प्रीमियर लीग

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Premier League
128px
देश Flag of England.svg इंग्लैण्ड
अन्य क्लब Flag of Wales 2.svg वेल्स
कॉन्फ़ेडरेशन युइएफए
स्थापित 20 फरवरी 1992
टीमों की संख्या 20
पिरामिड पर स्तरों 1
निर्वासन फुटबॉल लीग चैम्पियनशिप
घरेलू कप एफए कप
एफए कम्युनिटी शील्ड
लीग कप लीग कप
अंतर्राष्ट्रीय कप यूईएफए चैंपियंस लीग
यूईएफए यूरोपा लीग
वर्तमान चैंपियन मैनचेस्टर यूनाइटेड (13th title)
(2012–13)
अधिकांश चैंपियनशिप मैनचेस्टर यूनाइटेड (13 titles)
टीवी भागीदारों स्काई स्पोर्ट्स & बीटी स्पोर्ट (live matches)
स्काई स्पोर्ट्स & बीबीसी (highlights)
वेबसाइट PremierLeague.com
2013–14 Premier League

प्रीमियर लीग (Premier League) एसोसिएशन फुटबॉल क्लबों का एक इंग्लिश पेशेवर लीग है. इंग्लिश फुटबॉल लीग सिस्टम के शीर्ष पर यह देश का प्राथमिक फुटबॉल प्रतियोगिता है. 20 क्लबों द्वारा प्रतिस्पर्धित इस लीग का संचालन द फुटबॉल लीग के साथ संवर्धन और निर्वासन की एक प्रणाली पर होता है. प्रीमियर लीग एक ऐसा निगम है जिसमें 20 सदस्य क्लब शेयरधारकों के रूप में काम करते हैं. सत्रों का आयोजन अगस्त से मई तक होता है जिसमें प्रत्येक टीम 38 गेम खेलती है जिससे सत्र में गेम की कुल संख्या 380 हो जाती है. अधिकांश गेम शनिवार और रविवार के दिन खेले जाते हैं और कुछ गेम कार्यदिवस की शाम को खेले जाते हैं. इसे बार्क्लेज़ बैंक प्रायोजित करते हैं और इसलिए इसे आधिकारिक तौर पर बार्क्लेज़ प्रीमियर लीग के रूप में जाना जाता है.

वास्तव में 1888 में स्थापित द फुटबॉल लीग से अलग होने, और एक आकर्षक टेलीविज़न अधिकारों सौदे का लाभ उठाने के उद्देश्य से फुटबॉल लीग फर्स्ट डिवीज़न के क्लबों के फैसले का पालन करते हुए 20 फरवरी 1992 को FA प्रीमियर लीग के रूप में इस प्रतियोगिता की नींव रखी गई. उसके बाद से प्रीमियर लीग दुनिया का सबसे ज्यादा देखा जाने वाला स्पोर्टिंग लीग बन गया है.[1] यह दुनिया का सबसे आकर्षक फुटबॉल लीग है जिसका संयुक्त क्लब राजस्व 2007–08 में £1.93 बिलियन ($3.15bn) था.[2] इसे गत पांच वर्षों में यूरोपीय प्रतियोगिताओं में इसके प्रदर्शन के आधार पर लीगों के UEFA गुणांकों या आंकड़ों की सूची में प्रथम स्थान भी प्रदान किया गया है, इसके बाद स्पेन के ला लिगा और इटली के सेरी A का नाम आता है.[3]

21 अप्रैल 2010 को महारानी साहिबा क्वीन एलिज़ाबेथ II ने प्रीमियर लीग को इंटरनैशनल ट्रेड की श्रेणी में क्वींस अवार्ड फॉर एंटरप्राइज़ से पुरस्कृत किया.[4] इंग्लिश फुटबॉल और यूनाइटेड किंगडम के प्रसारण उद्योग के अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और मूल्य में उत्कृष्ट योगदान के लिए प्रीमियर लीग का सम्मान किया जाता था.इंटरनैशनल ट्रेड अवार्ड 2007 से 2009 तक लगातार तीन बार 12 महीनों की अवधि में विदेशी आय में पर्याप्त वृद्धि और उत्कृष्ट स्तर की वाणिज्यिक सफलता का सम्मान करता है.

कुल मिलाकर 43 क्लबों ने प्रीमियर लीग की प्रतियोगिता में भाग लिया है, लेकिन उनमें से केवल चार: आर्सेनल, ब्लैकबर्न रोवर्स, चेल्सी, और मैनचेस्टर यूनाइटेड ने ही ख़िताब हासिल किया है. प्रीमियर लीग का मौजूदा चैम्पियन मैनचेस्टर यूनाइटेड है जिसने 2008-09 सत्र में अपना ग्यारहवां प्रीमियर लीग ख़िताब जीतकर सबसे अधिक प्रीमियर लीग ख़िताब प्राप्त करने वाले एकमात्र प्रीमियर लीग टीम बनने का गौरव प्राप्त किया.

इतिहास[संपादित करें]

उद्गम[संपादित करें]

1970 के दशक में और 1980 के दशक के आरम्भ में महत्वपूर्ण यूरोपीय सफलता हासिल करने के बावजूद 80 के दशक के अंत में इंग्लिश फुटबॉल पर कम अंक पाने वाले टीम का दाग लग गया था. 1985 में हेसल में घटी घटनाओं के बाद स्टेडियमों की हालत बिगड़ती जा रही थी, समर्थकों को भी बुरे हालातों से गुजरना पड़ रहा था, गुंडागर्दी का बोलबाला था, और इंग्लिश क्लबों पर पांच साल तक यूरोपीय प्रतियोगिता में भाग लेने पर प्रतिबन्ध था.[5] 1888 के बाद से शीर्ष स्तर के इंग्लिश फुटबॉल के रूप में प्रतिष्ठित फुटबॉल लीग फर्स्ट डिवीज़न उपस्थिति और राजस्व के मामले में इटली के सेरी A और स्पेन के ला लिगा जैसे लीगों से काफी पीछे था और कई शीर्ष इंग्लिश खिलाड़ी विदेश चले गए थे.[6] हालांकि, 1990 के दशक की बारी आने पर अधोन्मुख प्रवृत्ति में विपरीत बदलाव आना शुरू हो गया था; 1990 के FIFA वर्ल्ड कप में इंग्लैण्ड ने सेमी-फाइनल तक पहुंचने में सफलता हासिल की. यूरोपीय फुटबॉल के शासी निकाय, UEFA ने 1990 में यूरोपीय प्रतियोगिताओं में खेलने के लिए इंग्लिश क्लबों पर लगे पंच-वर्षीय प्रतिबन्ध को हटा दिया (जिसके परिणामस्वरूप मैनचेस्टर यूनाइटेड ने 1991 में UEFA कप विनर्स का कप हासिल कर लिया) और उसी वर्ष जनवरी में टेलर रिपोर्ट को प्रकाशित किया गया जिसमें हिल्सबरो आपदा के दुष्परिणामों को देखते हुए सभी लोगों के लिए बैठने की सुविधा वाले स्टेडियमों के निर्माण करने के महंगे सुधार का प्रस्ताव रखा गया था.[7]

टेलीविज़न से मिलने वाला पैसा भी बहुत ज्यादा मायने रखता था; फुटबॉल लीग को 1986 में एक द्विवर्षीय समझौते के लिए £6.3 मिलियन मिला, लेकिन जब 1988 में उस सौदे का नवीनीकरण किया गया, चार साल में इसकी कीमत बढ़कर £44m हो गई.[8] 1988 की वार्ता एक पृथकतावादी लीग का पहला संकेत था; दस क्लबों ने इसे छोड़कर एक "सुपर लीग" की स्थापना करने की धमकी दी, लेकिन अंत में वे ठहरने पर राज़ी हो गए.[9] जैसे ही स्टेडियमों में सुधार हुआ और मैच की उपस्थिति एवं राजस्व में वृद्धि हुई, देश की शीर्ष टीमों ने स्पोर्ट में लगाए जा रहे पैसे के बढ़ते प्रवाह का लाभ उठाने के उद्देश्य से एक बार फिर से फुटबॉल लीग छोड़ने पर विचार किया.

Further information:
English football champions

नींव[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: Foundation of the Premier League

1991 के सत्र के समापन पर एक नए लीग की स्थापना का प्रस्ताव रखा गया जो सम्पूर्ण खेल में अधिक पैसा लाएगा. फाउंडर मेम्बर्स एग्रीमेंट, जिस पर 17 जुलाई 1991 को गेम के शीर्षस्थ क्लबों ने हस्ताक्षर किया, ने FA प्रीमियर लीग की स्थापना के लिए बुनियादी सिद्धांतों की स्थापना की.[10] नवगठित शीर्ष प्रभाग के पास फुटबॉल एसोसिएशन और फुटबॉल लीग की वाणिज्यिक स्वतंत्रता होगी जो FA प्रीमियर लीग को अपने खुद के प्रसारण और प्रायोजन सम्बन्धी समझौतों पर बातचीत करने का लाइसेंस प्रदान करेगा. उस समय यह तर्क दिया गया था कि इससे प्राप्त होने वाले अतिरिक्त आय की मदद से इंग्लिश क्लब पूरे यूरोप की टीमों से प्रतिस्पर्धा करने में समर्थ होंगे.[11]

1992 में फर्स्ट डिवीज़न क्लबों ने एक साथ (en masse) फुटबॉल लीग से इस्तीफ़ा दे दिया और 27 मई 1992 को एक लिमिटेड कंपनी के रूप में FA प्रीमियर लीग की नींव रखी गई जिसका कार्य-संचालन लंकास्टर गेट में फुटबॉल एसोसिएशन के तत्कालीन मुख्यालयों के एक कार्यालय से होता था.[6] इसने 104-वर्षीय फुटबॉल लीग के एक सम्बन्ध-विच्छेद को जन्म दिया जिसने तब तक चार प्रभागों का संचालन किया था; प्रीमियर लीग केवल एक प्रभाग के साथ और फुटबॉल लीग तीन प्रभागों के साथ अपना कार्य-संचालन करेंगे. प्रतियोगिता के प्रारूप में कोई परिवर्तन नहीं हुआ; शीर्षस्थ क्लबों के तहत उसी संख्या में टीमों ने प्रतिस्पर्धा की, और प्रीमियर लीग एवं नवीन फर्स्ट डिवीज़न के बीच के संवर्धन और निर्वासन पुराने फर्स्ट एवं सेकंड डिवीज़नों के बीच के संवर्धन और निर्वासन की तरह उन्हीं शर्तों पर कायम रहे.

नवीन प्रीमियर लीग का उद्घाटन करने वाले 22 सदस्य - आर्सेनल, एस्टन विला, ब्लैकबर्न रोवर्स, चेल्सी, कॉवेंट्री सिटि, क्रिस्टल पैलेस, एवर्टन, इप्सविच टाउन, लीड्स यूनाइटेड, लिवरपूल, मैनचेस्टर सिटि, मैनचेस्टर यूनाइटेड, मिडल्सबरो, नॉर्विच सिटि, नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट, ओल्डहम एथलेटिक, क्वींस पार्क रेंजर्स, शेफफील्ड वेन्ज़्डे, साउथैम्पटन, टॉटनहम हॉटस्पर, और विम्बलडन थे.

स्थापना[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: List of Premier League seasons

2008-09 के सत्र के समापन तक प्रीमियर लीग के 17 सत्र पूरे हो चुके थे. लीग के प्रथम सत्र का आयोजन 1992-93 में हुआ था और इसमें वास्तव में 22 क्लब शामिल थे. प्रीमियर लीग का सबसे पहला गोल शेफफील्ड यूनाइटेड के ब्रायन डीन ने किया था. इस मैच में उनकी टीम ने मैनचेस्टर यूनाइटेड के खिलाफ 2–1 से जीत हासिल की थी. फुटबॉल के अंतर्राष्ट्रीय शासी निकाय, FIFA द्वारा घरेलू लीगों के समक्ष क्लबों द्वारा खेले जाने वाले गेमों की संख्या में कटौती करने के आग्रह पर 1995 में क्लबों की संख्या घटाकर 20 कर दी गई जब लीग से चार टीमों का निर्वासन और केवल दो टीमों का संवर्धन हुआ. 8 जून 2006 को FIFA ने अनुरोध किया कि 2007-08 के सत्र के आरम्भ तक इटली के सेरी A और स्पेन के ला लिगा सहित सभी प्रमुख यूरोपीय लीगों में टीमों की संख्या घटाकर 18 कर दी जाए. प्रीमियर लीग ने जवाब में ऐसे किसी कटौती का विरोध करने के अपने इरादे की घोषणा की.[12] अंत में 2007-08 के सत्र का आरम्भ एक बार फिर से 20 टीमों के साथ ही हुआ. लीग ने 2007 में अपना नाम FA प्रीमियर लीग से बदलकर केवल प्रीमियर लीग रख लिया.[13]

कॉर्पोरेट संरचना[संपादित करें]

प्रीमियर लीग का संचालन एक निगम के रूप में किया जाता है और इस पर 20 सदस्य क्लबों का स्वामित्व है. प्रत्येक क्लब एक शेयरधारक है और साथ में प्रत्येक के पास नियम परिवर्तन और अनुबंधों जैसे प्रत्येक मुद्दे पर अपना मत देने का अधिकार है. लीग के दैनिक संचालनों की देखभाल करने के लिए ये क्लब एक अध्यक्ष, मुख्य कार्यकारिणी, और निर्देशक मंडली (बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स) का चुनाव करते हैं.[14] फुटबॉल एसोसिएशन, प्रीमियर लीग के दैनिक संचालनों में प्रत्यक्ष रूप से शामिल नहीं है, लेकिन अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारिणी के चुनाव के दौरान और लीग द्वारा नए नियमों को अपनाने के समय इसके पास एक विशेष शेयरधारक के रूप में वीटो पॉवर (निषेधाधिकार शक्ति) होता है.[15]

प्रीमियर लीग UEFA के यूरोपियन क्लब फोरम, क्लबों की संख्या और UEFA के गुणांकों या आंकड़ों के अनुसार खुद के लिए चुने गए क्लबों के पास प्रतिनिधियों को भेजता है. यूरोपियन क्लब फोरम पर UEFA के क्लब कम्पीटीशंस कमिटी के तीन सदस्यों के चुनाव का दायित्व होता है, जो चैम्पियंस लीग और UEFA यूरोपा लीग जैसी UEFA प्रतितियोगिताओं के संचालन में अंतर्भुक्त होता है.[16]

प्रतियोगिता का प्रारूप और प्रायोजन[संपादित करें]

प्रतियोगिता[संपादित करें]

प्रीमियर लीग में 20 क्लब हैं. एक सत्र की अवधि के दौरान (अगस्त से मई तक) प्रत्येक क्लब अन्य क्लबों के साथ दो बार (एक डबल राउंड रोबिन प्रणाली) - एक बार अपने घरेलू स्टेडियम में और एक बार अपने प्रतिद्वंद्वी के स्टेडियम में - खेलता है अर्थात् कुल मिलाकर 38 गेम खेलता है. टीमों को एक जीत के लिए तीन अंक और एक ड्रॉ के लिए एक अंक प्राप्त होते हैं. हार के लिए कोई अंक नहीं दिया जाता है. टीमों को कुल अंकों, उसके बाद गोल अंतर, और उसके बाद बनाए गए गोल के आधार पर श्रेणीत किया जाता है. प्रत्येक सत्र के अंत में, सबसे अधिक अंकों वाले क्लब को चैंपियन का ताज पहनाया जाता है. यदि अंक बराबर हो, तो गोल अंतर और उसके बाद किए गए गोल के आधार पर विजेता का निर्धारण होता है. यदि अभी भी बराबर हो, तो टीमों को एक ही स्थान प्राप्त करने का हक़दार समझा जाता है. यदि अन्य प्रतियोगिताओं के चैम्पियनशिप के लिए, निर्वासन के लिए, या योग्यता के लिए कोई टाई या बराबरी हो, तो एक तटस्थ स्थल पर एक भिड़ंत से ही पद या श्रेणी का निर्णय होता है.[17] सबसे नीचे स्थान पाने वाले तीन टीमों को फुटबॉल लीग चैम्पियनशिप से निर्वासित कर दिया जाता है और चैम्पियनशिप में तीन से छः के बीच स्थान पाने वाले क्लबों की भिड़ंत (प्ले-ऑफ अर्थात् वह खेल जो पद या श्रेणी का निर्धारण करता हो) के विजेता के साथ चैम्पियनशिप की शीर्ष दो टीमों को उनके स्थान से संवर्धन या प्रोन्नति प्राप्त होती है.[18]

यूरोपीय प्रतियोगिताओं के लिए योग्यता[संपादित करें]

2009-10 के सत्र तक UEFA चैम्पियंस लीग के लिए योग्यता में परिवर्तन हुआ है जिसके तहत प्रीमियर लीग की शीर्ष चार टीमें UEFA चैम्पियंस लीग के लिए योग्यता या अहर्ता प्राप्त करती हैं जिसमें से शीर्ष तीन टीमों को समूह चरण में प्रत्यक्ष रूप से प्रवेश मिलता है. पहले केवल शीर्ष दो टीमें ही स्वतः अहर्ता प्राप्त करती थीं. चौथा स्थान पाने वाली टीम गैर-चैम्पियंस के लिए भिड़ंत चक्कर में चैम्पियंस लीग में प्रवेश करती है और समूह चरण में प्रवेश करने के लिए उसे दो पड़ाव वाले एक नॉकआउट टाई (स्पर्धारोधन बराबरी) में जीत हासिल करनी पड़ती है.[19] प्रीमियर लीग में पांचवां स्थान पाने वाली टीम अपने आप UEFA यूरोपा लीग के लिए योग्यता प्राप्त कर लेती है, और छठवां और सातवां स्थान पाने वाली टीमें भी योग्यता प्राप्त कर सकती हैं, जो दो घरेलू कप प्रतियोगिताओं के विजेताओं पर निर्भर करता है. यदि कप विजेताओं में से एक अपने लीग स्थिति के माध्यम से यूरोप के लिए योग्यता प्राप्त करती हैं, तो प्रीमियर लीग में छठवां स्थान पाने वाली टीम यूरोपा लीग के लिए योग्यता प्राप्त कर लेगी. यदि दोनों कप विजेता अपने लीग स्थिति के माध्यम से चैम्पियन लीग के लिए योग्यता प्राप्त करते हैं, तो प्रीमियर लीग में छठवां और सातवां स्थान पाने वाली टीम यूरोपा लीग के लिए योग्यता प्राप्त करेगी. यदि कोई भी घरेलू कप प्रतियोगिता शीर्ष 4 लीग स्थिति के बाहर की टीमों के बीच लड़ी जाती है, दो विजेता टीम अपने फाइनल लीग स्थिति की परवाह किए बिना UEFA यूरोपा लीग के लिए अपने आप योग्यता प्राप्त कर लेगी. UEFA यूरोपा लीग में एक और जगह फेयर प्ले की पहल के माध्यम से भी उपलब्ध है. यदि प्रीमियर लीग में यूरोप के फेयर प्ले में सबसे ऊंचा स्थान पाने वाली तीन टीमों में से एक हो, तो प्रीमियर लीग फेयर प्ले में खड़ी होने वाली टीमों में से सबसे ऊंचा स्थान पाने वाली टीम, जिसने पहले से ही यूरोप के लिए योग्यता प्राप्त नहीं की है, को UEFA यूरोपा लीग के प्रथम योग्यता-निर्धारण दौर के लिए अपने आप योग्यता प्राप्त हो जाएगी.[20]

इस सामान्य यूरोपीय योग्यता प्रणाली में एक अपवाद पिछले साल लिवरपूल द्वारा चैम्पियंस लीग जीतने के बाद 2005 में हुआ लेकिन उसने उस सत्र प्रीमियर लीग में चैम्पियन लीग में एक योग्यता स्थान प्राप्त नहीं किया. UEFA ने इंग्लैण्ड को पांच योग्यता प्राप्तकर्ता देकर चैम्पियंस लीग में प्रवेश करने के लिए लिवरपूल को विशेष व्यवस्था प्रदान की.[21] उसके बाद UEFA ने फैसला सुनाया कि बचाव चैम्पियन अपने घरेलू लीग स्थिति की परवाह किए बिना अगले वर्ष प्रतियोगिता के लिए योग्य हैं. हालांकि, चैंपियंस लीग में चार प्रवेशकों के साथ उन लीगों के लिए, इसका मतलब है कि यदि चैंपियंस लीग विजेता अपने घरेलू लीग की शीर्ष चार के बाहर खड़ा होता है, तो यह लीग में चौथा स्थान पाने वाले टीम के खर्च पर योग्यता प्राप्त करेगा. किसी भी संस्था के चार से अधिक प्रवेशक चैम्पियंस लीग में शामिल नहीं हो सकते हैं.

प्रीमियर लीग को हाल ही में पांच साल की अवधि में यूरोपीय प्रतियोगिताओं में उनके प्रदर्शन के आधार पर UEFA के यूरोपीय लीगों की श्रेणी-सूची में शीर्ष पर पदोन्नत किया गया था. इसने स्पेनिश लीग, ला लिगा के आठ-वर्षीय प्रभुत्व को समाप्त कर दिया.[22] यूरोप में शीर्ष तीन लीगों को आज के दौर में चैम्पियंस लीग में चार टीमों की प्रविष्टि करने की अनुमति है. UEFA अध्यक्ष मिशेल प्लाटिनी ने शीर्ष तीन लीगों में से एक स्थान ग्रहण करने और इसे उस देश के कप विजेताओं को आवंटित करने का प्रस्ताव रखा था. UEFA की स्ट्रैटजी काउंसिल (रणनीति परिषद्) की एक बैठक में इस प्रस्ताव को एक मतदान में अस्वीकार कर दिया गया.[23] उसी बैठक में, तथापि, इस बात पर सहमति व्यक्त की गई कि शीर्ष चार लीगों में तीसरा स्थान पाने वाली टीम को तीसरी योग्यता-निर्धारण दौर में प्रविष्टि के बजाय समूह चरण के लिए अपने आप योग्यता प्राप्त हो जाएगी, जबकि चौथा स्थान पाने वाली टीम गैर-चैम्पियंस के लिए प्ले-ऑफ (भिड़ंत) दौर में प्रवेश करेगी जिससे यूरोप की शीर्ष 15 लीगों में से एक लीग में से एक प्रतिद्वंद्वी टीम को गारंटी प्राप्त होगी. यह समूह चरण में प्रत्यक्ष रूप से योग्यता प्राप्त करने वाली टीमों की संख्या में वृद्धि करने के साथ-साथ समूह चरण में निम्न श्रेणी के देशों की टीमों की संख्या में वृद्धि करने के लिए बनाई गई प्लाटिनी की योजना थी.[24]

प्रायोजन[संपादित करें]

प्रीमियर लीग को 1993 के बाद से प्रायोजित (आर्थिक संरक्षण प्रदान) किया जाता रहा है. प्रायोजक (आर्थिक संरक्षक) लीग के प्रायोजन नाम का निर्धारण करने में सक्षम रहा है. नीचे दी गई सूची में प्रायोजकों के नाम और उनके द्वारा नामित प्रतियोगिता का विवरण है:

वित्त[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: List of Premier League football club owners

प्रीमियर लीग दुनिया का सबसे आकर्षक फुटबॉल लीग है जिसका 2007–08 तक कुल क्लब राजस्व 26% की वृद्धि के साथ £1.93 बिलियन ($3.15bn) तक पहुंच चुका है.[2] प्रीमियर लीग की बीस टीमों में से ग्यारह टीमों को उस वर्ष संचालनात्मक लाभ प्राप्त हुआ. 2007/08 में मेहनताने का खर्च भी €1.51 बिलियन तक पहुंच गया जो अगले सर्वाधिक खर्च वाले लीग, इतालवी सेरी A के मेहनताने (€972m) से काफी अधिक था. सार्वजनिक तौर पर शायद ही कभी व्यक्तिगत वेतनों की पुष्टि की जाती है, हालांकि प्रोफेशनल फुटबॉलर्स एसोसिएशन के साथ 2006 में किए गए खिलाड़ियों के एक सर्वेक्षण से पता चला कि बोनस से पहले प्रीमियर लीग का औसत बुनियादी मेहनताना £676,000 प्रति वर्ष या £13,000 प्रति सप्ताह था.[26]

प्रीमियर लीग का सकल राजस्व दुनिया के किसी भी स्पोर्ट्स लीग का चौथा सर्वोच्च राजस्व है जिसका स्थान उत्तर अमेरिका के तीन सर्वाधिक लोकप्रिय प्रमुख स्पोर्ट्स लीगों (नैशनल फुटबॉल लीग, मेजर लीग बेसबॉल और नैशनल बास्केटबॉल एसोसिएशन) के वार्षिक राजस्व के बाद लेकिन नैशनल हॉकी लीग से आगे है. प्रति क्लब के आधार पर, प्रीमियर लीग के 20 टीमों के औसत राजस्व को NBA के 30 टीमों के औसत राजस्व के लगभग करीब माना जाता है. हालांकि, प्रीमियर लीग के क्लबों के बीच बहुत ज्यादा वित्तीय असामनता है जब उनकी तुलना उत्तरी अमेरिका के "बिग फोर" लीगों में से किसी एक के सदस्यों से की जाती है.

विश्व फुटबॉल के संदर्भ में, प्रीमियर लीग के क्लब दुनिया के सबसे अमीर क्लबों में से हैं. डेलॉयट, जो प्रति वर्ष अपने "फुटबॉल मनी लीग" के माध्यम से क्लब के राजस्व के आंकड़े जारी करता है, ने 2005–06 के सत्र के लिए शीर्ष 20 में आठ प्रीमियर लीग क्लबों को सूचीबद्ध किया.[27] इस तालिका में किसी भी अन्य लीग के चार से अधिक क्लब नहीं है, और जबकि ला लिगा रियल मैड्रिड का प्रतिद्वंद्वी है और FC बार्सिलोना शीर्ष तीन में से दो स्थान प्राप्त करता है, इस शीर्ष 20 में कोई भी अन्य स्पेनिश क्लब सूचीबद्ध नहीं है. कई वर्षों से इस सूची पर प्रीमियर लीग के टीमों का प्रभुत्व रहा है, और 2004–05 के सत्र तक इन टीमों ने लगभग एक दशक तक इस सूची में शीर्ष स्थान भी प्राप्त किया है. प्रीमियर लीग के नए टीवी सौदे के प्रभावी होने के बाद इस सूची में प्रीमियर लीग के क्लबों की मौजूदगी में वृद्धि करने के लिए राजस्व में लीग-वाइड वृद्धि होने की उम्मीद है, और एक सम्भावना है कि प्रीमियर लीग का एक क्लब सूची के शीर्ष पर होगा.[27][28]

प्रीमियर लीग क्लबों के नियमित आय का एक अन्य महत्वपूर्ण स्रोत स्टेडियम में दर्शकों की उपस्थिति से प्राप्त होने वाला राजस्व है. 2008–09 के सत्र के लीग मैचों में दर्शकों की औसत उपस्थिति 35,632 थी जिसके आधार पर यह दुनिया का चौथा सबसे अधिक दर्शकों की उपस्थिति प्राप्त करने वाला घरेलू पेशेवर स्पोर्ट्स लीग है जिसका स्थान सेरी A और ला लिगा से आगे लेकिन जर्मन बुन्डेस्लिगा के बाद है. यह लीग के प्रथम सत्र (1992–93) में दर्ज 21,126 की औसत उपस्थिति से 14,506 की वृद्धि को दर्शाता है.[29] हालांकि, 1992-93 के सत्र के दौरान अधिकांश स्टेडियमों की क्षमता में कटौती कर दी गई क्योंकि टेलर रिपोर्ट के तहत सभी लोगों के बैठने के लिए सीटों की व्यवस्था वाले स्टेडियमों के 1994–95 की अंतिम तिथि को पूरा करने के उद्देश्य से क्लबों ने छतों को सीटों में बदल दिया था.[30][31] 2007-08 के सत्र के दौरान प्रीमियर लीग में दर्शकों की औसत उपस्थिति 35,989 दर्ज की गई. दर्शकों की औसत उपस्थिति में लीग में शामिल टीमों के आधार पर उतार-चढ़ाव होता रहता है.[32]

मीडिया कवरेज[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: List of Premier League broadcasters

यूनाइटेड किंगडम और आयरलैंड[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: English football on television
मैनचेस्टर यूनाइटेड और टॉटनहम हॉटस्पर के बीच 2004 का एक मैच

टेलीविज़न ने प्रीमियर लीग के इतिहास में एक प्रमुख भूमिका निभाई है. मैदान में और मैदान के बाहर उत्कृष्टता का निर्माण करने में मदद करने में टीवी के अधिकारों से मिलने वाले पैसे का काफी महत्व रहा है. 1992 में बीस्काईबी (BSkyB) को प्रसारण के अधिकार सौंपने का लीग का निर्णय उस समय एक कट्टरपंथी निर्णय था लेकिन यह एक ऐसा निर्णय था जिसने इसकी काफी अच्छी कीमत चुकाई है. उस समय भुगतान टेलीविज़न लगभग ब्रिटेन के बाज़ार का एक ऐसा प्रस्ताव था जिसकी जांच नहीं की गई थी, इस भुगतान टेलीविज़न के प्रस्ताव के तहत फुटबॉल के मैचों को टेलीविज़न पर लाइव देखने के लिए प्रशंसकों से शुल्क वसूल किया जा रहा था. बहरहाल, स्काई की रणनीति, प्रीमियर लीग फुटबॉल की गुणवत्ता और गेम के प्रति जनता की भूख की मिलीभगत ने प्रीमियर लीग के टीवी अधिकारों को आकाश की ऊंचाइयों तक पहुंचा दिया है.[8]

प्रीमियर लीग अपने टीवी अधिकारों को एक सामूहिक आधार पर बेचता है. यह कुछ यूरोपीय लीगों के विपरीत है, जिसमें सेरी A और ला लिगा भी शामिल है, जिसमें प्रत्येक क्लब अपने-अपने अधिकारों को व्यक्तिगत रूप से बेचता है, जिसके परिणामस्वरूप शीर्ष कुछ क्लबों को कुल आय का एक बहुत बड़ा हिस्सा प्राप्त होता है. पैसे को तीन भागों में बांटा जाता है:[33] आधे भाग को क्लबों में बराबर-बराबर बांटा जाता है; एक चौथाई भाग को योग्यता के आधार पर प्रदान किया जाता है जो फाइनल लीग स्थिति पर आधारित होता है, निम्न स्थान प्राप्त करने वाले क्लब को जितना मिलता है उससे ज्यादा से ज्यादा बीस गुना पैसा शीर्ष स्थान प्राप्त करने वाले क्लब को मिलता है, और तालिका में हर जगह बराबरी पर होते हैं; अंतिम चौथाई हिस्से का भुगतान गेम के सुविधा शुल्क के रूप में किया जाता है जिसे टीवी पर दिखाया जाता है जहां आम तौर पर शीर्ष क्लबों को इसका सबसे बड़ा हिस्सा प्राप्त होता है. विदेशी अधिकारों से प्राप्त होने वाले आय को बीस क्लबों में बराबर बांटा जाता है.

पांच सत्रों के लिए किए गए स्काई टेलीविज़न अधिकारों के सबसे पहले समझौते का मूल्य £304 मिलियन था.[34] 1997–98 सत्र से शुरू करने पर बातचीत किए गए अगले अनुबंध का मूल्य चार सत्रों पर £670 मिलियन तक चला गया.[34] तीसरा अनुबंध 2001–02 से 2003–04 तक तीन सत्रों के लिए बीस्काईबी (BSkyB) के साथ किया जाने वाला £1.024 बिलियन मूल्य का एक सौदा था. लीग ने 2004–05 से 2006–07 तक तीन वर्ष की अवधि के लिए अपने अंतर्राष्ट्रीय अधिकारों की बिक्री से £320 मिलियन कमाया. इसने खुद एक-एक क्षेत्र के आधार पर अपने अधिकारों की बिक्री की.[35] स्काई के एकाधिकार में अगस्त 2006 से विराम आ गया जब सेटांटा स्पोर्ट्स को उपलब्ध मैचों के छः पैकेज में से दो पकैजों का प्रदर्शन करने का अधिकार प्रदान किया गया. यह सब यूरोपियन कमीशन (यूरोपीय आयोग) के एक आग्रह के बाद हुआ कि विशेष आधिकारों को एक टेलीविज़न कंपनी को नहीं बेचा जाना चाहिए. स्काई (Sky) और सेटांटा (Setanta) ने कुल £1.7 बिलियन का भुगतान किया, इस दो-तिहाई वृद्धि ने कई टिप्पणीकारों को आश्चर्यचकित कर दिया क्योंकि व्यापक तौर पर यही माना जाता रहा था कि तीव्र वृद्धि के कई वर्षों के बाद अधिकारों का मूल्य समतल हो गया था. सेटांटा के पास भी केवल आयरिश दर्शकों के लिए एक लाइव 3 pm मैच का अधिकार है. BBC के पास अभी भी £171.6 मिलियन के बदले उन्ही तीन सत्रों (मैच ऑफ़ द डे पर) के मुख्य अंशों को दर्शाने का अधिकार है जो उसे पिछले तीन वर्ष की अवधि के लिए प्राप्त हुए £105 मिलियन से 63% अधिक है.[36] रेडियो टेलीफिस एयरियन (Raidió Teilifís Éireann) आयरलैंड में मुख्य अंशों के पैकेज का प्रसारण करता है. स्काई और BT संयुक्त रूप से मैच के दिन 10 बजे रात के बाद 50 घंटों की एक अवधि के अधिकांश मामलों में 242 गेमों के विलंबित टेलीविज़न अधिकारों (जो टेलीविज़न और इंटरनेट पर उन्हें सम्पूर्ण रूप से प्रसारित करने का अधिकार है) के लिए £84.3 मिलियन का भुगतान करने पर सहमत हुए हैं.[37] विदेशी टीवी अधिकारों ने पिछले अनुबंध से लगभग दोगुना, £625 मिलियन कमाया.[38] इन सौदों से कुल वृद्धि £2.7 बिलियन से अधिक है जिसने प्रीमियर लीग के क्लबों को 2007 से 2010 तक प्रति वर्ष £45 मिलियन वाले लीग गेम से एक औसत मीडिया आय प्रदान किया है. उन्हें घरेलू कपों के मीडिया अधिकारों से थोड़ी बहुत रकम और कुछ मामलों में यूरोपीय मैचों से मिडिया अधिकारों से काफी रकम भी मिलती है.

प्रीमियर लीग और स्काई के बीच टीवी अधिकारों के समझौते को एक कार्टेल होने के आरोपों का सामना करना पड़ा है, और इसके परिणामस्वरूप असंख्य अदालती मामलों का जन्म हुआ है. 2002 में ऑफिस ऑफ़ फेयर ट्रेडिंग द्वारा की गई एक जांच ने पाया कि भुगतान टीवी स्पोर्ट्स बाज़ार में बीस्काईबी का प्रभुत्व है लेकिन निष्कर्ष दिया कि इस तरह का दावा करने के लिए पर्याप्त आधार नहीं थे कि बीस्काईबी ने अपनी प्रभुता का गलत इस्तेमाल किया है.[39] जुलाई 1999 में UK रेस्ट्रिक्टिव प्रैक्टिसेस कोर्ट ने प्रीमियर लीग द्वारा सामूहिक रूप से सभी सदस्य क्लबों के अधिकारों को बेचने के तरीकों की जांच की जिन्होंने निष्कर्ष निकाला कि यह समझौता जनहित के विपरीत नहीं था.[40] BBC के शनिवार और रविवार की रातों के साथ-साथ उन शामों, जब खेल का तिथि निर्धारण उचित हो, को मुख्य अंशों का पैकेज 2013 तक चलेगा.[41] केवल 2010 से 2013 तक की अवधि के टेलीविज़न अधिकारों को £1.782bn में ख़रीदा गया है.[42]

22 जून 2009 को प्रीमियर लीग को £30m का भुगतान करने की अंतिम तिथि को भुगतान करने में असफल होने पर सेटांटा स्पोर्ट्स की वजह से सामने आए मुसीबतों के कारण ESPN को कुल 46 मैचों वाले UK के अधिकारों के दो पैकेज प्राप्त हुए जो 2009/10 सत्र के साथ-साथ 2010/11 से 2012/13 तक प्रति सत्र 22 मैचों के एक पैकेज के लिए भी उपलब्ध था.[43]

दुनिया भर में[संपादित करें]

"द ग्रेटेस्ट शो ऑन अर्थ" (पृथ्वी का महानतम कार्यक्रम) के रूप में पदोन्नति प्राप्त करने वाला प्रीमियर लीग दुनिया का सबसे लोकप्रिय और सबसे ज्यादा देखा जाने वाला स्पोर्टिंग लीग है जिसे दुनिया भर के 202 देशों[44] के लगभग आधे बिलियन से भी ज्यादा लोग देखते हैं जिसे अक्सर न्यूज़कॉर्प (NewsCorp), जो स्काई स्पोर्ट्स (Sky Sports) का भी मालिक है, के स्वामित्व और/या नियंत्रण वाले नेटवर्कों पर दिखाया जाता है.

संयुक्त राज्य अमेरिका में, फ़ॉक्स सॉकर चैनल, फ़ॉक्स सॉकर प्लस और ESPN मिलकर इसके कवरेज का प्रसारण करते हैं; कभी-कभी न्यूजकॉर्प पिच की तरफ के विज्ञापन बोर्डों को खरीदता है और साथ में फ़ॉक्स सॉकर चैनल के लोगो की जगह स्काई के लोगो का इस्तेमाल करता है.[45] कथित तौर पर ESPN द्वारा UK अधिकारों के अधिग्रहण का वास्तव में उत्तर अमेरिका के सेटांटा स्पोर्ट्स पर कोई असर नहीं पड़ा था जो अमेरिका में "बार्क्लेज़ प्रीमियर लीग को दर्शाने के लिए अलग समझौते वाला एक अलग क्रियाकलाप" है.[46] ESPN के अमेरिकी चैनलों ने बाद में दो गेम पैकेजों का अधिग्रहण किया जिसे सेटांटा के आर्थिक रूप से परेशान उत्तर अमेरिकी शाखा ने भी अपने अस्तित्व (सेटांटा ने अपने मूल अधिकारों में से लगभग आधा अधिकार अपने पास रख लिया) को सुनिश्चित करने के लिए न्यूज़कॉर्प (NewsCorp) को लौटा दिया.

कनाडा में, सेटांटा कनाडा सभी लेकिन प्रत्येक सप्ताह दो EPL गेमों का प्रसारण करता है; रोजर्स स्पोर्ट्सनेट (Rogers Sportsnet) और द स्कोर एक-एक सप्ताहांत गेम का प्रसारण करते हैं. 4 दिसम्बर 2009 को स्पोर्ट्सनेट ने अपनी घोषणा का प्रसारण करते हुए कहा कि उन्होंने 2010-11 के सत्र से शुरू होने वाले मैचों को अगले तीन वर्षों तक EPL अधिकारों को सुरक्षित कर लिया था.[47]

ऑस्ट्रेलिया में, फॉक्स स्पोर्ट्स (ऑस्ट्रेलिया) पांच लाइव गेमों तक और किसी भी प्रदत्त गेम-सप्ताह में लाइव नौ गेमों के लिए एक व्यूअर्ज़ च्वाइस विकल्प के साथ गेमों का प्रदर्शन करता है.[48]

प्रीमियर लीग विशेष रूप से एशिया में लोकप्रिय है जहां यह सबसे ज्यादा व्यापक रूप से वितरित किया जाने वाला स्पोर्ट्स कार्यक्रम है.[49] उदाहरण के लिए, पीपल्स रिपब्लिक ऑफ़ चाइना में इन मैचों को देखने वाले टीवी दर्शकों की संख्या 100 और 360 मिलियन के बीच है जो अन्य किसी भी विदेश स्पोर्ट से कहीं अधिक है.[50] इस लोकप्रियता की वजह से इस लीग ने एशिया में तीन पूर्व-सत्र टूर्नामेंटों का आयोजन किया है जो अब तक इंग्लैण्ड के बाहर आयोजित होने वाले प्रीमियर लीग से संबंधित एकमात्र टूर्नामेंट हैं. जुलाई 2003 में FA प्रीमियर लीग एशिया कप का आयोजन मलेशिया में हुआ था, जिसमें प्रीमियर लीग के तीन क्लब, चेल्सी, न्यूकैसल यूनाइटेड एवं बर्मिंघम सिटि, और मलेशिया की राष्ट्रीय टीम शामिल थी.[51] 2005 में एशिया ट्रॉफी का भी यही प्रारूप था जिसका आयोजन थाईलैंड में हुआ था और जिसमें थाईलैंड की राष्ट्रीय टीम ने तीन इंग्लिश क्लबों - एवर्टन, मैनचेस्टर सिटि और बोल्टन वांडरर्स, के खिलाफ प्रतियोगिता की जिसमें से अंतिम क्लब, बोल्टन वांडरर्स ने ट्रॉफी जीती.[52] 2007 में, बार्क्लेज़ एशिया ट्रॉफी का आयोजन हांगकांग में किया गया जिसमें लिवरपूल, पोर्ट्समाउथ, फुल्हम और हांगकांग FA कप जीतने वाली टीम साउथ चाइना ने भाग लिया था जिसमें पोर्ट्समाउथ ने प्रतियोगिता जीत ली.[53]

FA को इंटरनेट कॉपीराइट उल्लंघन की लड़ाई की कठिनाई का सामना करना पड़ा है. नेट पर लाइव गेमों के प्रवाह का प्रसारण बंद करने के प्रयास में उन्होंने नेटरिज़ल्ट (NetResult) नामक एक कंपनी को नियुक्त किया है जो ट्रेडमार्क अधिकारों की ऑनलाइन रक्षा करने में माहिर है.[54]

वेबसाइट[संपादित करें]

प्रीमियर लीग ने अप्रैल 2002 तक अपनी पहली आधिकारिक वेबसाइट, www.premierleague.com, की शुरुआत नहीं की, हालांकि एक ऐसा वेबसाइट मौजूद था जिसका संचालन ख़िताब प्रायोजक बार्क्लेयार्ड (Barclaycard) कर रहा था जो इसे इसके समानांतर जारी रखना चाहता था.[55][56]

आलोचनाएं[संपादित करें]

निम्नस्थ लीगों के बीच बढ़ता अंतर[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: Premier League–Football League gulf

प्रीमियर लीग को लेकर होने वाली मुख्य आलोचनाओं में से एक प्रीमियर लीग और फुटबॉल लीग के बीच बढ़ती खाई है. फुटबॉल लीग के साथ इसके अलगाव के बाद से प्रीमियर लीग में कई प्रतिष्ठापित क्लबों ने निम्नस्थ लीगों में अपने समकक्षों से खुद को दूर रखा है. लीगों के बीच टेलीविज़न अधिकारों से प्राप्त होने वाले राजस्व में बहुत ज्यादा असामनता होने के कारण[57] कई नवीन पदोन्नत टीमों को प्रीमियर लीग में अपने पहले सत्र में निर्वासन से बचने में काफी मुश्किलें आई है. 2001-02 (ब्लैकबर्न रोवर्स, बोल्टन वांडरर्स और फुल्हम) को छोड़कर प्रत्येक सत्र में कम से कम एक प्रीमियर लीग नवांगतुक को वापस फुटबॉल लीग में निर्वासित कर दिया जाता है. 1997-98 में सभी तीन पदोन्नत क्लबों को सत्र के अंत में निर्वासित कर दिया गया.[58]

प्रीमियर लीग अपने टेलीविज़न राजस्व के एक छोटे से हिस्से को उन क्लबों में आवंटित करते हैं जो "पैराशूट भुगतान" के रूप में लीग से निर्वासित हो गए हैं. 2006-07 के सत्र से शुरू होने वाले इन भुगतानों की रकम निम्नस्थ लीगों में क्लब के पहले दो सत्रों में £6.5 मिलियन थी, हालांकि 2007-2008 में निर्वासित हुए क्लबों के लिए इसमें प्रति वर्ष £11.2 मिलियन की वृद्धि हुई थी.[57] टेलीविज़न राजस्वों की हानि को समायोजित करने में टीमों को मदद करने के लिए इन्हें डिजाइन किया गया था (औसत प्रीमियर लीग टीम को £45 मिलियन मिलता है जबकि औसत फुटबॉल लीग चैम्पियनशिप क्लब को £1 मिलियन मिलता है),[57] आलोचकों का कहना है कि वास्तव में भुगतानों ने उन टीमों के बीच की खाई को और चौड़ा कर दिया है जो प्रीमियर लीग में पहुंच चुके हैं और जो प्रीमियर लीग में नहीं पहुंच पाए हैं,[59] जिसकी वजह से अपने निर्वासन के तुरंत बाद टीमों को "बाउंसिंग बैक" जैसी आम घटनाओं से गुजरना पड़ता है. प्रीमियर लीग में वापस तुरंत पदोन्नति प्राप्त करने में विफल हो चुके लीड्स यूनाइटेड, चार्लटन एथलेटिक, नॉटिंघम फ़ॉरेस्ट, ओल्डहम एथलेटिक, शेफफील्ड वेन्ज़्डे, ब्रैडफोर्ड सिटि, लीसेस्टर सिटि, साउथैम्प्टन और विम्बलडन सहित कुछ क्लबों को वित्तीय समस्याओं से गुजरना पड़ता है जिसमें कुछ मामलों में प्रशासन या यहां तक की परिसमापन भी शामिल होता है. फुटबॉल की सीढ़ी में और नीचे की तरफ निर्वासित होने की वजह से कई क्लब इस खाई को भरने में असमर्थ हो जाते हैं.[60][61]

"बिग फोर" का प्रभुत्व[संपादित करें]

प्रीमियर लीग की शुरुआत से "बिग फोर" [62]
सत्र A C L M
1992-93 10 11 6 1
1993-94 4 14 8 1
1994-95 12 11 4 2
1995-96 5 11 3 1
1996-97 3 6 4 1
1997–98 1 4 3 2
1998-99 2 3 7 1
1999-00 2 5 4 1
2000-01 2 6 3 1
2001-02 1 6 2 3
2002-03 2 4 5 1
2003-04 1 2 4 3
2004-05 2 1 5 3
2005-06 4 1 3 2
2006-07 4 2 3 1
2007-08 3 2 4 1
2008-09 4 3 2 1

एक अन्य प्रमुख आलोचना का विषय तथाकथित "बिग फोर" क्लबों का विकास है.[63] 1996–97 के सत्र के बाद से शीर्ष चार स्थानों पर, अतः UEFA चैम्पियंस लीग में, "बिग फोर" (आर्सेनल, चेल्सी, लिवरपूल और मैनचेस्टर यूनाइटेड) का प्रभुत्व है. 2005 के चैम्पियंस लीग में लिवरपूल की जीत के बाद के चार सत्रों में से प्रत्येक सत्र के फाइनल (आखिरी मुकाबला) में बिग फोर का कम से कम एक क्लब जरूर पहुंचता रहा. यह सिलसिला केवल अप्रैल 2010 में टूट गया था जब CL क्वार्तल फाइनल स्टेज में मैनचेस्टर यूनाइटेड और आर्सेनल दोनों को निकाल दिया गया. 1994–95 में ब्लैकबर्न रोवर्स को ट्रॉफी मिलने के बाद से केवल तीन क्लबों ने ही प्रीमियर लीग का ख़िताब हासिल किया है - मैनचेस्टर यूनाइटेड (क्लब के ग्यारह खिताबों में से नौ), आर्सेनल (तीन बार), और चेल्सी (दो बार). इसके अलावा, मैनचेस्टर यूनाइटेड ने प्रीमियर लीग के गठन के बाद से शीर्ष तीन से बाहर कदम नहीं रखा है और साथ में आर्सेनल ने दो सत्रों को छोड़कर बाकी सभी सत्रों में शीर्ष पांच में अपनी जगह बनाए हुए है (लगातार 12 बार शीर्ष 4 और लगातार 8 बार शीर्ष 2 में अपनी जगह बनाई है) जबकि प्रीमियर लीग के समय से पहले 1990 में जीत हासिल करने बाद से बिना किसी इंग्लिश लीग ख़िताब के लिवरपूल ने पिछले 10 वर्षों में केवल दो बार ही शीर्ष चार में पहुंचने में सफलता प्राप्त की है. इसके अलावा पिछले तीन सत्रों में, "बिग फोर" टीमों में से तीन टीमों ने चैम्पियंस लीग के सेमी-फाइनल चरण में पहुंचने में सफलता प्राप्त की है. चेल्सी ने केवल एक सत्र (95) में कई अंक प्राप्त करने का रिकॉर्ड बनाया,[64] जबकि आर्सेनल 1888-89 में प्रेस्टन नॉर्थ एंड के बाद से एक सम्पूर्ण सत्र (जिसमें 38 गेम खेले गए) के दौरान लीग का एक भी मैच नहीं हारने वाली पहली टीम है जिससे उन्हें "द इनविंसिबल्स" (अजेय) उपनाम मिला.[65]

इसके अलावा पिछले पांच सत्रों में बिग फोर के दो सदस्यों ने चैम्पियन लीग में जीत दर्ज की है (2005 में लिवरपूल, 2008 मैनचेस्टर यूनाइटेड) और बिग फोर का प्रत्येक सदस्य पिछले चार वर्षों में द्वितीय स्थान प्राप्त किया है (2006 में आर्सेनल, 2007 में लिवरपूल, 2008 में चेल्सी और 2009 में मैनचेस्टर यूनाइटेड). हाल के वर्षों में इन क्लबों की सफलता की वजह से इन चार टीमों को बार-बार "बिग फोर" के रूप में संदर्भित किया जाता रहा है. बिग फोर क्लबों ने पिछले चार सत्रों तक प्रथम चार स्थान में अपना स्थान बना लिया है, इसलिए उन सभी को चैम्पियंस लीग के पिछले तीन सत्रों की योग्यता प्राप्त है और उन्हें ऐसी योग्यता का वित्तीय लाभ प्राप्त होता है. ऐसा माना जाता है कि उन्हें प्राप्त होने वाले इस लाभ, खास तौर पर वर्धित राजस्व, ने बिग फोर क्लबों और प्रीमियर लीग के बाकी सदस्यों के बीच की खाई को चौड़ा कर दिया है.[63] मई 2008 में न्यूकैसल यूनाइटेड के प्रबंधक केविन कीगन ने कहा कि बिग फोर का प्रभुत्व इस मंडल के लिए खतरा था और कहा, "यह लीग खतरे में है जो अब दुनिया के सबसे उबाऊ लेकिन महान लीगों में से एक बनता जा रहा है."[66] कीगन की टिप्पणियों के बाद प्रीमियर लीग के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रिचर्ड स्क्यूडामोर ने यह कहते हुए लीग का बचाव किया, "आप शीर्ष में, मध्य में या नीचे हो या नहीं, इसके आधार पर प्रीमियर लीग में विभिन्न प्रकार के कई विवाद चलते रहते हैं जो इसे काफी रोचक बना देता है."[67].

द टाइम्स के मार्सेलो पैंटानेला ने भी इस मंडल के शीर्ष टीमों की बढ़ती वित्तीय शक्ति की आलोचना की और उन्होंने प्रीमियर लीग को आधुनिक फुटबॉल के बारे में दूसरे सबसे बुरी चीज़ नाम दिया और कहा कि "1992 में फुटबॉल लीग से प्रीमियर लीग के अलग होने के बाद से क्या बदलाव आया है? सब कुछ. यदि आपने फर्स्ट डिवीज़न का ख़िताब जीता होता तो आप इंग्लैण्ड के सबसे अच्छे टीम होते. यदि आप प्रीमियर लीग जीतते हैं, तो आप किसी के £500 मिलियन के कर्ज़दार हैं."[68]

वैश्विक खेल पर प्रभाव[संपादित करें]

नाइजीरियाई फुटबॉल अधिकारियों ने प्रीमियर लीग की लोकप्रियता में वृद्धि होने का दावा किया है और उसके बाद फुटबॉल खेलने वाले अन्य देशों की राष्ट्रीय लीगों पर दुनिया भर के मीडिया कवरेज का बहुत बुरा असर पड़ रहा है जिसका हाल ही का एक उदाहरण नाइजीरिया है जिसके लिए वे घरेलू खेलों में बहुत कम उपस्थितियों का हवाला देते हैं जब गेम की टक्कर प्रीमियर लीग के खेल-तिथि निर्धारण से होती है और युवा प्रतिभा के बहाव का झुकाव पारिश्रमिक के प्रस्तावों की वजह से प्रीमियर लीग की तरफ होता जा रहा है जिससे ऐसे में कोई भी स्थानीय क्लब मैच खेलने की उम्मीद नहीं कर सकता है. विश्वव्यापी प्रभाव के मामले में 2008 के UEFA चैम्पियंस लीग फाइनल के बाद नाइजीरिया में चेल्सी और मैनचेस्टर यूनाइटेड के प्रतिद्वंद्वी समर्थकों के टकराव में सात लोगों की मौत हो गई. इसके अलावा, नैशनल लीग ऑफ़ न्यूज़ीलैंड (NZFA) ने भी इसी तरह की समस्याओं का हवाला दिया और अत्यधिक सफल ऑस्ट्रेलियाई 'A-लीग' प्रतियोगिता में अपने लीग को पुनर्गठित करने और शामिल करने के लिए मजबूर किया. [69]

मैच के गेंद[संपादित करें]

प्रीमियर लीग के उद्घाटन सत्र के लिए, क्लबों को अपने स्वयं के मैच गेंदों की आपूर्ति करने के लिए बाध्य किया गया जिन्हें आम तौर पर क्लबों के किट निर्माताओं ने प्रदान किया. 1993 में, प्रीमियर लीग ने अपने लीग के टीमों को उनके मैचों के गेंद की आपूर्ति करने के लिए माइटर (Mitre) के साथ एक समझौता किया. माइटर ने माइटर प्रो मैक्स (Mitre Pro Max) (1993–1995) और उसके बाद माइटर अल्टिमैक्स (Mitre Ultimax) (1995–2000) से शुरुआत करके सात वर्षों तक प्रीमियर लीग के लिए गेंदों की आपूर्ति की.[कृपया उद्धरण जोड़ें]

2000-01 के सत्र के समय नाइक (Nike) नाइक जियो मर्लिन गेंद (Nike Geo Merlin ball) प्रस्तुत करके मैच गेंद आपूर्तिकर्ता के रूप में आगे निकल गया जिसे UEFA चैम्पियंस लीग में इस्तेमाल किया जाता था. जियो मर्लिन का इस्तेमाल चार सत्रों तक किया गया और उसके बाद अगले दो सत्रों तक इसकी जगह नाइक टोटल 90 एयरो (Nike Total 90 Aerow) का इस्तेमाल किया गया. 2004-05 के सत्र के समय सर्दियों के महीनों में इस्तेमाल करने के लिए एक पीले "हाय-विज़" गेंद का आगमन हुआ. इसके बाद नाइक टोटल 90 एयरो II (Nike Total 90 Aerow II) का आगमन हुआ जिसमें गेंद की उड़ान और घुमाव का फैसला करने में खिलाड़ियों की मदद करने के लिए एक विषम डिजाइन शामिल था. 2008-09 के सत्र के लिए प्रीमियर लीग का आधिकारिक गेंद नाइक टोटल 90 ओम्नी (Nike Total 90 Omni) था और इसमें भी गहरे लाल और पीले रंग की एक दूसरी पद्धति और एक संशोधित पैनल डिजाइन शामिल था और 2009–10 के सत्र के लिए इसकी जगह नीले, पीले और नारंगी रंगों से सजी नाइक टी90 एसेंट (Nike T90 Ascente) का इस्तेमाल किया गया.[कृपया उद्धरण जोड़ें]

क्लब[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: English football champions एवं All-time FA Premier League table

1992 में प्रीमियर लीग की स्थापना से लेकर 2008–09 के सत्र तक प्रीमियर लीग में खेलने वाले क्लबों की कुल संख्या 43 है. दो अन्य क्लब (ल्यूटन टाउन और नॉट्स काउंटी) प्रीमियर लीग का निर्माण करने वाले मूल समझौते के हस्ताक्षरकर्ता थे लेकिन प्रीमियर लीग के उद्घाटन सत्र से पहले उन्हें निर्वासित कर दिया गया और उसके बाद उन्होंने शीर्ष समूह में वापसी नहीं की है. पहले और अभी के सभी क्लबों की सूची के लिए FA प्रीमियर लीग के क्लबों की सूची देखें और अब तक की FA प्रीमियर लीग तालिका में एक समामेलित तालिका मिल सकती है. प्रीमियर लीग की स्थापना के बाद से प्रीमियर लीग के विजेताओं और द्वितीय स्थान प्राप्त करने वाली टीमों, और प्रत्येक सत्र के शीर्ष अंकप्राप्तकर्ताओं की सूची के लिए इंग्लिश फुटबॉल चैम्पियंस देखें.

प्रीमियर लीग की स्थापना के बाद से सात क्लब प्रत्येक सत्र के लिए प्रीमियर लीग के सदस्य रहे हैं. आर्सेनल, एस्टन विला, चेल्सी, एवर्टन, लिवरपूल, मैनचेस्टर यूनाइटेड, और टॉटनहम हॉटस्पर से मिलकर इस समूह का निर्माण हुआ है.[70]

2013-14 के सत्र के सदस्य[संपादित करें]

2013-14 के सत्र के दौरान प्रीमियर लीग में निम्नलिखित 20 क्लब प्रतिस्पर्धा करेंगे.

क्लब

2012-13 में स्थिति
शीर्ष मंडल में प्रथम सत्र
शीर्ष मंडल में सत्रों की संख्या
प्रीमियर लीग में सत्रों की संख्या


शीर्ष मंडल में मौजूदा दौर का प्रथम सत्र
शीर्ष मंडल के
ख़िताब
शीर्ष मंडल का अंतिम ख़िताब
आर्सेनल एफ सीa,b 4वां 1904-05 97 22 1919-20 13 2003-04
एस्टन विला एफ.सी.a,b 15वां 1888-89 103 22 1988-89 7 1980-81
कार्डिफ सिटी एफ.सी. 1921–22 16
क्रिस्टल पैलेस एफ.सी. 1969–70 14 5
साउथहैंपटन एफ.सी. 14वां 1966–67 37 15 2012–13 0 लागू नहीं
नॉर्विच सिटी एफ़.सी. 11वां 1972–73 24 7 2011–12 0 लागू नहीं
चेल्सी एफ़.सी.a,b 3वां 1907-08 79 22 1989-90 4 2009–10
एवर्टनa,b 6वां 1888-89 111 22 1954-55 9 1986-87
फुल्हम एफ़.सी.b 12वां 1949-50 25 13 2001-02 0 लागू नहीं
हल सिटि एफ़.सी.b 2008-09 3 3 2013–14 0 लागू नहीं
लिवरपूल एफ़.सी.a,b 7वां 1894-95 99 22 1962-63 18 1989-90
मैनचेस्टर सिटीa 2वां 1899-1900 85 17 2002-03 3 2011–12
मैनचेस्टर यूनाइटेड एफ़.सी.a,b 1वां 1892-93 89 22 1975-76 20 2012–13
न्यूकैसल युनाइटेड एफ़॰सी॰ 16वां 1898–99 83 20 2010–11 4 1926–27
स्टोक सिटि एफ़.सी.b 13वां 1888-89 58 6 2008-09 0 लागू नहीं
सन्डरलैंड ए.एफ़.सी. 17वां 1890-91 83 13 2007-08 6 1935-36
टॉटनहम हॉटस्पर एफ़.सी.a,b 5वां 1909-10 79 22 1978-79 2 1960-61
वेस्ट हम यूनाइटेड एफ़.सी. 10वां 1923-24 56 18 2012–13 0 लागू नहीं
स्वानसी सिटी ए.एफ़.सी. 9वां 1981–82 5 3 2011–12 0 लागू नहीं
वेस्त ब्रोम्विछ अल्बिओन् 8वां 1888-89 77 8 2010–11 1 1919–20

a: प्रीमियर लीग का संस्थापक सदस्य
b: प्रीमियर लीग से कभी नहीं निर्वासित

खिलाड़ी[संपादित करें]

इन्हें भी देखें: List of foreign Premier League players
रैंक खिलाड़ी प्रस्तुति
1 Flag of इंग्लैण्ड डेविड जेम्स 572
2 Flag of वेल्स रयान गिग्स 547
3 Flag of वेल्स गैरी स्पीड 535
4 Flag of इंग्लैण्ड सोल कैंपबेल 494
5 Flag of इंग्लैण्ड फ्रैंक लैम्पार्ड 467
6 Flag of इंग्लैण्ड एमिली हेस्की 466
7 Flag of इंग्लैण्ड पॉल स्कोल्स 442
8 Flag of इंग्लैण्ड एलन शीरर 441
9 Flag of इंग्लैण्ड जैमी कैरेग़र 433
10 Flag of इंग्लैण्ड फिल नेविले 427
19:04 24 अप्रैल 2010 तक (UTC).
(मोटे अक्षरों में लिखे गए नाम प्रीमियर लीग में अभी भी खेल रहे खिलाड़ियों के नाम हैं)
(तिरछे अक्षरों में लिखे गए नाम अभी भी पेशेवर फुटबॉल खेल रहे खिलाड़ियों के नाम हैं)
[71]

प्रीमियर लीग के क्लबों ने लगभग अपनी इच्छानुसार खिलाड़ियों की संख्या और श्रेणी को हस्ताक्षरित करने की स्वतंत्रता को पूरा कर लिया है. कोई टीम या व्यक्तिगत वेतन सीमा नहीं है, दस्ते के आकार की कोई सीमा नहीं है, सामान्य रोजगार कानून द्वारा लागू आयु प्रतिबंधों को के अलावा कोई अन्य आयु प्रतिबन्ध नहीं है, विदेशी खिलाड़ियों की कुल संख्या पर कोई प्रतिबन्ध नहीं है और व्यक्तिगत विदेशी खिलाड़ियों पर कुछ प्रतिबन्ध है - EU राष्ट्रीयता वाले सभी खिलाड़ी, जिनमें वे खिलाड़ी शामिल है जो माता/पिता या दादा/दादी के माध्यम से एक EU पासपोर्ट का दावा करने में समर्थ है, खेलने के लिए योग्य हैं, और EU से बहार के शीर्ष खिलाड़ी UK कार्य अनुमति प्राप्त करने में समर्थ हैं. एकमात्र ऐसा क्षेत्र जहां प्रीमियर लीग के खिलाड़ी के पंजीकरण नियम कुछ अन्य फुटबॉल लीगों, जैसे - बेल्जियम और पुर्तगाल, के पंजीकरण नियमों की अपेक्षा अधिक प्रतिबंधक है, यह है कि विधि द्वारा अकादमी स्तरीय गैर-EU खिलाड़ियों को इंग्लिश फुटबॉल में थोड़ा कम प्रवेश मिलता है.[72] इसके अलावा, चैंपियंस लीग या UEFA यूरोपा लीग में प्रतिस्पर्धा करने वाले क्लबों को उन प्रतियोगिताओं के लिए UEFA के खिलाड़ी-योग्यता नियमों का पालन करना चाहिए.

1992-93 में प्रीमियर लीग के सूत्रपात में मैचों के पहले दौर में शुरूआती खेल-मंडलियों (लाइन-अप्स) में नामित केवल ग्यारह खिलाड़ी 'विदेशी' थे (जो यूनाइटेड किंगडम या रिपब्लिक ऑफ़ आयरलैंड के बाहरी क्षेत्रों से आने वाले खिलाड़ी थे).[73] 2000-01 तक प्रीमियर लीग में भाग लेने वाले विदेशी खिलाड़ियों की संख्या 36% थी. 2004-05 के सत्र में यह आंकड़ा बढ़कर 45% हो गया. 26 दिसंबर 1999 को चेल्सी प्रीमियर लीग की तरफ से पूरी तरह से एक विदेशी शुरूआती खेल-मंडली का मुकाबला करने वाला पहला टीम बना[74] और 14 फ़रवरी 2005 को एक मैच के लिए आर्सेनल एक पूर्णतया विदेशी 16 सदस्यीय टीम का नाम पाने वाला पहला टीम था.[75] किसी भी इंग्लिश प्रबंधक ने प्रीमियर लीग में जीत हासिल नहीं की है; ख़िताब जीतने वाले चार प्रबंधकों (एलेक्स फर्ग्यूसन (मैनचेस्टर यूनाइटेड, ग्यारह जीत) और केनी डाल्ग्लिश (ब्लैकबर्न रोवर्स, एक जीत), एक फ़्रांसिसी व्यक्ति (आर्सेन वेंगर, आर्सेनल, तीन जीत) और एक पुर्तगाली (जोस मौरिन्हो, चेल्सी, दो जीत)) में दो स्कॉट्स सम्मिलित हैं.

कम-महंगे विदेशी खिलाड़ियों को अनुबंधित करने के पक्ष में क्लबों द्वारा लगातार युवा ब्रिटिश खिलाड़ियों को भरते जाने के मामलों के जवाब में 1999 में होम ऑफिस ने यूरोपियन यूनियन के बाहर के देशों से आने वाले खिलाड़ियों को वर्क परमिट (कार्य अनुमति) देने के अपने नियमों को सीमित कर दिया.[76] वर्तमान में परमिट या अनुमति के लिए आवेदन करने वाले एक गैर-EU खिलाड़ी के पास अपने देश के प्रतिस्पर्धात्मक 'A' मैचों में से कम से कम 75% मैचों में अपने देश के लिए खेल चुकने की योग्यता होनी चाहिए जिसके लिए वह पिछले दो वर्षों के दौरान चयन के लिए उपलब्ध था और पिछले दो वर्षों में आधिकारिक FIFA वर्ल्ड रैन्किंग्स में उसके देश ने औसतन कम से कम 70वां स्थान प्राप्त किया हो. यदि कोई खिलाड़ी उन मानदंडों को पूरा नहीं करता है, तो उन्हें अनुबंधित करने के इच्छुक क्लब अपील कर सकते है यदि उन्हें विश्वास है कि उसमें एक विशेष प्रतिभा है और वह "UK में शीर्ष स्तर पर गेम के विकास में महत्वपूर्ण योगदान देने में सक्षम" है.[72]

260 से अधिक विदेशी खिलाड़ी लीग में प्रतिस्पर्धा करते हैं, और इंग्लैण्ड के घरेलू लीगों के 101 खिलाड़ियों ने कोरिया और जापान में 2002 FIFA वर्ल्ड कप में प्रतिस्पर्धा की. जर्मनी में 2006 FIFA वर्ल्ड कप में प्रीमियर लीग ही सर्वाधिक प्रदर्शित लीग था जहां प्रतियोगिता में अस्सी से भी अधिक खिलाड़ियों ने भाग लिया था जिसमें इंग्लैण्ड की टीम में 23 में से 21 खिलाड़ी शामिल थे.

टेलीविज़न के लाभप्रद सौदों में उत्तरोत्तर वृद्धि के परिणामस्वरूप प्रीमियर लीग के गठन के बाद खिलाड़ियों के पारिश्रमिक में तेज़ी से वृद्धि हुई. प्रीमियर लीग के पहले सत्र में खिलाड़ियों का औसत पारिश्रमिक £75,000 प्रति वर्ष था,[77] लेकिन उसके बाद एक दशक तक 20% प्रति वर्ष की एक औसत वृद्धि हुई,[78] जो 2003–04 के सत्र में अपनी चरम सीमा पर पहुंच गया जिस समय प्रीमियर लीग के खिलाड़ियों का औसत वार्षिक वेतन £676,000 था.[79]

एक प्रीमियर लीग के हस्तांतरण शुल्क का रिकॉर्ड प्रतियोगिता के जीवनकाल में कई बार टूट चुका है. प्रीमियर लीग के पहले सत्र के आरम्भ से पहले एलन शीरर £3 मिलियन से अधिक हस्तांतरण शुल्क पाने वाले पहले ब्रिटिश खिलाड़ी बने.[80] प्रीमियर लीग के पहले कुछ सत्रों में इस रिकॉर्ड में तब तक लगातार वृद्धि होती रही जब तक एलन शीरर ने 1996 में न्यूकैसल यूनाइटेड में स्थानांतरित होने के £15 मिलियन का एक रिकॉर्ड तोड़कर एक विश्व रिकॉर्ड नहीं बनाया.[80] यह चार वर्षों तक तब तक एक ब्रिटिश रिकॉर्ड के रूप में कायम रहा जब तक इस पर रियो फर्डिनेंड के लिए वेस्ट हम को किए गए लीड्स के £18 मिलियन भुगतान का ग्रहण नहीं लग गया.[80] उसके बाद मैनचेस्टर यूनाइटेड ने रुड वैन निस्टलरूय, जुआन सेबस्टियन वेरोन और रियो फर्डिनैंड को अनुबंधित करके तीन बार इस रिकॉर्ड को तोड़ा.[81][82] चेल्सी ने मई 2006 में इस रिकॉर्ड को तोड़ा जब उन्होंने AC मिलान के एंड्रिय शेवचेंको को अनुबंधित किया. हस्तांतरण शुल्क के सटीक आंकड़े का खुलासा नहीं किया गया लेकिन £30 मिलियन के आसपास होने की खबर मिली.[83] इस पर तब ग्रहण लग गया जब मैनचेस्टर सिटि ने 1 सितम्बर 2008 को रोबिन्हो को रियल मैड्रिड से हस्तांतरण शुल्क के रूप में £32.5 मिलियन का भुगतान किया.[84]

डेविड जेम्स ने फरवरी 2009 में गैरी स्पीड द्वारा स्थापित 535 प्रस्तुतियों के पिछले रिकॉर्ड को तोड़कर सर्वाधिक प्रीमियर लीग प्रस्तुति का रिकॉर्ड बनाया है.[85]

शीर्ष अंक प्राप्त करने वाली खिलाड़ी[संपादित करें]

रैंक खिलाड़ी गोल
1 Flag of इंग्लैण्ड एलन शीरर 260
2 Flag of इंग्लैण्ड एंड्रयू कोल 187
3 Flag of फ़्रान्स थियरी हेनरी 174
4 Flag of इंग्लैण्ड रोबी फाउलर 163
5 Flag of इंग्लैण्ड लेस फर्डिनैंड 149
6 Flag of इंग्लैण्ड माइकल ओवेन 147
Flag of इंग्लैण्ड टेड्डी शेरिंघम 147
8 Flag of इंग्लैण्ड फ्रैंक लैम्पार्ड 128
9 Flag of नीदरलैंड जिमी फ्लोयड हैसलबैंक 127
10 Flag of त्रिनिदाद एवं टोबेगो ड्वाइट योर्क 123
19:07, 24 अप्रैल 2010 तक (UTC).
(मोटे अक्षरों में लिखे गए नाम प्रीमियर लीग में अभी भी खेल रहे खिलाड़ियों के नाम हैं)
(तिरछे अक्षरों में लिखे गए नाम अभी भी पेशेवर फुटबॉल खेल रहे खिलाड़ियों के नाम हैं).[71]
Further information: Top Scorer (Golden Boot) by season, List of Premier League hat-tricks, List of football players with a Premier League medal

प्रीमियर लीग के खिलाड़ी गोल ऑफ़ द मंथ और गोल ऑफ़ द सीज़न की अनौपचारिक प्रतियोगिताएं में प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं. खिलाड़ियों द्वारा प्रतिस्पर्धित अन्य खिताबों में सत्र में शीर्ष अंक प्राप्त करने वाले खिलाड़ी का ख़िताब भी शामिल है. ब्लैकबर्न रोवर्स और न्यूकैसल यूनाइटेड के पूर्व स्ट्राइकर एलन शीरर ने 260 गोल बनाकर प्रीमियर लीग के सर्वाधिक गोल का रिकॉर्ड बनाया है. शीरर ने प्रीमियर लीग के 14 सत्रों में से 10 सत्रों में शीर्ष दस गोल बनानेवालों में अपना स्थान बनाया और तीन बार शीर्ष अंक प्राप्त करने वाले खिलाड़ी का ख़िताब हासिल किया. 1995-96 के सत्र के दौरान वे 100 प्रीमियर लीग गोल बनानेवाले पहले खिलाड़ी बने.[86] तब से, 17 अन्य खिलाड़ी 100-गोल की सीमा तक पहुंच चुके हैं.

1992-93 में प्रीमियर लीग के पहले सत्र के बाद से 13 अलग-अलग खिलाड़ियों ने शीर्ष अंक प्राप्त करने वाले खिलाड़ी का ख़िताब हासिल किया है या उसका साझा किया है. थियरी हेनरी ने 2005–06 के सत्र में 27 गोल बनाकर लगातार तीन बार और अब तक का अपना चौथा ख़िताब हासिल किया. यह शीरर के तीन खिताबों की सीमा को पार कर गया जिसे उन्होंने 1994-95 से 1996-97 तक लगातार हासिल किया था. कई अन्य विजेताओं में माइकल ओवेन और जिमी फ्लोयड हैसलबैंक का नाम आता है जिनमें से प्रत्येक ने दो-दो ख़िताब हासिल किया है. एंड्रयू कोल और एलन शीरर ने क्रमशः न्यूकैसल और ब्लैकबर्न के लिए एक सत्र (34) में अधिकांश गोल बनाने का रिकॉर्ड कायम किया. कोल ने 1993-94 में रिकॉर्ड कायम किया था जबकि शीरर ने 1994-95 में किया जिनमें से दोनों 42 गेमों वाले सत्र थे.[87] 1995-96 में 38 गेमों वाले एक सत्र में शीरर द्वारा स्थापित 31 गोलों की सीमा को 2007–08 के सत्र में क्रिस्टियानो रोनाल्डो ने बराबरी दी जो एक सत्र में एक मिडफिल्डर द्वारा कई गोल बनाने के रिकॉर्ड को पार करने वाली एक सीमा थी.[88]

क्रिस्टियानो रोनाल्डो के बाद मैनचेस्टर यूनाइटेड 2005–06 के सत्र में इस लीग में 1,000 गोल बनाने वाली पहली टीम बनी जिसमें उन्होंने मिडल्सबरो को 4–1 से मात दी और लीग के सूत्रपात के बाद एक प्रीमियर लीग गोल स्वीकार करने वाली पहली टीम है. आर्सेनल, चेल्सी और लिवरपूल एकमात्र ऐसी अन्य टीमें हैं जिन्होंने 1,000 गोलों की सीमा तक पहुंचने में सफलता हासिल की है.[89][90] प्रीमियर लीग में अब तक का सबसे अधिक गोल प्राप्त करने वाला मैच 29 सितम्बर 2007 को खेला गया था जिसमें पोर्ट्समाउथ ने रीडिंग को 7-4 से मात दी. प्रीमियर लीग के केवल एक गेम में एक खिलाड़ी द्वारा व्यक्तिगत रूप से बनाए गए कुल गोलों की संख्या पांच है और नवम्बर 2009 तक केवल तीन खिलाड़ियों को ही इस लक्ष्य को प्राप्त करने का सौभाग्य मिला था जिनमें से पहले स्थान पर एंडी कोल है और उसके बाद एलन शीरर और फिर जर्मेन डेफो का नाम आता है.[91] मैनचेस्टर यूनाइटेड के केवल रयान गिग्स ने ही प्रीमियर लीग के सभी 18 सत्रों में गोल बनाने में सफलता हासिल की है.[92]

पुरस्कार[संपादित करें]

ट्रॉफी[संपादित करें]

चित्र:Premiership trophy.jpg
प्रीमियर लीग ट्रॉफी

वर्तमान प्रीमियर लीग ट्रॉफी का निर्माण रॉयल ज्वेलर्स एस्प्रे ऑफ़ लन्दन ने किया था. इसका वजन 4 st (साँचा:Convert/kg lb) है और यह 76 cm (30 इंच) लम्बा, 43 cm (17 इंच) चौड़ा और 25 cm (9.8 इंच) गहरा है. इसके मुख्य हिस्से का निर्माण ठोस विशुद्ध चांदी से हुआ है और इस पर चांदी की कलई की गई है जबकि इसका चबूतरा या आधार मैलाकाइट नामक एक अर्द्ध-मूल्यवान पत्थर से बना है. इस चबूतरे की परिधि के चारों तरफ चांदी की एक पट्टी है जिस पर ख़िताब जीतनेवाले क्लबों के नाम सूचीबद्ध है. मैलाकाइट का हरा रंग खेल के हरे मैदान का भी प्रतिनिधित्व करता है.[93] ट्रॉफी का डिजाइन हेरलड्री ऑफ़ थ्री लायंस (तीन सिंहों का कुल चिह्न) पर आधारित है जो इंग्लिश फुटबॉल से संबद्ध है. उनमें से दो सिंह ट्रॉफी के दोनों तरफ के हैंडलों पर पाए जाते हैं और ख़िताब जीतने वाले टीम का कप्तान तीसरे सिंह का प्रतीक है क्योंकि वह सत्र के अंत में ट्रॉफी को उठता है और अपने सिर पर इसके स्वर्ण मुकुट को धारण करता है.[93] ट्रॉफी के प्रथम निर्माण के बाद से इसके अग्रभाग पर कई नाम अंकित किए गए हैं, इसके निर्माण के समय इस पर "The F.A. Premier League" (द F.A. प्रीमियर लीग) लिखा था. 2006-07 के सत्र में मैनचेस्टर यूनाइटेड द्वारा उठाए गए ट्रॉफी पर "The Barclays Premiership" (द बार्क्लेज़ प्रीमियरशिप) लिखा हुआ था. 2007-08 के सत्र के बाद से ट्रॉफी के एक तरफ "Premier League" (प्रीमियर लीग) और दूसरी तरफ "Barclays Premier League" (बार्क्लेज़ प्रीमियर लीग) लिखा हुआ है.[कृपया उद्धरण जोड़ें]

2004 में एक भी हार के बिना ख़िताब जीतने वाले आर्सेनल का कीर्तिगान करने के लिए ट्रॉफी का एक विशेष स्वर्ण संस्करण जारी किया गया.[94]

मासिक और वार्षिक[संपादित करें]

विनर्स ट्रॉफी और व्यक्तिगत विनर्स मेडल्स के अलावा, प्रीमियर लीग हर महीने मैनेजर ऑफ़ द मंथ एवं प्लेयर ऑफ़ द मंथ अवार्ड, और हर वर्ष मैनेजर ऑफ़ द यर एवं गोल्डेन ग्लोव अवार्ड भी प्रदान करता है.

10 सीज़ंस[संपादित करें]

2003 में प्रीमियर लीग ने 10 सीज़न अवार्ड्स का आयोजन करके अपने पहले दशक का जश्न मनाया:

  • क्वोट ऑफ़ द डिकेड – "I would love it if we beat them. Love it!" (यदि हम उन्हें मात देते तो मुझे बहुत अच्छा लगता. बहुत अच्छा!)

केविन कीगन, 29 अप्रैल 1996

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Campbell, Dennis (6 January 2002). "United (versus Liverpool) Nations". London: The Observer. http://observer.guardian.co.uk/osm/story/0,6903,626773,00.html. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  2. "Premier League revenues near £2bn". BBC. 4 June 2009. http://news.bbc.co.uk/1/hi/business/8078533.stm. अभिगमन तिथि: 4 June 2009. 
  3. "UEFA ranking of European leagues". UEFA. 2006. http://www.xs4all.nl/~kassiesa/bert/uefa/data/method3/trank2006.html. 
  4. "Prestigious Award for Premier League". The Premier League. 21 April 2010. http://www.premierleague.com/page/Headlines/0,,12306~2030479,00.html. अभिगमन तिथि: 21 April 2010. 
  5. "1985: English teams banned after Heysel". BBC Archive. 31 May 1985. http://news.bbc.co.uk/onthisday/hi/dates/stories/may/31/newsid_2481000/2481723.stm. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  6. "A History of The Premier League". Premier League. http://www.premierleague.com/page/History/0,,12306,00.html. अभिगमन तिथि: 22 November 2007. 
  7. "The Taylor Report". Footballnetwork. http://www.footballnetwork.org/dev/communityfootball/violence_taylor_report.asp. अभिगमन तिथि: 22 November 2007. 
  8. Crawford, Gerry. "Fact Sheet 8: British Football on Television". University of Leicester Centre for the Sociology of Sport. http://www.le.ac.uk/sociology/css/resources/factsheets/fs8.html. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  9. "The History Of The Football League". Football League official website. http://www.football-league.premiumtv.co.uk/page/History/0,,10794,00.html. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  10. "In the matter of an agreement between the Football Association Premier League Limited and the Football Association Limited and the Football League Limited and their respective member clubs". HM Courts Service. 2006. http://www.hmcourts-service.gov.uk/judgmentsfiles/j9/pljmtint.htm. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  11. "A history of the Premier League". Premier League official website. http://www.premierleague.com/page/History/0,,12306,00.html. अभिगमन तिथि: 4 January 2008. 
  12. "Fifa wants 18-team Premier League". BBC. 8 June 2006. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/5061302.stm. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  13. "Premier League and Barclays Announce Competition Name Change" (PDF). Premier League. http://www.premierleague.com/staticFiles/22/65/0,,12306~91426,00.pdf. अभिगमन तिथि: 22 November 2006. 
  14. "Our relationship with the clubs". Premier League. http://www.premierleague.com/fapl.rac?command=setSelectedId&nextPage=enSimpleStories&id=2861&type=com.fapl.website.stories.SimpleStories&categoryCode=Who%20We%20Are&breadcrumb=about_breadcrumb. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  15. "The Premier League and Other Football Bodies". Premier League. http://www.premierleague.com/fapl.rac?command=setSelectedId&nextPage=enSimpleStories&id=2851&type=com.fapl.website.stories.SimpleStories&categoryCode=Who%20We%20Are&breadcrumb=about_breadcrumb. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  16. "European Club Forum". UEFA. http://www.uefa.com/uefa/aboutuefa/CommittesPanels/panel=32.html. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  17. "Barclays Premier League". Sporting Life. http://www.sporting-life.com/football/live/tables/premiership.html. अभिगमन तिथि: 26 November 2007. 
  18. "Huge Stakes For Championship Play-Off Contenders". Goal.com. http://www.goal.com/en/Articolo.aspx?ContenutoId=294727. अभिगमन तिथि: 26 November 2007. 
  19. "UEFA Executive Committee approves changes to UEFA club competitions" (PDF). UEFA. 30 November 2007. http://www.uefa.com/newsfiles/630630.pdf. अभिगमन तिथि: 15 August 2008. 
  20. "Norway lead Respect Fair Play league". Uefa. 26 January 2009. http://www.uefa.com/uefa/keytopics/kind=8/newsid=795065.html. अभिगमन तिथि: 11 March 2009. 
  21. "Liverpool get in Champions League". BBC Sport. 10 June 2005. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/teams/l/liverpool/4613695.stm. अभिगमन तिथि: 11 December 2007. 
  22. "5 Jahreswertung der UEFA Saison 07/08 (German)". http://www.5-jahres-wertung.de/APD/Online/5-Jahres-Wertung.htm. अभिगमन तिथि: 17 May 2008. 
  23. Bond, David (13 November 2007). "Clubs force UEFA's Michel Platini into climbdown". London: Daily Telegraph. http://www.telegraph.co.uk/sport/main.jhtml?xml=/sport/2007/11/13/sfnuef113.xml. अभिगमन तिथि: 2 December 2007. 
  24. "Platini's Euro Cup plan rejected". BBC Sport. 12 December 2007. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/europe/7090646.stm. अभिगमन तिथि: 11 December 2007. 
  25. "Barclays renews Premier sponsorship". Barclays. 23 October 2009. http://www.premierleague.com/page/Headlines/0,,12306~1835324,00.html. अभिगमन तिथि: 23 October 2009. 
  26. Harris, Nick (11 April 2006). "£676,000: The average salary of a Premiership footballer in 2006". The Independent (London). http://www.independent.co.uk/sport/football/news-and-comment/163676000-the-average-salary-of-a-premiership-footballer-in-2006-473659.html. अभिगमन तिथि: 29 March 2010. 
  27. "Real Madrid stay at the top". Deloitte. 2 August 2007. http://www.deloitte.com/dtt/press_release/0,1014,sid%253D2834%2526cid%253D145152,00.html. अभिगमन तिथि: 2 December 2007. 
  28. "Arsenal bullish over £200m income". BBC News. 24 September 2007. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/teams/a/arsenal/7009944.stm. अभिगमन तिथि: 24 September 2007. 
  29. "Football Stats Results for 1992–1993 Premiership". football.co.uk. http://stats.football.co.uk/1992/. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  30. "Fact Sheet 2: Football Stadia After Taylor". University of Leicester. http://www.le.ac.uk/fo/resources/factsheets/fs2.html. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  31. "Shifting stands". ESPN. 27 July 2005. http://soccernet.espn.go.com/columns/story?id=337736&root=extratime&cc=5901. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  32. "Premiership Attendance - 2002/03". ESPN. http://soccernet.espn.go.com/stats/attendance?league=eng.1&year=2002&cc=5901. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  33. "Frequently asked questions about the F.A. Premier League, (How are television revenues distributed to Premier League clubs?)". premierleague.com. http://www.premierleague.com/page/Faqs/0,,12306,00.html. अभिगमन तिथि: 11 December 2007. 
  34. "BSkyB Timeline". http://corporate.sky.com/about_sky/timeline.htm. अभिगमन तिथि: 20 October 2009. 
  35. "Premier League announce name change". SportBusiness. http://www.sportbusiness.com/news/160604/premier-league-launches-international-rights-tender. अभिगमन तिथि: 3 June 2007. 
  36. "BBC keeps Premiership highlights". BBC News. 8 June 2006. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/match_of_the_day/5060828.stm. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  37. Bond, David (26 May 2006). "TV deal pays another £84m". London: Daily Telegraph. http://www.telegraph.co.uk/sport/main.jhtml?view=DETAILS&grid=&xml=/sport/2006/05/26/sfntv26.xml. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  38. "Premiership in new £625m TV deal". BBC News. 18 January 2007. http://news.bbc.co.uk/1/hi/business/6273617.stm. अभिगमन तिथि: 3 June 2007. 
  39. "BSkyB investigation: alleged infringement of the Chapter II prohibition" (PDF). Office of Fair Trading. 17 December 2002. http://web.archive.org/web/20060823170841/http://www.oft.gov.uk/NR/rdonlyres/D36BD282-3F52-410E-86EA-F494E41BC199/0/bskybfinal1.pdf. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  40. "Sport and European Competition Policy" (PDF). European Commission. 1999. http://ec.europa.eu/comm/competition/speeches/text/sp1999_019_en.pdf. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  41. "BBC retains Premier League rights". BBC Sport. 28 January 2009. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/eng_prem/7856459.stm. अभिगमन तिथि: 29 January 2009. 
  42. "New Television Rights". BBC. 6 February 2009. http://news.bbc.co.uk/1/hi/business/7875478.stm. अभिगमन तिथि: 6 January 2010. 
  43. "ESPN win Premier League rights". Barclays Premier League. 22 June 2009. http://www.premierleague.com/page/Headlines/0,,12306~1698362,00.html. अभिगमन तिथि: 22 June 2009. 
  44. Wilson, Jeremy (6 November 2007). "Premier League is world's favourite league". London: The Daily Telegraph. http://www.telegraph.co.uk/sport/main.jhtml;jsessionid=IGZ4VPSTTGE5BQFIQMFSFGGAVCBQ0IV0?xml=/sport/2007/11/06/sfnfro106.xml. अभिगमन तिथि: 7 November 2007. 
  45. "Bidders line up for U.S. rights to Premiership". Sports Business Journal. 26 January 2009. http://www.sportsbusinessjournal.com/article/61334. अभिगमन तिथि: 8 April 2009. 
  46. "SETANTA IN FLUX". New York Times. 19 June 2009. http://www.nytimes.com/2009/06/21/sports/soccer/21kick.html?ref=sports. अभिगमन तिथि: 19 June 2009. 
  47. स्पोर्ट्सनेट: स्पोर्ट्सनेट में EPL की वापसी 4 दिसंबर 2009
  48. "Never Miss An EPL Moment...". Australian Four Four Two. 10 August 2007. http://au.fourfourtwo.com/news/58663,never-miss-an-epl-moment.aspx. अभिगमन तिथि: 8 April 2009. 
  49. "ESPN-Star extends pact with FA Premier League". The Hindu Business Line. 21 March 2004. http://www.blonnet.com/2004/03/21/stories/2004032101440300.htm. अभिगमन तिथि: 9 August 2006. 
  50. "Chinese phone maker's fancy footwork". BBC News. 27 October 2003. http://news.bbc.co.uk/1/hi/business/3207829.stm. अभिगमन तिथि: 9 August 2006. 
  51. "Premiership trio launch Asia Cup". ESPN. 1 March 2003. http://soccernet.espn.go.com/news/story?id=259488&cc=5901. अभिगमन तिथि: 9 August 2006. 
  52. "English Premier League Launch Asia Trophy". premierleague.com. http://www.premierleague.com/fapl.rac?command=forwardOnly&nextPage=enNewsLatest&id=883403&breadcrumb=latestfa_breadcrumb. अभिगमन तिथि: 9 August 2006. 
  53. "Portsmouth win Asia Trophy after shoot-out". London: The Times. 27 July 2007. http://www.timesonline.co.uk/tol/sport/football/article2154102.ece. अभिगमन तिथि: 25 May 2008. 
  54. "Goal footage warning for website". BBC. 9 August 2006. http://news.bbc.co.uk/2/hi/technology/6072266.stm. अभिगमन तिथि: 2 December 2007. 
  55. "The Premier League". Webuser. 2002-10-22. Archived from the original on 2009-11-18. http://www.webcitation.org/5lNnZi8LM. अभिगमन तिथि: 2009-11-18. 
  56. "Premiership to launch website". Marketing Week. 2002-04-04. Archived from the original on 2009-11-18. http://www.webcitation.org/5lNnSaPyI. अभिगमन तिथि: 2009-11-18. 
  57. Conn, David (10 May 2006). "Rich clubs forced to give up a sliver of the TV pie". London: Guardian. http://football.guardian.co.uk/comment/story/0,,1771399,00.html. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  58. Brewin, John (4 July 2005). "1997/98 - Season Review". ESPN. http://soccernet.espn.go.com/columns/story?id=333233&root=extratime&cc=5739. अभिगमन तिथि: 29 November 2007. 
  59. James, Stuart (5 August 2006). "Why clubs may risk millions for riches at the end of the rainbow". London: Guardian. http://football.guardian.co.uk/comment/story/0,,1837801,00.html. अभिगमन तिथि: 13 August 2006. 
  60. Ben Bailey and Patrick Whyte (19 March 2009). "Premier League casualties - clubs that have struggled since relegation". Evening Standard. http://www.thisislondon.co.uk/standard-sport/article-23664566-details/Premier+League+casualties+-+clubs+that+have+struggled+since+relegation/article.do. अभिगमन तिथि: 7 April 2009. 
  61. "Down again: Leicester's relegation horror". London: Daily Telegraph. 5 May 2008. http://www.telegraph.co.uk/sport/football/2299511/Down-again-Leicesters-relegation-horror.html. अभिगमन तिथि: 7 April 2009. 
  62. फुटबॉल क्लब के इतिहास का डाटाबेस
  63. "The best of the rest". ESPNsoccernet. 29 January 2007. http://soccernet.espn.go.com/columns/story?id=405515&root=england&&cc=5739. अभिगमन तिथि: 27 November 2007. 
  64. "Mourinho proud of battling finish". BBC. 2005-05-13. http://news.bbc.co.uk/sport1/football/teams/c/chelsea/4545045.stm. अभिगमन तिथि: 2006-12-28. 
  65. Hughes, Ian (2004-05-15). "Arsenal the Invincibles". BBC Sport. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/teams/a/arsenal/3713537.stm. अभिगमन तिथि: 2008-08-11. 
  66. "Power of top four concerns Keegan". BBC Sport. 6 May 2008. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/teams/n/newcastle_united/7384247.stm. अभिगमन तिथि: 6 May 2008. 
  67. "Scudamore defends 'boring' League". BBC Sport. 7 May 2008. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/7388360.stm. अभिगमन तिथि: 9 May 2008. 
  68. http://www.timesonline.co.uk/tol/sport/football/premier_league/article5589815.ece टाइम्स ऑनलाइन - आधुनिक फुटबॉल के बारे में टाइम्स की 50 सबसे बुरी बातें
  69. BBC न्यूज़ क्या प्रीमियर लीग नाइजीरियाई फुटबॉल की हत्या कर रहा है?, 28 जुलाई 2008
  70. "It's official - Tottenham have the worst defence in Premier League history". Daily Mail. 14 November 2007. http://www.dailymail.co.uk/pages/live/articles/sport/football.html?in_article_id=493532&in_page_id=1779. अभिगमन तिथि: 1 December 2007. 
  71. "Barclays Premier League Statistics". premierleague.com. FA Premier League. http://www.premierleague.com/page/Statistics. अभिगमन तिथि: 21 February 2010. 
  72. "Work permit arrangements for football players". Home Office. http://www.workingintheuk.gov.uk/working_in_the_uk/en/homepage/work_permits0/applying_for_a_work/sports_and_entertainers/football_players.html. अभिगमन तिथि: 1 July 2007. 
  73. Ron Atkinson (23 August 2002). "England need to stem the foreign tide". London: The Guardian. http://football.guardian.co.uk/print/0,3858,4487212-3057,00.html. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  74. Ingle, Sean (12 June 2001). "Phil Neal: King of Europe?". Guardian Unlimited (London). http://football.guardian.co.uk/news/theknowledge/0,9204,474626,00.html. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  75. "Wenger backs non-English line-up". BBC. 14 February 2005. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/teams/a/arsenal/4266443.stm. अभिगमन तिथि: 10 August 2006. 
  76. "New Work Permit Criteria for Football Players Announced". Department for Education and Employment. 2 July 1999. http://www.gnn.gov.uk/Content/Detail.asp?ReleaseID=32096&NewsAreaID=2. अभिगमन तिथि: 1 July 2007. 
  77. "Forty factors fuelling football inflation". London: The Guardian. 31 July 2003. http://football.guardian.co.uk/comment/story/0,9753,1009392,00.html. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  78. "Wages fall, but Premier League still spend big". ESPN Soccernet. 1 June 2006. http://soccernet.espn.go.com/news/story?id=369799&cc=5739. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  79. O'Connor, Ashling (8 June 2005). "The billion-pound revolution". London: The Times. http://www.timesonline.co.uk/tol/sport/football/article531111.ece. अभिगमन तिथि: 8 August 2006. 
  80. "From £250,000 to £29.1m". London: Observer. 5 March 2006. http://observer.guardian.co.uk/osm/story/0,,1720979,00.html. अभिगमन तिथि: 2 December 2007. 
  81. "Veron and Other Top Transfers". 4thegame. http://www.4thegame.com/features/feature/82010/.html. अभिगमन तिथि: 2 December 2007. 
  82. "Leeds sell Rio for £30 million". London: Daily Telegraph. 21 July 2002. http://www.telegraph.co.uk/sport/main.jhtml?xml=/sport/2002/07/21/uferd.xml. अभिगमन तिथि: 2 December 2007. 
  83. "Chelsea complete Shevchenko deal". BBC. 31 May 2006. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/teams/c/chelsea/5035604.stm. अभिगमन तिथि: 2 December 2007. 
  84. "Man City beat Chelsea to Robinho". BBC Sport. 1 September 2008. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/teams/m/man_city/7593026.stm. अभिगमन तिथि: 2 September 2008. 
  85. Fletcher, Paul (14 February 2009). "Portsmouth 2-0 Man City". BBC Sport. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/eng_prem/7872584.stm. अभिगमन तिथि: 14 February 2009. 
  86. Becky Gamester. "Super Shearer". BBC. http://www.bbc.co.uk/lancashire/sport/brfc/shearer.shtml. अभिगमन तिथि: 10 December 2007. 
  87. "Barclaycard Premiership top scorers". 4thegame. 20 January 2004. http://www.4thegame.com/features/feature/145997/. अभिगमन तिथि: 16 December 2007. 
  88. "Fergie deserves his victory dance". Sporting Life. 11 May 2008. Archived from the original on 4 Jun 2011. http://web.archive.org/20110604224936/www.sportinglife.com/fanzine/story_get.dor?STORY_NAME=soccer/08/05/11/SOCCER_Premier_League_Comment.html. अभिगमन तिथि: 11 May 2008. 
  89. Bevan, Chris (1 November 2008). "Chelsea 5-0 Sunderland". BBC Sport. http://news.bbc.co.uk/sport1/hi/football/eng_prem/7684736.stm. अभिगमन तिथि: 2 November 2008. 
  90. "Torres goals aid club and country". FIFA. 12 December 2008. http://www.fifa.com/classicfootball/awards/gala/news/newsid=973350.html. अभिगमन तिथि: 10 April 2009. 
  91. "Tottenham 9 - 1 Wigan". BBC. 2009-11-22. Archived from the original on 2009-11-23. http://www.webcitation.org/5lVZ4CbjA. अभिगमन तिथि: 2009-11-23. 
  92. "Ryan Giggs goal makes him only person to score in all PL seasons trivia". sportsbusiness.com. http://www.sportbusiness.com/marketplace/facts/ryan-giggs-goal-makes-him-only-person-to-score-in-all-pl-seasons. अभिगमन तिथि: 21 November 2009. 
  93. "Barclays Premier League Trophy in city". Express India. 26 February 2008. http://www.expressindia.com/latest-news/Barclays-Premier-League-Trophy-in-city/277204/. अभिगमन तिथि: 21 May 2008. 
  94. http://www.gettyimages.com/detail/51204716/Getty-Images-Sport

बाहरी लिंक[संपादित करें]

Listen to this article · (info)
Spoken Wikipedia
This is an audio file which was created from an article revision dated 4 March 2007, and does not reflect subsequent edits to the article. (Audio help)
ये एक आवाज़-लेख है, जो इस लेख का 4 March 2007 दिनांक को बना आवाज़ प्रतिरूप है । इसे आप सुन सकते हैं ।
अंग्रेज़ी के और आवाज़-लेख हिन्दी के और आवाज़-लेख

साँचा:English football league system cells

साँचा:UEFA leagues