डर्ट ट्रैक रेसिंग (कीचड़ में कार रेस)

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

डर्ट ट्रैक रेसिंग एक प्रकार की गाड़ियों की दौड़ है जिसे अंडाकार मार्ग या ट्रैक पर प्रदर्शित किया जाता है. इसकी शुरुआत प्रथम विश्व युद्ध से पहले संयुक्त राज्य अमेरिका में हुई और 1920 और 1930 के दशक दौरान काफी लोकप्रिय हो गया. इस दौड़ में दो तरह की दौड़ वाली कारों का इस्तेमाल होता है-उत्तरपूर्व और पश्चिम में ओपनव्हील रेसर्स कारें और दक्षिण में स्टॉक कारें. जहां ओपन व्हील रेस कारें खास तौर पर बनाई गईं रेसिंग कारें हैं वहीं स्टॉक कारें (ऐसी कारें जिन्हें झटकों से बचाने के लिए तैयार किए गए हों) खास मकसद के लिए बनाई कारें भी हो सकती हैं या वो कारें भी हो सकती हैं जो सड़क पर दौड़ती हैं जिनमें कुछ बदलाव किए गए हैं.

डर्ट ट्रैक रेसिंग संयुक्त राज्य अमेरिका में ऑटो रेसिंग का सबसे आम रूप है. वहां देश भर में सैकड़ों स्थानीय और क्षेत्रीय रेस ट्रैक्स हैं: कुछ अनुमानों के मुताबिक इनकी संख्या 1500 से भी ज्यादा हो सकती है. यह खेल आस्ट्रेलिया और कनाडा में भी लोकप्रिय है. रेसिंग सीजन में इनमें से कई कारें छोटे डामर ट्रैक पर भी दौड़ती हैं.

रेस ट्रैक या दौड़ का मैदान[संपादित करें]

डर्ट लेट मॉडल श्रेणी की कारें दर्शाती हैं कि कैसे गंदे ट्रैक पर गाड़ी चलाने वाले चालक अपनी कारों को पिछले हिस्से को कोने के जरिए स्लाइड कराते हैं. कई चालक एक कोने में विभिन्न बिंदुओं पर कार का कोण दर्शाते हैं.

उत्तरी अमेरिका[संपादित करें]

लगभग सभी ट्रैक या दौड़ के मैदान अंडाकार होते हैं और जिनकी लंबाई 1 मील (1.6 किलोमीटर) से कम होती है, ज्यादातर की लंबाई आधे मील (804 मीटर) या इससे कम होती है. अमेरिका में सबसे आम वृद्धि ½ मील, ⅜ मील (603 मीटर), ⅓ (536 मीटर) मील, मील (402 मीटर) ¼, और ⅛ मील (201 मीटर) हैं. लंबे ट्रैक पर दौड़ में शामिल होने वाली कारें ज्यादा रफ्तार हासिल कर सकती हैं और साथ ही कारों की संख्या बढ़ने के दौरान अंतराल भी मिलता है. इससे दुर्घटनाओं की आशंका तो कम होती है लेकिन जब कारों की टक्कर होती है तो नुकसान और चोट की आशंका बढ़ जाती है.

ट्रैक की सतह किसी भी मिट्टी से बनी हो सकती है, लेकिन अधिकांश प्रतियोगी चिकनी मिट्टी से बने ट्रैक को ही पसंद करते हैं. आमतौर पर ट्रैक ऑपरेटर सतह चिपचिपा रखने की कोशिश करते हैं और जब यह सूखने लगती है तो उस पर पानी छिड़क कर उसे गिला रखते हैं. कुछ ऑपरेटर सपाट अंडाकार ट्रैक बनाते हैं लेकिन ज्यादातर ढाल वाले ट्रैक बनाते हैं.

यूनाइटेड किंगडम[संपादित करें]

ग्रेट ब्रिटेन में आमतौर पर अंडाकार ट्रैक घास पर बने होते हैं जिसकी लंबाई 400 मीटर (¼ मील) से लेकर 800 मीटर (½ मील) तक के होते हैं. दौड़ के तहत कई अर्हता प्राप्त करने के मुकाबले होते हैं, प्रत्येक में ट्रैक के चार घेरे लगाने होते हैं जिसके बाद प्रतियोगी फाइनल में पहुंचते हैं.

घास के ट्रैक पर होने वाले मुकाबले पारिवारिक खेल जैसा होता है जो सभी उम्र और क्षमता वाले लोगों के लिए उपयुक्त है. छह साल तक के लड़के और लड़कियां के रूप में युवा के रूप में छह से लड़कियों स्वचालित मशीनों पर प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं. उम्र और क्षमता बढ़ाने वाली कक्षाएं वयस्क होने तक जारी रहती हैं. मोटरक्रॉस मशीनों को घास वाले ट्रैक पर दौड़ाने की कक्षाएं ली जाती हैं. युवाओं के लिए जो कार्यक्रम आयोजित होते हैं उसे युवा प्रतियोगियों को अच्छी रेसिंग प्रदान करने के लिए सावधानीपूर्वक नियंत्रित किया जाता है.

यूरोप का शेष-भाग[संपादित करें]

मुख्य यूरोप में घास या रेत वाले लंबे ट्रैक इस्तेमाल किए जाते हैं, और 1 किलोमीटर (.621 मील) तक लंबे हो सकते हैं.

दौड़ वाली गाड़ियां[संपादित करें]

विशुद्ध डर्ट ट्रैक "स्ट्रीट स्टॉक" कार संयुक्त राज्य अमेरिका के विस्कोंसिन में रेस करती हैं

प्रत्येक दौड़ के मैदान (रेस ट्रैक) या प्रायोजित करने वाले संगठन का हर तरह की कार दौड़ के नियम होते हैं; जिनमें आयाम, इंजन के आकार, जरूरी उपकरण, मनाही, आदि शामिल हैं. आमतौर पर प्रत्येक वर्ग की जरूरतों को अन्य रेस ट्रैक्स और संस्थानों के साथ समन्वय बनाकर रखा जाता है जिससे कि प्रत्येक प्रकार के कार को उपलब्ध व्यापक स्थानों में शामिल होने का मौका मिले. इस तरह के समन्वय से चालकों को कई अलग अलग दौड़ के मैदानों में शामिल होने का मौका मिलता है, उनकी जीत के मौके बढ़ते हैं, रेसट्रैक को भी अधिक से अधिक कारों को मुकाबले में शामिल करने का मौका मिलते हैं; रेसिंग संस्थाओं को मुकाबलों की श्रृंखला विकसित करने का मौका मिलता है और प्रशंसकों की रुचि को भी बढ़ावा दिया जाता है.

कई प्रशंसक एक या अलग प्रकार की कारों को पसंद करते हैं. खुले पहिए (ओपन व्हील) वाले प्रशंसक कहते हैं, "असल रेस कारों में झटकों से बचने के साधन नहीं होते हैं." स्टॉक कार (दाहिने और ऊपर दिखाया गया है) के प्रशंसकों का कहना है कि खुले पहिए वाले प्रतियोगियों से न्यूनतम संपर्क होने पर भी आमतौर पर दोनों कारें निष्क्रिय हो जाती हैं. हकीकत में, दोनों प्रकार की गाड़ियों के कमजोर और मजबूत पक्ष हैं. आमतौर पर खुले पहिए वाली गाड़ियां हल्की और फुर्तिली होती है. स्टॉक कारें धक्का दे सकती हैं और आगे बढ़ सकती हैं.

कई ट्रैक्स अपने कार्यक्रमों में दोनों प्रकार के रेसर का समर्थन करते हैं. दोनों प्रकार के मुकाबलों में शक्तिशाली V8 इंजन से लेकर छोटी लेकिन शक्तिशाली 4-सिलेंडर वाले इंजन वाली कारें शामिल होती हैं. कुछ छोटे खुले पहिए वाली कारों में भी एकल सिलेंडर वाले पावरप्लांट की क्षमता होती है. श्रेणी के आधार पर, कारों में उच्च गति के दौरान निपटने में सहायता के लिए पंखे लगे होते हैं.

खुले पहिये वाली कार[संपादित करें]

डर्ट स्प्रिंट कारें

खुले पहिये वाली कारों को आमतौर पर नलीदार फ्रेम और उस खास वर्ग के लिए खरीदे गए बॉडी से बनाया जाता है. इन वर्गों में शामिल हैं:

  • नाटे या बौने (1928-1948 की बग्घी या पालकी की 5 / 8 प्रतिकृतियां)
  • कार्ट (गो कार्ट)
  • मिनी स्प्रिंट
  • स्प्रिंट
  • छोटा सा रफ्तार वाली कार या स्पीडकार (Speedcar)
  • क्वार्टर मिगेट
  • माइक्रो स्प्रिंट

मंजूरी देने वाली निकायों में शामिल हैं:

  • USAC - संयुक्त राज्य अमेरिका ऑटोमोबाइल क्लब
  • वर्ल्ड ऑफ आउटलॉज स्प्रिंट कार्स

बदलाव की गईं कारें[संपादित करें]

IMCA संशोधित कारें

बदलाव की गई कारें खुले पहिए वाली कारों और स्टॉक कारों का एक मिश्रण है - इस तरह की कारों में दौड़ में शामिल होने वाली गाड़ियों की विशेषता होती है जहां पिछले पहिए झटके बचाने वाले कवर से ढंके होते हैं जबकि सामने वाले पहिए खुले होते हैं. मंजूरी देने वाली कुछ संस्थाएं हैं जो इस वर्ग के ज्यादातर ट्रैक के नियमों को नियंत्रित करती हैं. मंजूरी देने वाली प्रत्येक संस्था की खुद के तैयार दिशा-निर्देश हैं जिन्हें वार्षिक नियमावली में शामिल किया जाता है और इसके लिए उनका खुद का पंजीकरण शुल्क होता है. मंजूरी देने वाली संस्थाओं में हैं:

  • एडवांस ऑटो पार्ट्स डर्ट सीरिज
  • IMCA (अंतर्राष्ट्रीय मोटर प्रतियोगिता संस्था)
  • UMP (यूनाइटेड मिडवेस्टर्न प्रोमोटर्स)
  • USRA (संयुक्त राज्य रेसिंग संस्था)
  • USMTS (यूनाइटेड स्टेट्स मोडिफाइड टूरिंग सीरिज)
  • WISSOTA (WISSOTA प्रोमोटर्स एसोसिएशन)

स्टॉक कारें[संपादित करें]

स्टॉक कारें आमतौर पर वो मोटर गाड़ी हैं जिन्हें कुछ निश्चित बदलाव के साथ गाड़ी बनाने वाली प्रमुख कंपनियां निर्मित करती हैं जिससे कि उनका इस्तेमाल हर वर्ग की रेसिंग में हो सके. वहां कई आम प्रकार की कारें हैं:

गैर उत्पादन कारें[संपादित करें]

इन स्टॉक कारों को खास तौर पर रेसिंग के लिए तैयार किया जाता है, आमतौर पर जोड़े हुए नलीदार फ्रेम और विशेष तौर पर निर्मित या खरीदी हुई बॉडी के साथ इसे तैयार किया जाता है.

सबसे लोकप्रिय डर्ट स्टॉक कारें सबसे बाद में आए मॉडल हैं. इनका वर्गीकरण इस बात पर निर्भर करता है कि वो किस ट्रैक और श्रृंखला में दौड़ लगाने वाली हैं. रेसट्रैक से ही ये तय होता है कि किस तरह की कार के मॉडल को दौड़ में शामिल करना है, लेकिन ज्यादातर इन तीन वर्गों में से एक श्रेणी में आता है:

सुपर लेट मॉडल[संपादित करें]
2006 नेशनल डर्ट लेट मॉडल हॉल ऑफ फ़ेम इंडक्टी पीट पार्कर की # 10 विस्सोटा ड्रट लेट मॉडल कार

आज वर्तमान में डर्ट सुपर लेट मॉडल्स एल्यूमिनियम बॉडी के साथ स्टील से निर्मित नलीदार फ्रेम चेसिस के हैं जो कार को हवा की रफ्तार से चलने का एहसास देते हैं लेकिन इन 2300 पाउंड की मशीनों का कोई स्टॉक नहीं है. ये कारें एक मोटर800 अश्वशक्ति (600 किलोवॉट) द्वारा संचालित होती हैं जो कि 9000 RPM को से अधिक में बदल सकते हैं. इंजन वी-8 शेवरलेट, फोर्ड और मोपार ऊर्जा संयंत्रों पर आधारित हैं.

ज्यादातर रेसिंग श्रृंखला और विशेष आयोजन वजनी ब्रेक के साथ खेल के समान मैदान बनाने के तीन विकल्प पेश करते हैं:

  1. ओपन मोटर - इस प्रकार की मोटर के साथ विस्थापन की कोई सीमा नहीं होती है. ज्यादातर ओपन मोटर 400 घन इंच से ज्यादा होती हैं लेकिन 380 छोटी ब्लॉक वाली मोटर ज्यादा आम ओपन मोटर है. इस तरह की मोटरों में एल्यूमीनियम ब्लॉक और हेड्स इस्तेमाल होते हैं और अक्सर इनमें खास तौर पर जोड़े हुए सांचा होते हैं. जो कारें इस मोटर विकल्प पर दौड़ती हैं उनका वजन कम से कम होना चाहिए2,300 पाउन्ड (1,000 किग्रा) .
  2. विशेष निर्देश वाली मोटर - दो सबसे लोकप्रिय मोटर हैं एसएएस (SAS) (सदर्न ऑल स्टार्स) और एसयूआरआर (SURR) (सदर्न यूनाइटेड प्रोफेशनल रेसिंग) विशेष निर्देश वाली ये मोटर 'श्रृंखला के विनिर्देशों के मुताबिक बनाई जाती हैं. ये मोटर या तो पूरी तरह से स्टील, पूरी तरह से एल्यूमीनियम या फिर दोनों का एक संयोजन हो सकता है. इस मोटर विकल्प का इस्तेमाल करने वाली कारें का वजन 2200 पाउंड और ये 10 की रफ्तार या 12 इंच (300 मिमी) सामने वाले को हराने वाला साबित होती है. विशेष निर्देश वाली ये मोटर 358 घन इंच से अधिक नहीं हो सकती हैं.
  3. ऑल स्टील मोटर - स्टील ब्लॉक और हेड्स, अधिकतम 362 घन इंच और वजन 2200 या 2150 पाउंड जो कि श्रृंखला पर निर्भर करता है. ऑल स्टील मोटर वाली कारें 10 की रफ्तार में तो चलनी ही चाहिए या 12 इंच (300 मिमी)फिर बिगाड़ने वाली हो.
लेट मॉडल स्टॉक / लिमिटेड लेट मॉडल[संपादित करें]

लेट मॉडल स्टॉक्स / लिमिटेड लेट मॉडल के लिए वही नियम हैं जो सुपर लेट मॉडल के होते हैं. इन दो वर्गों में मुख्य अंतर मोटर का विकल्प है, विशेष रूप से विस्थापन है.

इंजन के विकल्प: 1. इंजन: शेवरलेट 350, क्रिसलर 360, फोर्ड 351 इंजन. मुंहाने को छोड़कर सभी स्टील के होने चाहिए. 2. इंजन का अधिकतम विस्थापन 362 घन इंच. 3. पश्चबाजार कार्बोरेटर, विभिन्न मुंहाने और निकास वाले स्थान को छोड़कर इंजनों को किसी भी हालत में संशोधित नहीं किया जा सकता.

क्रेट इंजन विभिन्न मुहाने, सिलेंडर हेड, सामने के कवर और तेल के बर्तन विशेष बोल्ट से सील किए होते हैं. क्रेट इंजन को कारखाने विनिर्देश से किसी भी तरह से छेड़छाड़, संशोधित या बदला नहीं जा सकता है.

कई ट्रैक्स के नियमों में विभिन्नता होती है जिनमें मानक विशेष निर्देश वाली मोटर ही एकमात्र विकल्प है; हालांकि क्रेट मोटर के सामने आने के बाद ऊपर बताए गए नियम काफी लोकप्रिय हो रहे हैं.

क्रेट लेट मॉडल्स[संपादित करें]
फास्ट्रैक लेट मॉडल

मुहरबंद जीएम क्रेट मोटर के इस्तेमाल कीजिए और उनके खुद के दो राष्ट्रीय दौरे श्रृंखला हासिल करें: नेसमिथ शेवरलेट डर्ट लेट मॉडल सीरिज और फास्टट्रैक क्रेट लेट मॉडल सीरिज. फिलहाल, फोर्ड और क्रिसलर का नेसमिथ या फास्ट्रैक लेट मॉडल सीरिज में प्रवेश की कोई योजना नहीं है.

लोकप्रिय रेसिंग श्रृंखला[संपादित करें]
वर्ल्ड ऑफ आउटलॉज़ लेट मॉडल
  • वर्ल्ड ऑफ आउटलॉज
  • लुकास ऑयल लेट मॉडल डर्ट सीरिज
  • ओरेली ऑटो पार्ट्स सदर्न ऑल स्टार्स
  • इंटरनेशनल मोटर कॉन्टेस्ट एसोसिएशन (अंतर्राष्ट्रीय मोटर प्रतियोगिता एसोसिएशन)
  • यूनाइटेड मिडवेस्टर्न प्रमोटर्स
  • एडवांस ऑटो पार्ट्स सुपर डर्ट सीरिज
  • सदर्न रीजियोनल रेसिंग सीरिज
  • एडवांस्ड ऑटो पार्ट्स थंडर सीरिज
  • ओ रेली ऑटो पार्ट्स सदर्न यूनाइटेड प्रोफेशनल रेसिंग

इनके अलावा बिना मंजूरी के आयोजित होने वाले सैकड़ों क्षेत्रीय व राष्ट्रीय मुकाबले हैं जो पूरे साल भर चलते रहते हैं.

अन्य प्रमुख वार्षिक आयोजनों में शामिल हैं:

  • वर्ल्ड 100
  • आइस बाउल
  • डार्ट विंटर नेशनल्स
  • द शो मी 100
  • द मैग्नोलिया स्टेट 100
  • द डर्ट ट्रैक वर्ल्ड चैम्पियनशिप
  • द टॉपलेस 100
  • द हिलीबिली 100
  • सुपर डर्ट वीक
  • यूएसए नेशनल्स
  • इस्टर्न स्टेट्स वीकेंड
  • वर्ल्ड फाइनल्स इन चारलोट्टे

संशोधित उत्पादन कारें[संपादित करें]

सीमित संशोधनों वाली, 4 सिलेंडरों वाली संशोधित उत्पादन कारें (बाएं), और एक उच्च संशोधित 8 सिलेंडर कार (दाएं)

ये कारें संशोधित कर बनाई गईं मोटर गाड़ियां हैं. इन संशोधित कारों के वर्गों के बीच काफी परिवर्तनशीलता है. संशोधित उत्पादन कारों के निम्नतम प्रभाग, उनके इंटीरियर के लिए या विंडशिल्ड के बिना होने के लिए पूर्ण रुपेण स्टॉक हो सकते हैं. संशोधित उत्पादन कारों के उच्चतम प्रभागों में हो सकता है कि सिर्फ कुछ ही मूल स्टॉक भाग हों, और करीब करीब हालिया रेसिंग कारों के जितना ही तेज हो सकती है. अधिकांश कारों के शीशे हवारोधी विहान होते हैं और उनके अंदर का भाग बाहर की तरफ स्ट्रिप होता है. हो सकता है कि निम्नतम क्लास में मूल सीट इस्तेमाल की अनुमति हो, लेकिन उच्चतम क्लास में रेसिंग सीट और रोल केज लगाने की आवश्यकता होती है. उच्च श्रेणी की कारों में अन्य सुरक्षा और प्रदर्शन सुविधाएं लगाई जाती हैं. निम्न प्रभागों में इंजन पूरी तरह स्टॉक होते हैं, और उच्चतर प्रभागों में वे संशोधित और प्रवर्धित होते हैं. अधिकांश संशोधित उत्पादन कारों में निकास प्रणाली का पूरा इस्तेमाल होता है. इंजन असंशोधित 4 सिलेंडरों से लेकर अत्यधिक संशोधित V8 तक अलग अलग होती हैं. निम्न प्रभागों में स्टॉक पहियों का इस्तेमाल होता है, और उच्चतर प्रभाग की कारों में निर्दिष्ट रेसिंग पहिए लगाए जाते हैं.

संशोधित कार उत्पादन प्रभागों के सामान्य नाम:

  • फैक्टरी स्टॉक्स
  • मिनी स्टॉक्स
  • हॉर्नेट्स
  • बॉम्बर्स
  • क्रूजर्स
  • हॉबी स्टॉक्स
  • स्टॉक कार्स
  • प्योर स्ट्रीट्स
  • प्योर स्टॉक्स
  • स्ट्रीट स्टॉक्स
  • सुपर स्ट्रीट्स
  • सुपर स्टॉक्स
  • प्रो स्टॉक्स
  • रेनीगेड्स

असंशोधित उत्पादन कारें[संपादित करें]

मूल इंजीरियर समेत, ये कारें बस के रूप में सड़क पर संचालित वाहन हैं. हो सकता है कि विभिन्न नियमों के तहत अनुमति प्राप्त इंजन संशोधित हों:

  • सैलून

मोटरसाइकिल[संपादित करें]

फ्लैट ट्रैक मोटरसाइकिल

एकल श्रेणी में, मिट्टी और घास ट्रैक वाली बाइक में 250, 350 और 500 सीसी की क्षमताएं होती हैं और मशीन में स्थापित किसी ब्रेक के बिना, प्रत्येक सीधे रास्तों पर 80 मील/घंटा (130 किमी/घंटा) तक की गति पा सकते हैं तीन साइडकार श्रेणियां हैं. महाद्वीपीय श्रेणी में 500 सीसी का एकल सिलेंडर इंजन होता है, ग्रेट ब्रिटेन में भी 1000 सीसी तक के इंजन बाएं और दाएं हाथ वाले साइडकार मशीन होते हैं. घास वाले ट्रैक होने वाले खेलों में साइडकार रेस सबसे रोमांचकारी खेलों में से एक हैं, जिसमें चालक और मुसाफिर एक साथ काम करके कोनों के आस पास बेहतरीन पकड़ और गति पाने की कोशिश करते हैं.

पुरानी रेसिंग[संपादित करें]

कई अप्रचलित रेस वाली गाड़ियां, जिन्हें खलिहानों के मोर्चे पर छोड़ दिया गया था, ने अपने पूर्व गौरव को पुनः हासिल किया. पुनः बहाल रेस दौड़ वाले वाहन, कार शो में प्रदर्शित किए जाते हैं और कभी कभी रेस में भी उन्हें दौड़ाया जाता है. पुरानी रेसिंग इवेंट्स में प्रतिस्पर्धा करने वाली कारें कुछ सालों पहले, देर 19 वीं सदी की हैं. उत्तरी अमेरिका में 170 से अधिक रेसिंग इवेंट होते हैं, और हजारों अन्य पुराने इवेंट सैकड़ों क्लबों द्वारा मंजूर किए गए हैं [1]

रेस कार्यक्रम[संपादित करें]

1950 के दशक से 1970 के दशक के बीच, पुराने खुले पहियों की हीट रेस चार कार विस्कोंसिन (यूएसए) में आम रहे

विशुद्ध रेस कार्यक्रमों में आम तौर पर तमाम वर्गों भाग लेते हैं, और कई पटरियों में दोनों खुले पहिए और स्टॉक कार रेसिंग की सुविधा होती है. इवेंट प्रारुपों की एक विस्तॉत विविधता है.

योग्यता प्राप्त करना[संपादित करें]

योग्यता प्राप्त करने का सत्र, इवेंट शुरू होने से पहले हो सकता है. सत्र या तो हीट रेस की शुरुआती अवस्था या फीचर इवेंट की शुरुआती अवस्था निर्धारित करता है. यादृच्छिक रेखाचित्र या सत्र में हासिल किए गए अंकों समेत हीट या फीचर इवेंट के शुरुआती अवस्था के चयन के अन्य तरीके हैं.

हीट रेस[संपादित करें]

प्रत्येक वर्ग के लिए प्रारंभिक रेस, हीट रेस कहलाता है, अक्सर अनुसूची खुली होती है. हीट रेस मुख्य इवेंट में आपकी शुरुआती अवस्था निर्धारित कर सकता है और सामान्यतः सत्र चैंपियनशिप के अंक हासिल कर सकते हैं. हीट रेस, फीचर रेस से छोटे होते हैं, और प्रत्येक हीट में बहुत कार रेस नहीं होती. फीचर इवेंट में योग्यता प्राप्त करने के लिए कई प्रारूप हैं.

"प्रगतिशील रेसिंग" में, हीट रेस के लिए शुरुआती लाइअप रैंडम तरीके से चुना जाता है, और पूर्वनिर्धारित संख्या में चालक, प्रत्येक हीट रेस से मुख्य इवेंट के लिए सीधे योग्यता प्राप्त करते हैं.

कार्यक्रम के दौरान हीट विजेताओं या सत्र के शीर्ष अंक हासिल करने वाले के लिए ट्रॉफी या इनाम के लिए प्रतिस्पर्धा करने हेतु "ट्रॉफी डैश" हो सकता है. अगर इनाम मौद्रिक है, तो रेस "नकद के लिए डैश" या "धन के लिए दौड़" कहा जा सकता है. A फीचर में शीर्ष कारें कहां से शुरुआत करेंगी इसका निर्धारण करने के लिए कुछ ट्रैक हीट रेस की जगह योग्यता प्राप्त करने का डैश इस्तेमाल करते हैं.

सर्वाधिक मंजूर रेस या बड़े रेस में योग्यता प्राप्त करने का दौर होगा, जो हीट रेस का लाइन अप तय करेगा. कई रेस में, एक स्थापित संख्या (आम तौर पर छह कारों) उल्टा क्रम सेट किया जाता है, जबकि अन्य पटरियों (ज्यादातर A फीचर के लिए) तीव्रतम क्वालीफायर एक यादृच्छिक ड्राइंग में भाग लेगा, जहां एक संख्या तय करती है कि कितनी कारें उल्टी होंगी.

सेमी-फीचर/मुख्य बी[संपादित करें]

वहां एक सेमी-फीचर हो सकता है, जहां योग्यता प्राप्त रेसर फीचर इवेंट में अपने तरीके से बची हुई शुरुआती अवस्था में रेस कर सकते हैं. प्रत्येक वर्ग में कारों की संख्या के आधार पर, वहां मुख्य फीचर (ए फीचर) के जरिए विजेताओं में एक से अधिक फीचर रेस हो सकती है (सी फीचर; 3सरे स्थान के टीच रेस विजेता, बी फीचर; 2सरे स्थान के हीट रेस विजेता आदि). अन्य पटरियों पर, फीचर के लिए .योग्यता प्राप्त प्रत्येक सेमी-फीचर में कारों की पूर्व निर्धारित संख्या वाले कई सेमी-फीचर होते हैं. सेमी-फीचर के लिए योग्यता प्राप्त कारें सामान्यतः, फीचर समाप्त करने के बाद फीचर के लिए पीछे से शुरुआत करती हैं.

फीचर/मुख्य[संपादित करें]

प्रत्येक विभाजन के लिए ए फीचर या मुख्य फीचर रेस आयोजित किया जाता है. इवेंट प्रतिस्पर्धा से शीर्ष कारें हिस्सा लेती हैं. शुरुआती अवस्था सत्र में हासिल किए गए अंकों के आधार पर, या हीट/ट्रॉफी डैश/सेमी-फीचर की समाप्ति अवस्था के संयोजन के द्वारा निर्धारित हो सकती है. आम तौर पर यह इस कार्यक्रम में सबसे लंबा रेस होता है. समाप्ति अवस्था के आधार पर प्रत्येक की तय राशि के साथ अंक, एक ट्रॉफी, और अक्सर एक पर्स इनाम के तौर पर दिया जाता है. फीचर इवेंट का विजेता, इवेंट का विजेता माना जाता है.

विशिष्ट इवेंट[संपादित करें]

कई पटरियों पर अन्य विशेष इवेंट होते हैं. महिलाओं को रेस कार चलाने का मौका प्रदान करने के लिए कभी कभी, ट्रैक "पाउडर पफ" रेस प्रायोजित करेगा. यदि पर्याप्त महिलाओं ड्राइवर अपने लिए अलग इवेंट कराने की इच्छा व्यक्त करती हैं, तो हो सकता है कि ट्रैक संचालक पाउडर फफ को नियमित शेड्यूल में रख दे, अन्यथा, अधिकांश गंभीर महिला रेसर समान इवेंट में पुरुषों की तरह प्रतिस्पर्धा करती हैं.

समय-समय पर, प्रतिस्पर्धी ट्रैक से रेसर और प्रशंसकों को आकर्षित करने के लिए, पटरियों में "बोनस अंक" हो सकता है. कई बार ट्रैक संचालक रेस जीतने पर बड़ा पर्स देने का वादा भी करते हैं.

इसके अलावा, कई ट्रैक टूरिंग रेसिंग एसोसिएशन के साथ एक एसोसिएशन द्वारा मंजूर इवेंट शेड्यूल करने का समझौता करते हैं. इन इवेंट में रेसर संघ में रैंकिंग हासिल करने के लिए अंक हासिल करते हैं. मंजूर इवेंट के विजेताओं के लिए, संघों को ट्रैक से एक गारंटीक़त पर्स की भी आवश्यकता होती है.

कई पटरियों में "रन-वॉट-यू-ब्रंग" प्रतियोगिता भी होती है ("दर्शक वर्ग/विभाजन" भी). इवेंट में स्टैंड से दो ड्राइवर होते हैं, वेव का संकेत होने पर, अपने निजी वाहन को एक दूसरे के विरुद्ध दौड़ा सकते हैं.

डर्ट ट्रैक, कुछ ज्यादा अस्थायी और अधिक डामर फुटपाथ से बहुमुखी हो जाते हैं, और अन्य मोटरस्पोर्ट में उपयोग के लिए परिवर्तित किया जा सकता. उदाहरण के लिए, न्यूयॉर्क के लिटिल वैली में लिटिल वैली स्पीडवे आधा मील का डर्ट ट्रैक है, जो फिगर-8 ट्रैक, एक विनाशकारी डर्बी पिट या ट्रैक्टर से खींचे जाने वाले सीधे रास्ते में बदल सकता है.

चैंपियनशिप[संपादित करें]

संबद्ध नियमपुस्तिका के निर्देशों द्वारा निर्धारित, दोनों रेसट्रैक और रेसिंग संघों पुरस्कार चैंपियनशिप. पुरस्कार, आमतौर पर प्रत्येक वर्ग में शीर्ष दस रेसर के लिए, इसमें एक ट्रॉफी, एक जैकेट, और एक मौद्रिक राशि शामिल हो सकते हैं.

ट्रैक चैंपियनशिप, सत्र में अर्जित अंकों के अनुसार सम्मानित किए जाते हैं. अंक की एक निश्चित संख्या में एक इवेंट में भाग लेने के लिए सम्मानित किया जा सकता है और अतिरिक्त अंक प्रत्येक रेस में समाप्ति अवस्था के आधार पर जोड़ा जाता है. एक ट्रैक पर अर्जित अंक को सामान्यतः दूसरे ट्रैक के चैंपियनशिप में तवज्जो नहीं दिया जाता है.

NASCAR द्वारा मंजूर डर्ट ट्रैक चालक अन्य NASCAR द्वारा मंजूर चालकों से दोनों ही पक्की और डर्ट पर प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं,राज्यवार और प्रांतीय व्हेलेन ऑल-अमेरिकन सीरिज़ चैंपियनशिप, जहां राज्य और प्रांतीय चैंपियनशिप का सर्वोत्तम खिलाड़ी राष्ट्रीय चैंपियनशिप जीतेगा . डर्ट लेट मॉडल चालकों ने 1982 में NASCAR की ऐसी पहली चैम्पियनशिप जीती, और ये ड्राइवर अक्सर NASCAR के शॉर्ट ट्रैक चैंपियनशिप के 30 साल के इतिहास में क्षेत्रीय और राष्ट्रीय प्रतियोगिताएं जीतते हैं, जो केवल स्थानीय रेसिंग प्रभागों (गैर पर्यटन) के लिए लागू होता है.

रेसिंग संघ उन अंकों की गिनती करते हैं, जो समान रूप से ट्रैक पर प्रायोजित रेस में अर्जित किए जाते हैं. इसके अतिरिक्त, वे अपने ड्राइवर और अन्य विभिन्न इवेंट विजेताओं के प्रदर्शन को बढ़ावा कर सकते हैं.

इन्हें भी देखें[संपादित करें]

  • नेशनल डर्ट लेट मॉडल हॉल ऑफ फेम
  • डर्ट ट्रैक संयुक्त राज्य अमेरिका में रेस कर रही हैं
  • A.M.A. ग्रैंड नेशनल चैंपियनशिप

संदर्भ[संपादित करें]

  1. विक्टरी लेन मैग्जीन में रेसिंग शुरू करने के लिए