प्रकाश वाल्व

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

प्रकाश वाल्व या प्रकाश कपाट ऐसी युक्ति है जो किसी प्रकाश-स्रोत से निकलकर किसी लक्ष्य तक पहुँचने वाले प्रकाश की मात्रा को आवश्यकतानुसार परिवर्तित करने की सुविधा प्रदान करती है। संगणक स्क्रीन या वीडियो प्रक्षेपण (प्रोजेक्टर) मे प्रयोग होने वाला पर्दा 'लक्ष्य' के कुछ उदाहरण हैं।

प्रकाश वाल्व की क्रिया को प्राप्त करने के दो बुनियादी सिद्धांत हैं। पहला, लक्ष्य तक पहुँचने वाले प्रकाश का इसके मार्ग से विक्षेपण करके (एक परावर्तक प्रकाश वाल्व) और दूसरा प्रकाश को अवरुद्ध करके (एक पारगम्य प्रकाश वाल्व)।

अवरुद्ध विधि का प्रयोग द्रव क्रिस्टल प्रादर्शी (LCDs) स्क्रीन, वीडियो प्रक्षेपक और पश्च-प्रक्षेपण टेलीविज़न में होता है।

संदर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियां[संपादित करें]