डबलिन

मुक्त ज्ञानकोश विकिपीडिया से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

डबलिन आयरलैंड की राजधानी, सबसे बड़ा शहर तथा मुख्य बन्दरगाह है।

परिचय[संपादित करें]

यह आयरलैंड गणतंत्र का, देश के पूर्वी समुद्री किनारे, लिफि नदी (Liffey) के मुहाने पर स्थित, सबसे बड़ा तथा मुख्य नगर है। यहाँ पर ८०० ई० में वाइकिंग (Viking) लोगों ने एक नगर बसाया जो बाद में डब्लिन नाम से प्रसिद्ध हुआ। लिफि नदी का पानी काले रंग का है जिसकी छाप इस नगर के नामकरण पर पड़ी है। गैलिक भाषा में 'डब्लिन' का अर्थ 'काला पानी' होता है।

नॉर्मन सैनिकों ने इस नगर को इंग्लैंड से ११७० ई० में जीत लिया तथा इसे आयरलैंड का मुख्य नगर घोषित किया। इस नगर का निरंतर विकास एवं विस्तार १७वीं शताब्दी में तीव्र गति के साथ हुआ जब यहाँ पर चौड़ी-चौड़ी सड़कों विशाल महलों तथा उद्यानों का निर्माण हुआ। युद्धों के कारण यह नगर दूसरे देशों को बराबर हस्तांतरित होता रहा। आयरिश लोगों का अंतिम स्वतंत्रता संग्राम १९२१ ई० में हुआ जिसके पश्चात् यह इंग्लैंड के शासन से अलग होकर गणतंत्र हो गया।

यहाँ पर अनेक ऐतिहासिक भवन हैं। डब्लिन किला एक समय वायसराय लोगों का निवासस्थान था, लींस्टर हाउस (Leinster House) १७०० ई० में बना। यहाँ के बड़े चौराहे, उद्यान तथा लंबी चौड़ी सड़कें प्रसिद्ध हैं। यहाँ का फोनेक्स पार्क १७६० एकड़ भूमि पर फैला विश्व के बड़े पार्कों में से एक है। यहाँ पर दो विश्वविद्यालय हैं - राष्ट्रीय विश्वविद्यालय की स्थापना १९०८ ई० में तथा डब्लिन विश्वविद्यालय की स्थापना १९५१ ई० में ट्रिनिटी कॉलेज के रूप में हुई। इंग्लैंड की महारानी एलिजाबेथ प्रथम द्वारा इसका शिलान्यास हुआ।