ध्रुवी ऊनविम पृष्ठ

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

बीजीय ज्यामिति में, एक प्रक्षेपीय बीजीय ऊनविम पृष्ठ C दिया गया है जिसे संमागी समीकरण द्वारा वर्णित किया गया

f(x_0,x_1,x_2,\dots) = 0 \,

और बिन्दु

a = (a_0:a_1:a_2: \dots),

यह ध्रुवी ऊनविम पृष्ठ Pa(C) एक ऊनविम समतल है

a_0 f_0 + a_1 f_1 + a_2 f_2+\cdots = 0, \,

जहाँ ƒi आंशिक अवकल हैं।

C  और Pa(C)  का प्रतिच्छेदन बिन्दुओं p  का समुच्चय है जहाँ p  से C  पर स्पर्शज्या  a पर मिलती है।[1]

सन्दर्भ[संपादित करें]

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]