पौष

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

हिन्दू पंचांग के अनुसार साल के दसवें माह का नाम पौष हैं।[1] इस मास में हेमंत ऋतु होने से ठंड अधिक होती है। धर्म ग्रंथों के अनुसार इस मास में भग नाम सूर्य की उपासना करना चाहिए।[2]

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. धर्म डेस्क, उज्जैन (12 दिसम्बर 2011) "पौष मास प्रारंभ, करें सूर्य की उपासना". दैनिक भास्कर. http://religion.bhaskar.com/article/utsav--poush-mass-start-today-do-sun-worship-2631799.html. अभिगमन तिथि: 3 अक्टूबर 2013. 
  2. पं॰ केवल आनन्द जोशी (17 दिसम्बर 2011). "क्यों होता है खर मास?". नवभारत टाइम्स. http://blogs.navbharattimes.indiatimes.com/aasthaaurchintan/entry/16-द-सम-बर-स-14-जनवर-तक-खरम-स. अभिगमन तिथि: 3 अक्टूबर 2013.