पीकिंग मानव

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
पीकिंग मानव की प्रतिकृति

पीकिंग के निकट एक गुफा में जावा मानव की तरह जीवों के जीवाश्म मिले हैं, इसे पीकिंग मानव या सिनांथ्रोपस कहा जाता है। यह जावा मानव से कुछ अधिक विकसित था। यह आग जलाना भी जानता था। यह आज से लगभग 5,00,000 वर्ष पूर्व रहता था।[1]

संदर्भ[संपादित करें]

  1. Ian Tattersall. "Out of Africa again...and again?". Scientific American 276 (4): 60–68.