड़ी की मसनोाअत भी पाई जाती हें।

पाकसतान का २५ फ़ेसद ज़रमबादला फ़ेसल आबाद पेदा करता हे, यों यह ज़रमबादला पेदा करने वाले शहरों में पाकसतान भर में दोसरे नमबर पर हे। पाकसतान की सब से क़देम ओर एशयाइ की सब से बड़ी ओर अकलोती ज़राी योनेवरसटी की बदोलत यह शहर एक बड़ी ज़राी मारकेट बन चका हे। फ़ेसल आबाद की बड़ी फ़सलें कपास, गंदम, गना, सबज़यां ओर फल पेदा होते हें। यहां कपड़े ओर ग़ला की होल सेल मारकेटें क़ाएम हें। यहां टेकसटाल योनेवरसटी भी क़ाएम हे जो अपनी नोाेत में पाकसतान की वाहद योनेवरसटी हे ओर फ़ेसल आबाद की संाती तरक़ी में अस योनेवरसटी का भी बड़ा हाथ हे।

घंटा घर के गरदागरद क़ाएम आठों बाज़ार मख़तलफ़ क़सम की मारकेटेवं पर मशतमल हें, जो शहर की संाती व तजारती अफ़ज़ाएश में अहम करदार अदा करते हें। पराएवेट सेकटर की शमोलेत से शहर की तरक़ी में बहतरी अमल में आई हे। संाती तरक़ी में दरमयाने तबक़े की शमोलेत अंतहाई अहम हे।

ड्राइ पॉर्ट[संपादित करें]

फ़ेसल आबाद में ख़शक गोदी भी क़ाएम हे, जस का हजम ६० मेटरक टन कारगो योमय हे। अस गोदी के लए मख़सोस सड़कों ओर रेलवे असटेशन का अंतज़ाम भी हे, जस के ज़रेाे वुह लाहोर, असलाम आबाद, पशावर ओर कराची के साथ बराह रासत राबते में रहती हे। फ़ेसल आबाद का बरआमदी कारगो हर साल पहले से बढ़ रहा हे।

परिवहन[संपादित करें]

शहर में सफ़र की मनासब सहोलतें मेसर हें ओर शहर के बड़े हसों को मलाने वाली सड़कों की हालत बहतरेन हे।

शाहरात[संपादित करें]

पाकसतान के मरोजा नज़ाम शाहरात के तहत क़ाएम बेन अलाज़लाआी शाहरात के ज़रेाे यह शहर सरगोधा, झंग, समंदरी, ओकाड़ा, जड़ानवाला ओर शेख़ोपोरा के साथ मतसल हे। फ़ेसल आबाद को शेख़ोपोरा के रासते लाहोर से मलाने के लए एकसपरेस हाई वे मोजोद हे।

मोटरवे[संपादित करें]

फैसलाबाद के सरगोधा रोड से नकल्ने वाली मोटरवे (एम३)पंडी भटयां में लाहोर और इस्लामाबाद को मिलाने वाली मोटरवे (एम२)से जुडती है। फैसलाबाद और मुल्तान के जोडने वाली मोटर वे (एम४) अभी निर्माणाधीन है।

रेलवे स्टेसन[संपादित करें]

फैसलाबाद का रेलवे स्टेसन १९वी शताब्दी में निर्माण किया गया था। इस स्टेसन से पाकिस्तान बड़े शहरों कराची, लाहोर, इस्लामाबाद, कोएटा, पेशावर व मुल्तान के लिए रेल गाडियां निकलती है।

हवाई अड्डा[संपादित करें]

शहर से १५ कलोमेटर की दूरी पर झंग रोड पर बेन अलाक़वामी फ़ेसल आबाद हवाई अडा स्थित है। इस विमानस्थल से पाकिस्तान के राष्ट्रिय विमान कम्पनी पी आई ए एवं निजी कंपनी के जहाज़ अपने सेवा उपलब्ध कराते है।

क़ाबलि देद मक़ामात[संपादित करें]

चनाब कलब, फ़ेसल आबादफ़ेसल आबाद में अवामी दलचसपी के बहत से मक़ामात हें, जन में अहम तामेरात, असटेडेम, अवामी बाग़ात ओर तफ़रेही मक़ामात शामल हें।

घंटा घर[संपादित करें]

शहर के मरकज़ में वाक़ा घंटा घर फ़ेसल आबाद की सब से अहम तारेख़ी अमारत हे।

गमटी + क़ेसरी दरवाज़ह[संपादित करें]

रेल बाज़ार की बेरोनी समत वाक़ा क़ेसरी दरवाज़ा ओर अस के बाहर चोक में वाक़ा बारा दरी जेसी मख़तसर अमारत गमटी कहलाती हे, जस के गरद टरेफ़क का गोल चकर मोजोद हे। यहां से एक सड़क चनाब कलब को नकल जाती हे। क़ेसरी दरवाज़े की तामेर १८९७इ को मकमल होई। सन तामेर दरवाज़े के ओपर नमायां लखा हे।

चनाब कलब[संपादित करें]

चनाब कलब फ़ेसल आबाद का एक अहम तारेख़ी कमेवंटी संटर हे।

तफ़रेही मक़ामात[संपादित करें]

  • जनाह बाग़, फ़ेसल आबादजनाह बाग़ (कमपनी बाग़)
  • डी गराऊंड
  • पहाड़ी गराऊंड
  • हसेब शहेद पारक
  • फ़न लेंड (बचों के लए आओट डोर अलेकटरक खेलें)
  • संदबाद (बचों के लए अन डोर अलेकटरक खेलें)

मुख्य रहाएशी क्षेत्र[संपादित करें]

  • ग़लाम महमद आबाद
  • समन आबाद
  • नशात आबाद
  • तारक़ आबाद
  • पेपलज़ कालोने
  • बटाला कालोने
  • गलसतान कालोने
  • गलफ़शां कालोने
  • मदेना टाऊं
  • जनाह टाऊं
  • अमेन टाऊं
  • सटलाएट टाऊं
  • डगलस पोरह
  • हरचरन पोरह
  • वारस पोरह
  • बरकत पोरह

मुख्य बाजार[संपादित करें]

  • रपल पलाज़ा, डी गराऊंड, फ़ेसल आबादआठ बाज़ार
  • सबज़ी मंडे
  • मेटरो केश एंड केरे
  • असटेट लाएफ़ बिल्डिंग (शहर का सबसे उंचा भवन)
  • बरज शापंग माल
  • पेराडाएज़ अन शापंग माल
  • सटी शापंग माल
  • दोबई शापंग माल
  • टाएम सकवाएर शापंग माल
  • सतारा माल
  • सतारा सपना सटे
  • झाल ख़ानवआना, सतयाना रोड
  • रेकस सटी (कमपेवटर मारकेट), सतयाना रोड
  • रहमन सटी, सतयाना रोड
  • रपल पलाज़ा, डी गराऊंड
  • ख़ान पलाज़ा, हरयानवाला चोक
  • चन वन, पेपलज़ कालोने
  • कोह नोर वन शापंग माल, जड़ानवाला रोड
  • मेडया कोम शापंग माल
  • मेडया कोम टरेड सटे
  • संटर पवाएंट

मसाजद[संपादित करें]

  • जामा मसजद सनी रज़वी मा मज़ार मोलाना सरदार अहमद, झंग बाज़ार फ़ेसल आबादजामा मसजद सनी रज़वी, झंग रोड
  • जामा मसजद ख़ज़राइ, पेपलज़ कालोने
  • जामा मसजद मदनी, समन आबाद
  • जामा मसजद मदनी, बटाला कालोने

मज़ारात[संपादित करें]

  • मज़ार सोफ़ी बरकत अली लधयानवी, समंदरी रोड
  • मज़ार मोलाना सरदार अहमद, बेरोन झंग बाज़ार
  • लसोड़ी शाह, बेरोन झंग बाज़ार
  • दरबार ग़ोसय, पेपलज़ कालोने

देनी मदारस[संपादित करें]

  • दारालालोम नोरय रज़वेह, फ़ेसल आबाद: अलामा सेद हदायत रसोल शाह क़ादरी की ज़ेरसरपरसती, फ़ेसल आबाद गलबरग ए में वाक़ा अज़ेम दरसगाह
  • जामाा असलामय अमदादय, फ़ेसल आबाद: रमज़ान १४०३ ह बमताबक़ १९८३इ - शेख़ अलहदेस मोलाना नज़ेर अहमद ने अपने शेख़ व मरशद आरफ़ बालला हज़रत डाकटर अबदालही आरफ़ी की सरपरसती में क़ाएम फ़रमाया।
  • जामाा दारालालोम: फ़वारा चोक पेपलज़ कालोनी में क़ाएम दारालालोम
  • जामाा दारालक़रआन: आफ़ेसरकालोनी अक़ब करेसंट टेकसटायल मलज़ सरगोधा रोड पर वाक़ा

भोजन स्थल[संपादित करें]

  • मकडोंलडज़, फ़ेसल आबादमेकडोंलडज़, सतयाना रोड
  • के एफ़ सी, डी गराऊंड
  • ए एफ़ सी, हरयानवाला चोक पेपलज़ कालोने
  • पज़ा हट

होटल[संपादित करें]

  • फ़ेसल आबाद सरेना होटल, कलब रोड
  • दी डेंसटी होटल, जड़ानवाला रोड
  • होटल लारडज़ अन, पेपलज़ कालोने
  • होटल वन, पेपलज़ कालोनी नमबर १, हरयानवाला चोक
  • रपल होटल, रपल पलाज़ा, डी गराऊंड
  • डी परल कांटेंंटल, डी गराऊंड
  • हाली डे अन, डी गराऊंड
  • ख़याम गारडन, सतयाना रोड
  • रेकस होटल, सतयाना रोड
  • सांदल बार होटल, सतयाना रोड
  • माराज होटल, बटाला कालोनी, सतयाना रोड
  • परल कांटेंंटल होटल, कशमेर पल, मशरक़ी केनाल रोड
  • लाएलपोर जमख़ाना, मग़रबी केनाल रोड
  • अलबराक़ होटल, रेलवे रोड
  • पराएम होटल, कोतवाली रोड
  • रेज़ होटल, कोतवाली रोड
  • गरेस होटल, सरकलर रोड, चनेवट बाज़ार
  • सटी होटल, अमें पोर बाज़ार
  • सबेना होटल, परेस मारकेट
  • होटल एसट अन, शेख़ोपोरा रोड
  • नेशंल होटल, सरगोधा रोड

खेल[संपादित करें]

  • अक़बाल असटेडेम, फ़ेसल आबादाक़बाल असटेडेम, करकट असटेडेम
  • फ़ेसल आबाद हाकी असटडेम

सेंमा[संपादित करें]

  • मंरवा सेंमा
  • बाबर सेंमा
  • नगेना सेंमा
  • सबेना सेंमा
  • नशात सेंमा

मिडिया[संपादित करें]

अख़बारात[संपादित करें]

  • रोज़नामा एकसपरेस
  • रोज़नामा असास
  • रोज़नामा डेली रपोरट (शाम का पहला अख़बार)

आकाशवाणी[संपादित करें]

  • फ़ेसल आबाद रेडेव (सरकारी)
  • एफ़ एम रेडेव १०१ (निजी)
  • एफ़ एम रेडेव १०३ (निजी)

चलचित्र\नाटक[संपादित करें]

  • अज़ेज़ी असटोडेव - अंगरेज़ी फ़लमों को मज़ाहय पंजाबी तरजमा के साथ पेश करने वाला पाकसतान का सब से मंफ़रद असटोडेव

प्रसिद्ध व्यक्तित्त्व[संपादित करें]

फैसलाबाद के प्रसिद्ध व्यक्तित्त्व इस प्रकार है

देनी शख़सयात[संपादित करें]

  • सोफ़ी बरकत अली लधयानवी) अज़ेम सोफ़ी बज़रग, दारालाहसान वाले(
  • मोलाना सरदार अहमद) मारोफ़ आलम देन(
  • अबदालसतार नयाज़ी) नात गो शाआर(
  • मोलानाज़ेन अलाअबदेन) रहम्ह अल्लाह() मारोफ़ आलम देन( दारलालोम फ़ेसलआबादवाले
  • मोलाना नज़ेराहमद) रहम्ह अल्लाह() मारोफ़ आलम देन( जामाा अमदादेहफ़ेसलआबाद वाले
  • मोलाना ज़याइअलक़ासमी) रहम्ह अल्लाह() मारोफ़ आलम देन( ग़लाम महमदआबाद) गोल मसजद( वाले

ऐतिहासिक व्यक्तित्त्व[संपादित करें]

  • भगत सिंह (भारतीय स्वतन्त्रता संग्राम के शहीद)
  • मरज़ा जट (पंजाबी प्रेम कहानी का हेरो)

सरकारी व्यक्तित्त्व[संपादित करें]

  • कलेम साअदत (साबक़ सरबराह पाक फ़ज़ाएह)
  • लेफ़टेंनेट जंरल सर जेमज़ बी लाएल (अंगरेज़ दोर में राज्यपाल पंजाब)
  • ख़ालद मक़बोल (परवेज़ मशरफ़ दोर में राज्यपालर पंजाब)
  • मदन लाल खुराना(रकन बी जे पी, साबक़ वज़ेर आली, दहली)
  • राशद अकरम चठा(पंजाब एसेम्ब्ली)
  • शमेम अहमद (साबक़ा डेपुटी सपेकर क़ोमी एसमबली)

खिलाडी[संपादित करें]

  • शहबाज़ अहमद (पाकिस्तानी राष्ट्रिय हाकी टिम)
  • शाहद नज़ेर (पाकिस्तानी राष्ट्रिय क्रिकेट टिम)
  • रमेज़ राजा (पाकिस्तानी राष्ट्रिय क्रिकेट टिम)
  • मलखा संख (भारतीय राष्ट्रिय एथलिट)

क़वाल[संपादित करें]

  • नसरत फ़तह अली ख़ांंसरत फ़तह अली ख़ान) मशहोर ज़माना क़वाल व मोसेक़ार(
  • क़ारी महमद साेद चशती) क़वाल(
  • राहत फ़तह अली ख़ान) क़वाल व मोसेक़ार(

गलोकार[संपादित करें]

  • अबरार अलहक़ (पंजाबी भंगड़ा गलोकार)
  • अमांत अली (नोामर गलोकार)

चलचित्रकर्मी[संपादित करें]

  • राज कपुर (भारतीय चलचित्र के अभिनेता, निर्माता, निर्देदेशक)
  • रेशम (पाकसतानी फ़लम अदाकारा)
  • माला (उर्दू व पंजाबी चलचित्र की अभिनेत्री)

कवि[संपादित करें]

  • नाज़ ख़यालवे
  • वहेद अहमद) अरदो शाआर व नावल नगार(
  • संदर संघ लाएलपोरे

उद्योगपति[संपादित करें]

  • मयां महमद मंशाइ (चेएरमेन मसलम कमरशल बेंक लमेटड + पाकसतान का अमेरतरेन व्यक्ति)
  • मयां मख़तार (चेएरमेन अलाएड बेंक लमेटड + अबराहेम गरोप)

टीका[संपादित करें]

</references>

देखें[संपादित करें]