प्रवेशद्वार:राजस्थान

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज



बदलें  

राजस्थान प्रवेशद्वार

India Rajasthan locator map.svg

राजस्थान भारत का एक प्रान्त है । यहाँ की राजधानी जयपुर है।राजस्थान भारत गणराज्य का क्षेत्रफल के आधार पर सबसे बड़ा राज्य है। इसके पश्चिम में पाकिस्तान, दक्षिण-पश्चिम में गुजरात, दक्षिण-पूर्व में मध्यप्रदेश, उत्तर में पंजाब, उत्तर-पूर्व में उत्तरप्रदेश और हरियाणा है। राज्य का क्षेत्रफल 3,42,239 वर्ग कि.मी. (1,32,139 वर्ग मील) है।

जयपुर राज्य की राजधानी है। भौगोलिक विशेषताओं में पश्चिम में थार मरूस्थल और घग्गर नदी का अंतिम छोर है। विश्व की पुरातन श्रेणियों में प्रमुख अरावली श्रेणी राजस्थान का एकमात्र पहाडी, जो कि पर्यटन का केन्द्र है, माउंट आबू और विश्वविख्यात दिलवाड़ा मंदिर सम्मिलित करती है। पूर्वी राजस्थान में दो बाघ अभयारण्य, रणथम्भौर एवम् सरिस्का हैं और भरतपुर के समीप केवलादेव राष्ट्रीय उध्यान है, जो पक्षियों की रक्षार्थ निर्मित किया गया है।
बदलें  

चयनित लेख

Laxmi Niwas Palace.jpg
बीकानेर राजस्थान प्रान्त का एक शहर है। बीकानेर राज्य का पुराना नाम जांगल देश था। इसके उत्तर में कुरु और मद्र देश थे, इसलिए महाभारत में जांगल नाम कहीं अकेला और कहीं कुरु और मद्र देशों के साथ जुड़ा हुआ मिलता है। बीकानेर के राजा जंगल देश के स्वामी होने के कारण अब तक "जंगल धर बादशाह' कहलाते हैं|बीकानेर राज्य तथा जोधपुर का उत्तरी भाग जांगल देश था

राव बीका द्वारा 1485 में इस शहर की स्थापना की गई। ऐसा कहा जाता है कि नेरा नामक व्यक्ति इस संपूर्ण जगह का मालिक था तथा उसने राव बीका को यह जगह इस शर्त पर दी की उसके नाम को नगर के नाम से जोड़ा जाए। इसी कारण इसका नाम बीका+नेर, बीकानेर पड़ा। [पूरा पढ़ें]

बदलें  

राजस्थान के व्यंजन

Baati.jpg
राजस्थान का प्रसिद्ध व्यञ्जन दाल बाटी चूरमा
बदलें  

चयनित जीवनी

मीराबाई कृष्ण-भक्ति शाखा की प्रमुख कवयित्री हैं। उनका जन्म १५०४ ईस्वी में जोधपुर के ग्राम कुड्की में हुआ था। उनके पिता का नाम रत्नसिंह था। उनके पति कुंवर भोजराज उदयपुर के महाराणा सांगा के पुत्र थे। विवाह के कुछ समय बाद ही उनके पति का देहांत हो गया। पति की मृत्यु के बाद उन्हे पति के साथ सती करने का प्रयास किया गया किन्तु मीरां इसके लिये तैयार नही हुई . वे संसार की ओर से विरक्त हो गयीं और साधु-संतों की संगति में हरिकीर्तन करते हुए अपना समय व्यतीत करने लगीं। कुछ समय बाद उन्होंने घर का त्याग कर दिया और तीर्थाटन को निकल गईं। वे बहुत दिनों तक वृंदावन में रहीं और फिर द्वारिका चली गईं। जहाँ संवत १५६० ईस्वी में उनका देहांत हुआ।


बदलें  

राजस्थान के मुख्यमंत्री

भरतीय राज्य राजस्थान में मुख्यमंत्री राज्य सरकार का मुखिया होता है।

कुंजी: कांग्रेस
भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
जपा
जनता पार्टी
भाजपा
भारतीय जनता पार्टी
राष्ट्रपति शासन
# नाम पदभार ग्रहण पदमुक्ति दल
1 हीरा लाल शास्त्री 7 अप्रेल 1949 5 जनवरी 1951 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
2 सी एस वेंकटाचारी 6 जनवरी 1951 25 अप्रेल 1951 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
3 जय नारायण व्यास 26 अप्रेल 1951 3 मार्च 1952 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
4 टीका राम पालीवाल 3 मार्च 1952 31 अक्टूबर 1952 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
5 जय नारायण व्यास [2] 1 नवम्बर 1952 12 नवम्बर 1954 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
6 मोहन लाल सुखाडीया 13 नवम्बर 1954 11 अप्रेल 1957 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
7 मोहन लाल सुखाडीया [2] 11 अप्रेल 1957 11 मार्च 1962 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
8 मोहन लाल सुखाडीया [3] 12 मार्च 1962 13 मार्च 1967 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
रिक्त राष्ट्रपति शासन 13 मार्च 1967 26 अप्रेल 1967
9 मोहन लाल सुखाडीया [4] 26 अप्रेल 1967 9 जुलाई 1971 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
10 बरकतुल्लाह खान 9 जुलाई 1971 11 अगस्त 1973 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
11 हरी देव जोशी 11 अगस्त 1973 29 अप्रेल 1977 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
रिक्त राष्ट्रपति शासन 29 अगस्त 1973 22 जून 1977
12 भैरों सिंह शेखावत 22 जून 1977 16 फरवरी 1980 जनता पार्टी
रिक्त राष्ट्रपति शासन 16 मार्च 1980 6 जून 1980
13 जगन्नाथ पहाड़ीया 6 जून 1980 13 जुलाई 1981 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
14 शिव चंद्र माथुर 14 जुलाई 1981 23 फरवरी 1985 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
15 हीरा लाल देवपुरा 23 फरवरी 1985 10 मार्च 1985 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
16 हरी देव जोशी [2] 10 मार्च 1985 20 जनवरी 1988 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
17 शिव चंद्र माथुर [2] 20 जनवरी 1988 4 दिसम्बर 1989 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
18 हरी देव जोशी [3] 4 दिसम्बर 1989 4 मार्च 1990 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
19 भैरों सिंह शेखावत [2] 4 मार्च 1990 15 दिसम्बर 1992 भाजपा
रिक्त राष्ट्रपति शासन 15 दिसम्बर 1992 4 दिसम्बर 1993
20 भैरों सिंह शेखावत [3] 4 दिसम्बर 1993 29 दिसम्बर 1998 भाजपा
21 अशोक गहलोत 1 दिसम्बर 1998 8 दिसम्बर 2003 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
22 वसुन्धरा राजे सिंधिया 8 दिसम्बर 2003 11 दिसम्बर 2008 भाजपा
23 अशोक गहलोत [2] 12 दिसम्बर 2008 13 दिसम्बर 2013 भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस
24 वसुन्धरा राजे सिंधिया [2] 13 दिसम्बर 2013 पदस्थ भाजपा
बदलें  

चयनित चित्र

नागौर के शासक, खान किलान द्वारा १५७० में अकबर का स्वागत। संकलित:अकबरनामा
बदलें  

चयनित पर्यटन स्थल

नक्की झील महाराजा पैलेस और टोड रॉक
समुद्र तल से 1220मीटर की ऊंचाई पर स्थित माउंट आबू राजस्थान का एकमात्र पहाड़ी नगर है। सिरोही जिले में स्थित नीलगिरि की पहाड़ियों की सबसे ऊँची चोटी पर बसे माउंट आबू की भौगोलिक स्थित और वातावरण राजस्थान के अन्य शहरों से भिन्न व मनोरम है। यह स्थान राज्य के अन्य हिस्सों की तरह गर्म नहीं है। माउंट आबू हिन्दु और जैन धर्म का प्रमुख तीर्थस्थल है। यहां का ऐतिहासिक मंदिर और प्राकृतिक खूबसूरती सैलानियों को अपनी ओर खींचती है। माउंट आबू पहले चौहान साम्राज्य का हिस्सा था। बाद में सिरोही के महाराजा ने माउंट आबू को राजपूताना मुख्यालय के लिए अंग्रेजों को पट्टे पर दे दिया। ब्रिटिश शासन के दौरान माउंट आबू मैदानी इलाकों की गर्मियों से बचने के लिए अंग्रेजों का पसंदीदा स्थान था।
बदलें  

श्रेणियां

बदलें  

संबंधित प्रवेशद्वार

टोंगा का ध्वज


बदलें  

विषय


बदलें  

संबंधित विकिमीडिया