नन्दन नीलेकणि

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
नंदन एम नीलेकणि
Nandan M. Nilekani.jpg
जन्म 2 जून, 1955
बंगलुरु, कर्नाटक, भारत
व्यवसाय भारतीय विशिष्ट पहचानपत्र प्राधिकरण (UIDAI) के अध्यक्ष
वेतन 203,545 अमेरिकी डॉलर (2007)
कुल मूल्य Green Arrow Up Darker.svg 1.3 बिलियन अमेरिकी डॉलर

नंदन नीलेकणि इन्फोसिस के सह अध्यक्ष और संस्थापक सदस्यों में से एक हैं। भारत सरकार ने देश के हर नागरिक को एक विशिष्ट पहचान संख्या या यूनिक आइडेंटीफिकेशन नम्बर प्रदान करने के लिए प्रस्तावित यूआईडी प्राधिकरण अथवा विशिष्ट पहचान प्राधिकरण गठित करने को मंजूरी दे दी है और नंदन नीलकेणी इसके पहले अध्यक्ष होंगे। नीलकेणी का रैंक कैबिनेट स्तर का होगा। यह प्राधिकरण एक डाटा बेस तैयार करेगा और प्रत्येक नागरिक के लिए एक विशिष्ट पहचान संख्या प्रदान करेगा। इस नम्बर के आधार पर उस नागरिक की पूरी जानकारी सरकार के पास उपलब्ध होगी। इन्हें भारत सरकार द्वारा सन् २००६ में विज्ञान एवं अभियांत्रिकी के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था।[1] ये कर्नाटक से हैं।

जीवनी[संपादित करें]

इन्फोसिस टेक्नोलॉजीज के सह संस्थापक नीलेकणी ने वर्ष 1981 में कंपनी को इसकी शुरुआत के साथ एक निदेशक के रूप में अपनी सेवाएं दी। उन्होंने मार्च 2002 से जून 2007 तक कंपनी के मुख्य कार्यकारी और प्रबंध निदेशक के तौर पर काम किया और फिर उन्हें कंपनी बोर्ड का सह अध्यक्ष नियुक्त किया गया।

सन्दर्भ[संपादित करें]

  1. "K.K. Talwar, Sibal get Padma Bhushan [के के तलवार, सिबल को पद्म भूषण मिला]" (अंग्रेज़ी में). द ट्रिब्यून. २५ जनवरी २००६. http://www.tribuneindia.com/2006/20060126/main6.htm. अभिगमन तिथि: ८ दिसम्बर २०१३. 

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]