निरंकार

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

निरंकार (पंजाबी: ਨਿਰੰਕਾਰ; संस्कृत: निराकारा से) का अर्थ है बिना आकार का और इसका उपयोग सिखों की पवित्र पुस्तक गुरु ग्रन्थ साहिब में ईश्वर को उद्घृत करने के लिए किया गया है।