पी॰ सी॰ महालनोबिस

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पी॰ सी॰ महालनोबिस
200px
जन्म २९ जून १८९३
कलकत्ता, बंगाल, अंग्रेजी भारत
मृत्यू २८ जून १९७२
कलकत्ता, पश्चिम बंगाल, [ भारत]]
निवास भारत, यु के, यु एस
राष्ट्रीयता भारत
क्षेत्र हिसाब
संस्थाएँ कैंमब्रिज युनिवर्सिटी
भारती स्टैटिसटीक्ल इंस्टीट्यूट
मातृसंस्था कलकत्ता युनिवर्सिटी
कैंमब्रिज युनिवर्सिटी
प्रसिद्ध कार्य महालनोबिस डिस्टेंस
पुरस्कार वैलडॉन मेमोरियल प्राईज़ (1944)
पद्म विभूषण (1968)
Signature

प्रशान्त चन्द्र महालनोबिस (बंगला: প্রশান্ত চন্দ্র মহলানবিস ; २९ जून १८९३- २८ जून १९७२) एक प्रसिद्ध भारतीय वैज्ञानिक एवं सांख्यिकीविद थे। उन्हें दूसरी पंचवर्षीय योजना के अपने मसौदे के कारण जाना जाता है। भारत की स्वत्रंता के पश्चात नवगठित मंत्रिमंडल के सांख्यिकी सलाहकार बने तथा औद्योगिक उत्पादन की तीव्र बढ़ोतरी के जरिए बेरोजगारी समाप्त करने के सरकार के प्रमुख उद्देश्य को पूरा करने के लिए योजना का खाका खींचे।

महालनोबिस की प्रसिद्धि महालनोबिस दूरी के कारण है जो उनके द्वारा सुझाया गयी एक साख्यिकीय माप है। उन्होने भारतीय सांख्यिकीय संस्थान की स्थापना की।

आर्थिक योजना और सांख्‍यि‍की विकास के क्षेत्र में प्रशांत चन्‍द्र महालनोबिस के उल्‍लेखनीय योगदान के सम्‍मान में भारत सरकार उनके जन्‍मदिन, 29 जून को हर वर्ष 'सांख्‍यि‍की दिवस' के रूप में मनाती है। इस दिन को मनाने का उद्देश्‍य सामाजिक-आर्थिक नियोजन और नीति निर्धारण में प्रो. महालनोबिस की भूमिका के बारे में जनता में, विशेषकर युवा पीढ़ी में जागरूकता जगाना तथा उन्‍हें प्रेरित करना है।

बाह्य सूत्र[संपादित करें]

टिप्पणी[संपादित करें]