प्रतिप्रोटोन संचयक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

प्रतिप्रोटोन संचयक (अंग्रेज़ी: Antiproton Accumulator सर्न में प्रतिद्रव्य के भण्डारण और अवमन्दन के लिए बनाई गयी निर्माणशाला थी, जिसका उद्देश्य प्रतिद्रव्य का अध्ययन करना और प्रति-हाइड्रोजन के परमाणुओं का निर्माण करना था। इसका निर्माण ७० के दशक के अन्त में किया गया और "प्रोटॉन-प्रतिप्रोटोन संघट्टक" के निर्माण के लिए इन उच्च ऊर्जा से त्वरित प्रतिप्रोटोनों को सुपर प्रोटॉन सिंक्रोट्रॉन में प्रवेशित किया जाता था।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]