पैराडाइज

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

यूनानी साहित्य में फारसी राजाओं की वाटिका को पैराडाईज कहा जाता था। बाइबिल के प्रारंभ में आदम और हौवा का निवास स्थान एक वाटिका के रूप में चित्रित है और उसे पैराडाज अथवा अदनवाटिका कहा गया है। उसका तात्पर्य है कि वे सुख-शांति से जीवन व्यतीत कर रहे थे। पाप करने के बाद उनको पैराडाइज से निकाल दिया गया था, अर्थात्‌ वे अपनी सुख शांति खो बैठे। यहूदियों का विश्वास था कि मसीह मानव जाति के लिये पैराडाइज फिर खोल देगें अर्थात्‌ वह सुख शांति एवं मुक्ति का मार्ग प्रशस्त कर देगे, इस तरह पैराडाइज स्वर्ग का प्रतीक बन गया।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]