थेल्स का प्रमेय

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
यदि AC वृत्त का व्यास हो तो कोण ABC हमेशा 90 डिग्री होगा।

ज्यामिति में थेल्स के प्रमेय (Thales' theorem) के अनुसार किसी भी वृत्त के परिधि पर स्थित तीन बिन्दुओं A, B तथा C हो तो कोण ABC का मान ९० अंश होगा यदि AB उस वृत्त का कोई व्यास हो। यह प्रमेय 'अन्तःनिर्मित कोण प्रमेय' (inscribed angle theorem) का एक विशेष रूप है। प्रायः इस प्रमेय के खोज का श्रेय थेल्स को दिया जाता है किन्तु कभी-कभी पाइथागोरस को भी इसका आविष्कारकर्ता माना जाता है।

बाहरी कड़ियाँ[संपादित करें]