दैत्य सेतुक

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
Erioll world.svgनिर्देशांक: 55°14′27″N 6°30′42″W / 55.24083°N 6.51167°W / 55.24083; -6.51167
दैत्य सेतुक और सेतुक तट
संरक्षित क्षेत्र
Causeway-code poet-4.jpg
देश संयुक्त राजशाही
क्षेत्र उत्तरी आयरलैंड
जिला अंटरिम काउंटी
नगरपालिका मॉयल
निर्देशांक 55°14′27″N 6°30′42″W / 55.24083°N 6.51167°W / 55.24083; -6.51167
क्षेत्रफल 0.7 कि.मी.² (0 वर्ग मील)
भूविज्ञान बेसाल्ट
काल पेलिओजीन
स्वामित्व राष्ट्रीय न्यास
सार्वजनिक जनता के लिए खुला
यूनेस्को विश्व धरोहर स्थल
नाम दैत्य सेतुक और सेतुक तट
वर्ष 1986 (#10)
संख्या 369
क्षेत्र यूरोप और उत्तरी अमेरिका
मानदंड VII, VIII
IUCN वर्ग III - प्राकृतिक स्मारक
Wikimedia Commons: दैत्य सेतुक
Website: National Trust web site

दैत्य सेतुक, ( अंग्रेजी: Giant's Causeway, आयरिश: Clochán an Aifir या Clochán na bhFomhórach[1] और अल्स्टर स्कॉट :tha Giant's Causey)[2] एक प्राचीन ज्वालामुखीय विस्फोट के परिणामस्वरूप अस्तित्व में आये लगभग 40,000 अन्त:पाशित (आपस में गुथे हुए) बेसाल्ट स्तंभों की संरचना वाला क्षेत्र है। यह उत्तरी आयरलैंड की अंटरिम काउंटी के उत्तरी-पूर्व तट पर स्थित है, और बुशमिल्स नामक शहर के उत्तर पूर्व में तीन मील (4.8 किमी) की दूरी पर स्थित है। यूनेस्को ने इस क्षेत्र को 1986 में एक विश्व धरोहर स्थल घोषित किया था, जबकि उत्तरी आयरलैंड के पर्यावरण विभाग ने 1987 में इसे एक राष्ट्रीय प्रकृति संरक्षित क्षेत्र घोषित किया। 2005 में रेडियो टाइम्स के पाठकों के बीच कराये गये एक सर्वेक्षण में, इस संरचना को संयुक्त राजशाही का चौथा सबसे बड़ा प्राकृतिक आश्चर्य चुना गया।[3] सागर से उभरने वाले इन उर्ध्वाधर खड़े स्तभों के सिरे कमोबेश चपटे हैं। अधिकांश स्तंभ षटकोणीय हैं, हालांकि चार, पांच, सात और आठ पक्षों वाले स्तंभ भी उपस्थित हैं। सबसे लंबा स्तंभ 12 मीटर (39 फुट) ऊंचा है, और चट्टानों में जमा लावा कई स्थानों पर 28 मीटर तक मोटा है।

दैत्य सेतुक का प्रबंधन और स्वामित्व, राष्ट्रीय न्यास के हाथों में है और उत्तरी आयरलैंड में यह सबसे अधिक लोकप्रिय पर्यटन स्थल है।[4]

इतिहास[संपादित करें]

सन्दर्भ[संपादित करें]